कृषि उपकरण अनुदान योजना : कृषि मशीन की खरीद पर मिलेगी 100 फीसदी सब्सिडी, मोदी सरकार का बड़ा फैसला, जानिए प्रक्रिया

आज के समय में मोदी सरकार चाहती है, कि हमारे देश के किसान आधुनिक उपकरणों की सहायता से खेती किसानी करें और अपने फसलों के उत्पादन में अधिक मुनाफा कमा सके। सभी लोग जानते हैं, कि देश के विकास में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण योगदान किसान भाई बहनों का ही होता है। ऐसे लिए आवश्यक है, कि आज के समय के सभी किसान भाई बहन आधुनिक उपकरण की सहायता से खेती करें और इसीलिए मोदी सरकार में कृषि उपकरण अनुदान योजना का प्रारंभ किया है। आज हम इस लेख में कृषि उपकरण अनुदान योजना के बारे में किसान भाई बहनों को जानकारी देंगे।

krishi upkaran anudan yojana

कृषि उपकरण अनुदान योजना क्या है

बाला सरकार इस योजना के जरिए आज हमारे देश के किसानों को आधुनिक उपकरण को किराए के तौर पर उपलब्ध कराएगी और सभी किसान किराए के उपकरण को इस्तेमाल करके आधुनिक रूप में खेती किसानी कर सकेंगे। सरकार ने सभी प्रकार के आधुनिक उपकरणों को किराए पर उपलब्ध करवाने के लिए करीब भारत में 42 कस्टम हायरिंग केंद्र बनाए हैं और इस केंद्र के जरिए सभी किसान आसानी से उपकरण किराए पर ले सकेंगे। इस योजना में 100 फ़ीसदी तक का आर्थिक मदद भी किसानों को प्रदान किए जाने का प्रावधान है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना – जानिए आपके अकाउंट में पैसा आया है कि नहीं

कृषि उपकरण अनुदान योजना में कितनी मिलेगी सब्सिडी –

  • कृषि उपकरण अनुदान योजना के अंतर्गत 100% सब्सिडी पर किसान भाइयों को लगभग 25 लाख रुपए और लगभग योजना के अंतर्गत पूर्वोत्तर क्षेत्र के किसान भाई बहनों को मशीन बैंक के लिए करीब 10 लाख का खर्च आने पर सरकार 95% तक कि सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • सामान्य श्रेणी के किसानों को 40% और एससी एसटी एवं महिला और लघु सीमांत के किसानों को 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • इसके अतिरिक्त सभी प्रकार के उपकरणों को रेंट पर लेने के लिए किसानों को एक मोबाइल ऐप प्रदान किया जाएगा जिसके जरिए किसान सभी प्रकार के अपने नजदीकी कस्टम हायरिंग केंद्र में पता कर सकेंगे कि कौन से उपकरण कब किराए पर उपलब्ध हो सकते हैं और साथ ही में ऑनलाइन बुकिंग भी कर सकते हैं।

कृषि उपकरण अनुदान योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के जरिए केंद्र सरकार पूर्वोत्तर क्षेत्रों में हायरिंग केंद्र बनवाने के लिए 100% की सब्सिडी प्रदान करेगी और इस सब्सिडी में सहायता के रूप में 25 रुपए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • यदि किसान भाई बहन पूर्वोत्तर क्षेत्र के रहने वाले हैं और वह 10 लाख रुपए की लागत में मशीन बैंक लगाना चाहते हैं, तो सरकार की तरफ से उन्हें 85% शक्ति प्रदान की जाएगी।
  • किस योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी में आने वाले किसान भाई बहन जैसे कि एससी, एसटी, महिला या लघु सीमांत किसानों को योजना का लाभ के रूप में 50% सब्सिडी प्रदान करने का प्रावधान है।
  • यदि कोई ऐसा किसान जो किसान भाई बहनों की सहायता हेतु सभी प्रकार के आधुनिक उपकरणों के लिए हायरिंग केंद्र बनाना चाहता है और उसका लागत लगभग 60 लाख रुपए तक का है, तो उसे सरकार 40% तक का आर्थिक सहायता अपनी तरफ से देगी।
  • किसी भी प्रकार की किसान समूह की 10 लाख रुपए तक की परियोजनाओं की लागत में सरकार 80% तक का भी सहायता किसान को प्रदान करेगी।
  • एप्लीकेशन के माध्यम से किसान भाई बहन अपने क्षेत्र के लगभग 50 किलोमीटर के दायरे में आने वाले मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से हायरिंग सेंटर का पता लगाएंगे और वहां से आराम से आधुनिक उपकरण किराए पर लेकर इस्तेमाल कर सकेंगे।

फार्म मशीनरी बैंक योजना – योजना के तहत सरकार की मदद से यंत्र खरीद कर उसे किराये पर दें, होगी लाखों कमाई

किसान कृषि यंत्र अनुदान योजना डॉक्यूमेंट लिस्ट –

  • राशन कार्ड की फोटो कॉपी
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाते की जानकारी
  • गरीबी रेखा कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मूलनिवासी
  • कृषि यंत्र खरीदी का बिल
  • जाति प्रमाण पत्र (यदि किसी विशेष जाति से हो तो)
  • भूमि की जानकारी

कृषि उपकरण अनुदान योजना के लिए आवेदन कैसे करें

  • किसान भाई बहन यदि सरकार की इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो वह सीएससी सेंटर पर भी जाकर योजना में आवेदन करवा सकते हैं और आवेदन पूरा होने के बाद सेंटर वाले आपको आवेदन नंबर दे देंगे।
  • यदि आप स्वयं इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो इसके लिए इस आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और वहां अपना आवेदन पूरा करें।

कृषि उपकरण योजना के जरिए किसान भाई बहनों को आधुनिक उपकरण किराए पर मिल जाएंगे और सभी किसान लोग किराए पर इन उपकरणों का इस्तेमाल करके एक उन्नत और आधुनिक खेती कर पाएंगे।

अन्य पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *