ताज़ा खबर

मैं कुछ भी कर सकती हूँ दूरदर्शन सीरियल | Main kuch bhi kar sakti hoon dd1 serial in hindi

Main kuch bhi kar sakti hoon dd1 serial in hindi “मैं कुछ भी कर सकती हूँ” दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाला एक शिक्षा मूलक शो है. यह एक शो है जिसके 400 मिलियन से भी अधिक दर्शक हैं, और इस शो ने अपने सफल 2 सीजन पूरे किये है और तीसरा सीजन जल्द ही शुरू होने वाला है. प्रसार भारती के सीईओ जवाहर सरकार का कहना है कि इस शो के पास फिलहाल देश में चल रहे किसी भी शो से बहुत अधिक दर्शक मौजूद हैं. यह शो में अपने ‘यौन शिक्षा’ को लेकर ये बहुत ही चर्चे में आ गया है. यह शो वेब सीरीज के माध्यम से, डिजिटल मीडिया के खिलाफ कई क्षेत्र से कहानियां प्राप्त कर तैयार किया गया है. 10 कहानियों में से 5 सबसे प्रभावशाली कहानियां इस सीरियल की खास डॉ स्नेहा के ऊपर फिल्माई गई है. इस शो के बारे में पूरी जानकारी यहाँ दर्शाई जा रही है.

मैं कुछ भी कर सकती हूँदूरदर्शन सीरियल

Main kuch bhi kar sakti hoon dd1 serial in hindi

मैं कुछ भी कर सकती हूँशो का फोर्मेट और प्रसारण (Main kuch bhi kar sakti hoon format)

ये शो ‘पापुलेशन फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया’ की तरफ से सन 2014 में शुरू किया गया था, जिसका मुख्य उद्देश्य बालविवाह, परिवार नियोजन, घरेलू हिंसा, लैंगिक असमानता आदि के प्रति लोगों को जागरूक करना था. इस शो को अन्य टेलीविज़न शो की तरह ही सिनेमाई परंपरा के तहत डिजाईन किया गया है, किन्तु इसकी कहानियाँ सरकारी विवरण, कई तरह के रिपोर्ट और सत्य घटनाओं पर आधारित होती है. इस शो में उन सभी मुद्दों पर ध्यान दिया जाता है, जो स्त्रियों के लिए महत्वपूर्ण है और जिस पर किशोरों को बात करने तक की इजाज़त नहीं होती.

main kuchh bhi kar sakti hun

सीजन 1  –

इस शो के पहले सीजन में लिंग चयन, बाल विवाह, लडकों की संवेदीकरण, घरेलू हिंसा और प्रजनन स्वास्थ्य के साथ साथ परिवार नियोजन के आसपास सामाजिक मानदंडों के महत्वपूर्ण हिस्सों को दिखाया गया. यह शो 52 एपिसोड्स का बनाया गया था जिसके इसके कुल 58 मिलियन दर्शक थे. इस शो यह सीजन बिहार, झारखण्ड, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश जैसे कुछ राज्यों में राज्य स्तरीय निजी मोबाइल रेडियो प्लेटफार्मों पर रेडियो पर भी प्रसारित किया गया.

सीजन 2 –

इस शो के दूसरे सीजन में पदार्थ दुरूपयोग, मानसिक स्वास्थ्य, शारीरिक और यौन परिवर्तन और उल्लंघन, स्वच्छता के मुद्दे और लिंग आधारित भेदभाव के साथ साथ युवाओं पर विशेष ध्यान देने के मुद्दे पर जोर दिया गया. इसकी उपलब्धि के चलते इसके दूसरा सीजन शुरू किया गया, जोकि 4 अप्रैल सन 2015 को शुरू किया गया था. ये शो प्रति मंगलवार और बुधवार पूरे भारत में सुबह 10: 30 बजे से और प्रति शनिवार और रविवार शाम 7 बजे दूरदर्शन पर प्रसारित होता था. इस सीजन में 79 एपिसोड्स प्रसारित किये गये.   

शुरू के दो सीजन की अपार सफलता के बाद शो के निर्माता इसके तीसरे सीजन की भी तैयारी कर रहे हैं. जुलाई 2017 में इस शो के तीसरे सीजन की शुरुआत होने की चर्चा जोरों से चल रही है, जिसमें ‘यौन शिक्षा’ के बारे में दर्शाया जा सकता है. ये एक टीवी शो होने के बाद भी इसका ड्रामा सरकार द्वारा जारी की जाने वाली विभिन्न मुद्दों की सांख्यिकी, सच्ची घटनाओं और तथ्यों पर आधारित होता है. इस शो का रूपांतरण देश भर के 14 अन्य भाषाओँ में भी किया जा रहा है ताकि ये शो सन्देश के रूप में देश के कोने कोने तक पहुंचे. अब तक दोनों सीजन को मिलाकर इस शो के कुल 131 एपिसोड का प्रसारण हुआ है.

मैं कुछ भी कर सकती हूँशो की कहानी (Main kuch bhi kar sakti hoon plot)

इस सीरियल की कहानी डॉ स्नेहा के इर्दगिर्द घूमती है, जोकि एक यंग डॉक्टर है और मुंबई शहर में अपने आकर्षक कैरियर को छोड़ कर इसे गाँव में चाहती है. इस शो में इस बात को फोकस किया गया था कि स्नेहा सभी को सबसे अच्छी स्वास्थ्य देखभाल देने के अपने अभियान में डटी रहती है. स्नेहा के इस अभियान के तहत, महिलाओं के प्रति हो रहे दुर्व्यहार के खिलाफ सामूहिक कार्यवाई के माध्यम से उन्हें आवाज मिल सकेगी.

इस शो की नायिका डॉ स्नेहा बहुत ही मजबूत और जिन्दादिल किरदार है, जो समाज में व्याप्त बुराइयों से लड़ते हुए गाँव की औरतो को उनका हक़ दिलाने की पुरजोर कोशिश करती है. डॉ स्नेह दरअसल एक ऐसी किरदार है जिसको अपने परिवार, अपना प्रोफेशन और सामाजिक जिम्मेदारियों को एक साथ निभाना पड़ता है. डॉ स्नेह कई गाँवों में जाती हैं और वहाँ स्त्रियों के ख़िलाफ़ हो रहे अत्याचारों के विरुद्ध अपनी आवाज़ बुलंद करती है.

भारतीय टेलीविज़न में सबसे अधिक दिखाए जाने वाले शो सास बहु पर आधारित होते हैं, जिस वजह से टेलीविज़न और उसके दर्शक कई अन्य जेनर से अछूते रह गये है. इस दरमियान डीडी नेशनल का शो ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’ इन ड्रामों से परे सच्चाई दिखाने के लिए चर्चे में हैं.

मैं कुछ भी कर सकती हूँशो की कास्ट और क्रू (Main kuch bhi kar sakti hoon cast and crew)

इस शो के कास्ट और क्रू मेम्बर्स के बारे में नीचे दर्शाया गया है –

  • फिरोज अब्बास खान – फिरोज अब्बास खान जाने माने स्क्रीन लेखक, फिल्म एवं थिएटर निर्माता एवं निर्देशक, इस सीरियल के निर्माता हैं. ये कई राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों के विजेता हैं. इनके काम से इन्हें विश्व स्तर पर उपलब्धि प्राप्त हुई है जिससे इनकी दर्शको एवं आलोचकों द्वारा बहुत प्रशंसा की गई. उनका अधिकाश कार्य सामाजिक कार्यों से जुड़ा हुआ है.  
  • श्रध्दा सिंह – ये एक विशाल अनुभव वाली रेडियो और टेलीविजन पेशेवर हैं. ये इस शो की स्क्रीन लेखिका हैं.
  • मीनल वैष्णव – ये इस शो की मुख्य भूमिका में नजर आई है जिनका किरदार का नाम डॉ स्नेहा माथुर है.
  • विक्रांत राय – यह अर्जुन के किरदान में नजर आये. इस शो में ये एक वकील हैं, जोकि मुंबई में रहते हैं और स्नेहा माथुर से प्यार करते है.
  • दाढ़ी पाण्डेय – ये केशव माथुर के किरदार में हैं, जोकि स्नेहा के पिता हैं.
  • जान्हवी सिंह – ये स्नेहा की छोटी बहन प्रीता के किरदार में दिखीं.
  • रंजना तिवारी – ये स्नेहा माथुर की माँ के किरदार में दिखी जिनका नाम अलका माथुर था.

इसके अलावा इस शो में बुआजी, डॉ सुमित, डॉ जैन, रघु और मुन्ना आदि किरदार भी थे जिन्होंने इस शो में काम किया.

मैं कुछ भी कर सकती हूँशो की कहानी से यौन शिक्षा (Main kuch bhi kar sakti hoon edutainment)

ये शो स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथिया प्रोग्राम के ब्लू प्रिंट की तरह सामने आया है. साथिया किट दरअसल ऑनलाइन मटेरियल के साथ आने वाली एक यौन शिक्षा स्त्रोत किट है. इस शो में कई सहकर्मी शिक्षक अपने उम्र के बराबर के लोगों को यौन शिक्षा की कई महत्वपूर्ण जानकारियां देते है. इस शो को दिखाते हुए दर्शकों के लिए (IVRS) नंबर की सुविधा दी जाती है. ये एक टोल फ्री नंबर है, जिसपर दर्शक फ़ोन करके अपनी बात रख सकते हैं. इस नंबर पर बिहार और मध्यप्रदेश से लाखों कॉल दर्ज हुए. ये कॉल उन जगहों से भी थे, जहाँ पर माँ और बच्चे का स्वास्थ्य आज भी एक गंभीर समस्या बना हुआ है.

मैं कुछ भी कर सकती हूँशो को मिली सफलताएँ (Main kuch bhi kar sakti hoon)

इस शो को कई सेलेब्रिटियों द्वारा भी खूब सराहा गया. कई सेलेब्रिटियों ने इस शो को अपनी तरफ से सपोर्ट करने की बात कही. बॉलीवुड के जाने माने निर्देशक और अभिनेता फरहान अख्तर इस शो के दुसरे सीजन में नैरेटर के रूप में सामने आये और इनकी संस्था MARD (मेन अगेंस्ट रेप एंड डिस्क्रिमिनेशन) भी इस शो के साथ जुड़ गयी है. इसके अलावा सोहा अली खान ने भी इस शो का स्पोंसरशिप ग्रहण किया है.    

अन्य पढ़ें

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *