Top 5 This Week

spot_img

Related Posts

Harda Factory Blast News: कौन हैं IAS अफसर माल सिंह भयड़िया? जिनके फैसले के बाद चल रही थी पटाखा फैक्ट्री

माल सिंह भयड़िया कौन है? Who is mal singh bhayadiya IAS?, harda blast news, harda blast reason,

हरदा जिले में हुए दुर्भाग्यपूर्ण पटाखा फैक्ट्री विस्फोट ने न केवल निर्दोष जीवनों को नुकसान पहुँचाया है, बल्कि कई प्रशासनिक सवालों को भी जन्म दिया है। इस घटना के केंद्र में हैं आईएएस अफसर माल सिंह भयड़िया, जिनके एक फैसले ने पूरे मामले को नई दिशा दी। आइए विस्तार से जानते हैं कि माल सिंह कौन हैं और इस घटना में उनकी क्या भूमिका रही है।

Harda Factory Blast News: कौन हैं IAS अफसर माल सिंह भयड़िया? जिनके फैसले के बाद चल रही थी पटाखा फैक्ट्री
Harda Factory Blast News: कौन हैं IAS अफसर माल सिंह भयड़िया? जिनके फैसले के बाद चल रही थी पटाखा फैक्ट्री

माल सिंह भयड़िया कौन हैं?

माल सिंह भयड़िया, 2006 बैच के आईएएस अधिकारी हैं, जो वर्तमान में इंदौर संभाग के कमिश्नर हैं। उनका करियर विभिन्न प्रशासनिक भूमिकाओं में उल्लेखनीय रहा है, जिसमें भोपाल के कमिश्नर के रूप में उनकी सेवा भी शामिल है।

वे एक अनुभवी और सम्मानित प्रशासनिक अधिकारी हैं, जिनके निर्णयों ने अक्सर समाज के विभिन्न क्षेत्रों पर प्रभाव डाला है।

हरदा फैक्ट्री घटना की पृष्ठभूमि

हरदा जिले के बैरागढ़ में स्थित पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट होने के बाद, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई, समूचे प्रशासन और सुरक्षा मानकों पर प्रश्न उठ रहे हैं। विशेष रूप से, जब 2022 में इस फैक्ट्री की जांच हुई और उसे अनफिट घोषित किया गया, तो कलेक्टर ने इसे सील करने के आदेश दिए। हालांकि, नर्मदापुरम संभाग के तत्कालीन कमिश्नर माल सिंह भयड़िया ने इस आदेश पर स्टे लगा दिया।

माल सिंह भयड़िया की सफाई

फैक्ट्री को सील करने के कलेक्टर के आदेश पर स्टे लगाने के बाद, माल सिंह ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि यह मामला दो-ढाई साल पुराना है और उन्होंने नियमानुसार निपटारा करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने बताया कि दिवाली के नजदीक होने के कारण उन्होंने अगली पेशी तक के लिए स्टे दिया था, लेकिन फैक्ट्री पूरी तरह से खोलने के निर्देश नहीं दिए थे।

जांच और अग्रिम कदम

विस्फोट के बाद राज्य सरकार ने इस मामले की जांच के लिए एक तीन सदस्यीय कमिटी का गठन किया है, जिसके अध्यक्ष गृह विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे हैं। यह कमिटी अपनी जांच पूरी करने के बाद राज्य सरकार को रिपोर्ट सौंपेगी।

इस पूरे प्रकरण ने न केवल प्रशासनिक निर्णय लेने की प्रक्रिया पर प्रकाश डाला है, बल्कि यह भी दिखाया है कि किस प्रकार एक निर्णय से बड़ी आपदाएँ जन्म ले सकती हैं। माल सिंह भयड़िया की भूमिका और उनके निर्णय इस घटना के महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक हैं, जिनकी गहन जांच और समीक्षा की जा रही है।

FAQ –

1. हरदा फैक्ट्री विस्फोट क्या है?

हरदा जिले में एक पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट हुआ, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई। यह घटना प्रशासनिक और सुरक्षा मानकों के पालन पर गंभीर प्रश्न उठाती है।

2. माल सिंह भयड़िया कौन हैं?

माल सिंह भयड़िया 2006 बैच के आईएएस अधिकारी हैं, जो वर्तमान में इंदौर संभाग के कमिश्नर हैं। वे इस घटना के समय नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर थे।

3. माल सिंह भयड़िया ने फैक्ट्री को फिर से खोलने की अनुमति क्यों दी?

माल सिंह ने फैक्ट्री को पूरी तरह से खोलने के निर्देश नहीं दिए थे। उन्होंने दिवाली के नजदीक होने के कारण और नियम के अनुसार निपटारा करने के लिए अगली पेशी तक के लिए स्टे दिया था।

4. फैक्ट्री विस्फोट की जांच कौन कर रहा है?

राज्य सरकार ने इस मामले की जांच के लिए एक तीन सदस्यीय कमिटी का गठन किया है, जिसके अध्यक्ष गृह विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे हैं।

5. फैक्ट्री विस्फोट के बाद क्या कदम उठाए गए हैं?

इस घटना के बाद, राज्य सरकार ने जांच के लिए एक कमिटी का गठन किया है। इस कमिटी को जांच पूरी होने के बाद राज्य सरकार को रिपोर्ट सौंपनी है।

अन्य पढ़े – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Articles