प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना : बस एक लिंक पर क्लिक कर डाउनलोड करें अपना प्रॉपर्टी कार्ड, जानिए इसके फायदे

आज के समय में सबसे ज्यादा आवश्यकता प्रॉपर्टी की होती है और सबसे बड़ी धन दौलत भी प्रॉपर्टी को ही माना जाता है। प्रॉपर्टी की जरूरत और अहमियत को ध्यान में रखते हुए अक्टूबर 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक नई योजना का शुभारंभ किया गया। उनके द्वारा जारी की गई प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत जल्द ही करोड़ों लोगों को इसका फायदा प्राप्त होगा। चलिए जान लेते हैं इस योजना के महत्वपूर्ण बिंदुओं को कि किस प्रकार आप प्रॉपर्टी कार्ड बनवा सकते हैं और स्वामित्व योजना का फायदा प्राप्त कर सकते हैं।

PM Swamitva Yojana in hindi

स्वामित्व योजना के तहत प्रॉपर्टी कार्ड वितरण

प्रधानमंत्री द्वारा जारी की गई स्वामित्व योजना के अंतर्गत लोगों को प्रॉपर्टी कार्ड वितरण की जाने की घोषणा की गई है। इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में योजना का मुख्य लाभ दिया जाएगा। इस योजना के तहत जो लोग ग्रामीण क्षेत्रों में रहते हैं और उनके पास जमीन है तो उनका स्वामित्व का सबूत कार्ड के जरिए प्रस्तुत किया जाएगा। वे लोग उस कार्ड का इस्तेमाल बैंक से ऋण लेने और अन्य संस्थानों से वित्तीय लाभ प्राप्त करने में कर सकेंगे।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना क्या है, इसका लाभ लेने के लिए जल्द आवेदन करें.

क्या है स्वामित्व योजना

योजना का शुभारंभ 24 अप्रैल 2020 से किया गया था। इस योजना का मुख्य शुभारंभ राष्ट्रीय पंचायती दिवस के दिन किया गया था जिसे नोडल मंत्रालय द्वारा लागू किया गया था। इस योजना के तहत नोडल एजेंसी के अधिकारी ड्रोन के माध्यम से प्रॉपर्टी का सर्वे करते हैं और यह निर्धारित करते हैं कि स्वामित्व योजना लागू की जा सकती है अथवा नहीं। इस योजना के जरिए ग्रामीण इलाके में जितने भी घर मौजूद होंगे और उनके जो भी मालिक होंगे उनका एक रिकॉर्ड दर्ज कर दिया जाएगा जिससे उनका रिकॉर्ड कार्ड जारी कर दिया जाएगा। उस रिकॉर्ड कार्ड में उनका मालिकाना हक मौजूद होगा जिसके जरिए वह बिना किसी परेशानी के बैंक से कर्जा ले सकेंगे और दूसरे कामों में भी प्रयोग कर सकेंगे।

प्रॉपर्टी कार्ड क्या है

स्वामित्व योजना को समझने के बाद अब सबसे महत्वपूर्ण बातें आती है प्रॉपर्टी योजना क्या है। यह एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत एक ऐसा कार्ड बनाया जाएगा जो ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों की जमीन के मालिकाना हक को बताएगा। ग्रमीण क्षेत्र में लोगों के पास उनकी जमीन का कोई प्रमाण नहीं होता है, न ही कोई क़ानूनी दस्तावेज होते है, ऐसे में वहां आये दिन लड़ाई झगड़े भी होते है. सरकार स्वामित्व योजना के अंतर्गत ड्रोन की मदद से लोगों की भूमि की जानकारी इकट्ठी कर उन्हें सम्पति कार्ड मुहैया कराएगी.

सीएससी सेण्टर कैसे खोले – गाँव में केंद्र सरकार की मदद से खुद का सीएससी सेण्टर खोल कर करें अच्छी कमाई

प्रॉपर्टी कार्ड कैसे प्राप्त होगा, डाउनलोड कैसे करें –

सरकार सभी गर्मीं वासियों को टेम्पररी कार्ड देने का इंतजाम कर रही है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्वयं इसकी शुरुवात की है, पहले दिन उन्होंने तकरीबन 2 लाख लोगों के रजिस्टर मोबाइल में कार्ड डाउनलोड करने की लिंक सेंड की है.

  • कार्ड को डाउनलोड करने के लिए जमीन के मालिक को अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर कराना होगा, जिस पर सरकार द्वारा एसएमएस प्राप्त होगा.
  • इस मेसेज में एक लिंक होगा, उस लिंक पर क्लिक करते ही वह व्यक्ति आसानी से प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।
  • इस टेम्पररी कार्ड के बाद सभी राज्य सरकारों की ज़िम्मेदारी होगी कि वो अपने अपने ग्राम क्षेत्रों के लोगों को पक्का प्रॉपर्टी कार्ड देगी.
  • जब तक पक्का कार्ड नहीं मिलेगा, तब तक टेम्पररी कार्ड दिखाकर भी सारे काम हो सकेंगें.

कौन-कौन से राज्यों को मिलेगा फायदा

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस प्रॉपर्टी कार्ड का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को दिया जाएगा इस योजना के अंतर्गत लगभग 763 गांवों को शामिल किया गया है जिसमें से 346 गांव उत्तर प्रदेश के हैं और 22 गांव हरियाणा के इसके अलावा महाराष्ट्र के भी 100 गांव के साथ-साथ उत्तराखंड के 50 गांवों को भी शामिल किया गया है साथ ही साथ कर्नाटक के 2 गांव भी इस लिस्ट में शामिल किए गए हैं।

डिजिटल इंडिया प्रोजेक्ट क्या है, जानिए अभी तक सरकार ने इसके अंतर्गत क्या क्या कार्य किये है.

प्रॉपर्टी कार्ड योजना के तहत लोगों को कैसे मिलेगा फायदा

इस योजना के तहत साल 2020 से लेकर साल 2024 तक 662000 गांव के रहने वाले ग्रामीण लोगों को इसका लाभ मिल सकेगा। वह आसानी से अपनी संपत्ति का उपयोग लोन लेने के लिए अथवा वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए कर सकेंगे।

प्रॉपर्टी कार्ड के फायदे

  • मालिकाना हक रखने वाले व्यक्ति को उसके जमीन के बलबूते पर ऋण की प्राप्ति हो पाएगी।
  • कोई भी व्यक्ति उनकी जमीन को हड़पने ही सकेगा वह आसानी से अपना मालिकाना हक जता सकते हैं।
  • पंचायती स्तर में इस योजना के तहत टैक्स की व्यवस्था को भी सुधारा जाएगा।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में प्रॉपर्टी को लेकर वाद विवाद जो बढ़ रहे थे वे धीरे-धीरे कम हो सकेंगे।

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस प्रॉपर्टी कार्ड और स्वामित्व योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों को एक बहुत बड़ी सौगात दी गई है। इस योजना से उन्हें काफी हद तक फायदा भी प्राप्त हो पाएगा और साथ ही साथ दिन प्रतिदिन जिस प्रकार जमीन के विवाद बढ़ते हुए ग्रामीण क्षेत्र में देखे जा सकते हैं उन्हें कम करने में भी सहायता मिलेगी।

अन्य पढ़ें –

Follow me

Priyanka

प्रियंका खंडेलवाल मध्यप्रदेश के एक छोटे शहर की रहने वाली हैं .
यह एक एडवोकेट हैं और जीएसटी में प्रेक्टिस कर रही हैं . इन्हें बैंकिंग, टेक्स्सेशन एवं फाइनेंस जैसे विषयों पर लिखना पसंद हैं ताकि उनका ज्ञान और अधिक बढ़ सके. उन्होंने दीपावली के लिए लिखना शुरू किया और इस तरह अपने ज्ञान को पाठकों तक पहुँचाने की कोशिश की.
Priyanka
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *