मोदी कैश करो योजना : सरकारी कर्मचारीयों को मोदी का दिवाली गिफ्ट, छुट्टियों के बदले नगद राशी के साथ और भी फायदे

दिवाली पर हर किसी को तोहफो का इंतजार रहता है। अक्सर आपको रिश्तेदारों और मित्रों से ही तोहफे मिले होंगे लेकिन आपको इस बार यह बात जानकर बेहद खुशी होगी कि कोरोनावायरस की वजह से केंद्र सरकार द्वारा भी बहुत सारे लोगों को दिवाली का तोहफा मिलने वाला है। जी हां साल भर के दिवाली के सबसे बड़े त्यौहार के मौके पर केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार द्वारा एक नई स्कीम का ऐलान कर दिया गया है। मोदी सरकार द्वारा इस स्कीम का नाम दिया गया है कैश वाउचर स्कीम। शायद आप अब तक इस स्कीम के बारे में नहीं जानते होंगे तो चलिए हमारी इस पोस्ट को आरंभ से लेकर अंत तक पढ़ना प्रारंभ कर दीजिए।

कैश वाउचर स्कीम 2020

यह योजना सरकारी कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार की तरफ से प्रारंभ की गई है जिसे यात्रा भत्ता विकास योजना एलटीसी कैश वाउचर भी कहा गया है। दिवाली के उपलक्ष में इस योजना के तहत सरकारी कर्मचारियों को काफी लाभ प्राप्त होने वाला है। इस योजना के तहत प्रत्येक सरकारी कर्मचारी को प्रत्येक 4 साल में यात्रा भत्ता सरकार की तरफ से दिया जाएगा और इस भत्ते का उपयोग वे देश के किसी भी स्थान में एक बार सफर करने के लिए आराम से कर सकेंगे। यदि कोई कर्मचारी अपने घर जाना चाहता है तो इस भत्ते की योजना के तहत उसे दो बार यह मौका प्राप्त हो सकेगा। हालांकि कोरोनावायरस के लॉकडाउन की वजह से बहुत से लोग इस योजना का फायदा नहीं उठा पाए थे परंतु अब इस योजना को इस तरह से लागू किया गया है ताकि इसका फायदा सभी उठा सके।

कर्मचारी राज्य बीमा योजना : कोरोना काल में सरकार से पायें बेरोजगारी भत्ता

कैश वाउचर स्कीम योजना का उद्देश्य

देश की क्लोमिक को पटरी पर लाने के अलावा उसमें काफी विभिन्न प्रकार के सुधार करना भी आवश्यक है इसी वजह से सरकार ने कैश वाउचर स्कीम योजना को प्रारंभ किया है। सीधी सी बात है देश की अर्थव्यवस्था को साइकिल की तरह चलाने कि इस प्रक्रिया में जब कर्मचारियों को खर्च के लिए पैसे दिए जाएंगे तो वे उनको खर्च करेंगे तो उसका सीधा प्रभाव देश की अर्थव्यवस्था पर अवश्य पड़ेगा। सरकार की इस योजना की वजह से एक तरफ कर्मचारियों को लाभ प्राप्त होगा और दूसरा देश की अर्थव्यवस्था में काफी सुधार भी आएंगे।

एलटीसी के लिए सरकार कितना खर्च करेगी

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई क्या हुआ वचन स्कीम योजना के तहत यदि सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को लाभ प्रदान करती है तो सरकार की तरफ से इस योजना को कार्यान्वित करने के लिए 5675 करोड़ रुपए तक खर्च करने होंगे। इन सबके अटैक पब्लिक सेक्टर बैंक कर्मचारियों एवं पीएसक्यू कर्मचारियों के लिए 1900 करोड रुपए अलग से जारी किए गए हैं। इस योजना को पूरी तरह से कार्यान्वित करने के लिए सभी सुविधाएं देते हुए सरकार की तरफ से 28,000 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना – जानिए आपके फॉर्म का स्टेटस क्या है.

कैश वाउचर स्कीम योजना का लाभ कैसे मिलेगा

सरकारी कर्मचारी द्वारा जारी की गई इस योजना की वजह से सरकारी कर्मचारियों के बीच खुशी की एक लहर देखी जा रही है। परंतु सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना के लिए सरकारी कर्मचारियों के बीच सरकार की तरफ से कुछ शर्तें भी रखी गई हैं जो निम्नलिखित हैं।

  • इस योजना के तहत सभी केंद्रीय कर्मचारी को एलटीसी के बदले नगद राशि प्रदान की जाएगी।
  • जिन कर्मचारियों को इस योजना का पात्र समझा जाएगा केवल उन कर्मचारियों को ही यात्रा के लिए किराए की राशि दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत मिलने वाले यात्रा भत्ते के भुगतान पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाएगा।
  • कर्मचारियों को इस योजना के तहत राशि प्राप्त करने के लिए लीव एनकैशमेंट के दौरान जितना पैसा खर्च होगा उसका भुगतान भी करना पड़ेगा।
  • इस योजना का लाभ जिन कर्मचारियों को मिलेगा उन्हें उस भत्ते का भुगतान 31 मार्च 2021 से पहले कर्मचारियों को खर्च करना ही होगा।
  • इस भत्ता योजना में प्राप्त राशि से सरकारी कर्मचारियों को केवल वही चीजें खरीदनी होगी जिस पर 12% या उससे ज्यादा जीएसटी लगता हो।
  • इस योजना में मिलने वाली राशि की मदद से व्यापारियों अथवा बेंडर से ही कोई सेवा व वस्तु खरीदने अनिवार्य है जो जीएसटी रजिस्टर्ड हो।
  • इस योजना में राशि का क्लेम करते समय सरकारी कर्मचारी के पास जीएसटी रसीद होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर योजना : जानिए किसान कैसे 80 % का अनुदान ले सकते है.

स्पेशल फेस्टिवल एडवांस योजना

केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों के लिए स्पेशल एडवांस स्कीम का फायदा भी दिया जाना इस योजना के तहत निर्धारित किया गया है जिसके तहत उन्हें 10 हजार रुपए का एडवांस सरकार की इस योजना के तहत दिया जाएगा। इस योजना के तहत प्राप्त करने वाले 10000 रुपए का क्या कर्मचारी केवल डिजिटल माध्यम से ही प्राप्त कर पाएंगे। इस योजना की सबसे अधिक खासियत वाली बात यह है कि इसमें एडवांस राशि प्राप्त करने के बदले कोई ब्याज नहीं देना पड़ेगा। कर्मचारी इस एडवांस राशि का इस्तेमाल त्यौहार के लिए विभिन्न प्रकार की शॉपिंग के लिए कर सकेंगे। करमचारी चाहे तो इस एडवांस की राशि को 10 किस्तों में भी वह वापस कर सकते हैं। इस योजना का लाभ कर्मचारी केवल 31 मार्च 2021 तक उठा पाएंगे।

अन्य पढ़ें –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *