दुनिया में अब तक तबाही मचा चुकी महामारी की सूचि | List of Pandemics in History in Hindi

दुनिया में अब तक तबाही मचा चुकी महामारी की सूचि (List of Pandemics in History in Hindi)

इन दिनों पूरी दुनिया को एक ऐसी बीमारी ने घेर लिया हैं जिसे विश्व के स्वास्थ्य संगठन द्वारा महामारी (पैंडेमिक) घोषित कर दिया गया है. इस बीमारी का सबसे बड़ा कारण है कोरोना वायरस. लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के इतिहास में कई सदियों पहले से कई सारी ऐसी बीमारियाँ फ़ैल चुकी हैं, जिससे लाखों ही नहीं बल्कि करोड़ों लोगों की मृत्यु हो चुकी है. और उन सभी बीमारियों को महामारी (पैंडेमिक) घोषित किया गया था. आज हम इस लेख में वे कौन – कौन सी बीमारियां थी, जिसे महामारी (पैंडेमिक) घोषित किया गया इसकी एक सूची लेकर आये हैं. इस सूची में आपको उन सभी बीमारियों के नाम और उनकी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

List of Pandemics hindi

दुनिया के इतिहास की पैंडेमिक घोषित की गई बीमारियों की सूची (List of All Pandemic Disease in the History of the World)

नीचे दी गई तालिका में हम आपको सदियों से दुनिया के इतिहास में अब तक जिन – जिन बीमारियों को महामारी (पैंडेमिक) घोषित किया गया है उनकी जानकारी दे रहे हैं –

नाम समय अवधि प्रकार / कारण मरने वालों की संख्या
एथेंस 430 बीसी  –  –
एंटोनिन प्लेग 165 – 180 चेचक या खसरा 5 मिलियन
प्लेग ऑफ़ जस्टिनियन 541 – 542 येर्सीनिया पेस्टिस बैक्टीरिया / चूहे, फ्लास से  30 से 40 मिलियन
लेप्रोसी कुष्ठ रोग 11 वीं शताब्दी धीमी गति से विकसित होने वाली जीवाणु संबंधी बीमारी मिलियंस लोग
द ब्लैक डेथ 1346 – 1353 बूबोनिक प्लेग / येर्सीनिया पेस्टिस बैक्टीरिया / चूहे, फ्लास से  200 मिलियन
द कोलमबियन एक्सचेंज 1492 चेचक, खसरा और बूबोनिक प्लेग जैसी बीमारी के चलते 56 मिलियन
ग्रेट प्लेग ऑफ़ लन्दन 1665 येर्सीनिया पेस्टिस बैक्टीरिया / चूहे, फ्लास से    1,00,000
इटालियन प्लेग 1629  – 1631 येर्सीनिया पेस्टिस बैक्टीरिया / चूहे, फ्लास से   1 मिलियन
कॉलरा पैंडेमिक 1 – 6 1817 – 1923 वी. कॉलरा बैक्टीरिया 1 मिलियन से भी ज्यादा
थर्ड प्लेग 1885 येर्सीनिया पेस्टिस बैक्टीरिया / चूहे, फ्लास से 12 मिलियन (चीन और भारत)
येलो फेवर लेट 1800s वायरस / मच्छरों से 1-15 लाख (यूएस)
रशियन फ्लू 1889 – 1890 एच2एन2  वायरस (एवियन ओरिजिन) 1 मिलियन
स्पेनिश फ्लू 1918 –

1919

एच1एन1 वायरस / सूअर से 40 से 50 मिलियन
एशियाई फ्लू 1957 – 1958 एच2एन2 वायरस 1.1 मिलियन
होंगकोंग फ्लू 1968 – 1970 एच3एन2 वायरस 1 मिलियन
एचआईवी एड्स 1981 से अब तक वायरस / चिम्पंजीस 25-35 मिलियन
स्वाइन फ्लू 2009 – 2010 एच1एन1 वायरस / सूअर 2 लाख
सार्स 2002 – 2003 चमगादड़, सिवेट्स 770
इबोला 2014 – 2016 इबोला वायरस / जंगली जानवरों से 11 हजार
मर्स 2015 से अब तक चमगादड़ और ऊंट 850
कॉविड – 19 सन 2019 से अब तक कोरोना वायरस / कारण का अभी पता नहीं चल पाया है. लगभग 6 हजार (अब तक)

कोरोना वायरस बीमारी से बचने के उपाय यहाँ पढ़ें

देखा जाये तो प्लेग एवं फ्लू जैसी ये सभी बीमारियों ने काफी बड़े पैमाने पर लोगों की हत्या की. इन बीमारियों से इतने लोगों को अपने प्राणों से हाथ धोना पड़ा कि कुछ तो द्वीप के द्वीप तक ख़त्म हो गए. हालही में फैले कोरोना वायरस के चलते भी कॉविड – 19 जैसी महामारी (पैंडेमिक) ने दुनिया भर में लोगों के बीच काफी डर का माहौल बना दिया है. यह वायरस चीन के वुहान शहर की देन है. जिससे चीन सहित दुनिया के 147 ऐसे देश प्रभावित हुए हैं जिन्हें इस वायरस ने घेरा रखा है. इस वायरस से अब तक 1 लाख 40 हजार से भी ज्यादा लोग ग्रसित हो गए है. आने वाले समय में यह आंकड़ा बढ़े नहीं, इसलिए दुनिया भर में इस बीमारी से निपटने के हर संभव प्रयास करते हुए लोगों की सुरक्षा के पूरे इन्तेजाम किये जा रहे हैं. 

Other links –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *