Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

[लिस्ट] मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड 2019-20

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड 2019-20 [Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana Jharkhand in Hindi] [आवेदन फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड, योग्यता, लिस्ट, सूचि, पोर्टल, हेल्पलाइन] [Online Application Form, How to Apply, List, MMKAY]

केंद्र सरकार की तरह ही झारखंड सरकार ने भी अपने राज्यों के किसानों को आर्थिक मदद के रूप में 5000 रूपए प्रति एकड़ देने का निर्णय लिया है. इस योजना का लाभ मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखंड के अंतर्गत किसानों को प्राप्त होगा. फिलहाल इस योजना के अंतर्गत धनराशि का आवंटन शुरू हो चुका है. योजना से संबंधित सभी जानकारी के लिए इस योजना को पूरा पढ़ें-

Mukhyamantri-Krishi-Aashirwad-Yojana-In-Jharkhand

नाम मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड (MMKAY)
शुरुवात की मुख्यमंत्री रघुवर दास
लाभार्थी छोटे और सीमांत किसान
आर्थिक सहायता 5000 प्रति वर्ष
ऑफिसियल वेब पोर्टल mmkay.jharkhand.gov.in
टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 0651-2490024

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का मुख्य उद्देश्य [Aim]

खरीफ एवं रबी की खेती के दौरान किसानों को मौसम के शुरू होने से पहले ही कई तरह के खेती से संबंधित कार्य करने होते हैं जैसे बीजों की खरीदी, खाद  की खरीदी, मजदूरों को दी जाने वाली धनराशि की व्यवस्था एवं खेतों में जुताई का कार्य और इस कार्य में लगने वाले उपकरणों की उचित व्यवस्था, इन सभी कार्यों के लिए किसानों को फसल आने के पूर्व ही धनराशि की व्यवस्था करनी होती है ताकि वे खेती का कार्य प्रारंभ कर सकें. परंतु किसानों की माली हालत सही नहीं होने के कारण, वे इस तरह के कार्य बिना किसी मानसिक तनाव के नहीं कर पाते और उन्हें इस दिशा में सहायता प्रदान करने के लिए झारखंड सरकार ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के रूप में इन्हें आर्थिक मदद देने का फैसला किया है.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की पूरी जानकारी [Key Features]

  • आर्थिक सहायता

योजना के अंतर्गत किसानों को झारखंड सरकार द्वारा ₹5000 प्रति एकड़ सालाना तौर पर दिए जाएंगे, यह राशि खरीफ की फसल के दौरान किसानों को मिलेगी, जिससे वे खेती संबंधित अपने सभी कार्यों को बिना लोन लिए कर सकें और उन पर पड़ने वाला आर्थिक बोझ थोड़ा कम हो सके.

  • न्यूनतम जमीन संबंधी नियम

योजना के अंतर्गत 5000 रुपए प्रति एकड़ सरकार की तरफ से दिए जाएंगे   और यह योजना अधिकतम 5 एकड़ तक की जमीन के लिए ही लागू की  गई है. ऐसी स्थिति में जिन किसानों के पास 1 एकड़ से कम की भूमि है, उन्हें भी सरकार द्वारा 5000 रुपए सालाना दिए जाएंगे. इस तरह कम भूमि होने के बावजूद उन किसानों को 5000 रुपए मिलेंगे.

  • डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर प्रक्रिया

योजना के अंतर्गत मिलने वाला पैसा सीधे झारखंड के किसानों के खाते में सरकार द्वारा पहुंचाया जाएगा. इस प्रक्रिया को डीबीटी प्रक्रिया कहते हैं. इससे किसान धोखाधड़ी जैसी समस्या से बचे रहते हैं

  • दो आसान इन्सटॉलमेंट

सरकार द्वारा किसानों के खाते में प्रतिवर्ष यह पैसा दो इंस्टॉलमेंट में जमा करवाया जाएगा.  पहला इंस्टॉलमेंट अगस्त में जारी कर दिया गया था एवं दूसरा इंस्टॉलमेंट अभी अक्टूबर भेजा जा रहा है.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना पात्रता नियम [Eligibility Rules]

  • झारखंड का किसान

मुख्य रूप से झारखंड निवासी किसान इस योजना के अंतर्गत लाभ लेने योग्य माने जाएंगे, परंतु इस दिशा में भी कई तरह की गाइडलाइन सरकार द्वारा जारी की गई है, जिसके अनुसार झारखंड के किसानों की एक लाभार्थी सूची तैयार की जाएगी और उस हिसाब से प्रति वर्ष उनके खाते में पैसा भेजा जाएगा.

  • लघु एवं सीमांत किसान को मिलेगा लाभ

योजना के अंतर्गत उन किसानों को जोड़ा जाएगा जिनके पास 5 एकड़ तक की भूमि है और जिन्होंने अपना नाम राज्य के भूमि रिकॉर्ड में दर्ज करवा लिया है.

योजना के लाभार्थी सूची में  नाम दर्ज करवाने हेतु कौन से किसान अयोग्य होंगे? (Not Eligible)

  1. यह किसान जिनके परिवार में कोई सदस्य सरकारी नौकरी करता हो वह इस योजना का लाभ नहीं ले सकते.
  2. आयकर दाता किसान भी योजना में शामिल नहीं हो सकते.
  3. राजनीतिक पद पर आसीन किसान भी योजना का लाभ नहीं ले सकते.
  4. वह किसान जो डॉक्टर, इंजीनियर, वकील एवं सीए आदि का कार्य करते हैं. वह भी इस योजना का लाभ लेने योग्य नहीं माने जाएंगे.
  5. उपरोक्त लिखे सभी नियमों का अवलोकन करने के बाद ही सरकार द्वारा लाभार्थी किसानों की सूची तैयार की जाएगी.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना दस्तावेज [Documents]

  • जमीन के कागज

जमीन संबंधित सारे के पेपर किसानों के पास होने चाहिए, ताकि वे इस योजना के अंतर्गत आसानी से शामिल हो सकें. क्यूंकि यह प्रूफ करना जरुरी हैं कि आप कितने एकड़ जमीन के मालिक हैं.

  • निवासी प्रमाण पत्र

 किसान झारखंड का निवासी होना अनिवार्य है, इसीलिए किसान को अपना कोई भी परिचय पत्र देना जरूरी होगा, जिसके अंतर्गत वह आधार कार्ड की कॉपी ,वोटर आईडी कार्ड की कॉपी लगा सकते हैं.

  • बैंक की जानकारी

 किसानों को पैसा सीधे उनके खाते में मिलेगा, जिसके लिए उन्हें खाता संबंधी जानकारी सरकार को देनी होगी, जिसके लिए वह अपनी बैंक पासबुक के पहले पेज की फोटो कॉपी जमा करवा सकते हैं.

  • आय संबंधित प्रमाण

 इसमें उन किसानों को शामिल नहीं किया गया है,  जिनकी इतनी इनकम है कि वह टैक्स के दायरे में आते हो इसीलिए इनकम संबंधित प्रमाण पत्र जमा करवाना जरूरी है.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का फॉर्म एवं आवेदन प्रक्रिया [Registration Form Online]

सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का ऑफिशियल पोर्टल लांच किया गया है.  इस पोर्टल में इस योजना से संबंधित सारी जानकारी मौजूद है. किसानों को इस योजना के अंतर्गत किसी आवेदन फॉर्म को भरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वही किसान शामिल हैं जिन्होंने अपनी जमीन का ब्यौरा पहले ही राज्य के खसरा संबंधित विभाग में जमा करवा दिया हैं. उसी डाटा के आधार पर किसानों की लाभार्थी सूचि तैयार की जायेंगी. इस सूचि में किसान अपना नाम चेक कर सकता हैं.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना  लाभार्थी सूचि में नाम कैसे देखे [How to check Name]

सूचि में नाम देखने के लिए भी किसानों को अधिकारिक वेब पोर्टल पर लॉग इन करके लाभार्थी सूचि में अपना नाम देखना होगा. अन्य किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए किसान इस पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं परन्तु लॉग इन आईडी होना जरुरी हैं.

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना मोबाइल एप

इस योजना के भीतर हर साल पैसा बाँटा जायेगा अतः इसके लिए एक एप का होना भी आवश्यक हैं ताकि डाटा आसानी से यूजर एवं ऑथेरिटी द्वारा देखा जा सके हैं. अतः हो सकता हैं सरकार इसकी एप लॉन्च करे.

इस तरह की योजना दुसरे राज्यों में भी चलाई जा रही हैं साथ ही पीएम किसान सम्मान निधि योजना के नाम से ऐसी योजना केंद्र द्वारा भी चलाई जा रही हैं. झारखण्ड के किसान कृषि आशीर्वाद के साथ पीएम किसान का भी लाभ ले सकता हैं.

Other links –

2 comments

  1. Jay prakash narayan dubey

    How can I check beneficiary Status

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *