ताज़ा खबर

नारियल पानी के गुण, फायदे व नुकसान | Coconut Water Gun, benefits and Side effects in hindi

नारियल के पानी, पत्तों के गुण, फायदे व नुकसान (Coconut Water Gun, benefits and Side effects in hindi)

नारियल का पेड़ एक प्रकार का ताड़ का पेड़ है जो कि भारत के दक्षिण राज्यों में पाया जाता है. इस पेड़ पर लगने वाले फल को नारियल कहा जाता है. नारियल को बड़ा होने में और खाने के योग्य बनने में 11 से लेकर 12 महीनों का समय लग जाता है और दुनिया भर में नारियल पेड़ की 80 से अधिक किस्में पाई जाती हैं.

हरे रंग के नारियल के अंदर पानी होता है जो कि स्वादिष्ट होने के साथ -साथ सेहतमंद भी होता है. वहीं जब ये सूख जाता है तो इससे तेल भी निकाला जाता है, जिसका इस्तेमाल कई चीजों में किया जाता है. इसके अलावा नारियल के दूध का सेवन भी लोगों द्वारा किया जाता है.

coconut benefits  | नारियल फायदे

विभिन्न प्रकार के नारियल के पेड़ (Types of Coconut Trees)

  • नारियल के पेड़ कई प्रकार के होते हैं और इनको इनकी लंबाई के हिसाब से श्रेणियों में बांटा जाता है. इस प्रकार इन अलग-अलग तरह के पेड़ो में लगने वालें फलो में भी कुछ अंतर होता है.
  • जिन नारियल के पेड़ों की ऊंचाई 50 से लेकर 100 फीट के बीच में होती हैं, उन्हें लंबे प्रकार के पेड़ों की श्रेणी में रखा जाता है.
  • वहीं जिन पेड़ों की ऊंचाई 30 से 60 फीट के बीच में होती हैं, उन्हें बौने प्रकार के नारियल के पेड़ की श्रणी में रखा जाता है.
  • इस पेड़ पर लगने वाले नारियल भी दो प्रकार के होते हैं जिनमें से एक प्रकार के नारियल में अधिक पानी पाया जाता है. जबकि दूसरे प्रकार के नारियल में पानी के मुकाबले मलाई ज्यादा पाई जाती है.

नारियल पानी के फायदे (Benefits of Coconut Water)

नारियल पानी सबसे अच्छे प्राकृतिक जल में से एक है. इस पानी में कैलोरी काफी कम होता है और इसमें कई प्रकार के मिनरल और प्राकृतिक एंजाइम जैसे पोटेशियम, कैल्शियम, विटामिन्स आदि पाए जाते हैं.

चेहरे से जुड़े नारियल पानी के फायदे  (Benefits Of Coconut Water For Skin)

  1. संक्रमण (Infection)

नारियल पानी में लोरिक एसिड मौजूद होता है और लोरिक एसिड त्वचा की रक्षा कई प्रकार के संक्रमण से करता है. इसलिए नारियल पानी का सेवन करने से किसी भी प्रकार के त्वचा संक्रमण होने की संभावान कम हो जाती है.

  1. चेहरे पर आता है ग्लो (Glow)

कोकोनट वाटर पीने से फेस का निखार बढ़ जाता है, इसलिए जो लोग अपने फेस में प्राकृतिक निखार लाना चाहते हैं वो इसका सेवन हफ्ते में तीन बार जरूर करें.

  1. मुंहासे से करता है रक्षा (Acne and pimple)

नारियल पानी की एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज की मदद से चेहरे पर होने वाले मुंहासों को रोका जा सकता है. इसलिए जिन लोगों को भी मुंहासों की समस्या रहती है वो नारियल पानी का सेवन करें.

  1. झुर्रियों को करता है कम (Wrinkles)

अक्सर आयु बढ़ने का असर चेहरे पर दिखने लगता है और चेहरे की त्वचा लटकने लगती है और चेहरे पर झुर्रियां आने लगती हैं. लेकिन नारियल पानी पीने से इन झुर्रियों से निजात पाई जा सकती है. इसलिए जिन लोगों के फेस में काफी अधिक झुर्रियां हैं वो कोकोनट वाटर का सेवन कर इन्हें कम कर सकते हैं

  1. त्वचा को रखता है हाइड्रेटेड (Hydrated)

अगर गर्मी के मौसम में नारियल पानी को पीया जाए, तो डिहाइड्रेशन की परेशानी को खत्म किया जा सकता है.

नारियल पानी के सेहत से जुड़े फायदे (Health Benefits of Coconut Water)

  1. इम्युनिटी को बढ़ाता है (Immunity)

नारियल पानी पीने से शरीर के इम्युनिटी सिस्टम को काफी लाभ मिलता है. दरअसल इसके पानी में में मौजूद विटामिन इम्युनिटी सिस्टम को बेहतर करने की क्षमता रखते हैं और इसलिए बीमार लोगों को नारियल पानी पीने की सलाह भी डॉक्टर द्वारा दी जाती है, ताकि उनका इम्युनिटी सिस्टम बेहतर हो सके.

  1. उच्च रक्तचाप को नियंत्रण करता है (High blood pressure)

जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी है वो लोग नारियल पानी की मदद से हाई ब्लड प्रेशर पर नियंत्रण पा सकते हैं. साथ ही हार्ट के मरीजों के लिए भी ये काफी फायदेमंद होता है.

  1. पथरी (Kidney Stones)

गुर्दा में पथरी की बीमारी होने पर नारियल पानी पीने का सुझाव  डॉक्टरों द्वारा भी दिया जाता है, क्योंकि इसमें मौजूद पोटैशियम गुर्दे की पथरी को खत्म करने का कार्य करते हैं.

  1. सेल के लिए है लाभ दायक (Cell)

नारियल पानी में प्रचुर मात्रा में साइटोकिन्स नामक प्रोटीन पाया जाता है और ये प्रोटीन हमारी बॉडी के सेल को बढ़ाने में कारगर साबित होता हैं. इसलिए नारियल पानी को नियमित रूप से पीने से बॉडी के सेल को बढ़ाया जा सकता है.

बालों और चेहरे से जुड़े नारियल तेल के फायदे (Benefits Of Coconut Oil For Hair and Skin)

नारियल के सूख जाने के बाद उससे छीलकर उससे तेल भी निकाला जाता है और नारियल पानी की तरह ही, इसके तेल के भी काफी लाभ होते हैं.

बालों को मिलती है मजबूती (Stronger Hair)

इस तेल को सिर पर भी लगाया जाता है और रोजाना रूप से ये तेल लगाने से बाल जल्दी ही बड़े भी हो जाते हैं. इसलिए जो लोग अच्छी खासी बालों की ग्रोथ चाहते हैं वो इसका इस्तेमाल करें

  1. बालों में मिलती है चमक (Hair Conditioning)

बाजार में बिकने वाले विभिन्न कंडीशनर को बनाने में भी इसके तेल का उपयोग किया जाता है क्योंकि इस तेल से बालों को चमक भी मिलती है. इसलिए अगर आप कंडीशनर लगाना पसंद नहीं करते हैं तो आप बाल धोने से पहले नारियल तेल लगा लें, ताकि बाल धोने के बाद आपके बालों में चमक आ सके.

  1. दो मुहें बालों को करता है खत्म (Split Ends)

दो मुहे बाल होने की समस्या अक्सर महिलाओं को रहती हैं. लेकिन अगर नियमित रूप से नारियल तेल बालों पर लगाया जाए तो इस समस्या को कम किया जा सकता है.

  1. बाल झड़ना (Reduces Hair Fall)

अक्सर कई लोगों को बाल झड़ने की शिकायत रहती है और बाल झड़ने से बालों का घनापन भी कम हो जाती है. वहीं अगर कोकोनट ऑयल को रोजाना बालों पर लगाया जाए, तो बालों को झड़ने से रोका जा सकता है. साथ ही ये तेल नए बाल उगाने में भी कारगर साबित होता है.

  1. डैंड्रफ़ होने पर करें इसका इस्तेमाल (Dandruff Prevention)

जिन लोगों को डैंड्रफ़ की परेशानी रहती है, वो भी इसका इस्तेमाल कर इस परेशानी को खत्म कर सकते हैं. साथ ही इस ऑयल से सिर की स्कैल्प को भी बेनिफिट पहुंचता है.

  1. त्वचा बनती है मुलायम (Soft Skin)

सर्दी के मौसम में शरीर की त्वचा पर काफी असर पड़ता है और त्वचा की नमी खत्म होने लगती है. वहीं जिन लोगों को ये समस्या होती है अगर वो नहाने से पहले अपने शरीर पर नारियल तेल लगा लें, तो नहाने के बाद उनकी त्वचा की नमी बनी रहती है.

  1. मेकअप रिमूवल (Makeup Removal)

इस तेल का प्रयोग मेकअप रिमूवल की जगह भी किया जा सकता है. बस आपको रूई में कुछ बूंदें नारियल तेल की डालकर उसे अच्छे से फेस पर रब करना होगा. ऐसा करने से ना केवल मेकअप साफ हो जाता बल्कि चेहरे की कोमलता भी बनी रही है.

  1. लिप बाम (Lip Balm)

जिन लोगों के लिप यानी होंठ काले  हैं या फिर जल्दी सूख जाते हैं, उन लोगों को लिप पर नारियल के तेल से मालिश करनी चाहिए. अगर आप काले होंठ को गुलाबी करना चाहते  हैं तो आप नारियल के तेल में थोड़ी सी पीसी हुई चीनी मिला लें और एक मिनट तक होंठ पर इससे मालिश करें और बाद में गीले कपड़े से इसे साफ कर लें. वहीं जिन लोगों के होंठ सूखे यानी ड्राइ रहते हैं वो लोग रात को अपने होंठ पर नारियल तेल लगा लें.

सेहत से जुड़े नारियल के तेल के फायदे (Health Benefits of Coconuts)

  1. पाचन तंत्र को मजूबत करता है (Improves digestion)

नारियल का तेल पाचन तंत्र को मजूबत करने का भी कार्य करता है इसलिए जिन लोगों का पाचन तंत्र कमजोर है उन लोगों को इस तेल में बने हुए खाने का सेवन करना चाहिए. दरअसल नारियल के तेल के सैचुरेटेड फैट्स में एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज मौजूद होती है जो कि विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया, फंगी परासिटेस से लड़ने में मदद करती है, जो अपाचन का कारण होते है.

  1. दाँतों को मजबूती देता है

नारियल तेल में 24 मिलीग्राम कैल्शियम पाया जाता है और नारियल का तेल शरीर को कैल्शियम अब्सॉर्प्शन करने में भी मदद करता है. जिसके कारण शरीर को अच्छी खासा कैल्शियम प्राप्त हो जाता है और दांतों और शरीर की हड्डियों का विकास अच्छे से होता है.

  1. चोट का घाव होता है कम (Healing Properties)

चोट लगने पर अगर उसपर ये तेल लगाया जाएगा तो वो चोट जल्द ठीक हो जाती है. नारियल तेल को चोट पर लगाने से एक परत बन जाती है, जो कि  चोट वाले हिस्से को धूल, वायु, कवक, बैक्टीरिया और वायरस से बचाती है.

डायबिटीज (Improves Insulin Secretion)

डायबिटीज के पेशेंट के लिए भी ये तेल बेहद लाभदायक माना जाता है और ये तेल रक्त में शर्करा को नियंत्रण करने में सहायक होता है और इंसुलिन के स्त्राव में सुधार करता है.

सूजन  को करता है खत्म (Reduces Swelling)

पैर या हाथ में किसी प्रकार की सूजन आ जाने पर अगर इस तेल से मालिश की जाए तो सूजन कम हो जाती है. हालांकि इस तेल से मालिश करने से पहले, तेल को अच्छे से गर्म कर लें.

  1. अल्‍जाइमर (Alzheimer)

अल्‍जाइमर से ग्रस्त लोगों के लिए नारियल तेल काफी कारगर साबित होता है और कई शोधों में भी ये बात सिध्द हो चुकी हैं कि जो लोग इस बीमारी से ग्रस्त हैं अगर वो नारियल के तेल का सेवन करें तो इस बिमारी से निजात पा सकते हैं.

  1. मोटापे को करता है कम (Weight Loss)

कोकोनट तेल का सेवन करने से शरीर के वसा को कम करने में भी मदद मिलती है. दरअसल इस तेल में लघु और मध्यम श्रृंखला का फैटी एसिड पाया जाता है, जो वजन को कम करने का कार्य करता है. इसलिए जो लोग अपना वेट लोस चाहते हैं वो केवल कोकनट तेल में बने खाने का ही सेवन करें.

इतना ही नहीं कोकोनट तेल अन्य खाद्य तेलों की तुलना में, आसान से डाइजेस्ट भी होता है और ये थायराइड और एंडोक्राइन प्रणाली को मजबूत करता है.

नारियल के पत्तों के फायदे (coconut leaves health benefits)

नारियल के पेड़ के पत्तों का इस्तेमाल एक मेडिसिन की तरह भी किया जा सकता है. जिन लोगों को मांसपेशियों में दर्द की शिकायत रहती है, वो लोग इस पेड़ के पत्तों को तोड़कर उनको पानी में उबालकर, उस पानी का सेवन कर, मांसपेशियों के दर्द को गायब कर सकते हैं. हालांकि इसके पत्तों को उबालकर पीने से पहले, आयुर्वेद चिकित्सक से मिलकर कर उनकी सलाह ले लें. इसके अलावा नारियल के पत्तों को नहाने के पानी में मिलाकर, नहाने से भी मांसपेशियों के दर्द को कम किया जा सकता है.

नारियल के फूल और जड़ के फायदे (Coconut Flower And Root Health Benefits)

  • किडनी से जुड़ी बीमारी होने पर अगर नारियल के फूलों को पानी में उबालकर, उस पानी को पीया जाए, तो किडनी की बीमारियां से निजात पाई जा सकती है.
  • गॉलब्लेडर, यूरिनरी इन्फेक्शन और किडनी से जुड़ी बीमारी होने पर इस पेड़ की जड़ों को उबाल कर पीया जाए, तो इन बीमारी से भी राहत मिल सकती है. आपको बस इस पेड़ की जड़ों को तोड़कर, अच्छे से उन्हें साफ करना होगा और फिर इन्हें हल्के से नमकीन पानी में उबालना होगा. जब ये पानी ठंडा हो जाए तो इस पानी को पी लें. इसी तरह हार्ट बर्न होने पर भी इस पेड़ की जड़ों को उबालकर, उसका पानी पीने से हार्ट बर्न को खत्म किया जा सकता है.

नारियल पानी में मौजूद विटामिन (Vitamins)-

विटामिन के नाम मात्रा विटामिन के फायदे
विटामिन ई 2.4 मिलीग्राम बॉडी के  टिशूज की डेवलपमेंट एंड रिपेयर, इम्यून सिस्टम को बेहतर करना और इत्यादि

 

कोलाइन 1.1 मिलीग्राम मेटाबॉलिज्म और ब्रेन फंक्शन के लिए मददगार
थायामिन (बी 1) 0.066 मिलीग्राम पाचन तंत्र बढ़ाना, बॉडी एजिंग प्रोसेस की प्रक्रिया को धीमा करना, नसों को मजबूत करना और इत्यादि
राइबोफ्लेविन (बी 2) 0.020 मिलीग्राम माइग्रेन सहित सिरदर्द को रोकने में मदद,
नियासिन (बी 3) 0.540 मिलीग्राम लिवर डैमेज, गैस्ट्रोइंटेस्टिनल प्रोब्लेम्स से लड़ने में मददगार
पैंटोथेनिक एसिड (बी 5) 0.300 मिलीग्राम हार्मोनल स्टिमुलेशन, अवसाद और चिंता की प्रोब्लेम्स से लड़ने में सहायक
विटामिन बी 6 0.054 मिलीग्राम एनीमिया का इलाज और नेत्र स्वास्थ्य की रक्षा करने में मददगार है
फोलेट (बी 9) 26 माइक्रोग्राम दिल के लिए फायदेमंद, स्ट्रोक रोकता है, कैंसर के जोखिम को कम करता है और इत्यादि
विटामिन सी 3.3 मिलीग्राम हड्डियों को मजबूत करता है, टिश्यू को ठीक करने में मदद करता है और इत्यादि
विटामिन के 0.2 माइक्रोग्राम हड्डियों और दिल के लिए कारगर

नारियल पानी में मौजूद खनिज पदार्थ (Minerals)-

 

संख्या

 

खनिज पदार्थ के नाम मात्रा फायदे
1 कैल्शियम

 

14 मिलीग्राम हड्डियों और दांतों को मजबूत करता है
2 लोहा

 

2.43 मिलीग्राम शारीरिक तापमान को नियंत्रित करता है, एनीमिया की बीमारी को दूर करता है और इम्युनिटी सिस्टम सही करने में मदद करता है

 

3 मैगनीशियम

 

32 मिलीग्राम मांसपेशियों, नर्व फंक्शन, ब्लड शुगर लेवल्स और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है, थकान और कमजोरी को भी दूर करता है
4 मैंगनीज

 

1.500 मिलीग्राम हड्डियों को मजबूत करता है, शुगर स्तर को नियंत्रित करता है और थायराइड स्वास्थ्य के लिए भी काफी अच्छा है
5 फास्फोरस

 

113 मिलीग्राम पाचन शक्ति को बढ़ाता है, टॉक्सिन्स पदार्थों को खत्म करने में मदद करता है
6 पोटैशियम

 

356 मिलीग्राम प्रोटीन और मांसपेशियों के लिए फायदेमंद
7 सेलेनियम

 

10.1 माइक्रोग्राम हृदय रोग, थायराइड, प्रतिरक्षा प्रणाली, अस्थमा बीमारी से लड़ने में मददगार
8 सोडियम

 

20 मिलीग्राम मस्तिष्क नसों में सुधार और ग्लूकोज अवशोषण को नियंत्रित करता है
9 कॉपर 0.435 मिलीग्राम रक्त वाहिकाओं, नसों, प्रतिरक्षा प्रणाली और हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करता है
10 जिंक 1.10 मिलीग्राम प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है,

बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मददगार

 नारियल के नुकसान (Coconut Side Effects)

  • हो सकती है एलर्जी (Can Cause Allergies)-

नारियल एक प्रकार का ट्री नट होता है. इसलिए जिन लोगों को भी ट्री नट्स से आसानी से एलर्जी हो जाती है वो नारियल पानी, तेल या इसके दूध का सेवन ना करें.

  • बढ़ सकता है वजन (Obesity)

कोकोनट मिल्क में सैचुरेटेड फैट्स और कैलोरी काफी अधिक मात्रा में मौजूद होती है, इसलिए जो लोग अधिक नारियल के दूध का सेवन करते हैं वो मोटापे का शिकार हो सकते हैं.

  • कोलेस्ट्रॉल लेवर को बढ़ा सकता है (High Cholesterol)

जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल लेवर अधिक रहता है वो लोग कोकोनट तेल और इसके दूध का सेवन ना करें, क्योंकि इसमें मौजूद सैचुरेटेड फैट्स  कोलेस्ट्रॉल लेवल को और बढ़ा सकता है.

  • मुंहासे  (Acne)

कोकोनट ऑयल की मदद से मुंहासों को दूर किया जा सकता है, लेकिन जिन लोगों की स्किन ऑयली होती हैं, उनपर कोकोनट ऑयल का नेगिटव इफेक्ट भी पड़ सकता है और उनको मुंहासे और अधिक हो सकते हैं.

नारियल पानी पीने का सबसे अच्छा समय (The best time to have coconut water)

इसे किसी भी समय पीया जा सकता है, इसलिए जब भी आप का मन करे आप इसे पी सकते हैं. हालांकि अगर आप नारियल पानी का  अधिकतम लाभ उठाना चाहते हैं, तो आप निम्नलिखित समय पर इसका सेवन करें.

सुबह खाली पेट  (Empty Stomach)

  • रोज सुबह अगर खाली पेट इसे पीया जाए, तो इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति और अच्छी हो जाती है. इतना ही नहीं कोकोनट वाटर में मौजूद लोरिक एसिड मेटाबॉलिज्म को भी बेहतर करता है.
  • सुबह के समय इसे पीने से वेट भी लॉस किया जा सकता है और बीपी को भी ठीक किया जा सकता है.

व्यायाम और कसरत करने से पहले या उससे बाद (Before or After a Workout)

  • नारियल पानी को ग्रेट नेचुरल स्पोर्ट्स ड्रिंक में भी गिना जाता है और कई तरह तरह की स्पोर्ट्स ड्रिंक बनाने वाली कंपनियां स्पोर्ट्स ड्रिंक बनाने में नारियल पानी का भी इस्तेमाल करती है.
  • कसरत से पहले शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने और शरीर को हाइड्रेट करने में भी ये कारगर साबित होता है. इसी तरह कसरत के बाद इसका सेवन करने से शरीर की थकान को भी दूर किया जा सकता है.

खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद (Before or After a Meal)

जिन लोगों को खाना आसानी से डाइजेस्ट नहीं हो पाता है, उन लोगों को कोकोनट वाटर का सेवन खाना खाने के बाद करना चाहिए. वहीं खाना खाने से पहले अगर कोकोनट वाटर को पीया जाए, तो इससे वजन भी नहीं बढ़ता है.

ऊपर बताए गए समय के अलावा रात को सोने से पहले और प्रेगनेंसी के टाइम नारियल पानी पीया जाए तो ये फायदेमंद होता है.

निष्कर्ष                         

इस पानी रोजाना पीने से फेस की त्वचा ,बालों और शरीर को सेहतमंद बनाया जा सकता है, इसलिए आप भी इसका रोजाना सेवन करना शुरू कर दें.

अन्य पढ़े:

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *