प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम 2020| Pradhan Mantri Jan Vikas Karyakram In Hindi

प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम (अल्पसंख्यक) 2020 Pradhan Mantri Jan Vikas Karyakram (PMJVK)Scheme (Yojana) for Minorities [ Application Form, Process, Eligibility Criteria] in Hindi

 यदि कोई देश सही में तरक्की करना चाहता हैं तो उस देश के लिए अल्पसंख्यक समुदाय के बारे में सोचना महत्वपूर्ण हो जाता हैं. अल्पसंख्यक समुदायों की भलाई के लिए सरकार द्वारा विशेष योजनाए और आर्थिक कार्यक्रम समय-समय पर चलाये जाते रहे हैं. हर 5 वर्ष की योजना में इनके लिए कुछ नया होता हैं. ऐसी ही एक स्कीम थी -मल्टी सेक्टोरल डेवलपमेंट प्रोग्राम. लेकिन अभी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये निर्णय लिया कि इस प्रोग्राम का नाम बदलकर प्रधानमंत्री जन विकास कार्य्रकम किया जाएगा.

 

प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम

1 नाम प्रधानमंत्री जन विकास कार्य्रकम
2 लॉंच दिनांक 3 मई  2018
3 किसने घोषणा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
4 अंतिम दिनांक 2020

 योजना के उद्देश्य (Objective of the scheme)

देश के समग्र विकास में योगदान देने के लिए अल्पसंख्यक समुदाय पीछे रह जाता हैं क्योंकि उनके पास प्रॉपर शिक्षा,स्किल डेवलपमेंट और हेल्थ की सुविधाएं नहीं होती हैं. केंद्र सरकार इस योजना की मदद से  ऐसे समुदाय से आने वाले  प्रतिभागियों को आर्थिक सुविधा उपलब्ध कराएगी.

योजना की मुख्य विशेषताएं  (Key feature of the scheme)

  1. सामजिक और आर्थिक सुविधाएँ उपलब्ध करवाना – इस योजना का मुख्य उद्देश्य अल्पसंख्यक समुदाय को बेहतर सामाजिक और आर्थिक सुविधाएं उपलब्ध करवाना हैं. ये हेल्थ, मेडिकल और अन्य जॉब सम्बधित सम्भावनाओं का विकास करेगी.
  2. राष्ट्रीय एवरेज गैप को कम करना अल्पसंख्यक समुदाय और बाकी के देश के मध्य आये हुए गैप को कम करना हैं. ये स्कीम इस गैप को महत्वपूर्ण तरीके से कम करेगी.
  3. अल्पसंख्यकों की भलाई के लिए संसाधनों का उपयोग करनाप्रधानमंत्री ने ये घोषणा भी की हैं उपलब्ध संसाधनों में से 80% तक संसाधन अल्पसंख्यक समुदाय के विकास के लिए उपयोग किये जाएंगे,इसके अलावा 33% से 40% तक के बीच संसाधन महिलाओं के विकास में उपयोग किये जायेंगे.
  4. पोटेंशियल एरिया को पहचानना अल्पसंख्यक समुदाय के तेजी से विकास के लिए यह आवश्यक हैं कि एरिया को पहचाना जाए. इसलिए केंद्र सरकार आवश्यक कदम उठाते हए “क्लस्टर ऑफ़ विलेज और माइनॉरिटी कंसंट्रेशन टाउन पर ध्यान देगी.
  5. योजना का फैलाव – अब तक 196 जिलों को इस योजना के भीतर लाया जा चूका हैं.इस कार्यक्रम पर पुन: ध्यान देते हुए प्रधानमंत्री ने 308 और राज्यों को इसके भीतर लाने की घोषणा की हैं

चुनाव का मानदंड (Criteria for the scheme)

  1. 50% तक के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को क्षेत्र को पोटेंशियल एरिया में चिन्हित किया गया हैं.इस योजना के भीतर और ज्यादा अल्पसंख्यक लोगों को शामिल करने के लिए केंद्र सरकार ने ये अनुपात घटाकर 50 % कर दिया हैं
  2. पहले प्राधिकरण केवल उन क्षेत्रों में इस योजना को लागू कर रही थी. जहाँ पर सामजिक,आर्थिक और सुविधाओं के क्षेत्र में पिछड़े हो. इस मीटिंग में प्रधानमंत्री ने ये घोषणा की हैं कि अब से इन सबमे से कोई भी कमी के होते ही उस एरिया को इस योजना के अंतर्गत के माना जाएगा.

योजना के लिए बजट का निर्धारण (Budget allocation for the scheme)

मीटिंग में प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि पूरी योजना को अल्पसंख्यक मंत्रालय के अंतर्गत मॉनिटर किया जाएगा. यही विभाग योजना के आर्थिक जरूरतों का भी ध्यान रखेगा. अब से 3,972 करोड़ रूपये अल्पसंख्यकों के विकास के लिए इस योजना को आवंटित किये जाएंगे.

प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम की गाइडलाइन इस ऑफिशियल साइट में दी गई हैं 

अन्य पढ़े:

pavan

Director at AK Online Services Pvt Ltd
मेरा नाम पवन अग्रवाल हैं और मैं मध्यप्रदेश के छोटे से शहर Gadarwara का रहने वाला हूँ । मैंने Maulana Azad National Institute of Technology [MNIT Bhopal] से इंजीन्यरिंग किया हैं । मैंने अपनी सबसे पहली जॉब Tata Consultancy Services से शुरू की मुझे आज भी अपनी पहली जॉब से बहुत प्यार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *