मुफ्त राशन योजना : फ्री अनाज चाहते है तो जल्द पुराने राशन कार्ड नए राशन कार्ड में तब्दील कराएँ, ये है प्रक्रिया

दोस्तों आज हम आपको बताएंगे एक देश एक राशन कार्ड योजना को लेकर सरकार ने जो बड़ा ऐलान किया है। जानकारी के लिए बता दें कि इस स्कीम में अब तमिलनाडु और अरुणाचल प्रदेश दोनों राज्यों को भी अन्य राज्यों के राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी समूह के साथ जोड़ा गया है। इस प्रकार अब भारत में वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से 28 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश जुड़ चुके हैं।

one nation new ration card portability in hindi

एक देश एक राशन कार्ड योजना क्या है –

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना एक ऐसी योजना है जिसका लाभ भारत के सभी नागरिकों को पहुंचेगा। यहां बता दें कि भारत के सभी नागरिक एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने पर केवल एक ही राशन कार्ड से राशन खरीद सकेंगे उसके लिए उन्हें दूसरा नया राशन कार्ड बनवाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। कहने का तात्पर्य यह है कि आप अपने राशन कार्ड का प्रयोग भारत के किसी भी राज्य में कर सकेंगे और वहां से सरकारी राशन बिना किसी नए राशन कार्ड के खरीद सकेंगे।

किसान क्रेडिट कार्ड किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण है जिसके जरिए किसान आसानी से लोन प्राप्त कर सकते हैं इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी पढ़ें

स्कीम में जोड़े गए दो नए राज्य

इस योजना में पहले ही देश के 26 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश राष्ट्रीय पोटेबिलिटी समूह में हैं और अब इस समूह में भारत के दो और अन्य राज्य अरुणाचल प्रदेश और तमिलनाडु को भी शामिल किया गया है। ऐसा करने का सरकार का उद्देश्य इन दोनों राज्यों के करोड़ों लोगों को भी लाभ पहुंचाना है।

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना का फायदा क्या-क्या है

  • इस स्कीम के तहत जिन लोगों के पास राशन कार्ड होगा वह भारत के किसी भी राज्य से राशन ले सकेंगे।
  • ऐसे मजदूर और प्रवासी भारतीय जो एक राज्य से दूसरे राज्य में काम धंधे की तलाश में जाते हैं उन्हें इस योजना का सबसे अधिक फायदा मिलेगा।
  • देश का प्रत्येक नागरिक इस योजना के तहत किसी भी राशन की दुकान से चावल 3 रुपए प्रतिकिलो ग्राम, गेहूं 2 रूपए प्रति किलोग्राम और मोटा अनाज 1 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से खरीद सकता है।
  • यह स्कीम देश के करोड़ों लोगों को बहुत ही सस्ते दरों पर किसी भी राज्य में सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) राशन दुकान से राशन लेने की सुविधा उपलब्ध कराएगी।‌

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मुफ्त में राशन प्राप्त करने के लिए ऐसे करें आवेदन.

एक देश एक राशन कार्ड योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज –

अगर कोई वन नेशन वन योजना का लाभ उठाना चाहता है तो उसके लिए उसके पास उसका आधार कार्ड और उसका राशन कार्ड होना अनिवार्य है। यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप एक राज्य से किसी दूसरे राज्य में जाएंगे तो वहां पर आप राशन कार्ड की सुविधा का लाभ केवल उस समय ही उठा पाएंगे जब आपका सफलतापूर्वक वेरिफिकेशन हो जाएगा। वेरिफिकेशन के लिए आपके पास आधार कार्ड होना आवश्यक है क्योंकि उसके नंबर से ही आपकी पहचान वेरीफाई की जाएगी। इसके अलावा यह भी जान लीजिए कि जब आप किसी राशन की दुकान पर राशन लेने जाएंगे तो वहां पर इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ सेल डिवाइस पर वेरिफिकेशन के लिए भी आपको आधार नंबर की आवश्यकता पड़ेगी।

नए राशन कार्ड बनने पर पुराने राशन कार्ड का क्या होगा

अगर कोई नागरिक वन नेशन वन राशन कार्ड की योजना का लाभ लेता है तो ऐसे में उसका पुराना राशन कार्ड कैंसिल नहीं होता है बल्कि उसे नई योजना के अनुसार अपडेट कर दिया जाएगा और वह राशन कार्ड देश के प्रत्येक राज्य में मान्य रहेगा। इस तरह वह लोग जिनके पास पहले से ही राशन कार्ड है वह उसी को अपडेट कराकर वन नेशन वन राशन कार्ड योजना का लाभ ले सकेंगे।

राशन कार्ड क्या है : इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे होगा, क्या दस्तावेज चाहिए, यहाँ जानें

जानिए कौन-कौन से राज्यों में योजना लागू कर दी गई –

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना फिलहाल भारत के 26 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में लागू कर दी गई है। बाकी अन्य राज्यों को भी 2021 तक इस योजना से जोड़ लिया जाएगा। इस समय जिन राज्यों में यह योजना लागू हो चुकी है उनके नाम हैं –

  1. आंध्र प्रदेश
  2. नगर हवेली तथा दमन और दीव
  3. बिहार
  4. दादरा
  5. गोवा
  6. गुजरात
  7. हरियाणा
  8. हिमाचल प्रदेश
  9. झारखंड
  10. केरल
  11. कर्नाटक
  12. मध्य प्रदेश
  13. महाराष्ट्र
  14. मिजोरम
  15. उड़ीसा
  16. पंजाब
  17. राजस्थान
  18. सिक्किम
  19. त्रिपुरा
  20. तेलंगना
  21. उत्तर प्रदेश
  22. जम्मू और कश्मीर
  23. मणिपुर
  24. उत्तराखंड
  25. नागालैंड
  26. लक्ष्यदीपऔर लद्दाख

इसके अलावा बता दें कि तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश को भी इस योजना में शामिल कर लिया गया है और जल्दी ही इन राज्यों के रहने वाले लोगों को इसका लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। आपको जानकारी के लिए बता दें कि एक देश एक राशन कार्ड योजना के माध्यम से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) एक देश व्यापी पोर्टेबिलिटी को शुरू कर रहा है जो राज्य के उन सभी नागरिकों पर लागू होगी जिनके पास कार्ड होगा। यहां इस स्कीम को सुचारू रूप से चलाने के लिए सभी राज्यों के एसपीएस यानि राशन की दुकान पर एक इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ सेल (ईपीओएस) यंत्र लगाया जाएगा और इससे ही कोई भी नागरिक अपना बायोमेट्रिक या आधार कार्ड वेरीफाई करवा कर अपने राशन कार्ड से अपने कोटे का अनाज ले सकेगा।

एक देश एक राशन कार्ड योजना – इस करे करें अपने पुराने राशन कार्ड को नए राशन कार्ड में तब्दील

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह योजना उन लोगों के लिए सर्वाधिक उपयोगी साबित होगी जिनके पास कोई स्थाई रोजगार नहीं है और वह नौकरी की तलाश में एक एक राज्य से दूसरे राज्य में चले जाते हैं।ऐसे में इस योजना के तहत राशन कार्ड बनवा कर वह बहुत आसानी से किसी भी दुकान से अपना राशन ले सकते हैं।इसके लिए केवल उनके पास राशन कार्ड होना चाहिए और जिस राशन की दुकान पर वह जाएंगे वहां ईटीओएसी यंत्र पर स्वयं को बायोमेट्रिक किया आधार कार्ड द्वारा वेरीफाई करवाना होगा।

Other links –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *