मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना 2020

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता (पेंशन स्कीम) योजना 2020 [आवेदन, पंजीयन, लाभ]  (Mukhyamantri Kalyani Sahayata (Pension Scheme) Yojana In Hindi) [Application Form, Process, Eligibility Criteria, Documents]

मध्यप्रदेश स्टेट गवर्नमेंट ने अपने राज्य की विधवा औरतों की फाइनेंसियल सहायता करने के लिए एक पेंशन स्कीम स्टार्ट  की है, जिसका नाम मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना है. इस नई स्कीम के तहत मध्यप्रदेश गवर्नमेंट अपने राज्य की विधवा औरतों को हर महीने पेंशन दिया करेगी, जिससे की ये औरतें आत्म निर्भर बन सकेंगी.

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना

कब लॉन्च हुई ये योजना (Launch details)

मध्यप्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता स्कीम का ऐलान कुछ महीने पहले ही किया है. इस योजना के बारे में ऐलान करते हुए सरकार ने बताया कि वो इस स्कीम के जरिए विधवा औरतों के अकाउंट में कुछ राशि पेंशन के रूप में प्रदान करेगी.

योजना से जुड़ी जानकारी (Details of Mukhyamantri Kalyani Sahayata Yojana)

योजना का नाममुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना
किस राज्य में शुरू हुई ये योजनामध्यप्रदेश
कब शुरू हुई ये योजनासाल 2018
किसको मिलेगा लाभविधवा महिलाओं को
योजना के तहत मिलने वाली राशि300 रुपए प्रति, महीने (18 वर्ष से लेकर 79 वर्ष तक की विधवाओं को)

 

500 रुपए, प्रति महीने (79 वर्ष से अधिक विधवाओं को)

2 लाख रुपए (फिर से शादी करने पर)

योजना की विशेषताएं ( key Features)

  • इस स्कीम की मदद से राज्य सरकार अपने राज्य की औरतों का एम्पावरमेंट करना चाहती हैं, अपने राज्य से बाल विवाह, दहेज प्रथा को खत्म करना चाहती हैं और महिलाओं को आत्म निर्भर बनाना चाहती हैं.
  • इस पेंशन योजना का लक्ष्य राज्य की विडो औरतों को पेंशन लाभ देकर उनको फाइनेंसियल मजबूत करना है, ताकि वो अपनी जिंदगी को सही से बिता सकें.
  • इस स्कीम के जरिए विधवा औरतों को पेंशन देने के अलावा, सरकार उनका पुनर्विवाह करवाने में भी उनकी मदद करेगी.
  • इस स्कीम के अनुसार अगर कोई विधवा औरत शादी करती है तो सरकार उनको 2 लाख रुपये की अतिरिक्त राशि देगी.
  • विधवा औरतों का सम्मान करते हुए इस योजना का नाम रखते समय इस योजना में विधाव शब्द का इस्तेमाल नहीं किया गया है और इस शब्द की जगह “कल्याणी” शब्द का प्रयोग किया है.

योजना के तहत मिलने वाली पेंशन (Pension Offered Under The Scheme)

  • इस स्कीम के जरिए मध्य प्रदेश सरकार तीन सौ (300) और पांच सौ (500) रुपए अपने राज्य की विधवा औरतों को देगी.              जिन विधवाओं की उम्र 18 वर्ष से लेकर 79 वर्ष तक की होगी उन्हें हर महीने तीन सौ रुपए दिए जाएंगे. जबकि 79 वर्ष से ज्यादा उम्र वाली विधवा औरतों को पांच सौ रुपए दिए जाएंगे.
  • कोई विधवा औरतों अगर फिर से शादी करती है तो उस औरत को सरकार द्वारा 2 लाख रुपए दिए जाएंगे. हालांकि ये राशि केवल उन्हीं महिलाओं को दी जाएगी जो कि 45 वर्ष से पहले पुनर्विवाह करेंगी.

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना के लिए पात्रता मानदंड (Eligibility Criteria)

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना का फायदा सिर्फ उन्हीं विधवा औरतों को मिलेगा जो कि मध्य प्रदेश राज्य की स्थानीय निवासी होंगी. और इस योजना के लिए अप्लाई करने वाली विधवा औरतों की उम्र कम से कम 18 होना जरूरी है.

आवश्यक दस्तावेज (Documents)

  • इस योजना का लाभ लेने वाली विधवा औरत के पास आधार कार्ड होना जरुरी है. क्योंकि आधार कार्ड के बिना इस योजना का लाभ उन्हें नहीं दिया जाएगा.
  • इस योजना के लिए अप्लाई करते समय विधवा औरतों के पास अपने पति के मौत का प्रमाणपत्र और अपना बैंक खाता होना भी जरूरी है. क्योंकि विधवा औरत द्वारा दिए गए बैंक खाते में ही सरकार द्वारा हर महीने पेंशन दी जाएगी.

योजना के लिए कैसे करें अप्लाई (Application Process)

जो विडो औरतें इस पेंशन योजना का हिस्सा बनना चाहती हैं, उन्हें अपना नाम ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. हालांकि अभी तक मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना के लिए अप्लाई करने की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है. लेकिन जैसे ही ये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया स्टार्ट होगी हम उसके बारे में इनफार्मेशन अपने इस लेख में दे देंगे.

इस योजना को केवल विधवा औरतों की सहायता करने के लिए ही स्टार्ट किया गया है. ताकि इन औरतों का जीवन बेहतर बन सके और ये औरतें सम्मान के साथ अपनी जिदंगी व्यतीत कर सकें.

मध्य प्रदेश में विधवाओं को कल्याणी कहकर सम्बोधित किया जाता है. इनके लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना में अब तक 3 लाख महिलाओं को लाभ मिल चूका है.

अन्य पढ़े:

pavan

Director at AK Online Services Pvt Ltd
मेरा नाम पवन अग्रवाल हैं और मैं मध्यप्रदेश के छोटे से शहर Gadarwara का रहने वाला हूँ । मैंने Maulana Azad National Institute of Technology [MNIT Bhopal] से इंजीन्यरिंग किया हैं । मैंने अपनी सबसे पहली जॉब Tata Consultancy Services से शुरू की मुझे आज भी अपनी पहली जॉब से बहुत प्यार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *