PM स्वनिधि योजना- रेहड़ी विक्रेता को मिलेगा 10000 रुपए लोन, जानिए पंजीयन एवं लाभार्थी चयन संपूर्ण प्रक्रिया

पीएम स्वनिधि लोन योजना 2020-21 [पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि] के तहत आवेदन प्रक्रिया, पात्रता नियम, लाभार्थी चयन, दस्तावेज सूचि जानकारी [ PM SVANidhi (Swanidhi) Scheme In Hindi ]

रेहड़ी, पटरी किनारे, सड़क किनारे दुकान लगाने वालों के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 1 जून 2020 को प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना का शुभारंभ किया है। इस योजना के माध्यम से भारत सरकार रेहड़ी पटरी पर व्यवसाय चलाने वाले लोगों को कुछ आर्थिक ऋण भी प्रदान करेगी , जिससे वह अपने नए व्यवसाय को शुरू कर सकेंगे। चलिए इस लेख के माध्यम से आज हम इस महत्वपूर्ण योजना के बारे में संपूर्ण रूप से जानकारी जान लेते हैं। यदि आप भी इसी प्रकार के व्यवसाय को करके अपनी जीविका चलाते थे , तो यह लेख आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है , कृपया आप इसे अंत तक अवश्य पढ़ें।

pm-svanidhi-nidhi-street-vendor-yojana-loan hindi

परिचय

परिचय बिंदु

योजना का नाम

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना

योजना की शुरुआत

1 जून 2020

किसके द्वारा शुरू की गई

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी

कौन होगा लाभार्थी

रेहड़ी और पटरी पर व्यापार करने वाले लोग

योजना के अंतर्गत कितना दिया जाएगा ऋण राशि

10000 रूपए की ऋण राशि

योजना की आधिकारिक वेबसाइट

NA

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना

जो लोग अपने घरों की आजीविका को चलाने के लिए बाहर प्रदेश में या फिर अपने गांव क्षेत्र में किसी न किसी प्रकार के सड़क किनारे पर रेहड़ी और पटरी वाला व्यवसाय किया करते थे। ऐसे लोगों को कोरोना वायरस की वजह से लगाया गया , लॉक डाउन उनके पूरे व्यवसाय को खत्म करने का बड़ा कारण बन गया है। ऐसी परिस्थिति में हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कैबिनेट मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना को प्रारंभ करने का विचार किया। इस योजना के माध्यम से भारत सरकार 50,00000 लाख़ स्टील वेंडरों को लाभान्वित करने पर जोर दे रही है। लघु और मध्यम उद्योगों के अलावा नाई एवं हथकरघा उद्योग से जुड़े हुए लोगों को भी पहुंचाने के लिए योजनाओं की शुरुआत की गई है। ऐसे सभी लोगों को इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित किया जाएगा जो सड़कों के किनारे किसी भी स्थाई या अस्थाई दुकानें लगाकर अपना आजीविका चलाया करते थे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर जी ने बताया है कि इस योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिल सके , इसके लिए शहरी स्थानीय निकाय इस योजना का कार्यान्वयन करेगी। भारत सरकार ने इस योजना को आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज के अंतर्गत शुरू करने का निर्णय लिया है और इस योजना के लिए 5000 करोड़ की स्पेशल क्रेडिट फैसिलिटी भी प्रदान की जाएगी।

किसान ट्रैक्टर योजना के तहत सरकार दे रही है ट्रैक्टर खरीदने के लिए ₹500000, पूरी जानकारी यहां पढ़ें

प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर योजना का उद्देश्य

ऐसे लोग जिनका संपूर्ण व्यवसाय रेहड़ी और पटरी पर चलता था , लॉक डाउन की वजह से यह पूरी तरह से बंद पड़ गया और ऐसे लोगों की आर्थिक स्थिति दिन-प्रतिदिन बिगड़ती चली गई। इस योजना के शुरू होने से पहले भारत सरकार ने न जाने कितनी योजनाओं के माध्यम से कोरोना वायरस के वजह से जितने भी लोगों की आर्थिक स्थिति बिगड़ी थी और जिनका कारोबार खत्म हो चुका था , उनके लिए अनेकों योजनाएं लाई थी। सिर्फ रेहड़ी और पटरी पर व्यवसाय करने वाले लोगों को अब तक कोई लाभ नहीं दिया गया था , परंतु सरकार ने इस योजना के माध्यम से ऐसे लोगों को भी आर्थिक ऋण सहायता देकर इनकी समस्या को दूर कर दिया है। इस योजना का लाभ उठाकर रेहड़ी और पटरी पर व्यवसाय करने वाले लोग अपने व्यवसाय को पुनः स्थापित और विकास प्रदान कर पाएंगे। इस योजना का लाभ उठाकर उन्हें दोबारा से अपने व्यवसाय को शुरू करने के लिए अपने घरों से पूंजी लगाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

पीएम स्वनिधी योजना का लाभ –

  • इस योजना के अंतर्गत उन सभी लोगों को लाभान्वित किया जाएगा जो छोटी मोटी दुकानें चलाते हैं या फिर सड़कों पर रेहड़ी और पटरी का व्यवसाय करके अपनी आजीविका को चलाने का प्रयास करते हैं।उन्हें पुनः अपना व्यवसाय स्थापित करने के लिए इस योजना के माध्यम से आर्थिक ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से अब छोटे-मोटे व्यवसाई भी अपने व्यवसाय को बड़ी ही आसानी से सरकार द्वारा दिए जा रहे ऋण राशि को प्राप्त करके स्थापित कर सकेंगे।
  • ऐसे व्यक्तियों को लाभान्वित किया जाएगा , जिनका व्यवसाय कोरोना वायरस की वजह से संपूर्ण रूप से बंद पड़ गया था।
  • छोटे और सड़कों पर व्यवसाय करने वाले करके अपनी आजीविका को चलाने वाले लोगों को ऐसे ही सस्ती क्रेडिट प्रदान करने वाली योजना का इंतजार था और सरकार ने ऐसे लोगों के लिए ही इस योजना को शुरू किया है।

महिलाएं व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं, इन लोन योजनाओं का लाभ ले कर शुरू कर सकती ही बिजनेस, जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना लागू करने की कुछ महत्वपूर्ण कुंजी –

सभी लोन प्रदाताओं के लिए इस योजना के अंतर्गत कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं पर विशेष रुप से ध्यान देना आवश्यक है –

  1. ब्याज दर :- इस योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले ऋणों के लिए एक ब्याज कैंप लगाने की महत्वपूर्ण रूप से आवश्यकता हो सकती है , क्योंकि इसे धन की लागत से जोड़ा जाना आवश्यक है। इस योजना को आदर्श रूप से समझे तो इसे सरकार द्वारा किसी विशेष दर को निर्धारित करने के बजाए (एमसीएलआर) सीमांत लागत आधारित ऋण दर पर जोड़ा जाना चाहिए।
  2. स्पीडी डिस्पर्सल :- इस योजना की सफलता उसी हिसाब से सुनिश्चित की जाती है , जिस पर ऋण वितरित किया जाता है। इस योजना के लिए भारत सरकार को इसके प्रलेखन को थोड़ा छोटा और सरल रखना आवश्यक है। इस योजना का एकल पृष्ठ दस्तावेज होना आवश्यक है , क्योंकि इस योजना की धनराशि का उद्देश्य केवल गति और सुविधा प्रदान करना है , जिस पर इस योजना को वितरित किया जाना है। ग्राहक की खुशी ही महत्वपूर्ण है , जोकि इस योजना की कार्यान्वयन रणनीति में से एक है।
  3. क्रेडिट की गारंटी :- इस योजना को ऋण मुद्रा योजना के अंतर्गत होने की संभावनाएं हैं। ऋण मुद्रा योजना में सभी माइक्रो और स्मॉल एंटरप्राइजेज के लिए क्रेडिट की गारंटी ट्रस्ट के द्वारा की जाती है। इसलिए यदि इस योजना का लाभार्थी अगर डिफाल्टर हो जाता है , तो उसे सीजीटीएमएसई से दवा पेस करने की अनुमति आसानी से नहीं मिलती है। ऐसी परिस्थिति में कई सवालों को दावा के निपटान के लिए कहा जाता है और साथ ही में रेड मूल्यांकन की रिपोर्ट भी देखी जाती है। यही कारण है , कि एनपीए के मामले में इस योजना की ऋण राशि बैंकरों के लिए काफी नुकसानदायक भी सिद्ध हो सकता है।
  4. दावा निपटान मानदंड :- इस योजना के अंतर्गत जो भी बैंक इसकी ऋण राशि को लाभार्थियों को प्रदान करेंगे उनसे होने वाले नुकसान से बैंकरों को बचाने के लिए सीजीटीएमएसई को बहुत ही स्पष्टता पूर्ण तरीके से दावा निपटान मापदंड को स्पष्ट करना बहुत ही आवश्यक है। इस योजना को और बेहतर बनाने के लिए एक समय सीमा में निश्चित की जानी चाहिए , जिसके भीतर एक दावे का भुगतान किया जा सके। यदि दावे का भुगतान नहीं किया जाता है , तो ब्याज दर अर्जित करना चाहिए।

किसान क्रेडिट कार्ड : सिर्फ एक पेज का फॉर्म भर कर बनवा सकते हैं कार्ड पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी, जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के लाभार्थी

इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी लोगों को लाभान्वित किया जाएगा , जो रोड के किनारे पर अपना स्थाई या अस्थाई व्यवसाय करके अपने आजीविका को चलाया करते थे। इस योजना के अंतर्गत इन सभी निम्नलिखित लोगों को लाभान्वित किया जाएगा।

  • बाल काटने वाला व्यक्ति (नाई)
  • जूता – चप्पल सिलने वाला व्यक्ति (मोची)
  • पान की दुकान चलाने वाला व्यक्ति (पनवाड़ी)
  • कपड़े धोने वाला व्यक्ति (धोबी)
  • फल और सब्जियां बेचने वाला व्यक्ति
  • स्ट्रीट फूड का व्यवसाय करने वाला व्यक्ति
  • चाय का ठेला और खोखा लगाने वाले व्यक्ति
  • ब्रेड पकोड़ा , समोसा , पकौड़ीया , मिठाइयां और अंडे बेचने वाले व्यक्ति
  • सड़कों पर फेरी का व्यवसाय करने वाले व्यक्ति
  • किताबें और स्टेशनरी का सामान रखने वाले व्यक्ति
  • दरवाजा , खिड़की इत्यादि काम करने वाले व्यक्ति
  • इस योजना के अंतर्गत सिर्फ उन्हीं व्यक्तियों को लाभान्वित किए जाने का प्रावधान है , जो सड़क के किनारे पर ठेलें या रेहड़ी और पटरी का अपना व्यवसाय करते हैं और अपने परिवार की आजीविका को संभालने का कार्य करते हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी सूक्ष्म व्यवसाय करने वाले लोगों को समिल किया गया है जैसे कि :- सब्जी की दुकान करने वाले , फल बेचने वाले , स्ट्रीट फूड का व्यवसाय करने वाले और चप्पल एवं जूता सिलने वाले , कपड़े धोने वाले लोगों को इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र माना जाएगा।

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

इस योजना का ऐलान स्वयं हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने किया है और अभी इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी प्रकार की इसकी आधिकारिक वेबसाइट के पोर्टल का निर्माण नहीं किया गया है , जिससे सभी पात्र लोग अपना ऑनलाइन आवेदन करके इसका लाभ उठा सकें। जैसे ही भारत सरकार इस योजना से संबंधित किसी पोर्टल की शुरुआत करती है , तो हम आपको इस लेख के माध्यम से अवश्य अपडेट करेंगे। सूत्रों के मुताबिक इसका पोर्टल भी जल्द से जल्द शुरू किया जाएगा।

आत्मनिर्भर हरियाणा योजना- कम ब्याज पर लोन, शुरू करें अपना व्यवसाय, जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

भारत सरकार की इस लाभकारी योजना का लाभ उठाकर अब रेहड़ी और पटरी पर व्यवसाय करने वाले लोगों को अच्छा लाभ होगा , क्योंकि सरकार इस योजना के अंतर्गत उनके व्यवसाय को पुनः स्थापित करने के लिए आर्थिक ऋण राशि प्रदान करेगी। ऐसे लोगों को अपना व्यवसाय दोबारा से शुरू करने के लिए अपने घरों से पूंजी लगाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। इस योजना के माध्यम से अब सभी ऐसे लोगों की आजीविका फिर से पटरी पर आ जाएगी , जो लोग घड़ी और पटरी पर व्यवसाय किया करते थे।

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के अंतर्गत सभी जरूरतमंद लोगों को कितना ऋण प्रदान किए जाने का प्रावधान है

इस योजना के अंतर्गत सभी पात्र लाभार्थियों को 10000 हजार की ऋण राशि प्रदान किए जाने का प्रावधान जारी किया गया है।

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के अंतर्गत कौन-कौन से लोगों को लाभार्थी बनाया जाए ?

इस योजना के लिए सभी लोग लाभार्थी होंगे जो रेहड़ी और पटरी पर काम करके अपनी आजीविका को चलाते थे।

प्रधानमंत्री स्वनिधी योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की क्या प्रक्रिया सुनिश्चित की गई है ?

इस योजना के अंतर्गत सभी आवेदक व्यक्ति अपने इस योजना का आवेदन ऑनलाइन रूप में घर बैठे ही सबमिट कर सकेंगे।

Other links –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *