कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश 2020 ऑनलाइन पंजीयन फॉर्म | Kanya Sumangala Yojana UP in Hindi

उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना 2020 का ऑनलाइन आवेदन फॉर्म, पात्रता, नियम, पैसा कब आएगा, पोर्टल सभी जानकारी यहाँ पढ़ें (Kanya Sumangala Yojana UP in hindi, status check)

कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा प्रदेश की बालिकाओं के लिए शुरू की गई है योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में बालिकाओं को शिक्षित करना है. साथ ही कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को एवं कन्या बाल विवाह जैसे अपराधों को रोकना है, योजना के अंतर्गत पंजीयन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार द्वारा गरीब बालिकाओं को ₹15000 आर्थिक सहयोग के रूप में दिए जाते हैं यह सहयोग छह चरणों में पूरा किया जाता है योजना के बारे में विस्तार से जानने के लिए पूरा आर्टिकल ध्यान से पढ़ें।

सुकन्या समृद्धि योजना : लॉकडाउन में नहीं खुलवा पाए है नया खाता, तो सरकार दे रही है आखिरी मौका, 31 जुलाई के पहले करें आवेदन

कन्या सुमंगला योजना 2020 की जानकारी

नाम कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश
मुख्य लाभार्थी प्रदेश की पढ़ने वाली बालिकाये
लाभ 15 हजार रुपये
वेबसाइट mahilakalyan.up.nic.in
टोलफ्री हेल्पलाइन नंबर अभी नहीं हैं

उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना के लाभ एवं नियम

  • कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत बालिकाओं को 1 वर्ष की आयु से लेकर ग्रेजुएट होने तक विभिन्न चरणों में आर्थिक सहायता की जाती है ताकि वह अपनी पढ़ाई पूरी कर सके और उनका जल्द से जल्द विवाह न किया जाए।
  • योजना के अंतर्गत 6 चरणों में ₹15000 सरकार की तरफ से बेटियों को दिए जाते हैं इन चरणों का विवरण इस प्रकार है
  • पहले चरण में ₹2000
  • दूसरे चरण में ₹1000
  • तीसरे चरण में  ₹2000
  • चौथे चरण में ₹2000
  • पांचवें चरण में ₹3000
  • छठे चरण में ₹5000 इस प्रकार कन्या के खाते में ₹15000 की आर्थिक मदद की जाती है।
  • योजना के अंतर्गत यह पूरा पैसा डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर सुविधा के जरिए बेटी के खाते में सरकार द्वारा भेजा जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक चरण में बेटी को रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। अर्थात आप किसी भी चरण से इस योजना का लाभ लेना प्रारंभ कर सकते हैं।
  • योजना के अंतर्गत पैसा बेटी के बालिक होने तक उसकी मां के खाते में जमा किया जाएगा परंतु अगर मां की मृत्यु हो गई है तो पैसा पिता के खाते में जमा होगा लेकिन ऐसी परिस्थिति में जब माता-पिता दोनों की मृत्यु हो चुकी है तब पैसा आधिकारिक रूप से निर्धारित किए गए पायलटों के खाते में जमा किया जाएगा परंतु इसके लिए मृत्यु प्रमाण पत्र लगाना अनिवार्य होगा।

PM आवास योजना (ग्रामीण/ शहरी)-लाभार्थी सूची में इन आसान प्रक्रियाओं के द्वारा अपना नाम चेक करें

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत पात्रता नियम

योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए बेटी किसी भी चरण में आवेदन फॉर्म भर सकती है परंतु प्रत्येक चरण के लिए कुछ नियम निर्धारित किए गए हैं जो कि इस प्रकार हैं

पहला चरण नियम

अगर बेटी को पहले चरण में इस योजना के अंतर्गत दाखिल कराना चाहते हैं तो उसका जन्म 1 अप्रैल 2019 अथवा उसके बाद होना चाहिए।

दूसरे चरण नियम

दूसरे चरण में पंजीयन का नियम यह है कि बेटी का पहले वर्ष काटीकाकरण पूरा हो जाना चाहिए लेकिन इसके लिए जरूरी है कि बेटी का जन्म 1 अप्रैल 2018 से पहले ना हुआ हो।

तीसरा चरण नियम

तीसरे चरण में वही बालिका दाखिला ले सकती है जोकि अध्ययन शुरू कर चुकी हो और पहली कक्षा में एडमिशन ले लिया हो।

चौथे चरण का नियम

चौथे चरण में वही बालिकाएं पंजीयन करवा सकती हैं जो किस सिक्स्थ क्लास में एडमिशन ले चुकी हूं।

पांचवा चरण

पांचवें चरण में वे बालिका योजना के अंतर्गत पंजीयन करवा सकती हैं जिन्होंने नौवीं कक्षा में एडमिशन ले लिया हो।

छठवां एवं अंतिम चरण

योजना के अंतर्गत छठी किस्त के लिए यह जरूरी है कि बेटी का ग्रेजुएशन अथवा कम से कम 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स पूरा हो चुका हो।

पीएम रेंटल हाउसिंग योजना – सरकार दे रही है किफायती किराए पर घर, जानिए कैसे और किसे मिलेगा लाभ

कन्या सुमंगला योजना योग्यता

  1. योजना के अंतर्गत वही बेटियां लाभ ले सकते हैं जो कि उत्तर प्रदेश की मूल निवासी हैं दूसरे राज्यों से आए लोगों की बेटियां जब तक इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं हो सकती जब तक कि वह उत्तर प्रदेश के मूल निवासी ना हो।
  2. योजना के अंतर्गत होनी परिवारों को लाभ प्राप्त होगा जिनकी सालाना आय 300000 से कम हो।
  3. योजना के अंतर्गत उम्र का निर्धारण किया गया है इसीलिए वही बेटियां इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकती है जिनका जन्म 1 अप्रैल 2018 से 31 मार्च 2019 के बीच हुआ हो।
  4. योजना के अंतर्गत परिवार की अधिकतम दो ही बेटियों को लाभ मिलेगा लेकिन अगर द्वितीय प्रसव के दौरान जुड़वा बेटियों का जन्म होता है तो ऐसी स्थिति में तीनों बेटियों को योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त हो सकता है
  5. योजना के अंतर्गत गोद ली हुई बेटी को को भी शामिल किया जा सकता है परंतु नियम वही है कि परिवार की केवल दो ही बेटियों को शामिल किया जाएग।

योगी आदित्यनाथ की उत्तर प्रदेश योजना लिस्ट में अपने लाभ की योजना जरुर पढ़े

कन्या सुमंगला योजना में क्या-क्या डॉक्यूमेंट लगेंगे

  1. योजना के अंतर्गत अप्लाई करने के लिए विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता है जो की पात्रता के नियम को सत्यापित करने में मदद करते हैं वे दस्तावेज कुछ इस प्रकार
  2. बैंक संबंधी जानकारी के लिए बैंक पासबुक लगाना अनिवार्य है क्योंकि पैसा सीधे खाते में जमा किया जाना है।
  3. योजना के अंतर्गत आय का निर्धारण किया गया है इसलिए आए संबंधी दस्तावेज लगाना भी जरूरी होगा।
  4. योजना के अंतर्गत जो भी बालिकाएं लाभ लेना चाहती हैं उन्हें अपना पहचान पत्र देना अनिवार्य है।
  5. योजना से जुड़ी बालिकाओं मैं से किसी बालिका की माता-पिता अथवा किसी एक की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में मृत्यु प्रमाण पत्र लगाना अनिवार्य होगा।

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना के तहत अब सरकार उठाएगी पढ़ाई का खर्चा, जानिए योजना क्या है

कन्या सुमंगला योजना में आवेदन कैसे किया जाये

कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन एवं ऑफलाइन प्रक्रिया दोनों हैं

  1. ऑनलाइन प्रक्रिया

    योजना के अंतर्गत अगर ऑनलाइन अप्लाई करना चाहते हैं तो स्वयं लैपटॉप अथवा कंप्यूटर से फॉर्म भरकर सबमिट कर सकते हैं अगर आप खुद लैपटॉप अथवा कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं तो ऐसी स्थिति में पास के सीएससी सेंटर पर जाकर भी अप्लाई कर सकते हैं।

  2. कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन फॉर्म pdf

    अगर आप योजना से संबंधित फॉर्म का पीडीएफ डाउनलोड करना चाहते हैं तो दी गई लिंक पर क्लिक करके कर सकते हैं।

  3. ऑफलाइन प्रक्रिया

    अगर आप इस योजना के अंतर्गत ऑफलाइन तरीके से आवेदन करना चाहते हैं तो खंड विकास अधिकारी जिला परीक्षित अधिकारी के कार्यालय में जाकर फॉर्म प्राप्त करना होगा और उसे भरकर ऑफिस में ही सबमिट करना होगा जिसके बाद कार्यालय के कर्मचारियों द्वारा इस फोन की सारी जानकारी ऑनलाइन अपडेट कर दी जाएगी।

विधवा पेंशन योजना उत्तर प्रदेश [पेंशनर सूचि] 2020 में अपना नाम देखे

कन्या सुमंगला योजना से जुड़े कई सवालों के जवाब

यूपी में बालिकाओं के लिए चलाई जाने वाली योजना कौन सी है?

कन्या सुमंगला योजना

कन्या सुमंगला योजना क्या है?

यह एक आर्थिक सहयोग योजना है जिसके अंतर्गत बेटी को जन्म से लेकर ग्रेजुएशन तक ₹15000 उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से दिए जाते हैं।

कन्या सुमंगला योजना कब से चालू है ?

योजना वर्ष 2019 से चल रही है।

कन्या सुमंगला योजना पात्रता क्या है?

योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के रहने वाले बालिकाएं ही मान्य होंगी।

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत कितने रुपए मिलेंगे ?

₹15000

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत परिवार की कितनी का कन्या हिस्सा ले सकती हैं ?

अधिकतम दो कन्या लेकिन अगर दूसरे प्रसव के दौरान जुड़वा बेटियां पैदा हुई हैं तो इस स्थिति में तीनों बेटियों को योजना में शामिल किया जाएगा।

क्या करने सुमंगला योजना के अंतर्गत गोद ली हुई बेटी को लाभ प्राप्त हो सकता है ?

हां

क्या कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत ₹15000 एकमुश्त मिलते हैं ?

नहीं यह ₹15000 छह चरणों में मिलते हैं

कन्या सुमंगला योजना प्राप्त करने के लिए पारिवारिक आय कितनी होना आवश्यक है?

 तीन लाख एवं उससे कम

कन्या सुमंगला योजना की अंतिम तिथि क्या है ?

योजना के लिए पंजीकरण बेटी के जन्म के 5 महीने बाद से किया जा सकता है एवं इसकी अंतिम चरण के लिए रजिस्ट्रेशन ग्रेजुएशन पूरा होने अथवा डिप्लोमा की डिग्री हासिल करने के बाद वाले महीने में 30 सितंबर से पहले करना अनिवार्य है।

कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत लगने वाले जरूरी दस्तावेज कौन से हैं ?

बैंक पासबुक आधार कार्ड कक्षा की मार्कशीट पासपोर्ट साइज फोटो अगर बेटी गोद ली गई है तो उससे संबंधित पेपर अगर माता-पिता नहीं है तो मृत्यु प्रमाण पत्र एवं पारिवारिक आय संबंधित ब्योरा

कन्या सुमंगला योजना का पैसा कब तक आएगा?

प्रति चरण पंजीयन के बाद

कन्या सुमंगला योजना हेल्पलाइन नंबर क्या हैं ?

नहीं हैं

कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन पोर्टल क्या हैं ?

mahilakalyan.up.nic.in

कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन फॉर्म pdf कैस प्राप्त करे ?

इस लिंक से प्राप्त करे

अन्य पढ़े

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *