प्रिंस चार्ल्स जीवन परिचय Prince Charles Biography In hindi (Age, Wife, Son)

0

प्रिंस चार्ल्स जीवन परिचय, प्रिंस चार्ल्स बायोग्राफी, prince charles and camilla, age, son, wife, affair, love story, marriage, controversy, relationship,

महारानी एलिजाबेथ II के बड़े बेटे प्रिंस चार्ल्स जिनको 1953 में चार्ल्स का उत्तराधिकारी बनाया गया था। उन्हीं के जीवन के बारे में आपको हम कुछ अहम जानकारी देगे। जिसके बारे में आपको भी जानना जरूरी है। आपको बता दें वह अपनी मां महारानी एलिजाबेथ के साथ ब्रिटिश शासन को संभालते रहे हैं। लेकिन मां के निधन के बाद अब उन्हें अकेले ही इसे संभालना होगा। महारानी एलिजाबेथ ने उन्हें ये उपाधि उनके नाना किंग जॉर्ज VI के निधन के बाद दी थी। जिसके बाद उन्हें ड्यूक ऑफ कॉर्नवाल के नाम से भी पहचान मिली। ऐसी ही और जानकारी के आज हम आपको देगे।

प्रिंस चार्ल्स जीवन परिचय Prince Charles Biography in Hindi

नामप्रिंस चार्ल्स
जन्म14 नवंबर 1948
जन्म स्थानबर्किघम पैलेस , लंदन, यूनाइटेड किंगडम
पिता का नामप्रिंस फिलिप, ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग
माता का नाममहारानी एलिजाबेथ II
पत्नी का नामपार्कर बाउल्स
उपाधिड्यूक ऑफ कॉर्नवाल और कैम्ब्रिज
शैक्षिक योग्यताबीए
स्कूलगोडोंस्टाउन
कॉलेजकैम्ब्रिज विश्वविधालय
शौकपोलो खेलना, गाना सुनना, किताबे पढ़ना
संपत्ति500 मिलियन डॉलर

प्रिंस चार्ल्स का शुरूआती जीवन (prince charles age)

प्रिंस चार्ल्स का जन्म 14 नवंबर 1948 को ब्रिटिश के राजघराने में हुआ। उनकी मां थी महारानी एलिजाबेथ II और पिता प्रिंस फिलिप। उनके नाना किंग जॉर्ज VIयूनाइटेड किंगडम के राजा और ब्रिटिश राष्ट्रमंडल के कार्यकरणी थी। 1952 में उनकी मौत के बाद महारानी एलिजाबेथ रानी बनी। जिसके बाद तीन साल की उम्र में प्रिंस चार्ल्स को सिंहासन का उत्तराधिकारि नियुक्त किया गया। उन्हें ड्यूक ऑफ कॉर्नवाल बनाया और स्कॉटिश टाइटन ड्यूक ऑफ रोथसे भी दिया गया।

प्रिंस चार्ल्स की प्रारंभिक शिक्षा

प्रिंस चार्ल्स ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा वेस्ट लंदन के हिल हाउस स्कूल से प्राप्त की। लेकिन किसी कारण वश उन्हें ये स्कू छोड़ना पड़ा। जिसके बाद उनका दाखिला स्कूल चिम प्रिपरेटरी में कराया गया। ये स्कूल इंग्लैंड के बर्कशायर में स्थित था। वहां पर अपनी शिक्षा पूरी करने का बाद उन्होंने परंपरा को तोड़ा और स्कूल से सीधे विश्वविधालय में दाखिला लिया। हालांकि उन्होंने सशस्त्न बलों में भर्ती होने से मना कर दिया था। जिसके बाद उनका दाखिला कैम्ब्रिज के ट्रिनिटी कॉलेज में हुआ। उन्होंने वहां से मानव विज्ञान पुरातत्व और इतिहास की पढ़ाई की। साल 1970 में उन्होंने अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद डिग्री हासिल की। ऐसा करने वाले वो शाही परिवार के तीसरे सदस्य बने। 1975 में प्रिंस चार्ल्स को उनके कॉलेज में सम्मानित भी किया गया।

प्रिंस चार्ल्स का रिलेशनशिप (prince charles relationship)

प्रिंस चार्ल्स ने फरवरी 1981 में डायना के सामने शादी का प्रपोजल रखा। जिसको उन्होंने स्वीकार किया। जिसके बाद 29 जुलाई को प्रिंस चार्ल्स और डायना ने सेंट पॉल कैथेड्रल में 3500 मेहमानों के बीच शादी रचाई। महारानी ने अपने बेटे के विवाह समारोह में सभी गर्वनर-जनरल के अलावा यूरोप के सभी ताजपोशी शख्सियतों को विवाह में सम्मिलित होने का न्योता दिया था। 

प्रिंस चार्ल्स के बच्चे (prince charles son)

आपको बता दें कि, प्रिंस चार्ल्स और डायना के दो बेटे हैं विलियम और हैरी। डायना की मौत के बाद ये दोनों बेटे प्रिंस चार्ल्स के साथ ही रहते हैं।

प्रिंस चार्ल्स और डायना का हुआ तलाक

प्रिंस चार्ल्स और डायना स्पेंसर की शादी में कुछ अनबन चल रही थी। जिसके कारण उन्होंने अलग होने का फैसला किया। इसके बाद साल 1996 में उन्होंने तलाक ले लिया। उसी के एक साल बाद यानि 1997 में पेरिस में एक कार एक्सीडेंट में डायना स्पेंसर की मौत हो गई।

प्रिंस चार्ल्स के शौक

प्रिंस चार्ल्स को पोलो खेलने का, किताबें पढ़ने का और गाना सुनने का शौक काफी शौक रहा है। वह खाली समय में इन चीजों को करना काफी पसंद है।

प्रिंस चार्ल्स का व्यवहार

प्रिंस चार्ल्स का व्यवहार काफी खुशमिजाज वाला रहा है। वो हमेशा रोमांटिक मूड में नजर आए हैं। जब भी वो किसी से मिलते हैं तो बड़े प्यार और आदर से मिलते है। जितने भी लोग मिले हैं उन्होंने हमेशा उनकी तारीफ की है।

प्रिंस चार्ल्स की संपत्ति (prince charles net worth)

महारानी एलिजाबेथ के बेटे होने के कारण अब प्रिंस चार्ल्स के पास 500 मिलियन डॉलर के मालिक हैं। क्योंकि अब महारानी के बाद पूरी विरासत वहीं संभालने वाले हैं।

प्रिंस चार्ल्स के पुरस्कार और उपलब्धियां

• प्रिंस चार्ल्स को साल 2007 में हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के सेंटर फॉर हेल्थ और 2007 ग्लोबल एनवायरमेंट से ग्लोबल पर्यायवरण नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

• 2011 में रॉयल सोसाइटी फॉर द प्रोटेक्शन ऑफ बर्ड्स मेडल के साथ उनके लिए संरक्षण का काम शुरू किया गया।

• 2016 में उन्होंने द लंदन ऑफ द डिकेड अवॉर्ड, द लंदन इवनिंग स्टैंडर्ड प्रोग्रेस 1000 अवॉर्ड से सम्मानित किया।

प्रिंस चार्ल्स के विवाद (prince charles controversy)

प्रिंस चार्ल्स के ऊपर पैसे लेकर नागरिकता दिलाने का आरोप लगाया गया था। जिसके कारण राजघराना काफी मुश्किलों में आ गया था। इसी के साथ उनके ऊपर 2013 में ओसामा बिन लादेन से दान लेने का भी आरोप लगाया गया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक चार्ल्स मे वो पैसे अपनी ऑफशोर कंपनी में लगाए जो क्लाइमेट चेंज के मुद्दे पर काम करती है। जिसकी सफाई देते हुए उन्होंने मीडिया के सामने सारी बात रखी थी। 

FAQ

Q- प्रिंस चार्ल्स का जन्म कब हुआ?

Ans- प्रिंस चार्ल्स का जन्म 14 नवंबर 1948 को हुआ।

Q- प्रिंस चार्ल्स को किस चीज का शौक रहा है?

Ans- प्रिंस चार्ल्स को हमेशा गाने सुनने, किताबें और पोलो खेलने का शौक रहा है।

Q- प्रिंस चार्ल्स के कितने बच्चे हैं?

Ans- प्रिंस और डायना के दो बेटे हैं।

Q- कब हुई प्रिंस चार्ल्स की पहली पत्नी की मृत्यृ?

Ans- प्रिंस चार्ल्स की पहली पत्नी की मृत्यृ साल 1997 में हुई।

Q- प्रिंस चार्ल्स को कब मिली थी गद्दी?

Ans- जब वो 13 साल के थे तब उन्हें राजघराने की गद्दी मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here