कर्मचारी राज्य बीमा योजना 2021 | Karmchari Rajya Bima Yojana Nigam in hindi

0

कर्मचारी राज्य बीमा योजना निगम 2020 (लाभ, पात्रता, बेरोजगारी भत्ता, आवेदन फॉर्म) (Karmchari Rajya Bima Yojana Nigam in hindi) (Online Form, ESIC)

मार्च 2020 में जब से लॉकडाउन लगा है, देश की अर्थव्यवस्था बहुत बुरी तरह प्रभावित हुई है. आर्थिक मंदी के कारण देश में लाखों लोग बेरोजगार हो गए, कंपनियां डूबने लगी जिससे एक साथ कई लोगों को निकाला जाने लगा. करोड़ों लोगों को अपना जीवनयापन चलाने में मुश्किल पैदा होने लगी. इस दुखद घडी में केंद्र सरकार एक सुखद खबर लेकर आई है. मोदी सरकार ने घोषणा की है कि कोरोना काल में अगर किसी की नौकरी गई है, उसके पास रोजगार नहीं है तो उस व्यक्ति को बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा. कर्मचारी राज्य बीमा निगम के तहत यह सुविधा दी जाएगी. योजना के क्या-क्या लाभ है, नियम, पात्रता आदि सभी के बारे में हम यहाँ अपने आर्टिकल में बताने जा रहे है. आर्टिकल को पढ़ कर आप समझ जायेंगे कि योजना का लाभ कैसे लिया जा सकता है –

karmchari-rajya-bima-yojana-esic-hindi-berojgari-bhatta

कर्मचारी राज्य बीमा योजना 2021

बेरोजगारी भत्ता – कर्मचारी राज्य बीमा निगम –

केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि देश में जो नौकरीपेशा व्यक्ति  कर्मचारी राज्य बीमा निगम में रजिस्टर है, अगर उसकी नौकरी कोरोना काल में जाती है तो उसे बेरोजगारी भत्ता सरकार देगी. कर्मचारी राज्य बीमा निगम के द्वारा अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना को शुरू किया जा रहा है, जिसके तहत यह बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा. चलिए पहले है कि जानते कर्मचारी राज्य बीमा निगम क्या है, इसका क्या फायदा है.

प्रधानमंत्री शिकायत नंबर : अब आप सीधे प्रधानमंत्री तक अपनी बात पहुंचा सकते है.

कर्मचारी राज्य बीमा निगम क्या है (Employee State Insurance Corporation (ESIC))

जो नौकरीपेशा होते है उन्हें अपनी सैलरी में कई तरह के फायदे मिलते है, जैसे प्रोविडेंट फण्ड, टैक्स बचाने आदि. इन सब के अलावा भी सरकार की तरफ से एक योजना का फायदा दिया जाता है, कर्मचारी राज्य बीमा निगम. इस योजना के द्वारा कर्मचारियों को स्वास्थ्य सुरक्षा के अलावा अन्य लाभ भी मिलते है. जिस किसी कंपनी में 10 से अधिक कर्मचारी होते है,वो इस योजना में अपने को रजिस्टर कर सकते है. यह योजना का संचालन श्रम एवं रोजगार विभाग द्वारा होता है. अब कोरोना काल में ESIC के अंतर्गत सरकार ने घोषणा की है कि जिसकी नौकरी गई है उसे भी फायदा मिलेगा. जिस एम्प्लोयी का रोज का वेतन 137 रूपए या उससे कम है, वो इस योजना में अपना योगदान नहीं दे सकता है.

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना

ESIC के तहत अटल बीमित योजना को शुरू किया गया है, जिसके तहत बेरोजगारी भत्ता मिल रहा है. सरकार ने मौजूदा परिस्तिथि को देखते हुए अटल बीमित योजना को 30 जून 2021 तक बढ़ा दिया है, ताकि कोरोना की मौजूदा स्थति के देखते हुए ज्यादा लोगों को इसका फायदा मिल सके.

नरेगा जॉब कार्ड – अब ऑनलाइन घर बैठे चेक करें सूचि में नाम, अपना टोटल वेतन

ESIC में योगदान –

इस योजना में कर्मचारी और न्युक्त करने वाले दोना का योगदान होता है. मतलब दोनों की सैलरी से कुछ हिस्सा इस योजना के लिए कटता है. इस योगदान राशी को सरकार समय के अनुदार फेर बदेल करती रहती है. अभी कर्मचारी के वेतन से 0.75% और नियोक्ता के वेतन से 3.25% ESIC योजना में योगदान राशी के रूप में जाता है. यह राशी नौकरी जाने पर या स्वास्थ्य सुरक्षा के रूप में भविष्य में आपको मिल सकती है.

ESIC योजना के अंतर्गत बेरोजगारी भत्ता किसको मिलेगा –

  • योजना के अंतर्गत बेरोजगारी भत्ता उस कर्मचारी को ही मिलेगा जो पिछले दो वर्षों से कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) से जुड़ा हुआ है, और अपना योगदान दे रहा है.
  • 1 अप्रैल 2018 से 31 मार्च 2020 तक लगातार जो कर्मचारी जुड़े रहे है, उन्हें इस योजना का फायदा मिलेगा.
  • सरकार ने यह भी कहा है कि कर्मचारीयों को यह सुनिश्चित करना होगा कि 1 अक्टूबर 2019 से 31 मार्च 2020 के बीच उन्होंने कम से कम 78 दिन काम किया हो. इससे कम अगर वर्किंग डे होंगें, तो आपको इस योजना के नए फायदे नहीं मिलेंगें.
  • योजना के अंतर्गत बेरोजगारी भत्ता उनको मिलेगा जिनकी नौकरी 24 मार्च 2020 से 31 दिसम्बर 2020 के बीच गई है. अभी फिलहाल इसी काल के लिए योजना का लाभ मिलेगा, सरकार भविष्य में इसे आगे भी बढ़ा सकती है.

ऑनलाइन रोजगार पंजीयन : अब ऑनलाइन पंजीयन कर पा सकते है, नौकरी

ESIC के फायदे –

  • तीन महीने मिलेगा लाभ – योजना के तहत जो भी बेरोजगार हुआ है, उसे अधिकतम तीन महीने (90 दिन) का भत्ता दिया जायेगा.
  • तीन महीने तक आधी सैलरी – जी भी कर्मचारी नौकरीपेशा व्यक्ति ESIC में रजिस्टर है, वो तीन महीने की अपने वेतन का आधा मतलब 50% क्लैम कर के प्राप्त कर सकता है.
  • ESIC योजना के अंतर्गत देश में लघभग 35 लाख कर्मचारी को लाभ मिलेगा. उद्योगों में काम करने वाले कर्मचारी के लिए तो यह बहुत लाभकारी है, क्यूंकि देश में अभी भी पूरी तरह से काम शुरू नहीं हुआ है, आर्थिक गतिविधि ठप्प है. जिनकी नौकरी है उनपर भी जाने का खतरा बना हुआ है. लाखों कर्मचारियों की मांग पर इस योजना में बदलाव कर शुरू किया गया है.
  • ESIC योजना का लाभ कर्मचारी के साथ उनके परिवार को भी मिलता है. कर्मचारी राज्य बीमा निगम के तहत अगर किसी का स्वास्थ्य ख़राब है, तो उसे मुफ्त इलाज दिया जाता है. गंभीर बीमारी में प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराकर उस राशी के लिए क्लेम किया जा सकता है.
  • अगर कर्मचारी किसी कारणवश दिव्यांग हो जाता है तो उसे उसकी सैलरी का 90 प्रतिशत घर बैठे मिलेगा.
  • कर्मचारी राज्य बीमा निगम के तहत महिलाओं को विशेष लाभ दिए जाते है. योजना के तहत महिलाओं को 6 माह का मातृ अवकाश दिया जाता है, इस दौरान उन्हें पूरा वेतन ESIC द्वारा दिया जायेगा.
  • ESIC में रजिस्टर कर्मचारी की मृत्यु होने पर उस परिवार तुरंत अंतिम संस्कार के लिए 15 रूपए दिए जायेंगें. अगर वो व्यक्ति परिवार का मुखिया है और उसका परिवार उसकी आय पर निर्भर है तो उस व्यक्ति के परिवार को पेंशन भी दी जाएगी.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना – खेती उपकरणों पर मोदी सरकार उठा रही है 80% तक का खर्चा, जानिए पंजीयन प्रक्रिया

ESIC के नियम में बदलाव –

  • पहले ESIC में रजिस्टर नौकरीपेशा कर्मचारी सिर्फ 25 प्रतिशत अपनी सैलरी का क्लेम कर सकते थे, लेकिन अब सरकार ने लाभ को बढाकर 50% कर दिया है.
  • पहले ESIC योजना के अंतर्गत जिस किसी कर्मचारी की नौकरी गई है तो वो नौकरी जाने के बाद 90 दिन बाद ही बेरोजगारी भत्ता के लिए आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकता है. लेकिन अब सरकार ने 90 दिन को घटाकर 30 दिन कर दिया है. नौकरी जाने के बाद कर्मचारी 30 बाद बेरोजगारी भत्ते के लिए क्लेम कर सकता है.

कहाँ लागु होगी ESIC योजना –

10 से ज्यादा जिस उद्योग में कर्मचारी होते है, वहां यह योजना लागु होती है, और वहां के लोग इसका फायदा ले सकते है. कर्मचारी की सैलरी कम से कम अगर 21 हजार हर माह है, तभी वे इस योजना के योग्य है और आगे लाभ ले सकते है. अभी अधिकारीयों के अनुसार ESIC योजना में 3.5 करोड़ परिवार जुड़े हुए है, जिसके द्वारा देश में करीब 14 करोड़ नौकरी पेशा कर्मचारी को भत्ता और स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिल रहा है.

कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) में रजिस्ट्रेशन कैसे करें –

ESIC में स्वयं कर्मचारी को आवेदन नहीं करना होता. आपको बस अपनी कंपनी में अपनी और अपने परिवार की पूरी जानकारी देनी होगी. आपको अपने नॉमिनी का भी चुनाव कर उसका नाम और उसकी जानकारी देनी होगी. कंपनी द्वारा आपका नाम इस योजना में रजिस्टर किया जायेगा. रजिस्ट्रेशन के कम से कम 9 महीने के बाद से आपको इस योजना का लाभ मिलेगा.

युवा संबल योजना राजस्थान : राजस्थान सरकार दे रही है युवाओ को 3500 हर माह बेरोजगारी भत्ता के रूप में, आप पा सकते है लाभ

ESIC के तहत बेरोजगारी भत्ता क्लेम कैसे करें –

आपको रजिस्ट्रेशन के बाद ESIC की तरफ से एक कार्ड दिया जायेगा. यह कार्ड दिखाकर आप अस्पताल में मुफ्त इलाज के लिए क्लेम कर सकते है. बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए आपको अपनी कंपनी में आवेदन करना होगा.

FAQ –

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम के तहत कितना कितना बेरोजगारी भत्ता मिलेगा?

Ans: तीन महीने तक की आधी सैलरी

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम के लाभ क्या है?

Ans: पेंशन, स्वास्थ्य बीमा, भत्ता आदि

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम का मुख्यालय कहाँ है?

Ans: दिल्ली

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम हेल्पलाइन नंबर क्या है?

Ans: 1800112526

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम का निर्माण कब हुआ था

Ans: 1952

Q: कर्मचारी राज्य बीमा निगम को कौनसा विभाग संचालित करता है

Ans: श्रम एवं रोजगार मंत्रालय

अन्य पढ़ें –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here