Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

ऑड-ईवन योजना दिल्ली

ऑड-ईवन योजना दिल्ली (Odd – Even Scheme in Hindi) 2019

दिल्ली में पिछले कुछ सालों से प्रदूषण की समस्या चरम सीमा पर पहुँचते नजर आ रही है. इस समस्या से जल्द से जल्द निपटने के लिए सरकार द्वारा एक के बाद एक कदम उठायें भी जा रहे हैं. अभी लगभग 3 साल पहले दिल्ली सरकार प्रदूषण पर रोक लगाने हेतु वाहन संख्या को नियंत्रित करने के लिए एक योजना लेकर आई थी. इस योजना का नाम था ‘ओड – इवन योजना’. इस योजना को मिलीजुली प्रतिक्रिया मिलने के बाद आज फिर से इस योजना को दिल्ली में लागू करने का फैसला लिया गया है. आइये जानते हैं यह योजना किन वाहनों के लिए है और किनके लिए नहीं है. साथ ही इस बार इस योजना में क्या बदलाव किये गये हैं.

Odd Even Scheme

ओड – इवन योजना के लांच की जानकारी (Odd – Even Scheme Launch Details)

योजना की जानकारी बिंदु योजना की जानकारी
नाम ओड – इवन योजना दिल्ली
लांच सन 2016 में
लांच किया गया दिल्ली मुख्यमंत्री जी द्वारा
संशोधन सन 2019 में
योजना का प्रकार प्रदूषण पर नियंत्रण

 

ओड – इवन योजना की विशेषताएं एवं लाभ (Odd – Even Scheme Features and Benefits)

  • ओड – इवन योजना का अर्थ :- ओड – इवन स्कीम से अर्थ यह है कि किसी निजी वाहन के नंबर की आखिरी डिजिट यदि विषम संख्या है. तो वह वाहन विषम संख्या वाली तारीख में ही चलाई जा सकती है. ओर यदि किसी वहां के नंबर की आखिरी डिजिट सम संख्या है तो वह सम संख्या वाली तारीख के दिन ही दिल्ली की सडकों पर नजर आ सकती है. और यह नियम को लागू नहीं करने वालों को जुर्माना देना होगा.
  • प्रदूषण पर नियंत्रण :- इस योजना के माध्यम से सरकार दिल्ली को प्रदूषण से बचाना चाहती हैं, जोकि आज के समय में सर्वनाश की ओर पहुंचता जा रहा है.
  • योजना में तैयारी :- इस योजना की तैयारी दिल्ली सरकार ने इस तरह से की है कि दिल्ली यातायात पुलिस की लगभग 200 टीमों को अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए नियुक्त किया गया है. ओर साथ ही लोगों में जागरूकता फैले इसके लिए लगभग 5,000 नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों को प्रशिक्षित भी किया गया है.
  • जागरूकता फैलाना :- अपने स्वास्थ्य, अपने बच्चों के स्वास्थ्य और अपने परिवार को अच्छी सांस देने के लिए दिल्ली सरकार ने दिल्ली के नागरिकों से इस योजना का हिस्सा बनने के लिए आग्रह किया है. इससे शेयरिंग, दोस्ती बढ़ना, संबंध बनना, पेट्रोल की बचत और प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी.

ओड – इवन योजना में नियम (Odd – Even Scheme Rules)

  • यह ओड – इवन स्कीम में इसके कांसेप्ट को फॉलो करने का समय सुबह के 8 बजे से शाम के 8 बजे तक का है.
  • दिल्ली की सीमा के अंदर चलने वाले किसी भी नॉन – ट्रांसपोर्ट 4 पहिया वाहन को इस योजना के कांसेप्ट को फॉलो करना ही होगा. फिर चाहे वह वाहन दिल्ली के बाहर किसी और राज्य या शहर से ही क्यों ना आयें यह नियम उसके लिए भी लागू होगा.
  • ऐसे वाहन जो कि नागरिकों के निजी सीएनजी वाहन है उन्हें इसमें छूट नहीं दी जाएगी.
  • यहाँ तक कि दिल्ली सरकार के मंत्रियों और मुख्यमंत्री के वाहनों पर भी कोई छूट नहीं दी जाएगी.

 ओड – इवन योजना में पैनल्टी (Odd – Even Scheme Penalty)

यदि किसी केस में कोई व्यक्ति इन नियमों का उल्लंघन कर्ता हुआ नजर आता है, तो दिल्ली सरकार 4,000 रूपये का भारी जुर्माना उस व्यक्ति से वसूलेगी. पहली बार जब इस योजना को लागू किया गया था तब इसमें 2,000 रूपये पनाल्टी लगती थी किन्तु अब इस बार इसमें वृद्धि कर दी गई है.

ओड – इवन योजना में किसे छूट दी गई है ? (Who is Exempted From Odd – Even Scheme ?)

  • 2 वीलर्स :- इसमें योजना 2 पहिया वाहनों को छूट दी गई है. इसमें कोई भी व्यक्ति किसी भी दिन किसी भी नंबर की 2 पहिया वाहन चला सकता है.
  • एकल महिला ड्राइविंग :- यदि कोई महिला दिल्ली में अकेले ड्राइव करती है. ओर उसके साथ और कोई भी नहीं है तो उन्हें भी इसमें छूट दी गई हैं.
  • सभी महिलाओं के पास रहने वाली कारें :- यदि महिलाओं के पास खुद की कार हैं और वे उसे चलाती है. तो उन्हें भी इसमें कोई जुर्माना नहीं देना होगा.
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चों के साथ वाली महिलाएं :- यदि किसी महिला के सअथ 12 साल या उससे कम उम्र का बच्चा है तो उन्हें भी इस योजना में छूट दी गई हैं.
  • मेडिकल इमरजेंसी :- ऐसे वाहन जो भी मेडिकल इमरजेंसी के लिए उपयोग होते हैं जैसे कि एम्बुलेंस उन्हें भी इस योजना में छूट दी गई है.
  • स्कूलों के बच्चों को ले जाने वाले निजी वाहन :- ऐसे लोग जो अपने बच्चों को स्कूल छोड़ने के लिए अपने निजी वाहन का इस्तेमाल करते हैं तो उन्हें भी इसमें कोई जुर्माने का भुगतान नहीं करना होगा.
  • वीवीआईपी’स एवं वीआईपी’स :- ऐसे व्यक्ति जोकि वीवीआईपी’स या वीआईपी’स हैं जैसे कि राष्ट्रपति, उप – राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्य के राज्यपाल, भारत के मुख्य न्यायधीश – लोकसभा स्पीकर, केन्द्रीय मंत्री और दोनों पक्ष के नेताओं को इस योजना को फॉलो करने के लिए इस योजना के नियम में छूट दी गई है. इसके अलावा जो सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश है, यूपीएससी के अध्यक्ष, मुख्य चुनाव आयुक्त और सीएजी, राज्य सभा एवं लोक सभा के उपाध्यक्ष एनसीटी / दिल्ली के लेफ्टिनेंट जनरल और उच्च न्यायालय के न्यायाधीश और लोकायुक्त के सदस्य हैं और सैनिक एवं रक्षा दल के वाहनों को भी छूट दी जा रही है.
  • कमर्शियल वाहनों के लिए :- सीएनजी पर चलने वाली बसों और कैब सहित कई कमर्शियल वाहनों को इस योजना में राहत दी गई है.
  • इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए :- इस बार शुरू की जा रही इस ओड – इवन स्कीम में ऐसे वाहन जो इलेक्ट्रिक वाहन है उन्हें भी इस योजना में छूट देने का फैसला दिल्ली सरकार ने लिया है.

ओड – इवन स्कीम में दी जाने वाली कुछ सुविधाएँ (Some Services Offered in  Odd – Even Scheme)

  • डीटीसी, क्लस्टर बसेज :- दिल्ली सरकार ने सड़कों पर अतिरिक्त 2,000 बसें शुरू करने का फैसला लिया है. सभी क्लस्टर बसें यात्रियों को सेवा प्रदान कर सकती हैं.
  • दिल्ली मेट्रो :- दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन द्वारा 12 दिन की ओड – इवन योजना के दौरान 61 अतिरिक्त यात्रायें की जाएगी.
  • ओला और ऊबर सर्ज प्राइसिंग :- कैब एग्रीगैटर्स ने उबर और ओला को इस अवधि के दौरान कीमतों में वृद्धि करने के लिए मना किया है, ताकि दिल्ली में रहने वाले नागरिकों को होने वाली असुविधा को कम किया जा सके.

अतः इस योजना के माध्यम से दिल्ली सरकार प्रदूषण को कम करने एवं उसे दिल्ली में मिटाने का प्रयास कर रही हैं, उम्मीद है आप भी इस योजना में शामिल होकर प्रदूषण से खुद की ओर साथ ही राज्य की रक्षा करेंगे.

अन्य पढ़े :

  1. दिल्ली एजुकेशनल लोन स्कीम 
  2. विद्यालक्ष्मी एजुकेशनल लोन पोर्टल 
  3. ई बस्ता पोर्टल जानकारी 
  4. डिजिटल इंडिया प्रोजेक्ट 

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *