Home सरकारी योजनाये मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना 2022 registration, helpline number

मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना 2022 [Mukhyamantri Matru Shakti Yojana] registration, helpline number

0

मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना (अप्लाई, पात्रता, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन, लाभ, सूची, स्टेटस, कब शुरू हुई, आधारिक वेबसाइट, लाभार्थी, दस्तावेज, ऑनलाइन पोर्टल, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर) Mukhyamantri Matru Shakti Yojana ( how to apply, eligibility, documents, beneficiaries, registration form, benefits, official website, toll free number, list, status, online portal, )

जब कोई महिला गर्भवती हो जाती है तब उसे पौष्टिक भोजन की सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है, क्योंकि पौष्टिक भोजन की वजह से ही महिला के साथ ही साथ उसके बच्चे का स्वास्थ्य सही होता है परंतु भारत में कई महिलाएं ऐसी हैं, जो गर्भावस्था के दरमियान भी पौष्टिक भोजन प्राप्त नहीं कर पाती है, जिसकी वजह से उनके स्वास्थ्य के साथ ही साथ उनके बच्चे के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है।

इसलिए ऐसी महिलाएं जो गुजरात राज्य में रहती है, उनके लिए गुजरात गवर्नमेंट के द्वारा मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना को चालू किया गया है, जिसके अंतर्गत उन्हें अरहर की दाल, चना और तेल दिया जाएगा ताकि गर्भावस्था में वह उन चीजों का उपयोग करके सेहतमंद बनी रह सके। आइए इस आर्टिकल में जानते हैं कि “मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना क्या है” और “मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना में आवेदन की प्रक्रिया क्या है।”

Mukhymantri Matru Shakti Yojana

मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना 2022 [Mukhyamantri Matru Shakti Yojana]

योजना का नाम:मुख्यमंत्री मातृशक्ति योजना
किसने घोषणा की:प्रधानमंत्री मोदी
राज्य:गुजरात
लाभार्थी:गर्भवती महिलाएं और उनके बच्चे
उद्देश्य:पोषण युक्त भोजन देना
आधिकारिक वेबसाइट:N/A
हेल्पलाइन नंबर:N/A
बजट:811

हमारे देश में हर साल कई बच्चे ऐसे पैदा होते हैं, जिनका स्वास्थ्य सही नहीं होता है और इसकी मुख्य वजह होती है कि गर्भावस्था के दरमियान बच्चों की माताओं को पौष्टिक भोजन प्राप्त नहीं हो पाता है, जिसकी वजह से माता का भी स्वास्थ्य खराब होता है, साथ ही उसके पेट में पलने वाले बच्चे का भी स्वास्थ्य खराब होता है। इसलिए गर्भवती महिला और उसके बच्चे को कुपोषण से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा साल 2022 में 18 जून के दिन मुख्य तौर पर गुजरात राज्य के लिए मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना को चालू करने का ऐलान किया गया है।

इस योजना के अंतर्गत मुख्य तौर पर गर्भवती महिलाओं और उनके बच्चों के स्वास्थ्य पर फोकस किया गया है। महिला के गर्भावस्था के 270 दिन और उसके बच्चे के पैदा होने के दो साल बाद तक के 730 दिन यानी के टोटल 1000 दिनों की जो अवधि होती है उसे फर्स्ट विंडो ऑफ अपॉर्चुनिटी कहा जाता है। जब कोई महिला प्रेग्नेंट होती है तो उसे उस समय पौष्टिक भोजन की सबसे ज्यादा आवश्यकता होती है, क्योंकि पौष्टिक भोजन प्राप्त होने से ही उसे पोषण मिलता है साथ ही उसके बच्चों को भी पोषण मिलता है।

इस प्रकार गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था में उचित पोषण प्राप्त हो सके, इसके लिए गुजरात गवर्नमेंट आंगनवाड़ी के जरिए ऐसी महिलाओं को हर महीने 2 किलो चना, 1 किलो अरहर दाल और 1 लीटर मूंगफली का तेल देगी। इस प्रकार पोषण वाला आहार ग्रहण करने से गर्भवती महिला और उसके बच्चे को भी पोषण प्राप्त होगा।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना का उद्देश्य

गुजरात गवर्नमेंट ने इस योजना के लिए 811 करोड रुपए का बजट चालू वर्ष के लिए रखा है। गवर्नमेंट इस योजना के जरिए यह उद्देश्य पाल करके बैठी है की जब किसी महिला की प्रेगनेंसी का समय आए तो उसे पौष्टिक भोजन प्राप्त हो सके, ताकि ना तो गर्भवती महिला कुपोषण का शिकार हो, ना ही उसके पेट में पलने वाला बच्चा कुपोषण का शिकार हो।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना के अंतर्गत गर्भावस्था के दरमियान गुजरात गवर्नमेंट गर्भवती महिलाओं को हर महीने चना, तेल और अरहर की दाल देगी, जिसका सेवन करने से गर्भवती महिला को उचित पोषण प्राप्त होगा और उसके बच्चे का स्वास्थ्य भी अच्छा होगा।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना का लाभ/विशेषताएं

  • इंडिया के वर्तमान प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 18 जून साल 2022 में मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना को चालू करने की घोषणा की गई है।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा इस योजना को स्पेशल तौर पर गुजरात राज्य के लिए चालू किया गया है। इस प्रकार यह योजना सिर्फ गुजरात राज्य में ही काम करेगी।
  • योजना में मुख्य तौर पर गर्भवती महिलाओं को और उनके बच्चे को लाभ देने के लिए कहा गया है।
  • योजना के जरिए गवर्नमेंट हर महीने गर्भवती महिलाओं को 2 किलो चना, 1 किलो अरहर दाल और 1 लीटर मूंगफली का तेल देगी।
  • 2 किलो चना, 1 किलो अरहर दाल और 1 लीटर मूंगफली का तेल प्राप्त करने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने नजदीकी आंगनवाडी से संपर्क करना है और वहां पर अपना नाम और अपने बच्चे की जानकारी लिखवानी है।
  • जो महिलाएं साल 2022-2023 में पहली बार गर्भवती हुई है या फिर ऐसी महिलाएं जो प्रसूता माता है, साथ ही स्वास्थ्य डिपार्टमेंट के सॉफ्टवेयर में उनका नाम प्रेग्नेंट के तौर पर रजिस्टर्ड है या फिर पैदा होने से 2 साल के बच्चे की माता के रूप में जो महिलाएं रजिस्टर्ड है, वह योजना के लाभार्थी बन सकती है।
  • इस योजना के द्वारा गवर्नमेंट चाहती है कि गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दरमियान उचित पोषण प्राप्त हो, ताकि माता और बच्चे का स्वास्थ्य सही हो।
  • उचित पोषण मिलने से माता और बच्चे का स्वास्थ्य सही रहेगा जिससे गुजरात राज्य में मातृ मृत्यु दर और बाल मृत्यु दर में भी कमी आएगी।
  • गवर्नमेंट ने चालू वर्ष के लिए योजना का बजट 811 करोड रुपए रखा है।
  • गवर्नमेंट के अनुसार वह अगले 5 साल के लिए योजना के पीछे ₹4000 करोड रुपए और खर्च करेगी।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना हेतु पात्रता [Eligibility]

गुजरात राज्य में ऐसे इलाके जो आदिवासी बहुल हैं उन इलाकों की महिलाएं इस योजना के लिए पात्र होंगी।

जो महिलाएं आंगनवाड़ी में अपने नाम को रजिस्टर करवाएंगी, उन्हें ही योजना का फायदा मिलेगा।

आदिवासी इलाके की महिलाओं के अलावा क्या अन्य समुदाय की महिलाएं भी इसके लिए पात्र होंगी, इसके बारे में गवर्नमेंट की तरफ से कोई भी जानकारी नहीं दी गई है। जैसे ही कोई इंफॉर्मेशन प्राप्त होती है वैसे ही उसे आर्टिकल में शामिल किया जाएगा।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना हेतु दस्तावेज [Documents]

  • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • फोन नंबर
  • बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट
  • हॉस्पिटल में एडमिट की जानकारी

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना में आवेदन की प्रक्रिया [Mukhyamantri Matru Shakti Yojana Registration]

साल 2022 में 18 जून को मोदी जी के द्वारा गुजरात राज्य में इस योजना को चालू करने की घोषणा की गई है और इस प्रकार से अभी योजना की घोषणा हुए काफी कम समय ही हुआ है, जिसकी वजह से हम आपको यह बता पाने में असमर्थ हैं कि जो महिलाएं इस योजना के लिए पात्र हैं वह इस योजना में अप्लाई कैसे कर सकती है।

जैसे ही गवर्नमेंट के द्वारा योजना का फायदा प्राप्त करने से संबंधित कोई भी आवेदन की प्रक्रिया बाहर निकाली जाती है, वैसे ही आवेदन की प्रक्रिया को आर्टिकल में शामिल किया जाएगा ताकि इच्छुक महिलाएं योजना की लाभार्थी बन सके।

मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना हेल्पलाइन नंबर [Mukhyamantri Matru Shakti Yojana Helpline Number]

इस योजना को लांच हुए अभी मुश्किल से मुश्किल 4 से 5 दिन ही हुए हैं। इसलिए गवर्नमेंट ने मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना में अप्लाई करने की ना तो कोई प्रक्रिया जारी की है ना ही कोई हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इसलिए अभी हम आपको मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना का टोल फ्री नंबर बता पाने में असमर्थ है। गवर्नमेंट के द्वारा जब इस योजना से संबंधित टोल फ्री नंबर जारी किया जाएगा, तब टोल फ्री नंबर को आर्टिकल में अपडेट कर दिया जाएगा, ताकि आप योजना से संबंधित सवाल जवाब कर सकें।

FAQ:

Q: मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना को चालू करने की घोषणा किसने की?

ANS: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Q: कौन से राज्य में मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना चालू की गई है?

ANS: गुजरात

Q: चालू वित्त वर्ष के लिए मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना का बजट कितना है?

ANS: 811 करोड

Q: मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना में आवेदन की प्रक्रिया क्या है?

ANS: जल्द ही आवेदन की प्रक्रिया दी जाएगी।

Q: मुख्यमंत्री मातृ शक्ति योजना की लाभार्थी कौन होगी?

ANS: गुजरात राज्य की गर्भवती महिलाएं

Other Links –

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here