पीएम आवास योजना – योजना की दूसरी एवं तीसरी किस्त प्राप्त करने के बाद, लाभार्थी यह काम जरुर करें, नहीं तो होगी क़ानूनी कार्यवाही

प्रधानमंत्री आवास योजना देश की ऐसी योजना है, जिसने लाखों नहीं बल्कि करोड़ों लोगों के सपनों को पुरा किया है. झोपड़ पट्टी में रहने वाले करोड़ लोगों ने सपना देखा था कि उनके पास पक्का घर जिससे वे आराम से रह सके, लेकिन आर्थिक तंगी उनका यह सपना कभी पूरा नहीं होने दे रही थी. भारत की मोदी सरकार ने सत्ता में आते ही लोगों के इस सपने को पूरा किया. जरूरतमंदों को लाभ पहुँचाने के लिए यह योजना है, लेकिन कई ऐसे भी लोग है जो इस योजना का गलत फायदा उठाकर पैसा ले लेते है और उसका उपयोग दूसरी जगह करते है. कई लोग सरकार से प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत की दूसरी एवं तीसरी क़िस्त ले लेते है, लेकिन आगे अपने घर का काम नहीं करवाते है. उन पैसा को किसी और काम में लगा देते है.

pm-awas-yojana-installment-kist-hindi

प्रधानमंत्री आवास योजना – सरकार से कैसे हर चरण में मिलेंगें पैसे, जाने पूरी प्रक्रिया.

प्रधानमंत्री आवास योजना दूसरी एवं तीसरी क़िस्त की जांच –

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत डूडा विभाग एवं कार्यदाई संस्था एसबीएनजी ने ऐसे स्थल की जांच की जिनको योजना के तहत दूसरी एवं तीसरी किश्त मिल चुकी है. जांच के मुताबिक जियो टैगिंग के अंतर्गत कार्यदाई संस्था ने बताया है, कि सर्वे करने पर पता चला है, कि कई लाभार्थी ऐसे हैं, जिन्होंने पैसा मिलने के बावजूद भी अपनी छतों का निर्माण नहीं कराया है और कई तो ऐसे हैं, जो काफी ज्यादा क्षतिग्रस्त हो चुके हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत भवन निर्माण हेतु लाभार्थियों को वर्ष 2020 में जनवरी और फरवरी माह के दौरान दूसरी और तीसरी किस्त को लाभार्थियों के खाते में ट्रान्सफर किया गया था। इस दौरान सरकार ने करीब 1850 लाभार्थियों के खाते में सहायता राशि को स्थानांतरित करने का कार्य संपन्न किया है। सरकार ने प्रथम किस्त को लाभार्थियों के खाते में स्थानांतरित करने के बाद उसकी जियो टैगिंग के साथ-साथ जांच करवाई तब जाकर उन्हें अगली किस्त जारी की गई। जांच में पता चला कि करीब 533 लाभार्थियों ने अपने भवनों का निर्माण नहीं करवाया है और आर्थिक सहायता की राशि का सदुपयोग भी नहीं किया गया। जांच करवाने के बाद पता चला कि अधिकांश लाभार्थियों ने अपने भवनों का छत निर्माण नहीं करवाया और कई अन्य लाभार्थियों ने तो निर्माण कार्य पूरा करा लिया परंतु घरों में अपने प्लास्टर से संबंधित कार्यों को अंजाम नहीं दिया, जिससे उनकी छत की हालत जर्जर हो गई है, और वो कभी भी गिर सकती है.

सरकार ने अधिकारीयों से यह जांच इसलिए कराई ताकि ग्राउंड लेवल पर पता चले कि योजना कैसे काम कर रही है. कई भले मानुष तो इस योजना द्वारा मिले पैसे का सदुपयोग ही किया है, लेकिन समाज में कुछ असामाजिक तत्व भी है तो हर जगह भ्रष्टाचार फैलाते है. योजना के तहत झूठे दस्तावेज दिखाकर पैसा तो ले लेते है, लेकिन जिस काम के लिए वो पैसा है वह उनका प्रयोग नहीं करते है. सरकार ऐसे ही लोगों कि जांच कर रही है, ताकि उनके खिलाफ कार्यवाही की जा सके.

आवास प्लस योजना – जो भी अभी आवास योजना का लाभ नहीं ले सके है, उनको सरकार दे रही है दूसरा मौका, आप भी उठायें लाभ 

प्रधानमंत्री आवास योजना :-

आवास योजना के अंतर्गत गरीब वर्ग के लोगों को उन्हें पक्का मकान बनवाने के लिए सरकार अपनी ओर से आर्थिक सहायता राशि प्रदान करती है। सरकार पुराने घर को मरम्मत करने के लिए भी इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता राशि जरूरतमंदों को प्रदान करती है। सरकार समतल क्षेत्र में गरीब वर्ग के लोगों को पक्का मकान बनवाने के लिए 1 लाख़ 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान करती है और पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले गरीबों को सरकार 1 लाख़ 30 हजार रुपए की सहायता राशि प्रदान करती है। सरकार की इस लाभकारी योजना के माध्यम से खुद का पक्का मकान का सपना पूरा हो रहा है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत सरकार दे रही है भारी सब्सिडी :-

  • राजधानी लखनऊ में विकास प्राधिकरण ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लखनऊ के शारदा नगर और हरदोई रोड पर गरीबों को सस्ते दामों एवं पक्के मकानों को उपलब्ध कराने के लिए एक नई प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।
  • इस प्रक्रिया में घर खरीदने हेतु आपको 30 जुलाई से लेकर 25 सितंबर तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • यदि आप निर्धारित समय कार्य के अंतर्गत अपना आवेदन योजना के अंतर्गत नहीं करते हैं, तो आपको योजना के लिए पात्र नहीं माना जाएगा और आपका आवेदन रद्द कर दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार की तरफ से लॉटरी निकाली जाएगी और लॉटरी में शामिल किए गए लोगों को 6 लाख़ 51 हजार रुपए के घरों के दाम में सरकार की तरफ से उम्मीदवारों को 5 लाख रुपए की सब्सिडी प्रदान करने का निर्णय लिया गया है।
  • मतलब कि आप मात्र 4 लाख़ 1 हजारों रुपए के निवेश में एक बेहतरीन अंक प्राप्त कर सकते हैं। आपको तिमाही की 6 किस्तों में इस राशि को जमा करने का प्रावधान जारी किया जाए।

प्रधानमंत्री आवास योजना टाइम लिमिट : समय से पहले मिलेगा लाभार्थियों को खुद का घर, जानिए क्या हुए बदलाव

प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता शर्तें –

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको राजधानी लखनऊ का मूल निवासी होना चाहिए। आप आवश्यक दस्तावेज के रूप में आधार कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं। केवल उन्हीं लोगों को लाभान्वित किया जाएगा, जिन्होंने अभी भी सरकारी हाउसिंग स्कीम का लाभ नहीं उठाया हो। इसके अतिरिक्त लाभार्थी की वार्षिक आय कम से कम 3 लाख रुपए या फिर उससे कम होनी अति आवश्यक है। आपके पास पहले से ही खुद का पक्का मकान है, तो आपको इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं किया जाएगा।

पीएम आवास योजना में रजिस्टर कैसे करें –

इस योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर गरीब वर्ग के लोग या फिर ऐसे गरीब लोग जो अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से हैं, उन्हें इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित करने का प्रावधान है। इस योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण करने के लिए आपको एलडीए की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और वहां से अपना पंजीकरण पूरा करना होगा। भारत सरकार ने पीएम आवास योजना को वर्ष 2017 में गरीब लोगों के लिए शुरू किया, ताकि उनका खुद का इस योजना के अंतर्गत पक्का मकान बन सके। सरकार का उद्देश्य है, कि वर्ष 2022 तक करीब 26 राज्यों के 2508 शहर को इस योजना के अंतर्गत शामिल करके जरूरतमंदों को पक्का मकान वितरित किया जाए।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची – ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थी 2 लाख 20 हजार रूपये का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं या नहीं, सूची में अपना नाम चेक करें.

सरकार चाहती है, कि प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ सभी जरूरतमंदों को मिल सके और वह इस योजना का लाभ उठाकर खुद का पक्का मकान बना सकें। इसके अतिरिक्त सरकार बने बनाए मकान पर भी लोगों को अत्यधिक सब्सिडी प्रदान कर रही है, ताकि लोग आसानी से उसके घर के सपनों को पूरा कर सके और उनका घर बन सके।

अन्य पढ़ें –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *