ताज़ा खबर

एलपीजी सब्सिडी नहीं मिली

LPG Subsidy Issues LPG Subsidy Not Received In Hindi एलपीजी संबंधी कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं उपभोक्ताओं को देखे क्या हैं एलपीजी सब्सिडी का प्रॉब्लम ?

डाइरैक्ट बेनीफिट ट्रान्सफर ऑफ Direct Benefit Transfer of LPG subsidy DBLT LPG या प्रत्यक्ष हस्तांतरित लाभ ((PAHAL) योजना सबसे पहले 1 जून 2013 मे स्टार्ट हुई थी। इस योजना मे 291 जिलो को शामिल किया गया। अगर कोई ग्राहक सब्सिडी  मूल्य पर सिलेन्डर चाहता हो तो यह आवश्यक है की उसके पास आधार नंबर हो । जब गवर्नमेंट ने यह देखा की इसमे ग्राहको को असुविधा हो रही है तो उसने इसमे कई सुधार किए तथा इसे 15 नवम्बर 2014, 54 जिलो मे फिर से लागू किया तथा बचे हुये क्षेत्र मे 1 जनवरी 2015 को लागू किया ।

1 जनवरी 2015 मे लागू हुई योजना मे 676 डिस्ट्रिक्ट के 15.3 करोड़ ग्राहकों को शामिल किया गया। सरकारी आकड़ों के अनुरूप 43% ग्राहक  इस योजना को जॉइन केआर चुके है तथा सब्सिडी  का रुपया अपने बैंक अकाउंट मे पा चुके है।

LPG Subsidy Issues LPG Subsidy Not Received In Hindi

2015 मे लागू हुई योजना के अनुसार एक ग्राहक अपने अकाउंट मे सब्सिडी  का पेसा दो तरह से प्राप्त कर सकता है।

How to get Subsidy In Direct Benefit Transfer Of LPG – PAHAL Yojana Process In Hindi

First PAHAL Yojana Process In Hindi 1:

इस (PAHAL) योजना के अनुरूप ग्राहक  को एक फॉर्म भरना होता है। जिसमे उसे अपने LPG डिस्ट्रीब्यूटर का नंबर, आधार कार्ड नंबर, तथा आना बैंक अकाउंट नंबर देना होता है। यह फॉर्म भरने के बाद ग्राहक  सब्सिडी  का पेसा अपने अकाउंट मे प्राप्त कर सकता है।

Second PAHAL Yojana Process In Hindi 2:

जिन लोगो के पास आधार कार्ड नही है उन लोगो के लिए इस योजना मे सुधार किया गया तथा इस योजना से उन लोगो को भी लाभान्वित किया ज्ञ जिनके आस आधार कार्ड ना हो । इस (PAHAL) योजना मे एक ग्राहक  को अपने बैंक अकाउंट की डीटेल (बैंक अकाउंट होल्डर का नाम / अकाउंट नंबर / IFSC कोड़ ) अपने LPG डिस्ट्रीब्यूटर को देनी होती है तथा वह ग्राहक  को 17 नंबर का ग्राहक  ID नंबर उसकी बैंक को देता है।  जिससे ग्राहक  अपने अकाउंट मे सब्सिडी  का पैसा प्राप्त कर सकता है।

LPG सब्सिडी  से संबंधी समस्या LPG Subsidy Issues In Hindi:

1 LPG Subsidy Not Received (एलपीजी सब्सिडी नहीं मिल रही हैं )

2013 मे इस (PAHAL) योजना के शुरू होने के बावजूद आज भी इस योजना मे सफलता नही मिल पायी है।  आज भी कई गृहाकों की आज भी शिकायत कर रहे है की या तो उन्हे LPG सब्सिडी  नही मिल रही है या लेट मिल रही है। सन 2014 मे जब यह योजना पूरी तरह से सफल नही थी तो कई ग्राहकों का कहना था की उन्हे उनके अकाउंट मे राशि नही मिली है क्यूकी सरकार ने इसे बीच मे ही कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया था। सरकार द्वारा इस योजना को स्थगित किए जाने का भूकतान इसके ग्राहकों को करना पड़ा अपना सब्सिडी  का पैसा लेट पाकर। जिन लोगो ने इस योजना मे फॉर्म फ़िल किए थे |उन्हे सरकार की तरफ से निर्देश मिले थे की उनके सिलेन्डर बूक करते ही उनके अकाउंट मे सब्सिडी  की राशि मिल जाएगी बल्कि एसा नही हुआ ओर गृहाकों को कई समय तक इंतजार करना पड़ा। 2014 मे इस योजना के बंद होने तक इस योजना मे 2.1 करोड ग्राहकों को जोड़ा जा चुका था तथा उनमे से कई ने इसके कारण तकलीफ उठाई। ओर तो ओर इस योजना मे सरकार ने एक ओर अहम फैसला किया जो यह है की एक ग्राहक  एक महीने मे 1 सिलेन्डर मिलेगा मतलब पूरे साल के 12 सिलेन्डर ।

LPG Subsidy Issues In Hindi (LPG Subsidy Not Received (एलपीजी सब्सिडी नहीं मिल रही हैं ) इस तरह की परेशानी देश भर में कई लोगो को हैं |

LPG Subsidy Not Received (एलपीजी सब्सिडी नहीं मिल रही हैं ) ऐसी अन्य प्रॉब्लम आपने भी देखी हो तब हमे कमेंट बॉक्स में लिखे ताकि सभी जान पाए कि किस तरह की असुविधा आ रही हैं |

अन्य पढ़े :

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

One comment

  1. Vikas Kumar Mahobia

    Mera Nam Vikas Kumar Mahobia hai mera aadar card bank say link hone ke bad bhi Subcidy nahi aa Raha hai mere Aadhar card report ke anusar SBI aur IDBI bank say link hai Lekin indian gas agency ke software may bank ka Nam hi show nahi hota pichle do mahine say chakkar kat Raha hoo Aadhar say link ke sabut dene ke bad bhi gas agency say yahi reply milta hai hamara software nahi dikha Raha hai agar bank a/c no. Say link hota to itna problem nahi hota.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *