ताज़ा खबर

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना | National Family Benefit Scheme in Hindi

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना / नेशनल फेमिली बेनिफिट स्कीम 2018-19 [Rashtriya Parivarik Labh Yojana / National Family Benefit Scheme in Hindi [Registration Process Application Status Documents Form Eligibility Criteria]  [ swd.up.nic.in ] 

उत्तरप्रदेश की सरकार के द्वारा राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना या एनबीएफएस की शुरुआत की गई है इस योजना के तहत वे परिवार जो अपनी जीवन की जरुरी सामग्री नही जुटा पाते, उन्हे आर्थिक मदद देने के लिए चलाई गई है.राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जनवरी 2016 को शुरू की गई. ऐसे परिवार जिन्होंने कमाने वाला मुख्य सदस्य को खो दिया है या उसकी किसी करणवश मृत्यु हो गई है उन्हे मुआवजे के रूप मे एक मुश्त राशी प्रदान की जाएगी. इस योजना में मुआवजे का दावा करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा . अगर आप इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो आपके पास केवल ऑनलाइन आवेदन का विकल्प उपलब्ध है, इसमें ऑफलाइन आवेदन का कोई विकल्प नहीं है.

योजना का नाम Name of Scheme राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना या फैमिली बेनिफिट स्कीम
शुरुआत की गई Launched By राज्य सरकार
कहा पर शुरू की गई Launched In उत्तर प्रदेश
लागू की गई Activated In 1 जनवरी 2016
लाभदायक है  Beneficiaries गरीबी रेखा के निचे वाले परिवार
आवेदन Application केवल ऑनलाइन
राशी Fund 30,000 रूपये/ परिवार
योग्य केवल Who Will Eligible 18- 60 वर्ष
पारिवारिक आय Family Income 56450/-( शहरी) और 46080/- ( ग्रामीण)

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना की मुख्य विशेषताए  (Rashtriya Parivarik Labh Yojana Key Features) :

  1. राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना केवल राज्य के गरीब निवासियों के लिए है . यदि किसी परिवार का मुख्य कमाने वाला सदस्य की किसी कारण वश मृत्यु हो गई है. तो उसके बाद उसके परिवार को संभालने वाले सदस्य को उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा आर्थिक मदद दी जाएगी .
  2. इस योजना के लिए आवेदक की आयु अठारह से साहठ वर्ष के मध्य होनी चाहिए. यदि आवेदक की आयु 18 वर्ष से कम अर्थात नाबालिग है या 60 वर्ष से अधिक अर्थात बुजुर्ग है तो आवेदक को आर्थिक मदद नही दी जाएगी .
  3. मुआवजे की राशि तय है जो 30,000 रूपये है यह पहले दी जा रही राशी से बड़ाई गई है पहले इसके लिए 20,000 रूपये तय किए गए थे . इस योजना मे केवल ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किये जाएगे ऑफलाइन आवेदन का कोई प्रावधान नही है .
  4. इस योजना के तहत परिवार की वार्षिक आयु 56,450 ( शहरी) और 46,080 ( ग्रामीण) से अधिक नही होना चाहिए . मुआवजे की राशि केवल तभी दी जाएगी जब परिवार का मुख्य कमाने वाला सदस्य या एकमात्र कमाने वाला सदस्य की किसी कराणवश मत्यु हो जाती है .

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के लिए योग्यता (Eligibility for Rashtriya Parivarik Labh Yojana)

इस योजना के अनुसार जो गरीबी रेखा के नीचे आते है वही आवेदन सकते है. इसी के साथ इसमें आवेदक के लिए आयु सीमा का भी निर्धारण किया गया है . परिवार की वार्षिक आय जो शहर मे रहते है उनकी 56,450 और जो ग्रामीण क्षेत्र मे रहते है उन्ही 46,080 से अधिक नही होना चाहिए. राशि परिवार के कमाने वाले सदस्य की मौत हो जाने के बाद ही दी जाएगी .

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना में परिवार को दी जाने वाली राशी (Funding for Families):

इस योजना के तहत सरकार के द्वारा 30,000 की आर्थिक मदद दी जाएगी . शुरुआत मे मुआवजे की राशियो 20,000 रूपये रखी गई थी , 2013 केबाद इस राशी को बड़ा कर 30,000 रूपये कर दिया. इस योजना मे परिवार के मुख्य सदस्य के बाद परिवार का दूसरा सदस्य इस योजना के लिए आवेदन देकर सरकार द्वारा दी जा रही राशी को प्राप्त कर सकता है .

यह राशि एकमुश्त मे ही सीधे जो भी खाता धारक है जो की योजना के तहत उमीदवार है उसके खाते मे डालदी जाएगी . आवेदन के 45 दिन मे राशि खाते मे डाल दी जाएगी .

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना मे कैसे आवेदन करे (Application Process )

आवेदन पत्र सोशल वेब साईट SWD सोशल वेलफेयर डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर दिया हुआ है इस पर जाकर आवेदक को आवेदन देना है और रसीद और फॉर्म का प्रिंट आउट लेना होगा . इस फॉर्म को 3 दिन के अन्दर भर कर जिला समाज कल्याण अधिकारी को जमा करना होगा .यदि आवेदक द्वारा दी गई सारी जानकारी सही होगी तो 45 दिन के अंदर मुआवजे की राशी आवेदक के खाते मे प्राप्त हो जाएगी .

आवेदनके लिए आवश्यक दस्तावेज (Important Document for Application ) :

जब भी इस योज़ना मे आवेदन किया जाता है तब आवेदन जमा करने के साथ कुछ जरुरी कागजात भी देना पड़ते है , जो की निचे दिए गए है .

  1. आवेदक की फोटोग्राफ.
  2. परिवार का मुख्य सदस्य जो की कमाता था और उसकी मृत्यु हो गई है उसका मृत्यु प्रमाणपत्र .
  3. आवेदक का आयु प्रमाणपत्र,आयु सत्यापन प्रमाणपत्र.
  4. आयु प्रमाणपत्र या परिवार के मुख्य सदस्य का आयु प्रमाणपत्र परिवार पंजीकरण प्रमाण पत्र परिवार का आय प्रमाण पत्र ,पे स्लिप या अन्य कोई दस्तावेज .
  5. सीबीसी बैंक खाते की जानकारी .बैंक पास बुक की स्कैन कॉपी , इसकी आवश्यकता ऑनलाइन आवेदन के समय पड़ती है.
  6. आवेदन पत्र का प्रिंट आउट कंप्यूटर द्वारा प्राप्त रसीद जो आवेदन के समय दी गई हो .
  7. आवेदन की हार्डकॉपी जिला कार्यालय मे जमा करते समय उपरोक्त सभी दस्तावेज आवेदन पत्र के साथ आवेदक को देना होता है. और ये सभी दस्तावेज स्वयं सत्यापित होना चाहिए.

ऑफिशियल लिंक Official Link :

यह आवेदन पत्र उत्तर प्रदेश की एसडब्ल्यूडी की अधिकृत वेबसाइट पर उपलब्ध है . इसकी अधिकारिक link http://swd.up.nic.in/nbfc/registrationform.aspx है.

उत्तर प्रदेश के लिए एसडब्ल्यूडी की अधिकृत वेबसाइट http://swd.up.nic.in/. से आवेदक को सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो जाएगी. इस योजना मे पंजीकरण करने के बाद आवेदक देखना चाहे की उसका नामाकन हुआ है या नही तो इस साईट http://swd.up.nic.in/.की मदद से अपना नाम देखा जा सकता है .

सुचना और निर्देश प्राप्त करने के लिए :

http://swd.up.nic.in/nbfc/image/pariwarik%20

http://swd.up.nic.in/nbfc/image/USER%20

योजनाके लिए आवेदन कैसे करे How to Apply for Scheme :

  1. 1 जैसा की सरकार के द्वारा जानकारी दी गई है जो भी आवेदन देने की लिए इच्छुक है वे आवेदनकर इस योजना का लाभ ले सकते है . ऑनलाइन आवेदन के लिए इस लिंक पर क्लिक करे http://swd.up.nic.in/nbfc/registrationfor इसकी मदद से सोशल वेलफेयर डिपार्टमेंट की अधिकृत वेबसाइट पर लागआन कर सकते है
  2. जैसे ही आवेदन पत्र खुल जाए ड्राप डाउन एरो पर क्लिक करे इसमे से जिले का चयन करे , इसके बाद रहवास स्थान का प्रकार का चयन करे शहरी या ग्रामीण .
  3. इसके बाद अपनी व्यक्तिगत जानकारी देना होता है , जिसमे नाम, पता, पिता का नाम या पति का नाम , महिला है या पुरुष पहचान पत्र का प्रकार और नम्बर, फोटोग्राफ,मोबाइल नम्बर और लैंडलाइन नम्बर आदि शामिल है.
  4. आवेदक का वार्षिक आयु प्रमाण पत्र जो की तहसील ऑफिस से प्राप्त किया गया हो. इसमे आयु प्रमाण पत्र का आवेदन क्रमांक भी डालना पड़ता है .
  5. व्यक्तिगत जानकारी के बाद, आवेदक की बैंक जानकारी का कॉलम आता है , आवेदक को अपने बैंक का नाम , खाता क्रमांक ,आई एफ एस सी कोड , बैंक का कोड और इससे जुडी अन्य जानकारी आदि भरनी होति है . एक आप्शन दिया होता है जिसमे बैंक पास बुक की स्कैन की हुई कॉपी भी अपलोड करना होता है .
  6. इसके बाद एक कॉलम आता है जिसमे मृत व्यक्ति की जानकारी देना होती है . इसमे आवेदक को मृत व्यक्ति का नाम , ड्राप डाउन लिस्ट की मदद से मृत्यु का कारण का चयन कर, मृत्यु किस दिन हुई वह दिनांक , मृत्यु प्रमाण पत्र का क्रमांक,जिसकीमृत्यु हुई है उसका आयु प्रमाण पत्र आदि जानकारी देनी होति है.
  7. इस कॉलम मे मृत व्यक्ति के आयू प्रमाण पत्र की स्कैन की हुई प्रति , मृत्यु प्रमाणपत्र, मृत व्यक्ति और आवेदक के बिच में क्या सम्बन्ध है और आवेदक के हस्ताषर आदि भी शामिल होते है .
  8. जब सारी जानकारी और दस्तावेज डाल दिए जाए इसके बाद वेरिफिकेशन कोड डालना होता है ,जिससे यह सत्यापित होता है जो जानकारीदी गई है वो सही है . एक बर पुनः जाच कर आवेदन पत्र को सबमिट करे .
  9. जैसे ही ऑनलाइन दस्तावेज रजिस्टर हो जाते है, एक ओनलाइन कोड जनरेट होता है यह आवेदन क्रमांक होता है . इस क्रमांक को लिख कर रखना होता है इसकी मदद से हम प्राप्त होने वाली राशी प्राप्त होने तक जो जानकारी हो वह प्राप्त कर सकते है .

आवेदन की वर्त्तमान स्थति की जानकारी कैसे प्राप्त करे How to Check Status of Application

  1. राज्य सरकार आवेदन पत्र जाँच करने में कुछ समय लेती है फिर जाच करने के बाद राशी बैंक खाते मे आने मे समय लगता है. यदि किसी आवेदक को राशि दिए गए समय से अधिक समय तक प्राप्त नही हो जैसे किसी को दो महीने तक राशी प्राप्त नही हुई है तो वह ऑनलाइन आवेदन की वर्तमान स्थति प्राप्त कर सकता है .
  2. इस लिंक पर क्लीक करके http://swd.up.nic.in/nbfc/search सीधे योजना के अधिकृत पेज पर जा सकते है .यह पेज केवल आवेदन की वर्तमान स्थिति बताने के लिए होता है .
  3. जैसे ही यह पेज खुल जाए , जो भी जिले का नाम हो और जहाँ रहते हो उसे ड्राप डाउन एरो की मदद से चुने .
  4. इसके बाद बैंक खाता क्रमांक या आवेदन क्रमांक को टाइप करे .
  5. जब इसमे यह जानकारी टाइप कर दी हो उसके बाद सर्च आप्शन पर क्लिक करे. यह आपको सरकारी डेटाबेस मे से आपके आवेदन क्रमांक को दर्शायेगा .
  6. यदि आवेदन पर “पेंडिंग” या“इन प्रोसेस” बता रहा हो तब राशी को खाते मे आने समय लगेगा , और यदि राशी खाते मे जमा हो गई है तो उसकी जानकारी भी प्राप्त होगी .

Update 

18/9/2018

इस योजना के अंतर्गत 500 के ऊपर लोगों को लाभ मिल चूका है. लाभार्थियों को मिलने वाली राशि डायरेक्ट बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की गई है

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *