लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय [ Lovlina Borgohain Biography, Caste Religion, Match in Hindi]

लवलीना बोरगोहेन (बोर्गोहेन) भारतीय मुक्केबाज का जीवन परिचय, ताज़ा खबर, उम्र, कद, टोक्यो ओलंपिक, अगला मैच, धर्म, जाति [Boxer Lovlina Borgohain Biography, Latest Update in Hindi] (Match, Age, Ranking, Religion, Next Game, Height, Olympic 2021, Instagram, Religion, Caste)

भारतीय महिला बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन ने टोक्यो ओलंपिक्स में जबरदस्त परफॉर्मेंस देकर ना सिर्फ हम भारतीयों को गौरवान्वित किया है, बल्कि वह टोक्यो ओलंपिक्स 2021 के सेमी फाइनल में भी प्रवेश कर चुकी हैं. बता दें, दो बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन ने क्वार्टरफाइनल मैच में चीन ताईपे की नीन-चिन चेन के खिलाफ 3-2 का स्कोर बनाकर जीत हासिल की। जल्द ही ये भारत के लिए मैडल लेकर आएंगई. लवलीना बोर्गोहेन वर्ल्ड चैंपियनशिप रेसलर कैसे बनी ? कैसे उन्होंने इस मुश्किल सफर को तय किया है!  यह आप उनकी जीवनी को पढ़कर समझ जाएंगे।

lovlina borgohain biographyin hindi

लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय (Lavlina Borgohain Biography in Hindi)

लवलीना बोरगोहेन जन्म, उम्र, कद, धर्म, जाति (Birth, Age, Height, Religion, Caste)

पूरा नामलवलीना बोर्गोहेन
निक नेमलवलीना
जन्म तिथि2 अक्टूबर 1997
जन्म स्थानगोलाघाट असम, इंडिया
उम्र23
होमटाउनगोलाघाट असम
करंट सिटीटोकियो
नागरिकताभारतीय
धर्महिन्दू
जातिआसामी
रोलWomen’s, 69kg
नेटवर्थ1-5 मिलियन डॉलर
प्रोफेशनबॉक्सर
हाइट1.77 मीटर
आंखों का रंगकाला
बालों का रंगकाला

लवलीना बोरगोहेन का पारिवारिक जीवन (Family)

पिता का नामटीकेन बोर्गोहेन
मां का नाममामोनी बोर्गोहेन
सिब्लिंग्सलीमा और लीना

लवलीना बोरगोहेन कौन है  

लवलीना बोर्गोहेन एक भारतीय बॉक्सर है, जो ओलंपिक्स और वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी भारत को रिप्रेजेंट करती हैं। लवलीना बोर्गोहेन इस साल हो रहे टोक्यो ओलंपिक्स में भारत को रिप्रेजेंट करती हुई कमाल का मैच खेल रही है। लवलीना बोर्गोहेन 69 किलोग्राम महिला श्रेणी से खेलने वाली एक बहुत ही जबरदस्त बॉक्सर है।

लवलीना बोरगोहेन का प्रारंभिक जीवन (Early Life)

लवलीना बोर्गोहेन का जन्म असम के छोटे से शहर गोलाघाट में हुआ। लवलीना के पिता टीकेन का अपना खुद का एक छोटा सा बिजनेस है और माता मामोनी एक हाउसवाइफ है। लवलीना बोर्गोहेन की बहन लीमा और लीना नेशनल किक बॉक्सर चैंपियन है। उन्होंने ही लवलीना को भी एंकरेज किया था कि वह भी किक बॉक्सर चैंपियन बन जाए। कुछ समय तक लवलीना ने किक बॉक्सिंग में अपना हाथ आजमाया लेकिन फिर बाद में उन्होंने अपना कैरियर किक बॉक्सिंग से बॉक्सिंग में स्विच कर लिया था। क्योंकि किक बॉक्सिंग से ज्यादा पोटेंशियल लवलीना को बॉक्सिंग में नजर आया था। यहाँ से उनके करियर की शुरुआत हुई.

लवलीना बोरगोहेन बॉक्सिंग ट्रेनिंग (Training)

लवलीना के बॉक्सिंग टैलेंट को नेशनल बॉक्सिंग कोच Podum Boro ने पहचाना, जब लवलीना स्कूल द्वारा कंडक्ट किए गए Sports Authority of India में ट्रायल दे रही थी। साल 2012 में लवलीना ने अपने बॉक्सिंग ट्रेनिंग Podum Boro के निगरानी में शुरू की थी। बॉक्सर मैरी कॉम लवलीना की सबसे बड़ी इंस्पिरेशन थी। लवलीना की आर्थिक स्थिति काफी खराब थी लेकिन चीजें तब सही हो गई जब लवलीना ने बॉक्सिंग में अपना नाम कमाया। इंटरनेशनल बॉक्सिंग की ट्रेनिंग लवलीना ने वूमंस बॉक्सिंग कोच Shiv Singh से ली थी।

लवलीना बोरगोहेन का बॉक्सिंग करियर (Boxing Career)

कोच Podum Boro से ट्रेनिंग लेने के बाद लवलीना ने जूनियर और सीनियर लेवल बॉक्सिंग कंपटीशन में भी हिस्सा लिया और उसमें भी बेहद अच्छा प्रदर्शन किया था। जिसकी बदौलत लवलीना का इंटरनेशनल करियर भी जल्द शुरू हो गया था। लवलीना ने सन 2017 में अपना पहला इंटरनेशनल डेब्यू President’s Cup in Astana, Kazakhstan में किया था। जहां वह इंडिया को रिप्रेजेंट कर रही थी। यहां पर उन्होंने 75 किलोग्राम कैटेगरी के अंदर ब्रोंज मेडल जीता था।

लवलीना बोरगोहेन ताज़ा खबर (Latest Update)

लवलीना बोरगोहेन ने ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर ओलंपिक मैडल विजेता की लिस्ट में अपना नाम दर्ज करा लिया है. अपने बेहतरीन प्रदर्शन के बाद सेमीफाइनल में पहुंची थी, परन्तु तुर्की की बॉक्सर बुसेनाज़ सुरमेनेली से 0-5 से हारकर कांस्य पदक अपने नाम किया.

बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने हाल ही में टोक्यो ओलंपिक्स में मनमोहक प्रदर्शन करके अपने अपोनेंट को 3-2 से हराकर ओलंपिक्स क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह बना ली है।

लवलीना बोरगोहेन टोक्यो ओलिंपिक प्रदर्शन (Olympic 2021)

लवलीना ने शुक्रवार की सुबह क्वार्टरफाइनल मैच में चीन की बॉक्सर ताईपे की नीन-चिन चेन को 3-2 से हराकर सेमिफाइनल में अपनी जगह बना ली है. इससे भारत को कांस्य पदक पक्का हो गया है. अब लोगों को लवलीना से भारत के लिए रजत या स्वर्ण पदक की उम्मीद है. अब देखना ये होगा कि भारत को इस टोक्यो ओलंपिक से दूसरा कौन सा मैडल हासिल करती हैं.

ओलंपिक्स में लवलीना बोर्गोहेन अपने एक जबरदस्त अंदाज में नजर आई हैं। ऐसा लग रहा था जैसे वह सिर्फ जीतने के लिए ही आई है। मैच की शुरुआत से ही लवलीना बोर्गोहेन काउंटर अटैक की स्ट्रेटजी यूज करती रही इसका फायदा उन्हें पूरे मैच में मिला और वह जीत गई। पूरे मैच में लवलीना अटैकिंग मोड में ही दिख रही थी। लवलीना के बाएं हाथ के हुक और दाएं हाथ के अपरकट ने मैच जितने में उनकी बहुत मदद की है।

लवलीना बोरगोहेन का अगला मैच (Next Match)

लवलीना सेमीफाइनल मैच में तुर्क्री की बुसेनाज़ सुर्मेनेली के खिलाफ भिड़ेंगी. यह मैच आप 4 अगस्त की सुबह 11 बजे देख सकते हैं. 4 अगस्त के दिन यह पक्का होगा कि भारत को टोक्यो ओलंपिक में दूसरा मैडल ब्रोंज मिलता है या फिर सिल्वर या गोल्ड.

लवलीना बोर्गोहेन का अगला मुकाबला 30 जुलाई को चाइनीज ताइपे की निन चिन चैन से होगा। अब पूरे देश और उनके फैंस की नजरें हैं उनके आने वाले मैच पर टिक चुकी है।

FAQ

Q : लवलीना बोरगोहेन कौन है ?

Ans : एक इंडियन फीमेल बॉक्सर है। 

Q : लवलीना बोरगोहेन ओलंपिक में कौन सा खेल खेल रही हैं ?

Ans : लवलीना बोर्गोहेन ओलंपिक्स में बॉक्सिंग कर रही हैं।

Q : लवलीना बोरगोहेन ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में कौन सा मेडल जीता था ?

Ans : ब्रोंज मेडल जीता था।

Q : लवलीना बोरगोहेन ने कितने स्कोर से जर्मनी कंटेस्टेंट को हराया ?

Ans : 3-2 के स्कोर से लवलीना बोर्गोहेन ने जर्मनी कंटेस्टेंट को हराया था।

Q : लवलीना बोरगोहेन टोक्यो ओलिंपिक में कहां तक पहुंची हैं ?

Ans : अभी क्वार्टरफाइनल में पहुंची है.

Q : लवलीना बोरगोहेन का अगला मैच कब और किसके साथ है ?

Ans : 30 जुलाई को चीन की बॉक्सर निन चिन चैन के साथ है.

अन्य पढ़ें –

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here