मनु भाकर का जीवन परिचय

मनु भाकर का जीवन परिचय  [Manu Bhaker Shooter Biography in Hindi]

16 साल की लड़की मनु भाकर ने पिस्टल शूटिंग में गोल्ड जीतकर नया इतिहास रच दिया. हरियाणा राज्य से सम्बन्ध रखने वाली मनु भाकर ने नेशनल चैम्पियनशिप में जूनियर स्तर पर 9 वां गोल्ड जीता. ये सभी 9 गोल्ड मेडल मनु ने दो दिन के अंदर होने वाले इवेंट में जीते हैं. मनु ने जूनियर स्तर पर मिक्स्ड टीम के साथ एयर पिस्टल शूटिंग की प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था. जिसमें मनु ने अपनी प्रतिभा का भरपूर प्रदर्शन दिखाया है.

मनु भाकर

मनु भाकर का जीवन परिचय

मनु भाकर का जन्म शिक्षा एवं परिवार (Manu bhaker birth education family)

मनु भाकर का जन्म भारत के हरियाणा राज्य में हुआ. एवं मनु भाकर की उम्र 16 साल बताई जा रही है. वहीँ अगर हम मनु की शिक्षा के बारे में बात करें तो इंटरनेट पर अभी इससे सम्बंधित पुख्ता जानकारी मौजूद नहीं हैं . मनु का पूरा परिवार हरियाणा से ही सम्बंधित है एवं यहीं हरियाणा में इनका घर भी मौजूद है.

पूरा नाममनु भाकर
जन्म स्थानझज्जर हरियाणा, भारत
उम्र16 साल
शिक्षा एवं प्रशिक्षण केंद्रयूनिवर्सल सीनियर सेकंडरी स्कूल
कोचअनिल जाखड़
खेलशूटिंग, बॉक्सिंग, तांगता, जुडो-कराटे (अंतर्राष्ट्रीय स्तर)
माता का नामसुमेधा
पिता का नामN/A
आईएसएसएफ वर्ल्ड चैम्पियनशिप (मैक्सिको गुआडलाजरा)गोल्ड मेडल  (10 मीटर एयर पिस्टल शूटिंग)

 

 

एशियाई शूटिंग प्रतियोगितासिल्वर पदक (पिस्टल शूटिंग)

मनु भाकर का करियर (Manu Bhaker career)

अभी हाल प्रतियोगिता में मनु ने महिलाओँ के लिए आयोजित 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मैडल जीता है. इतना ही नहीं अपने योगदान की बदौलत मनु ने आईएसएसएफ (इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन) इवेंट में अन्य देशों की तुलना में भारत की रैंक को भी ऊपर पहुंचाया है.

इस बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत मनु ने पूर्व ओलंपिक चैम्पियन हिना सिंधु का रिकॉर्ड तोड़कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है. एनएसएस की इस प्रतियोगिता में कुल 4800 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था, जिसमें 200 प्रतिभागी वाइल्डकार्ड एंट्री से शामिल हुए थे. जो कि अलग अलग राज्यों से भाग लेने के लिए प्रतियोगिता में सम्मलित हुए थे. इतनी मुश्किल प्रतियोगिता में अपने टैलेंट की बदौलत मनु ने अपने देश का नाम रौशन किया.

मैच विवरण

  1. 4 मार्च को मैक्सिको गुआडलाजरा में होने वाली प्रतियोगिता में मनु ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है, अलेजैन्ड्रा जवाला नाम की खिलाड़ी को शूटिंग की प्रतियोगिता में हराया, जो लगातार दो साल से पिस्टल शूटिंग की प्रतियोगिता जीतती आ रही थी और अलेजैन्ड्रा जवाला मैक्सिको की रहने वाली हैं.
  2. अपने मैच के अंतिम राउंड में मनु ने 8 का स्कोर किया, जो कि शूटिंग प्रतियोगिता का 24 वां राउंड था. अंत में मनु ने जवाला को सिर्फ 0.4 की बढ़त से हराया, जिसमें मनु का स्कोर 237.5 था,वहीं जवाला ने अंत तक सिर्फ 237.1 पॉइंट हासिल किए थे.
  3. इस काटें की टक्कर के बीच जवाला ने दूसरा स्थान हासिल किया एवं सिल्वर मैडल अपने नाम किया. वहीँ 217 पॉइंट के साथ फ्रांस की केलिने तीसरे नंबर पर रहीं और ब्रॉन्ज़ मैडल या कांस्य पदक अपने नाम किया. यश्विनी देसवाल ने 1 पॉइंट हासिल किए और चौथे स्थान पर रही, लेकिन कोई पदक हासिल नहीं कर सकीं.

मनु को ओलंपिक खेलने का मौका :

अभी कुछ दिनों बाद ब्यूनस आयर्स में होने वाली खेलों की प्रतियोगिताओं में मनु ने अपना स्थान पक्का कर लिया है. इस समय की मनु की अंक तालिका को देखकर ये तो निश्चित हो चुका है कि अक्टूबर 2018 में होने वाले ओलंपिक में मनु को भारत के तरफ से खेलने का मौका दिया जाएगा.

Other Articles

Pavan Agrawal
मेरा नाम पवन अग्रवाल हैं और मैं मध्यप्रदेश के छोटे से शहर Gadarwara का रहने वाला हूँ । मैंने Maulana Azad National Institute of Technology [MNIT Bhopal] से इंजीन्यरिंग किया हैं । मैंने अपनी सबसे पहली जॉब Tata Consultancy Services से शुरू की मुझे आज भी अपनी पहली जॉब से बहुत प्यार हैं।

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here