प्रधानमंत्री घर तक फाइबर योजना | PM Ghar Tak Fibre Yojana in hindi

प्रधानमंत्री घर तक फाइबर योजना 2020 (लाभ, विशेषताएं, इन्टरनेट) (PM Ghar Tak Optical Fibre Yojana in hindi) (Benefits, Internet fibre connectivity, Broadband, Bharatnet)

इन्टरनेट की सुविधा आज देश के सभी शहरों में मौजूद हैं और इसका उपयोग लोग दिन रात करते रहते हैं. लेकिन आपको बता दें कि जो लोग गांव में रहते हैं उनमें अभी भी इसकी कमी देखी गई है. ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपने डिजिटल अभियान को एक कदम और आगे बढ़ाते हुए एवं गांव क्षेत्र में इसका विकास करने के लिए एक प्रोजेक्ट बनाया है. इसे उन्होंने ‘घर तक फाइबर योजना’ नाम भी दिया है. इस योजना के अंतर्गत अब गांव क्षेत्र में तेज इन्टरनेट पहुँचाने के लिए ब्रॉडबैंड सुविधा शुरू की जा रही है. इस प्रोजेक्ट को किस उद्देश्य के साथ शुरू किया गया है और इसका लाभ किसे और कैसे मिलेगा यह सब जानकारी आपको हमारे इस लेख से मिल जाएगी.

pm ghar tak Optical fibre yojana in hindi

घर तक फाइबर योजना के लांच की जानकारी  

योजना का नाम

प्रधानमंत्री घर तक फाइबर योजना

लांच

21 सितम्बर, 2020

शुभारम्भ किया गया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा

लांच किया गया

बिहार में

संबंधित विभाग

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय

लाभार्थी

गांव के निवासी

लाभ

प्रत्येक गांव में इन्टरनेट सुविधा

डिजिटल इंडिया प्रोजेक्ट योजना : जानिए मोदी जी ने प्रोजेक्ट के अंदर क्या क्या काम किये है

घर तक फाइबर योजना क्या है

घर तक फाइबर योजना, प्रत्येक गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने के लिए शुरू की गई योजना है. इस योजना को प्रत्येक गांव में विकास हो इस उद्देश्य के साथ शुरू किया गया है. इसके लिए गांव में ऑप्टिकल फाइबर के द्वारा तेज इन्टरनेट की सुविधा पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है. जिससे गांव के लोग भी अब इन्टरनेट का उपयोग आसानी से कर सकें. मोदी जी ने हालही में हुए 15 अगस्त के दिन दिए भाषण में यह कहा था कि साल 2014 में केवल 60 – 70 गांव में ही यह सुविधा उपलब्ध थी किन्तु पिछले 5 साल में यह संख्या 1.5 लाख तक पहुंच गई है. इस तरह से प्रत्येक गांव को डिजिटल इंडिया मूवमेंट के तहत भी जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है.

घर तक फाइबर योजना की विशेषताएं

  • इस योजना का नाम घर तक फाइबर योजना इसलिए रखा गया है, क्योंकि यह गांव के सभी घरों तक तेज इन्टरनेट की सुविधा पहुंचाएगी.
  • इस योजना की शुरुआत अभी टेस्टिंग के रूप में बिहार राज्य में की गई है, इसलिए अभी केवल बिहार के सभी गांवों को इससे जोड़ा जायेगा, इसके बाद इसे अन्य राज्यों में शुरू किया जायेगा.
  • इस योजना के तहत 1000 दिन में देश के प्रत्येक गांव में ऑप्टिकल फाइबर की सुविधा पहुंच जायेगी, जिससे देश के प्रत्येक गांव का विकास हो सकेगा.
  • आपको बता दें कि भारत एक ऐसा देश हैं जहां पर सबसे ज्यादा ऑनलाइन ट्रांसेक्शन होते हैं. ऐसे में भारत के गांव क्षेत्र इससे अछूते कैसे रह सकते हैं. इसलिए इस योजना को गांव क्षेत्र के लिए शुरू किया गया है.
  • इन्टरनेट आज की आवश्यकता है इसके बिना कोई भी काम करना बहुत मुश्किल हो जाता है. अब तक यह सुविधा शहर के लोग तक ही सिमित थी किन्तु अब गांव में भी यह सुविधा पहुंचेगी.
  • गांव में स्थापित किये जाने वाले ऑप्टिकल फाइबर से गांव के लोग हाई स्पीड इन्टरनेट का उपयोग करने में सक्षम होंगे.
  • प्रत्येक गांव में ऑप्टिकल फाइबर स्थापित करने का प्रोजेक्ट सरकार ने भारत नेट नाम से शुरू किया है. और सरकार का लक्ष्य है कि आने वाले 1-2 साल के अंदर देश के प्रत्येक गांव में ऑप्टिकल फाइबर की सुविधा पहुँच जाएगी.

डिजिटल इंडिया इंटर्नशिप स्कीम : आवेदन कर जल्द कराएँ रजिस्ट्रेशन

सीएससी सेंटर द्वारा मिलेगी ऑप्टिकल फाइबर कनेक्टिविटी

  • गांव में सीएससी सेंटर मौजूद होते हैं. इसलिए मोदी जी ने ऑप्टिकल फाइबर की कनेक्टिविटी के लिए सीएससी सेंटर को चुना है. यहाँ से गांव – गांव में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी पहुंचाई जाएगी.
  • प्रत्येक सीएससी सेंटर यहाँ पर विशेष उद्देश्य के लिए उपयोग होने वाले वाहन के रूप में कार्य करेंगे. जिस – जिस जगह में यह मौजूद होंगे, इस काम को अंजाम देंगे.
  • एफटीटीएच कनेक्टिविटी से कम से कम 45 हजार से ज्यादा गांव और 8900 से भी ज्यादा पंचायत जोड़े जायेंगे.
  • जिन गांवों में ऑप्टिकल फाइबर लागू हो चूका है उसे सीएससी सेंटर अन्य गांवों से कनेक्ट करेंगे.
  • बिहार में यह कार्य की शुरुआत इस योजना के लांच के साथ हो गई है, 100 दिन के अंदर यह कार्य पूरा करने का लक्ष्य है.

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण न्यू लिस्ट – आपको अभी तक आवास योजना का पैसा नहीं आया है तो जल्द ऑनलाइन नाम चेक करें

घर तक फाइबर योजना के लाभ

  • इस योजना के लांच होने से सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि गांव में भी हाई स्पीड इन्टरनेट कनेक्टिविटी पहुँच सकेगी, जिससे गांव का भी विकास होगा.
  • प्रत्येक गांव में इन्टरनेट कनेक्टिविटी होने से ई – कॉमर्स, ई – शिक्षा, ई – फार्मेसी, कॉल सेंटर, ऑनलाइन बैंकिंग, ऑनलाइन शॉपिंग जैसी सुविधा होगी.
  • गांव के किसान, छोटे उद्योगपति या जो नए उद्यमी हैं, वे सभी अपने सामान को ऑनलाइन ई – हार्ट के माध्यम से देश के विभिन्न लोगों तक पहुंचा सकेंगे. जिससे उनकी इनकम बढ़ेगी.
  • गांव में उद्यमी के रोजगार एवं नौकरी के अवसर बढ़ेंगे. उन्हें अपना घर बार छोड़ कर शहर नहीं जाना पड़ेगा.
  • गांव के लोगों की उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद हो सकेगी.
  • सरकार की योजनाओं का लाभ ऑनलाइन माध्यम से आसानी से और जल्दी प्राप्त कर सकेंगे.
  • इस योजना के माध्यम से महिलाओं को भी बहुत लाभ होगा. वे अपना खुद का रोजगार गांव में रहकर शुरू कर सकेंगे और साथ ही इसे ऑनलाइन माध्यम से बढ़ा भी सकेंगी.

गांव का बिजनेस आइडिया : गाँव में रहकार बिज़नेस करने के ये आइडियाज हैं बेहतरीन, जाने इनके बारे में जानकारी

इस तरह से गांव का विकास करने के उद्देश्य के साथ मोदी जी द्वारा इस योजना को लाया गया है. अब गांव के हर घर के लोग इसका लाभ अच्छे से उठा सकेंगे.

FAQ –

Q: घर तक फाइबर योजना सबसे पहले किस राज्य में शुरू हो रही है?

Ans: बिहार

Q: घर तक फाइबर योजना से गाँव के लोगों को क्या मिलेगा?

Ans: हर गाँव में इन्टरनेट सुविधा मिलेगी.

Q: घर तक फाइबर योजना से गाँव में कनेक्शन कैसे होगा?

Ans: ऑप्टिकल फाइबर द्वारा

अन्य पढ़ें –

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *