पीएम किसान FPO योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | PM Kisan FPO Yojana [Full form]

पीएम किसान FPO योजना में एफ़पीओ का मतलब फॉर्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाईजेशन अर्थात किसान उत्पादक संघ से है. अतः नाम से ही स्पष्ट है कि यह योजना केंद्र सरकार द्वारा भारत में मौजूद अन्न दाताओ के लाभ के लिए है. इसमें किसान उत्पादक संगठनो को 15 लाख तक कि राशि सहायता स्वरूप दी जाएगी जिसके द्वारा वें अपने उत्पादन में वृद्धदी कर पाएंगे और अपनी आय को बढ़ा पाएंगे. इस योजना का मूल उद्देश्य किसानों कि आय में वृद्धि करके उनकी स्थिति में सुधार करना ही है. इस योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना – खेती उपकरणों पर मोदी सरकार उठा रही है 80% तक का खर्चा, जानिए पंजीयन प्रक्रिया

पीएम किसान FPO योजना 2021

योजना का नाम पीएम किसान FPO योजना
फुल फॉर्म फॉर्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाईजेशन अर्थात किसान उत्पादक संघ
लाभार्थी देश में मौजूद किसान उत्पादक संगठन
किसके द्वारा लॉंच कि गई केंद्र सरकार
लॉंच इयर साल 2020
विभाग कृषि विभाग
योजना के द्वारा क्या लाभ मिलेगा किसान उत्पादक संगठनो को 15 लाख तक की आर्थिक सहायता

पीएम किसान FPO योजना क्या है –

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है. इस योजना के द्वारा किसान संगठनों को 3 साल कि अवधि में 15  लाख तक कि राशि सहायता स्वरूप दी जाएगी. जिससे वे अपने उत्पादन को बढ़ाने, अन्य लोगों को रोजगार प्रदान करने और बिचोलिओं से बचकर सीधे मार्केट से संपर्क साधने में सक्षम बनेंगे और अधिक मुनाफा कमा सकेंगे. 

PM किसान ट्रैक्टर सब्सिडी योजना : किसानों को आधी कीमत पर मिल रहे है ट्रैक्टर, जानिए आप कैसे उठा सकते है लाभ

पीएम किसान FPO योजना की विशेषताएँ/लाभ

  • इस योजना में सरकार द्वारा स्वतंत्र किसानों को ना चुनकर किसान संगठनों को लाभ दिया जाएगा. अतः इस योजना का लाभ लेने के लिए छोटे और सीमांत किसानों को मिलकर स्वयं का एक संगठन तैयार करना होगा. सरकार द्वारा इन संगठनों को उचित बाजार प्रदान करने का पूर्ण प्रयास किया जाएगा.
  • इस योजना के जरिये सरकार का उद्देश्य देश में कम से कम ऐसे 10000 किसान उत्पादक संगठनों का निर्माण करना है. 
  • इन किसान संगठनों को सरकार द्वारा 3 साल में 15 लाख तक कि राशि सहायता स्वरूप प्रदान कि जाएगी. इसी के साथ संगठन में मौजूद किसानों को खाद बीज दवाइयाँ और कृषि उपकरण प्राप्त करने में भी सुविधा प्रदान कि जाएगी.
  • इन किसान संगठनों में निम्नतम 11 किसान जुड़ना अनिवार्य है. किसानों का यह संगठन एक एग्रीकल्चर कंपनी के रूप में कार्य  करेगा.
  • भारत में मौजूद लघु उदयोगों को जो फायदे मिलते है वे सभी फायदे इन संगठनों को भी मिलेंगे परंतु इनको एक फायदा यह है कि इनपर कोऑपरेटिव एक्ट के नियम लागू नहीं होंगे.

PM उज्ज्वला योजना : केंद्र ने तीन फ्री रसोई गैस योजना में किया बदलाव, तीसरे गैस सिलिंडर की किश्त चाहिए तो ऐसे करें आवेदन

पीएम किसान FPO योजना में पात्रता के नियम

  • इस योजना का फायदा किसी भी निजी किसान को नहीं दिया जाएगा अतः इसका फायदा लेने के लिए कम से कम 11 किसानों को मिलकर अपना एक संगठन तैयार करना होगा.
  • इस योजना में चयनित कमिटी द्वारा इन किसान संगठनों का निरीक्षण किया जाएगा और इनके कार्यो का अवलोकन किया जाएगा और इनकि रिपोर्ट सही पाई जाने पर ही इन्हे सहायता राशि 15 लाख रुपए दी जाएगी.
  • अगर यह संगठन पहाड़ी क्षेत्रों पर रहने वाले किसानों के लिए है तो इसमें 100 किसानों का जुड़ा होना जरूरी है तभी उन्हे इस योजना का फायदा दिया जाएगा.
  • अगर यह संगठन मैदानी क्षेत्रों में काम कर रही है तो इसमें 300 किसानों का जुड़ा होना अनिवार्य है और यदि इसमे 10 लोगों को बोर्ड मेम्बर बनाया गया है तो एक बोर्ड मेम्बर के अंदर 30 किसान समूह होना आवश्यक है. इसके अतिरिक्त इससे जुड़ी अन्य घोषनाए मैदानी स्टार पर कि जाएगी.   

UP बाल श्रमिक विद्या योजना : कामकाजी बालकों को 1000 रूपए एवं बालिकाओं 1200 रूपए मिलेंगें प्रतिमाह, जानिए प्रक्रिया

पीएम किसान FPO योजना दस्तावेज़

पीएम किसान एफ़पीओ योजना में लाग्ने वाले दस्तावेज़ निम्न है –

  •  प्रत्येक किसान के पास स्वयं का फोटो आईडी कार्ड और फोटो होना अनिवार्य है.
  • किसान के पास स्वयं कि जमीन से संबन्धित सभी दस्तावेज़ होना भी आवश्यक है.
  • इसके अलावा किसान के पास स्वयं के वर्तमान पते का प्रूफ होना भी अनिवार्य है.

PM स्वनिधि योजना– रेहड़ी विक्रेता को मिलेगा 10000 रुपए लोन, जानिए पंजीयन एवं लाभार्थी चयन संपूर्ण प्रक्रिया

पीएम किसान FPO योजना पंजीयन प्रक्रिया

अगर आप इस योजना का फायदा लेना चाहते है तो आपको निम्न प्रक्रिया का पालन करना होगा-

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम इसकी ऑफिशियल वैबसाइट पर जाना होगा.
  • जब आप इसमे सीधे हाथ के साइड देखेंगे तो आपको फॉर्मर कोर्नर टैब दिखाई देगा. इसी में नीचे आपको न्यू फॉर्मर रजिस्ट्रेशन करके एक टैब दिखाई देगा आपको उसी पर क्लिक करना है.
  • आप जैसे ही वहाँ क्लिक करते है आपको अगले पेज पर आपका आधार नंबर एंटर करने के लिए कहाँ जाएगा. यहाँ आपको अपना आधार नंबर भरकर नीचे दिया केपेचा कोड भरकर नीचे दिये क्लिक हियर टु कंटिन्यू ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • आप जैसे ही यह प्रोसैस पूरी करते है आपके सामने एक फॉर्म  उपलब्ध होगा अब आपको इस फॉर्म को पूरी तरह से अच्छे से भरकर और पुनः चेक करके सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.

इस तरह से इस पूरी प्रक्रिया का पालन कर आप स्वयं को इसमें रजिस्टर कर सकेंगे.

इस योजना का फायदा लेकर किसानों को आर्थिक सहायता तो मिलेगी ही साथ ही किसान समूह सीधे अपनी फसल बाजार तक पंहुचा सकेंगे और इन्हे अपना प्रॉफ़िट बिचोलियों के साथ बाटना नहीं पड़ेगा. इस योजना संबन्धित अन्य जानकारी के लिए आप हमे कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पुछ सकते है हम आपके सवालों का जवाब देने का प्रयत्न जल्द से जल्द करेंगे.  

FAQ

प्रश्न 1.: पीएम किसान FPO योजना का उद्देश्य क्या हैं ?

उत्तर – किसानों को सशक्त करना

प्रश्न 2. : पीएम किसान FPO योजना किसके लिए शुरू की गई ?

उत्तर – वे किसान जो प्रोडक्शन के साथ जुड़कर व्यापार करना चाहते हैं

प्रश्न 3. पीएम किसान FPO में FPO का फुल फॉर्म क्या हैं ?

उत्तर – फॉर्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाईजेशन अर्थात किसान उत्पादक संघ

प्रश्न 4. पीएम किसान FPO योजना किसने शुरू की ?

उत्तर – केंद्र सरकार

प्रश्न 5. पीएम किसान FPO योजना का लाभ क्या हैं ?

उत्तर – सरकार द्वारा आर्थिक सहयोग एवं लघु उद्योगों को मिलने वाले सभी अधिकार

प्रश्न 6. पीएम किसान FPO योजना में कितना आर्थिक सहयोग मिलेगा ?

उत्तर – 15 लाख

Other Links-

Anubhuti
यह मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here