ताज़ा खबर

ललित मोदी की जीवनी | Lalit Modi Biography In Hindi

ललित मोदी की जीवनी (Lalit Modi Biography In Hindi) 

ललित मोदी क्रिकेट जगत की काफी चर्चित शख्सियत हैं, जिन्होंने आईपीएल की शुरुआत हमारे देश में की थी और काफी कम समय के अंदर ही इन्होंने बीसीसीआई का मुनाफा भी काफी अधिक बढ़ा दिया था. हालांकि कई तरह के केस में फंसने के चलते इन्हें भारत को छोड़ना पड़ा था और इस समय ये लंदन में रह रहे है.

Lalit Modi biography in Hindi

ललित मोदी के जीवन से जुड़ी बातें-

नाम (Name) ललित कुमार मोदी
जन्मदिन (Birthday) 29 नवंबर 1963
जन्म स्थान (Birth Place) दिल्ली
शिक्षा (Education) 12 वीं पास
धर्म (Religion) हिंदू
भाषा का ज्ञान (Language) हिंदी, अंग्रेजी
पेशा (Occupation) पूर्ण बीसीसीआई के उपाध्यक्ष और आईपीएल के संस्थापक
लंबाई (Height) 5’8
वजन (Weight) 70- किलो
राशि (Zodiac Sign) धनु राशि

 ललित मोदी के परिवार के बारे में जानकारी (Family Information)

पिता का नाम (Father’s Name) कृष्ण कुमार मोदी
माता का नाम (Mother’s Name) बीना मोदी
दादा का नाम (Grandfather’s Name) गुजर माल मोदी
बहन का नाम  (Sister’s Name) चारू मोदी भारती
भाई का नाम (Brother’s Name) समीर मोदी
पत्नी का नाम (Wife’s Name) मिनल मोदी
बच्चों का नाम (Children’s Name) रुचिर मोदी, करीमा सग्रानी (सौतेली बेटी) और अलीया मोदी

 ललित मोदी का जन्म और परिवार (Birth Details And Family Details)

  • इनका जन्म सन् 1963 में दिल्ली के एक व्यापारी परिवार में हुआ था और ये काफी अमीर घर से नाता रखते है.
  • ललित मोदी के माता – पिता की कुल तीन संताने हैं, जिनमें से ललित इनके दूसरे नंबर की संतान हैं. ललित से बड़ी इनकी एक बहन हैं और इनसे छोटा इनका एक भाई है.
  • मोदी की पत्नी मिनल इनसे आयु में 10 साल बड़ी हैं और कहा जाता है कि वो ललित की मां की दोस्त हुआ करती थी और इनकी मां के माध्यम से ही इन दोनों की मुलाकात हुई थी. वहीं इस मुलाकात के कुछ समय बाद यानी साल 1991 में इन्होने मिनल से विवाह कर लिया था और इस शादी से इन्हें दो बच्चे हुए थे.

ललित मोदी की शिक्षा (Education) –

  • इन्होंने अपनी शिक्षा शिमला के बिशप कॉटन स्कूल और नैनीताल के सेंट जोसेफ कॉलेज से प्राप्त की हुई है. हालांकि क्लास में कम उपस्थिती के चलते इन्हें सेंट जोसेफ कॉलेज से निकाल दिया गया था.
  • इन्होंने कॉलेज स्तर की शिक्षा हासिल करने के लिए पेस विश्वविद्यालय और ड्यूक विश्वविद्यालय में दाखिला लिया था. हालांकि किन्हीं करणों के चलते ये इन दोनों विश्वविद्यालय से अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर सके थे और इस तरह से ये केवल 12 वीं कक्षा तक ही पढ़े हुए हैं.

ललित मोदी के निजी जिंदगी से जुड़ी जानकारी-

  • मोदी के पिता इनके विवाह के खिलाफ थे, जिसके चलते इनके पिता ने इनकी शादी होने के बाद इन्हें मुंबई में एक छोटे से घर में रहने के लिए भेज दिया था.
  • मोदी की पत्नी की ये दूसरी शादी है और पहली शादी से इनकी पत्नी को एक बेटी भी है, जिसका नाम करीमा है.

ललित मोदी का करियर-

  • साल 1993 में इन्होंने मोदी मनोरंजन नेटवर्क (मेन) नामक कंपनी की स्थापना की थी, लेकिन ये कंपनी कुछ समय बाद बंद हो गई थी. ये कंपनी बंद होने के बाद इन्हें इनके परिवार द्वारा चलाए जा रहे मोदी उद्यमों व्यापार का अध्यक्ष और प्रबंध निर्देशक बना दिया गया था. साल 2002 में मोदी ने एक ऑनलाइन लॉटरी व्यवसाय की शुरुआत भी की थी.
  • कई तरह के व्यापार करने के बाद मोदी ने अपना रुख क्रिकेट की ओर कर लिया था और इन्होंने बीसीसीआई के सामने इंडियन क्रिकेट लीग लिमिटेड नामक लीग को शुरू करने का सुझाव रखा था. हालांकि मोदी के इस सुझाव को बीसीसीआई द्वारा मंजूरी नहीं मिल सकी थी.
  • प्रस्ताव खारिज होने के बाद ये साल 1999 में हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन का हिस्सा बन गए थे. लेकिन इस एसोसिएशन पर कंट्रोल करने के चलते इन्हें इस एसोसिएश से निकाल दिया गया था. जिसके बाद इन्होंने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन में अपनी जगह बना ली थी और इस एसोसिएशन के ये अध्यक्ष बन गए थे.
  • साल 2005 में इन्होंने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष रहते हुए, शरद पवार की मदद बीसीसीआई का अध्यक्ष बनने में की थी, जिसके बाद इन्हें इस बोर्ड का उपाध्यक्ष बना दिया गया था.
  • बीसीसीआई का उपाध्यक्ष बनने के बाद इन्होंने साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत की थी. ये लीग काफी कम समय के अंदर विश्व की सबसे महंगी लीग में से एक लीग बन गई थी.

ललित मोदी के साथ जुड़े विवाद (Controversy)

  • कोकीन के केस में फसे थे

ललित मोदी जिस वक्त ड्यूक विश्वविद्यालय से अपनी डिग्री की पढ़ाई कर रहे थे, उस वक्त किन्हीं कारण के चलते इन्होंने एक छात्रा को पीट दिया था और इसके चलते इन्हें गिफ्तार कर लिया गया था. गिरफ्तार करने के बाद वहां की अदालत ने इन्हें सजा के तौर पर 100 घंटे की सामुदायिक सेवा करने का आदेश दिया था. हालांकि ये अपनी सेहत का हवाला देते हुए भारत आ गए थे और यहां पर आकर इन्होंने अपनी सजा को पूरा किया था और 100 की जगह 200 घंटे सामुदायिक सेवा की थी.

  • पावर का गलत इस्तेमाल किया

साल 2007 में इन्होंने आईएएस अधिकारी महेंद्र सुराना को सवाई मानसिंह स्टेडियम में हो रहे एक मैच को देखने से रोक दिया था और उनकी टिकट को भी फाड़ दिया था और इसी तरह का व्यवहार इन्होंने आईपीएस अधिकारी आरपी श्रीवास्तव के साथ भी किया था. इसके अलावा इन्होंने एक क्रिकेट मैच के दौरान सवाई मानसिंह स्टेडियम में इनके बॉक्स में घूमने के लिए एक कॉन्स्टेबल को थप्पड़ भी मारा दिया था.

  • बीसीसीआई और आईपीएल से बाहर निकाला गया (Expulsion from IPL And BCCI)

साल 2010 को इन्हें आईपीएल और बीसीसीआई से बाहर निकाल दिया गया था और इनपर सट्टेबाजी और मनी लॉंडरिंग सहित 22 तरह के आरोप लगाए गए थे. वहीं ये आरोप लगने के बाद ये भारत छोड़कर लंदन में अपनी पत्नी के परिवार के पास चले गए थे. हालांकि अपने बचाव में इन्होंने कहा था कि इनको एन श्रीनिवासन द्वारा बीसीसीआई से बाहर निकाले के लिए ये सब किया गया है और इनकी छवि खराब की गई है.

 ललित मोदी के जीवन से जुड़ी जानकारी (Interesting Facts)

  • साल 2010 में इन्होने ट्विट करके दावा किया था कि न्यूजीलैंड के क्रिकेटर क्रिस केर्न्स, साल 2008 में हुई मैच फिक्सिंग में शामिल थे. वहीं इस आरोप के बाद केर्न्स ने मोदी पर झूठे बयान देने के लिए मुकदमा दायर किया था और इस मुकदमे को जीत कर भारी रकम मोदी से वसूली थी.
  • इनके बीसीसीआई का उपाध्यक्ष बनने के बाद इस बोर्ड का मुनाफा साल 2006 में लगभग 6,300 करोड़ रुपये तक बढ़ गया था और बहुत कामयाबी के साथ इन्होंने इस बोर्ड का कार्य संभाला था.
  • इन पर कई सारे केस भारत में चलने के बावजूद ये इस वक्त अपने परिवार के साथ लंदन में आराम दायक जीवन जी रहे हैं.

अन्य पढ़े:

Sneha

Sneha

स्नेहा दीपावली वेबसाइट की लेखिका है| जिनकी रूचि हिंदी भाषा मे है| यह दीपावली के लिए कई विषयों मे लिखती है|
Sneha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *