2022 नवरात्रि नाश्ता व उपवास व्यंजन रेसिपी | 2022 Navratri Snacks Recipes In Hindi

0

2022 नवरात्रि नाश्ता व बेहतरीन उपवास व्यंजन रेसिपी, नियम लाभ कब खोले (Navratri Top Best Snacks or Upvas Fasting Food Recipes in Hindi)

नवरात्री में 9 दिन का व्रत कई लोग रहते है, ऐसे में एक ही तरह के खाने से लोग बोर हो जाते है. व्रत के खाने में सबसे पहले लोगों को साबूदाना की खिचड़ी याद आती है. व्रत में इसके अलावा भी बहुत चीजें बनती है. 9 दिनों के व्रत में कुछ लोग फलाहार सिर्फ एक समय में लेते है, ऐसे में उनके शरीर में डीहाइड्रेशन, एसिडिटी की परेशानी होने लगती है. इससे बचने के लिए दिन भर कुछ कुछ तरल पदार्थ लेते रहना चाहिए, दिन में एक बार में एक साथ खाना खाने से पेट में दर्द भी होने लगता है. इसलिए इस लेख में हम आपको नवरात्रि में बनने वाले विभिन्न व्यंजन एवं उसे बनाने की विधि के बारे में बताने जा रहे हैं.

navratri-snacks-upvas-fasting-recipes

Table of Contents

नवरात्रि नाश्ता उपवास व्यंजन रेसिपी (Navratri Snacks Upvas Fasting Recipes In Hindi)

नवरात्री या किसी भी व्रत में अलग तरह का खाना बनता है, जिसे फलाहार कहते है. ये हमारी भारतीय पारंपरिक खाने का स्वाद ही है, जो कई तरह से मिलता है. व्रत के खाने में भी भारतीय स्वाद की झलक होती है. ये व्रत का खाना स्पेशल चीजों से बनता है, इसमें प्याज लहसुन नहीं होता है. व्रत में बहुत कम सब्जी ही खाई जाती है, कई लोग टमाटर भी नहीं खाते है.

नाश्ते वाले व्यंजन

कुट्टू के आटे का डोसा (Kuttu ka Atta Dosa) –

बनाने का समय – 1 घंटा

मात्रा – 4 लोग

कुट्टू का डोसा बनाने की सामग्री
सामग्री का नाममात्रा
उबले आलू3
लाल मिर्च पाउडर1 tsp
अदरक1 tsp (किसा हुआ)
कुट्टू का आटा5 tbsp
अरबी2 tbsp (उबली हुई)
अजवाइन½ tsp
हरी मिर्च1 tsp
नमकस्वाद अनुसार
घी2 बड़े चम्मच
हरा धनिया2 tbsp बारीक कटा
मूंगफली दाना2 tbsp (पिसा हुआ)
दही2 tbsp
कुट्टू के आटे का डोसा बनाने की विधि (Kuttu ka Atta Dosa Recipe)

आलू की सब्जी –

  • एक पैन में 1 चम्मच घी गर्म करे, उसमें जीरा, हरी मिर्च, अदरक डालें.
  • अब इसमें मूंगफली डालकर भूनें.
  • अब इसमें आलू मैश करके डालें, नमक डालें और हल्का ब्राउन होने तक भूनें.
  • अब इसमें हरी धनिया डालें और गैस बंद कर दें.

डोसा बनाने के लिए –

  • कुट्टू के आटे को एक बर्तन में डालें, उसमें दही डालकर मिक्स करें और इसे आधे घंटे के लिए रख दें.
  • डोसा के मिक्स में अरबी को मैश करके डालें, अब इसमें नमक, अजवाइन, लाल मिर्च, हरी मिर्च डालें और अच्छे से मिक्स करें.
  • घोल में जरूरत के हिसाब से पानी भी डाल लें.
  • डोसा वाले तवे को गर्म करें, इसमें हल्का घी लगायें. फिर इसमें डोसा का घोल अच्छे से फैलाएं.
  • इसे 1-2 min तेज आंच पर पकने दें, फिर किनारी में घी लगायें जिससे वो क्रिस्पी हो जायेगा.
  • अब इसमें बीच में आलू फैलाएं, और फोल्ड करें.
  • अब इसे गर्मागर्म नारियल की चटनी के साथ सर्व करें.

सिंघाड़े के आटे के आलू बड़े (Singhare Ka Atta Alu Bade Snacks Recipes )–

मात्रा – 5 लोग

बनाने का समय – ½ घंटा

सामग्री –

इसकी सामग्री में सिंघाड़े, आलू उबले हुए, नमक, अजवाइन, चुटकी भर सोडा आदि चीजों की आवश्यकता होती है.

सिंघाड़े के आटे के आलू बड़े बनाने की विधि –
  • 1 कप सिंघाड़े का आटा लें, उसमें नमक, अजवाइन, चुटकी भर सोडा डालकर, भजिये जैसा पतला घोल बना लें.
  • अब उपर बताई गई आलू की सब्जी की तरह ही, आलू बड़े की अंदर की फिलिंग तैयार करें.
  • इन आलू के गोल गोल लड्डू बनाकर, इसे सिंघाड़े आटे के घोल में डीप करें.
  • फिर इसे घी में डीप फ्राई करें.
  • गर्मागर्म हरी चटनी के साथ खाएं.

नवरात्रि व्रत वाले ढोकला (Navratri Farali Dhokla Snacks Upvas Recipes) –

सामग्री –
सामग्री का नाममात्रा
संवात के चावल (समां के चावल)¾ कप
दही1 कप
अदरक पेस्ट1 tsp
हरी मिर्च पेस्ट1 tsp
नमकस्वाद अनुसार
घी/तेल2 tsp
लाल मिर्च खड़ी1-2
करी पत्ता4-5
जीरा1 tsp
किसा हुआ नारियल1 tsp
हरा धनियाबारीक कटा
शक्कर1 tsp
व्रत वाले ढोकला बनाने की विधि –
  • समां चावल को एक पैन में हल्का ब्राउन होने तक सेकें.
  • अब ढोकले के घोल बनाने के लिए, एक बर्तन में समां चावल लें, उसमें नमक, हरी मिर्च पेस्ट, अदरक पेस्ट और दही मिलाएं. इसे 1-2 घंटे के लिए रख दें.
  • अब ढोकले बनाने के बर्तन में घी लगाये, और इस घोल को उसमें डालें.
  • अब इसे 15-20 min के लिए स्टीम होने रख दें.
  • अब गैस बंद कर ठंडा होने रख दें.
  • ढोकला फ्राई करने के लिए, एक बर्तन में घी या तेल गर्म करें, उसमें जीरा, करी पत्ता, लाल मिर्च डालें.
  • अब ढोकला को चोकोर काटकर, इसमें डालें.
  • अच्छे से मिलाएं, उपर से थोड़ी शक्कर डालें और कुछ देर भुजने रख दें.
  • अब उपर से हरा धनिया, नारियल डालकर गर्मागर्म सर्व करें.

दही बड़ा पनीर सिंघाड़ा –

मात्रा – 4 से 5 लोगों के लिए

बनाने में लगने वाला समय – तकरीबन 1 घंटे

सामग्री –
  • पनीर आधा कप
  • 1 कप सिंघाड़े का आटा
  • 1 कप उबले आलू
  • 1 अदरक पिसा हुआ
  • पीसे हुए काजू एक कटोरी
  • बारीक कटी हरी मिर्च
  • 2 कप फेंटा हुआ दही
  • सेंधा नमक
  • चीनी
  • जीरा पाउडर
  • अनारदाने का पाउडर
  • तलने के लिए तेल
  • फलहारी चावल
बनाने की विधि –
  • सबसे पहले आपको एक बर्तन में पनीर को कद्दूकस करना होगा। इसमें ही आप जरूरी सामग्री को मिला लें जैसे- आलू, हरी मिर्च, अदरक, काजू, सेंधा नमक आदि। इसके बाद सबको मिलाकर इसके छोटे गोले बना लें।
  • इसके बाद सिंघाड़े के आटे का घोल बनाकर उन गोलो को उसमें डीप करें। साथ ही कढ़ाई में तेल गरम करने के लिए रख दें जिसमें आपको उसे तलना होगा। उसके बाद उन सभी गोलो को तेल में डालकर तल लें। उसके बाद उन्हें एक प्लेट में निकाल लें। साथ ही दही में थोड़ी चीनी मिला लें।
  • अब उन्हें दही-भल्ले की तरह परोसे ऊपर से उसमें जीरा पाउडर और अनारदान डाल दें। इससे उसका टेस्ट और ज्यादा बढ़ जाएगा।

अरबी के फलहारी कबाब –

मात्रा – 6-8 लोगों के लिए

बनाने में लगने वाला समय – करीबन 1 से डेढ़ घंटे

सामग्री –
  • अरबी
  • कूट्टू का आटा ¼ कप
  • अदरक बारीक कटा हुआ
  • बारीक कटी हुई हरी मिर्च
  • हरा धनिया बारीक कटा हुआ
  • नमक स्वादानुसार
  • सेंकने के लिए तेल
बनाने की विधि –
  • सबसे पहले अरबी को अच्छे से धोकर उबाल लें।
  • इसके बाद जब अरबी ठंडी हो जाए तो उसे अच्छे से छील लें। चाहे तो आप इसे कद्दूकस कर सकते हैं।
  • इसके बाद अरबी में कुट्टू का आटा, घिसी अदरक और जरूरी सामग्री मिला ले। जिससे मसाला अरबी में मिक्स हो जाए।
  • अब इस मिश्रण से छोटे-छोटे कबाब बना लें। साथ ही गैस पर नॉन स्टिक पैन को गरम करने के लिए रख दें।
  • पैन गर्म होने उसपर थोड़ा तेल लगाए और उसके बाद एक-एक कर कबाब उसमें रखे। धीरे-धीरे उन्हें सिकने दें। जब कबाब एक तरफ से गोल्डन ब्राउन हो जाए तो उन्हें दूसरी ओर पलट लें। ताकि कबाब अच्छे से दोनों तरफ से सिक जाए।
  • जैसे ही कबाब सिक जाए उन्हें धनिया पत्ते की चटनी के साथ सर्व करें और उनका मजा लें।

साबूदाना की खिचड़ी –

मात्रा –  2 लोगों के लिए।

बनाने में लगने वाला समय – 20 से 25 मिनट। 

सामग्री –
  • सौ ग्राम साबूदाना
  • दो चम्मच घी
  • दो कटी हुई हरी मिर्च
  • आधा छोटा चम्मच जीरा
  • लगभग एक चम्मच मूंगफली के दाने
  • एक उबला हुआ आलू
  • एक नींबू
  • एक बड़ा चम्मच कटा हुआ हरा धनिया
  • सेंधा नमक स्वाद अनुसार
बनाने की विधि –
  • साबूदाने को एक बर्तन में लेकर उसे धो लें और फिर 1 घंटे के लिए पानी में भिगोकर रख दें। यदि आप मोटे दाने वाला साबूदाना का इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसे कम से कम 6 से 8 घंटे भिगोकर रख दें।
  • उबले हुए आलू को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट कर रख ले और एक बड़ी सी कड़ाई गैस पर चढ़ा दें। 
  • कढ़ाई में घी डालकर घी को गर्म कर लें और फिर उस में मूंगफली के दाने डालकर मूंगफली को भून लें। 
  • अब उसी गरम जी में आधा चम्मच जीरा दो बारीक कटी हुई हरी मिर्च डालकर भून लें। फिर कटे हुए आलू भी डालकर उसे अच्छे से भून लें। 
  • अब साबूदाने को पानी में से निकाल कर उसे कढ़ाई मैं भुने हुए मिक्सचर मैं डाल दे और उसे करीब 2 मिनट तक हिलाएं।
  • अब इस पर भुनी हुई मूंगफली डाल दे। आप चाहे तो भुनी हुई मूंगफली को छोटे-छोटे टुकड़ों में भी क्रश कर सकते हैं। ऊपर से नमक भी डाल दें। 
  • अब कम से कम 2 टेबलस्पून पानी डाल लें। आप चाहे तो बिना पानी के भी उसे ऐसे ही बना कर सर्व कर सकते हैं। करीब 7 से 8 मिनट तक पका कर प्लेट में निकाल लें और अब उस पर हरा धनिया स्प्रिंकल कर लें।  
  • फिर उस पर नींबू डालकर गरमा गरम सर्व करें। 

खाने में खाये जाने वाले व्यंजन

नवरात्रि आलू की कढ़ी बनाने का तरीका (Alu kadhi Upvas Fasting Recipes) –

सामग्री –
सामग्री का नाममात्रा
उबले आलू3
लाल मिर्च पाउडर1 tsp
अदरक1 tsp (किसा हुआ)
सिंघाड़े का आटा2 tbsp
खट्टा दही½ कप
करी पत्ता4-5
हरी मिर्च1 tsp
नमकस्वाद अनुसार
घी2 बड़े चम्मच
हरा धनिया2 tbsp बारीक कटा
जीरा1 tsp
खड़ी लाल मिर्च1-2
व्रत की कढ़ी बनाने की विधि –
  • एक बर्तन में सिंघाड़े का आटा लें, उसमें नमक, लाल मिर्च पाउडर डालें.
  • इसमें पानी डालकर गाढ़ा घोल बना लें. अब ¼ घोल को अलग रख दें.
  • बाकि के घोल की पकोड़ी बना लें और घी में डीप फ्राई कर लें.
  • अब बचे हुए घोल में दही डालें, और कढ़ी जैसा पतला घोल बना लें.
  • अब एक पैन में घी गर्म करें, उसमें करी पत्ता, लाल मिर्च, जीरा डालें. हल्का ब्राउन होने के बाद अदरक डालें.
  • अब इसमें दही वाला मिक्सचर डालें, जरूरत के हिसाब से नमक डालें.
  • अब इसे धीमी आंच पर उबलने दें, जब तक वह गाढ़ी न हो जाये.
  • अंत में धनिया डालें और सर्व करें.

नवरात्रि व्रत का पुलाव (Navratri Farali Pulao Recipes) –

सामग्री –
सामग्री का नाममात्रा
संवात के चावल1 कप
आलू1 मध्यम (छोटा छोटा कटा हुआ)
घी1 tbsp
जीरा1 tsp
लौंग2
दालचीनी½ इंच
अदरक½ किसा हुआ
काजू-किशमिश8-10
हरी मिर्च1 tsp
काली मिर्च पाउडर½ tsp
नमकस्वाद अनुसार
नीम्बू का रस2 tsp
हरा धनिया2 tsp
इलायची1-2
व्रत का पुलाव बनाने का तरीका –
  • समां के चावल को धोकर आधे से 1 घंटे के लिए भिगो दें.
  • एक पैन में घी गर्म करें, उसमें जीरा, लौंग, दालचीनी, इलायची, काली मिर्च पाउडर डालकर फ्राई करें. इलायची के फायदे एवं नुकसान यहाँ पढ़ें.
  • अब इसमें अदरक, हरी मिर्च, काजू किशमिश को ब्राउन होने तक सेकें.
  • अब इसमें आलू डालकर 1-2 min पकाएं.
  • अब इसमें समां के चावल मिलाकर 1 min पकाएं फिर इसमें 2-3 कप पानी डाल दें. और फिर नमक डाल दें.
  • अब इसे मध्यम आंच पर 15-20 min ढककर पकने दें. बीच में देखते रहें.
  • अंत में हरा धनिया, नीम्बू का रस डालकर अच्छे से मिलाएं और गैस बंद कर दें.
  • इसे 10 min तक ढककर रखें दें, जिससे अच्छा फ्लेवर आएगा.

टिप –

  • आप इसी प्रक्रिया से इसे कुकर में भी बना सकते है.
  • आप इसमें कोई और मेवा और मूंगफली भी डाल सकते है.
  • आप व्रत के अलावा इसे ऐसे ही खाने के लिए बना सकते है, जिसमें आप सब्जियों का भी प्रयोग कर सकते है, जिससे स्वाद और बढ़ जायेगा.

बाजरे की मसालेदार सलाद –

मात्रा – 1 से 2 लोगों के लिए

बनाने में लगने वाला समय – आधा घंटा लगभग

सामग्री –
  1. सामा चावल
  • एक कप सामा चावल/बाजरा
  •  1¼ कप पानी
  • नमक स्वाद अनुसार
  1. साबूदाना बॉल्स
  • एक कब भीगा हुआ साबूदाना
  • 1 टेबलस्पून अमचुर पाउडर
  • 2 टेबलस्पून मूंगफली का पाउडर
  • आधा चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • आधा चम्मच हल्दी पाउडर
  • 3 टेबलस्पून कुट्टू का आटा
  • दो मीडियम साइज उबले और खिले हुए आलू 
  • आधा चम्मच बारीक कटा हुआ हरा धनिया
  • स्वाद अनुसार नमक
  • पकाने के लिए तेल
  1. बुद्धा बाउल
  • 1 मीडियम साइज अवोकादो
  • एक छोटा खीरा – 1 छोटा
  • ¾ कफ सिका हुआ पनीर 
  • 3 टेबलस्पून अनार के दाने
  • एक कप हरी चटनी
बनाने की विधि –
  1. सामा चावल
  • एक पैन में पानी डालकर गैस पर चढ़ा दें और उसमें सामा चावल डालकर चावल को उबलने के लिए छोड़ दें। 
  • एक उबाल आने पर गैस की आज को धीमी कर के बर्तन को ढक कर रख दें और इसे 15 मिनट तक पकने दें। 
  • पकने के बाद इसे कुछ देर ठंडा होने के लिए रख दें और ठंडे हो जाने के बाद इसे कांटे के चम्मच से थोड़ा चला लें। 
  1. साबूदाना बॉल्स
  • साबूदाना बॉल्स की ऊपर बताई गई सभी सामग्रियों को एक बाउल में डालकर अच्छे से मिला लें। 
  • अब अप्पे बनाने वाले पेन को गैस पर चढ़ा कर उस पर हल्का सा तेल लगाकर चिकना कर लें। अब बाउल में  मिलाए हुए मिश्रण के छोटे-छोटे बॉल्स बनाकर पैन पर सेक लें। 
  • यदि आपके पास पैन नहीं है तो आप कढ़ाई में तेल डालकर भी इन बॉल्स को तल सकते हैं। 
  1. बुद्धा बाउल
  • सबसे पहले पनीर को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और अब इसे सेक लें। 
  • अब सभी चीज जो आपने बनाई है जैसे पनीर, सामा चावल, साबूदाना बॉल्स इन सब को एक बाउल में सजा लें।
  • अब इसे अपनी मनपसंद चटनी के साथ परोसें। 

काजू और मखाने की करी –

मात्रा – 1 से 2 लोगों के लिए

बनाने में लगने वाला समय – 25 से 30 मिनट

सामग्री – 
  • एक कप मखाना
  • दो चम्मच काजू
  • एक कप टमाटर और हरी मिर्च की पेस्ट
  • आधा कप दूध
  • एक छोटी चम्मच बारीक कटी हुई अदरक
  • आधा कप क्रीम/मलाई
  • आधा चम्मच दही
  • आधा चम्मच काला मिर्च ऑर्डर
  • डेढ़ चम्मच घी/तेल
  • एक बड़ा चम्मच कटा हुआ हरा धनिया
  • नमक स्वाद अनुसार
बनाने की विधि – 
  • सबसे पहले काजू को आधा कप दूध में डालकर कम से कम आधे घंटे के लिए भिगो लें और फिर मिक्सर में डालकर उसका पेस्ट बना लें।
  • गैस पर एक कढ़ाई चढ़ाकर उसमें आधा चम्मच घी/तेल डाल दें और उसमें मखाने डालकर मकानों को अच्छी तरह भून लें। 
  • अब बचा हुआ आधा चम्मच घी या तेल कढ़ाई में डाल लें। अब इसमें अदरक हरी मिर्च और टमाटर का पेस्ट डाल कर अच्छे से भून लें। 
  • अब इसमें काजू और दूध का पिसा हुआ पेस्ट डालकर 1 से 2 मिनट भूनें। फिर इसमें दही को अच्छे से फिट कर डालें और साथ ही साथ चम्मच चलाते रहें। लगभग 1 से 2 मिनट तक इसे भून लें। 
  • अब इसमें एक कप पानी और भुने हुए मखाने डालकर 4 से 5 मिनट तक पकने दें। 
  • अब नमक, गरम मसाला, काली मिर्च पाउडर और थोड़ी सी कटी हुई अदरक डालकर अच्छे से मिला दें। 
  • अब गैस बंद कर दें और बनी हुई करी के ऊपर कटा हुआ हरा धनिया डालकर कुट्टू की पूरी के साथ गरमागरम सर्व करें। 

थालीपीठ बनाने का तरीका (Navratri Upvas  Thalipeeth Recipe) –

सामग्री –
  • राजगिरा आटा – ½ कप
  • आलू – ¼ कप (किसा हुआ)
  • मूंगफली – 2 tbsp (पीसी हुई)
  • हरी मिर्च – 1 tsp
  • नीम्बू का रस – ½ tsp
  • नमक – स्वाद अनुसार
  • धनिया – 2 tbsp बारीक़ कटा
  • घी
थालीपीठ बनाने की विधि –
  • राजगिरा का आटा, किसा हुआ आलू, मूंगफली, हरी मिर्च, नीम्बू का रस, नमक, धनिया मिलाकर, पानी के साथ आटा गूंथ लें.
  • इसकी लोई बनाकर, बेल लें.
  • नॉनस्टिक पैन में हल्का घी लगाकर गर्म करें.
  • अब संभालकर थालीपीठ को तवे पर डालें.
  • अब हाथों में घी लगाकर तवे पर थालीपीठ को हलके हाथों से दबाएँ.
  • अब गोल्डन ब्राउन दोनों साइड सेंक लें.
  • आलू की सब्जी या हरी चटनी के साथ सर्व करें.

कुटू के पराठे – 

मात्रा- 10 पराठे

बनाने में लगने वाला समय- 20 से 25 मिनट

सामग्री – 
  • डेढ़ कप कूटू का आटा
  • दो से तीन छोटे उबले हुए आलू
  • दो से तीन या फिर स्वाद अनुसार हरी मिर्च
  • सेंधा नमक स्वाद अनुसार
  • कम से कम आधा कप पानी
  • पराठे सेकने के लिए तेल या घी
  • पराठे बेलने के लिए दो चम्मच कुट्टू का सूखा आटा
बनाने की विधि – 
  • दो से तीन आलू उबालकर उन्हें छीलकर अच्छे से मैश कर लें। 
  • दो से तीन हरी मिर्च को बारीक काट लें।
  • अब एक कटोरा लेकर उसमें मैश किए हुए आलू हरी मिर्च नमक और कूटू का आटा मिक्स कर लें। अब इसमें थोड़ा थोड़ा पानी डालकर आटे को अच्छे से गूंथ लें। 
  • गूथे हुए आटे को 10 मिनट तक ढक कर रख दें। 
  • अब आटे की छोटी-छोटी लोई/पेड़े बना लें। हल्का सा तेल लगाकर आप आटे की लोई को चिकना भी कर सकते हैं। 
  • अब लोई को कुट्टू के सूखे आटे में लपेट लपेट कर बेलन की मदद से इनको पराठा में बेल लें। बेलते वक्त ही गैस पर धीमी आंच करके तवा चढ़ा दें।
  • अब हल्का सा तेल या घी तवे पर लगाकर चिकना कर लें और इस पर बेला हुआ पराठा डाल दें। जिस तरह आप पराठे सेकते हैं, उसी तरह दोनों तरफ घी/तेल लगाकर अच्छे से पराठे को सेक लें। 
  • इसी तरह आप बाकी परांठू को भी सेक लें। 
  • अब गरमा गरम कुट्टू के पराठे को मनपसंद सब्जी के साथ सर्व कर लें। 

राजगीर की पुरी – 

मात्रा – एक बार में कम से कम 5 राजगीर की पूरियां

बनाने में लगने वाला समय – 10-15 मिनट

सामग्री – 
  • दो कप राजगीर का आटा
  • एक उबला हुआ आलू
  • नमक 
  • तलने के लिए तेल
बनाने की विधि – 
  • एक आलू उबालकर उसे मैश कर लें। 
  • इसके बाद ऊपर बताई गई सभी सामग्रियों को एक बाउल में मिलाकर अच्छे से गूथ लें। 
  • आटा गूंथने के बाद उसके छोटे-छोटे पेड़े बनाकर बेल लें। बेलते वक्त आप पेड़ों को राजगीर के सूखे आटे में लपेट कर बेल सकते हैं। 
  • अब एक कढ़ाई में तेल डालकर, तेल को गर्म कर लें। 
  • जब तेल अच्छे से गर्म हो जाए तब पूरियों को तल लें। 
  • पूरियों को तलते वक्त कल्चुल से दबा-दबा कर तलें। इससे पूरियां फूली हुई बनती है।‌ पूरियों को सुनहरा होने तक तलें। 
  • ऐसे ही सारी पूरियों को तल लें और मनपसंद सब्जी के साथ परोसें। 

मीठे के व्यंजन –

नवरात्रि व्रत के लिए मखाने की खीर (Navratri Snacks Makhane ki kheer) –

सामग्री –
  • दूध – 1 लीटर
  • मखाना – ¼ कप
  • शक्कर – 2 tbsp
  • पिस्ता – 2 tsp बारीक़ कटा
  • बादाम – 2 tsp बारीक़ कटा
  • इलायची पाउडर – 1 tsp
मखाने की खीर बनाने का तरीका –
  • एक मोटे तले के बर्तन में ढूढ़ डालें और उबलने रख दें.
  • मखानों को बारीक़ काट कर, दूध में डालें.
  • इसे धीमी आंच में 1-2 घंटे तक उबलने दें.
  • जब ढूढ़ गाढ़ा हो जाये और आधी मात्रा बचे तब इसमें शक्कर डालें.
  • कुछ देर और पकने दें, फिर इसमें सभी मेवे, इलायची पाउडर डालें.
  • गैस बंद कर, ठंडा होने दें फिर सर्व करें.

नवरात्रि व्रत के लिए केला की लस्सी (Navratri Upvas Banana Lassi Recipe) –

सामग्री –
  • दही – 1 कप
  • केला – आधा
  • 3-4 अखरोट
  • तिल – 1 tsp
  • शहद – 1-2 tsp
बनाने की विधि –
  • एक बर्तन में दही, केले के बारीक़ कटे पीस डालें.
  • इसे मथानी से अच्छे से मथ लें, जिससे दही में कोई भी गिल्ठे न रहें.
  • अब इसमें अखरोट, तिल, शहर डालें, और फिर इसे मथे.
  • ठंडी लस्सी को बारीक़ अखरोट से सजाएँ और सर्व करें.

नवरात्री व्रत के लिए साबूदाना की खीर बनाने का तरीका (Navratri Upvas  Sabudana kheer Recipe) –

सामग्री –
  • साबूदाना – ¼ कप
  • दूध – 2 कप
  • शक्कर – 4-5 tbsp
  • इलायची पाउडर – 1 tsp
  • काजू – 2 tbsp बारीक़ कटा
  • केसर – 3-4 (वैकल्पिक)
विधि –
  • साबूदाना को अच्छे से धो लें.
  • एक मोटे तले के बर्तन में दूध गर्म करने रख दें.
  • एक बर्तन में साबूदाना को पानी में डालकर 15-20 min भिगोयें, फिर इसे गैस में साबूदाना पकने के लिए रख दें.
  • 4-5 साबूदाना पकने के बाद उसे दूध में मिला दें.
  • इसे 20-25 min पकने दें. फिर इसमें शक्कर, इलायची पाउडर, मेवे डालें
  • फिर इसे हिलाते रहें और पकने दें.
  • गैस बंद कर दे, केसर डालें और ठंडा करके सर्व करें.

बादाम और गुलाब की बर्फी

मात्रा – लगभग 24 बर्फी के लिए। 

बनाने में लगने वाला समय – तैयारी में दो मिनट और पकाने में लगभग आठ मिनट लगेंगे। 

सामग्री
  • बादाम दो सौ ग्राम
  • लाल गुलाब की पंखुड़ियां आधा कप
  • शक्कड़ आधा कप
  • पानी एक चौथाई कप
  • घी कुछ बूंदे
बनाने की विधि
  • सबसे पहले एक थाली या ट्रे की तली में घी की कुछ बूंदे लगा कर रख लें। यहां बटर पेपर का भी प्रयोग किया जा सकता है। इस प्रक्रिया से बर्फी फैलाने में लाभ मिलेगा।
  • गुलाब की पंखुड़ियों को साफ कपड़े से धो कर पोंछ लें।
  • बादाम को भी साफ करें।
  • साफ करने के बाद बादाम को गुलाब की पंखुड़ियों के साथ सूखा और बारीक पीस लें। 
  • एक कराही में शक्कर और पानी उबाल लें। चाशनी को धीमी आंच पर गाढ़ा होने तक पकाएं। ये प्रक्रिया करीब दो मिनट लगते हैं। बर्फी बनाने के लिए दो तार की चाशनी ठीक रहेगी।
  • फिर चाशनी को चूल्हे से उतार लें। इसमें बादाम और गुलाब पाउडर को डाल दे और जल्दी से चाशनी में मिला दे। मिलाने के बाद वापिस से धीमी आंच पर कराही को चढ़ा दें। 
  • बराबर चलाएं और मिश्रण को तब तक पकाइए जब तक ये किनारा ना छोड़ दे। इस प्रक्रिया में अधिकतम तीन मिनट लगेंगे।
  • बिलकुल चिकनी बर्फी के लिए एक चम्मच घी और डाल दे और आंच को बंद कर दे। 
  • अब घी या बटर पेपर वाली ट्रे पर इस मिश्रण को फैला लें। ट्रे पर चौथाई इंच की मोटी परत होनी चाहिए। फिर इस मिश्रण को थोड़े देर के लिए ठंडा होने रख दे। इस प्रक्रिया में दस से पंद्रह मिनट लगेंगे। 
  • अब आप बादाम और गुलाब की बर्फी को मनचाहे शेप में काट लें।
  • इस बर्फी को दो हफ्ते तक रखा जा सकता है। गर्म मौसम में बर्फी को फ्रिज में रखे।

खसखस का हलवा

मात्रा – एक छोटी कराही के करीब

बनाने का समय – आधे घंटे के करीब

सामग्री
  • सौ ग्राम खसखस
  • आधा कप घी
  • सौ ग्राम चीनी
  • एक कप दूध
  • एक चौथाई छोटा चम्मच इलायची पाउडर
  • एक बड़ा चम्मच बादाम ( कटे हुए) 
  • एक बड़ा चम्मच काजू ( कटे हुए)
बनाने की विधि
  • खसखस का हलवा बनाने के लिए रात भर खसखस को पानी में भिगो दीजिए। 
  • भीगे हुए खसखस को अतिरिक्त पानी से निकाल दीजिए। पीसते समय जितने पानी की आवश्यकता हो डाल दीजिए।
  • एक कढ़ाई में घी डालिए।
  • घी में पीसे हुए खसखस को डालें।
  • लगातार चलाते हुए खसखस को सुनहरे होने तक धीमी आंच पर भून लें।
  • फिर खसखस में दूध और चीनी डालनी होगी। लगातार चलाते हुए मिश्रण को पकाइए। 
  • जब हलवा कराही छोड़ने लगे तो उसमे इलाइची पावर, काजू, बादाम को मिला दीजिए। 
  • इस हलवे को गरम या ठंडा आप जैसा चाहें परोस सकते हैं।

साबूदाना लड्डू

मात्रा – पांच से सात

बनाने में लगने वाला समय – बीस मिनट के करीब

सामग्री – 
  • एक कप उबला साबूदाना
  •  मेवा
  • एक कप नारियल ( कद्दूकस) 
  • एक कप चीनी ( पीस कर)
  • एक कप घी
  • एक चौथाई चम्मच इलायची पाउडर
बनाने की विधि –
  • सबसे पहले कराही में साबूदाने को सूखा भून लें। जब साबूदाना सुनहरा एवं कुरकुरा हो जाए तो गैस बंद कर दे।
  • साबूदाने के ठंडा होने पर इसे बारीक पीस लें। 
  • एक कराही में कद्दूकस किया हुआ नारियल भूने। जब नारियल सुनहरा हो जाए तो उसमे साबुदाना पाउडर और चीनी मिला दे। इसके बाद गैस बंद कर दे। 
  • एक पैन में घी गरम कर के मेवा भूनें।
  • एक से दो मिनट मेवे को भूनने के बाद साबूदाने वाले मिश्रण में डाल दे। 
  • जब मिश्रण हल्का गरम हो तो लड्डू बना लें।
  • इन लड्डुओं को ठंडा होने पर एयर टाइट जार में बंद कर दे।
होमपेजयहां क्लिक करें

FAQ

Q : नवरात्रि के समय उपवास में क्या खाया जाता है ?

Ans : सिंघाड़े एवं उनके आटे से बने व्यंजन मुख्य रूप से लोग खाते हैं, इसके अलावा साबूदाना आदि.

Q : नवरात्रि के उपवास में क्या नहीं खाया जाता है ?

Ans : प्याज एवं लहसुन की चीजें नहीं खाई जाती है.

Q : नवरात्रि के उपवास में खाए जाने वाले व्यंजन कौन कौन से हैं ?

Ans : इसकी जानकारी ऊपर लेख में दी हुई है.

Q : नवरात्रि साल में कब आती है ?

Ans : यह साल में 2 बार आती है, चैत्र माह में एवं कुमार में

Q : नवरात्रि का उपवास कितने दिन का होता है ?

Ans : 9 दिनों का

अन्य पढ़े

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here