क्या है मंकी पॉक्स वायरस, लक्षण, इलाज ( Money Pox Virus) symptoms, treatment, cases

0

मंकीपॉक्स वायरस (मंकी पॉक्स के लक्षण, इलाज, केस, बचने के उपाय, इलाज ) Monkey Pox Virus in hindi ( monkey pox symptoms, treatment, cases in india, vaccine, prevention)

कोरोना महामारी के बाद अब एक और नई बीमारी ने अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। जिसके कारण कई ऐसे देश हैं जो धीरे-धीरे इसकी चपेट में आने लगे हैं। इस बीमारी का नाम है मंकी पॉक्स वायरस। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार इसके अभी तक केस यूके, यूरोप, उत्तरी अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भी 12 देश हैं जहां इसके मरीज मिले हैं। हालांकि भारत में इस केस की कोई भी पुष्टी नहीं हुई है। लेकिन डब्लयूएचओ ने इसके बारे में हर देश को चेतावनी पहले से ही दे दी है। उसने कहा है कि, जिन देशों में अभी नहीं है वो बचाव की तैयारी रखें। क्योंकि ऐसा माना जा रहा है कि, ये सबसे ज्यादा फिजिकल कॉनट्रैक्ट से फैल रहा है। इसके बारे में और भी जानकारी जानना जरूरी है क्योंकि सही जानकारी है हमें इससे बचा सकती है। चलिए जानते हैं कैसे बचे, कैसे ये नहीं फैलेगा।

Monkey Pox Virus

मंकी पॉक्स वायरस

वायरस का नाममंकी पॉक्स वायरस
कब फैला ये वायरसमई महीने में फैलना हुआ शुरू
सबसे ज्यादा कहां फैल रहा हैबाहरी देशों में
जानलेवा बीमारी
कितने केस हुए दर्जदुनियाभर में 92 केस
कैसे फैल रहा हैफिजिकल कॉन्टैक्ट
रोकने का इलाजअभी सही तरीके से पता नहीं

क्या है मंकी पॉक्स वायरस

मंकी पॉक्स वायरस ऑर्थोपॉक्स वायरस की फैमली का ही एक पार्ट है। इसको आप चेचक भी कह सकते हैं। लेकिन ये इतनी ज्यादा गंभीर नहीं बताई जा रही है। आपको बता दें कि, 1958 में दो चेचक जैसी बीमारी के बारे में बताया गया था। उनमें से ही एक है ये वायरस। भारत में चेचक के इंजेक्शन लगाए गए थे। इसके कारण ही भारत में इसके फिलहाल कोई केस देखने को नहीं मिल रहे। डॉक्टर का मानना है कि, ये बीमारी जानवरों से फैल रही है। इंसान से इंसान इतनी आसानी से ये नहीं फैल रही। क्योंकि जबकत किसी का पस या लार आपके संपर्क में नहीं आएगी। तबतक आप इसके शिकार नहीं हो सकते।

किन-किन जानवरों से फैल सकता है मंकी पॉक्स वायरस

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी की गई रिपोर्ट मानना है कि, ये वायरस सिर्फ मंकी से फैल रहा है। लेकिन ऐसा नहीं है। ये वायरस आपको कई और जानवरों के संपर्क में आने से भी फैल सकता है। जैसे- गिलहरी, चूहा, बंदर, कुत्ता आदि। इसलिए आपको सावधानी हर तरह से रखनी होगी ताकि आप इस वायरस के शिकार ना हो।

कैसे फैलता है मंकी पॉक्स वायरस

  • मंकी पॉक्स वायरस शरीर में से निकले संक्रमित फ्लूइड के कारण फैलता है। ऐसा कहा गया है कि, अगर ये फ्लूइड आपके संपर्क में आता है तो आपको भी ये बीमारी हो सकती है।
  • इसका सबसे पहला असर आपकी त्वचा पर पडेगा। क्योंकि जैसे ही ये फ्लूइड आपके शरीर को छूएगा। आपको दाने होने शुरू हो जाएगे।
  • इसके लिए कई रिपोर्ट जारी की गई है। जिसके मुताबिक ये वायरस पीड़ित व्यक्ति के संपर्क में आने या फिर फिजिकल रिलेशन से भी फैल सकता है।
  • ऐसा माना जा रहा है कि, आपको ये बीमारी जानवरों के संपर्क में आने से भी फैस सकती है। क्योंकि अगर वो बीमार हैं और उनका फ्लूइड आपके ऊपर गिर रहा है तो वो भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

मंकी पॉक्स वायरस के क्या है लक्षण

  • आपको इसमे तेज बुखार आ सकता है। जिसके कारण आपका शरीर हमेशा टूटा हुआ महसूस होगा।
  • सिर में तेज दर्द होना। आपको काफी परेशान कर सकता है। जिससे आपको हर समय चिड़चिड़ा पन रहेगा।
  • आपको शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन आ सकती है। इसलिए इस बात को ध्यान में रखना आपके लिए काफी जरूरी है।
  • त्वचा पर लाल चकत्ते और फफोले पड़ते हुए दिखाई देना। अगर ये दिखाई दे तो आपको सबसे दूरी बनानी होगी।
  • लगातार बॉडी में एनर्जी की कमी होना भी इस बीमारी का लक्षण हैं। तो आपको इसका भी खास ध्यान रखना है।
  • समय के साथ लाल चकत्ते घाव के रूप में बदलना भी शुरू हो सकते हैं। जिसके लिए आपको मेडिकल की भी जरूरत पर सकती है।
  • ये बीमारी आपको 2 से 3 हफ्ते तक परेशान कर सकती है। इसलिए सावधानी बरते।
  • दानों में असहनीय दर्द का होना, जोड़ों में सूजन के भी लक्षण आपको दिखाई दे सकते हैं।

मंकी पॉक्स वायरस लोगों के लिए हो रही है घातक साबित

मंकी पॉक्स वायरस के अभी तक जितने भी देशों में केस सामने आए हैं। उनके अनुसार इस बीमारी से अभी कोई भी व्यक्ति की जान नहीं गई है। क्योंकि इसका उपचार लगातार चल रहा है। लेकिन फिर भी इस बीमारी से बचने के लिए लोगों को चेताया जा रहा है जो बेहद जरूरी माना जा रहा है।

मंकी पॉक्स वायरस का क्या है इलाज

इसका कोई इलाज नहीं है लेकिन अगर आप इससे बचना चाहते हैं तो इसके लिए आप इसकी वैक्सीन जरूर लगवा लें। तभी आप इससे बच सकते हैं। इसके अलावा इसका कोई इलाज नहीं है।

मंकी पॉक्स वायरस में क्या खाएं और क्या नहीं

डॉक्टर ने ऐसी कोई जानकारी नहीं दी है। इसलिए इसमें आप कुछ भी खा सकते हैं। लेकिन अगर आपको इसके लक्षण दिखाई दें तो उस समय आप कोशिश करें की बाहर की कोई भी चीज का सेवन ना करें। क्योंकि ये आपको और ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती है।

क्या मंकी पॉक्स वायरस को महामारी घोषित किया जाएगा

अभी ये बीमारी ज्यादा जगह पर नहीं फैली है तो इसे महामारी नहीं कहा जा सकता। इसलिए इसे कोई भी महामारी घोषित नहीं किया जाएगा।

क्या भारत के लोगों को मंकी पॉक्स वायरस का हो सकता है खतरा

भारत में मंकी पॉक्स वायरस का खतरा काफी कम है। क्योंकि यहां पर लोग पहले से ही चेचक की वैक्सीन ले लेते हैं। इसलिए यहां खतरा कम बताया जा रहा है। लेकिन डॉक्टर लोगों को इस बात से सचेत कर रहे हैं कि, अगर आपको इसके लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो इससे बचने की पूरी कोशिश करें।

FAQ

Q- क्या है मंकी पॉक्स वायरस?

Ans- ये एक चेचक की तरह की बीमारी है जो बाहरी देशों में काफी तेजी से फैलती हुई दिखाई दे रही है।

Q- क्या कोरोना वायरस से ज्यादा गंभीर वायरस है?

Ans- नहीं, कोरोना इससे ज्यादा गंभीर वायरस है। इसका असर लोगों की जान नहीं ले रहा है।

Q- कैसे फैल रहा है मंकी पॉक्स वायरस?

Ans- रिपोर्ट्स के अनुसार, ये वायरस जानवरों के संपर्क में आने से और फिजिकल रिलेशन से ज्यादा फैलता हुआ दिखाई दे रहा है।

Q- क्या भारत में भी दिखाई दे रहे हैं इसके लक्षण?

Ans- जी नहीं, अभी फिलहाल भारत में इसके कोई लक्षण दिखाई नहीं दिए हैं।

Q- कितने समय तक रहता है इसका असर?

Ans- 2 से 3 हफ्तों के बीच में रहता है इसका असर।

Others Links –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here