किसान क्रेडिट कार्ड योजना : अगर 31 अगस्त तक जमा करेंगें कर्ज राशी, तो सरकार देगी 5 प्रतिशत तक की ब्याज में छूट, जल्द उठायें फायदा

किसानों को खेती बाड़ी में कोई आर्थिक परेशानी न हो इसके लिए सरकार ने किसानों को आसानी से लोन मिल सके इसकी एक योजना बनाई है. सरकार ने कुछ समय पहले प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना शुरू की थी, जिसमें किसानों को सालाना 6000 रूपए देने की घोषणा की गई थी. किसानों को और फायदा देने के लिए सरकार ने इस योजना के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड का भी फायदा देना शुरू कर दिया था. वैसे तो किसान क्रेडिट कार्ड 1998 में शुरू हुआ था. योजना के तहत बहुत आसान ब्याज दर में किसान लोन लेकर काम कर सकते है. अभी तक करोडो किसान इस योजना का फायदा उठा चुके है. जी भी किसान भाई किसान क्रेडिट योजना का लाभ ले रहे है, इसके तहत लोन लिया हुआ है, उनके लिए सरकार ने एक विशेष गाइडलाइन जारी की है. चलिए जानते है सरकार ने क्या नोटिस जारी किया है –

kisan-credit-card-yojana-last-date-hindi

31 अगस्त तक करना होगा लोन की राशी अदा –

जो भी किसान भाई किसान क्रेडिट लोन के तहत बैंक से लोन लिए हुए है, उनको 31 अगस्त तक लोन राशी को जमा करना होगा. कोरोना महामारी के चलते इसकी तारीख को बढाकर 31 अगस्त कर दिया गया था. अगर आप 31 अगस्त लोन राशी जमा नहीं कर पाते है तो अगले महीने लगभग 2 गुना ब्याज आपको देना पड़ सकता है. 31 अगस्त तक अगर लोन जमा करते है तो किसान भाई को सिर्फ 4 प्रतिशत ही ब्याज के साथ राशी जमा करनी होगी, इसके बाद 1 सितम्बर से ब्याज दर बढ़कर 7 प्रतिशत हो जाएगी.

प्रधानमंत्री किसान मानधन पेंशन योजना – अब किसानों को भी दे रही हैं सरकार पेंशन, जानें कैसे मिलेगा लाभ

लोन अमाउंट समय पर देने का यह है तरीका –

किसान भाइयों के पास अभी लोन चुकाने के लिए अगर पैसा नहीं है तो घबराएँ नहीं. आपके पास एक तरीका है, जिससे आप समय पर यह लोन चूका सकते है. 31 अगस्त तक आप पैसों का इंतजाम करके लोन जमा कर दें, फिर आप 1 सितम्बर को फिर से नए लोन के लिए आवेदन कर सकते है. नए लोन के लिए आवेदन करके आप फिर से बैंक से लोन प्राप्त कर सकते है. नए लोन के साथ आपको 31 मार्च 2021 तक उस लोन को लौटाने का समय मिल जायेगा.

सरकार ने दिया है विशेष लाभ –

किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के लोन को जमा करने की तारीख हर बार 31 मार्च होती है, लेकिन इस बार कोरोना ने देश में स्थति को पूरा बदल दिया है. मार्च से देश में लॉकडाउन लगा गया था, जिसके बाद पूरी अर्थव्यवस्था हिल चुकी थी. देश के किसानों को भी बहुत ही आर्थिक परेशानी से गुजरना पड़ा था. सरकार ने इस बात को ध्यान रखते हुए कोरोना काल में केसीसी के लोन को जमा करने की तारीख को 31 मई तक आगे बढ़ा दिया. मई में भी परिस्तिथि ठीक नहीं हुई, जिसे देखते हुए सरकार ने इसे 31 अगस्त तक और आगे बढ़ा दिया था. सरकार ने इस बात पर भी विशेष जोर देकर बताया है कि जो भी किसान केसीसी लोन को समय पर बैंक को जमा करता है तो उसे ब्याज में विशेष छूट सरकार द्वारा दी जाएगी. लोन अगर लेट जमा करेंगें तो उन्हें अतिरिक्त ब्याज देना होगा.

किसान क्रेडिट कार्ड पंजीयन – केसीसी कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कर आसान ब्याज दर में पायें ऋण

सरकार दे रही है सब्सिडी –

किसान क्रेडिट कार्ड में सरकार द्वारा किसानों को विशेष लाभ देने के लिए 2 प्रतिशत की अनुदान दे रही है. वैसे केसीसी में ब्याज दर 9 प्रतिशत है, लेकिन सरकार इस 2 % अनुदान दे देती है, मतलब किसान भाइयों को 7% की दर से ब्याज देना होगा. इसके बाद भी और लाभ मिलते है. जो किसान समय पर लोन अमाउंट को जमा करते है उसे अतिरिक्त 3 प्रतिशत की और छूट सरकार द्वारा दी जाती है. मतलब किसान को सिर्फ 4 प्रतिशत का भार उठाना होगा.

सरकार इस ब्याज सब्सिडी का लाभ सिर्फ उन किसानों को देती है, जो सरकार द्वारा तय अवधि में पूरा लोन चूका देते है. यानि समय पर लोन चुकाने में किसान भाई को कुल 5 प्रतिशत का ब्याज में लाभ मिल जाता है, और किसानों को 4 % के साथ ही लोन भरना पड़ता है.

केसीसी योजना का उद्देश्य –

सरकार ने इस योजना को किसान के कल्याण के उद्देश्य से शुरू किया था. सरकार किसानों के आर्थिक मदद के लिए योजना लेकर आई है, इस योजना को इसलिए शुरू किया गया है ताकि किसान लोन में मिले पैसे से खेती में उपयोग आने वाले बीज, खाद, उपकरण, कीटनाशक आदि आसानी से खरीद सकें.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना : सरकार से कृषि उपकरण पर अनुदान पाकर शुरू करें आधुनिक खेती

केसीसी योजना के लाभार्थी –

केसीसी योजना का लाभ किसानों को ही दिया जाता है. इसके लिये पहले अलग से आवेदन होता था, पूरी प्रकिया, जांच पड़ताल के बाद आवेदन कर लाभ मिलता था. लेकिन अब सरकार ने केसीसी योजना के तहत लोन देना और सरल कर दिया है. अब जो किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अतर्गत रजिस्टर है और उसका लाभ ले रहा है तो उसे इस केसीसी योजना के तहत आसानी से पीएम किसान के पोर्टल द्वारा ही मिल जायेगा. केसीसी योजना का लाभ वो किसान भी उठा सकते है जो दुसरे के खेत में काम करते है, कोई भी खेती से जुदा किसान इसका लाभ ले सकता है.

अन्य पढ़ें –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *