नियोकोव वेरीएंट क्या हैं Neocov Coronavirus Variant in Hindi

नियोकोव वायरस क्या है, लक्षण, असर, सिम्टम्स,नियोकोव वेरीएंट क्या हैं Neocov Coronavirus Variant in Hindi

गभग दो वर्षो से कोरोना से जुड़ी महामारी ने विश्वभर में भय और चिंता की स्थिति बना कर रखी है। इस परेशानी से निजात पाने के लिए दुनिया भर में जद्दोजेहद जारी है।हाल ही में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन ने सभी को चिंचित किया था। पर विषय अब और गंभीर हो चुका है। ऑमिक्रोन के बाद कोरोना का एक नया वेरिएंट सामने आया है जिसका नाम नियोकोव है। माना जा रहा है कि ये वेरिएंट ओमिक्रोन से भी अधिक नुकसानदेह होगा। वुहान के वैज्ञानिकों का इससे जुड़ा एक बड़ा चौंकानेवाला दावा भी सामना आया है।वैज्ञानिकों का मानना है कि नियोकोव के संक्रमण एवं मृत्यु दर की संख्या काफी बड़ी होगी और हर तीन में से एक पेशेंट की मौत होने की संभावना भी है। इस वेरिएंट अफ्रीका में पाया गया है।तो आइए इस आर्टिकल के माध्यम से समझते हैं कोरोना के नए वेरिएंट नियोकोव के बारे में।

क्या है नियोकोव?

नियोकोव कोरोना का नया वेरिएंट है जिसे ले कर वुहान के वैज्ञानिकों का बड़ा खुलासा सामने आया है। हम बता दे कि चीन का शहर वुहान वही शहर है जहां से कथित तौर पर कोरोना महामारी फैली थी। हालांकि स्पूतनिक को कि रूस की न्यूज एजेंसी है उसका मानना है कि नियोकोव एक नया वेरिएंट नही है। नियोकोव मर्स कोव वायरस से जुड़ा हुआ है। इसे सबसे पहले 2012 में देखा गया था, फिर ये 2015 में भी लोगो को संक्रमित कर चुका है। इसका प्रभाव पश्चिम एशियाई देशों में देखने को मिला था। आपको बता दे कि अफ्रीका में भी चमगादड़ों में नियोकोव वेरिएंट देखा जा चुका है।

कितना असरदार है नियोकोव

वुहान के वैज्ञानिकों की मानें तो नियोकोव किसी बड़ी चिंता और भय से कम नहीं है।इसका संक्रमण और मृत्यु दर पिछले वेरियंट्स से काफी अधिक होगा। bioRxiv वेबसाइट की मानें तो इस पर प्रकाशित किए गए शोध में बताया गया है कि नियोकोव और इसका सहयोगी PDF-2180-CoV से इंसान संक्रमित हो जाएंगे।

वुहान यूनिवर्सिटी एवं चाइना अकादमी ऑफ साइंसेज ने बताया है कि नियोकोव को इंसानों को संक्रमित करने के लिए बस म्यूटेशन की आवश्यकता है। हालाकि रूस के वायरोलॉजी और बायोटेक्नोलॉजी से जुड़े विभाग का कहना है कि ये नया वेरिएंट इंसानों में ज्यादा नहीं फैलेगा। इस नए वेरिएंट की क्षमता की जांच ज़रूरी है।

अब तक कौन से गंभीर वेरियंट्स मिले

  • ब्रिटेन -अल्फा ( सितंबर 2020)
  • दक्षिण अफ्रीका -बीटा ( मई 2020)
  • ब्राज़ील -गामा ( नवंबर 2020)
  • भारत -डेल्टा ( अक्टूबर 2020)
  • विभिन्न देशों में-ओमीक्रोन ( नवंबर 2021)

FAQs

क्या है नियोकोव?

नियोकोव को कोरोना के एक नए वेरिएंट के तौर पर देखा जा रहा है। हालाकि इससे जुड़े शोध जारी हैं।

क्या नियोकोव एक नया वेरिएंट है?

रूस की एजेंसी के हिसाब से ये 2012 में भी आ चुका है।

क्या नियोकोव पशुओं में भी देखा जाएगा?

एक शोध के हिसाब से ये पशुओं को भी नुकसान पहुंचाएगा।

क्या नियोकोव पिछले वेरियंट्स से ज्यादा ताकतवर है?

वुहान के वैज्ञानिकों के हिसाब से ये पिछले वेरियंट्स से ज्यादा ताकतवर और खतरनाक है।

अन्य पढ़े-

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here