राजस्थान के रहवासी (प्रवासी श्रमिक) अगर अपने राज्य वापस जाना चाहते हैं तो ऑनलाइन पंजीयन करवाएं

राजस्थान के रहवासी (प्रवासी श्रमिक) अगर अपने राज्य वापस जाना चाहते हैं तो ऑनलाइन पंजीयन करवाएं, चेक स्टेटस, मोबाइल एप्प डाउनलोड @emitra.rajasthan.gov

देश में विभिन्न राज्यों के नागरिक खासकर मजदूर जोकि किसी दूसरे राज्यों में रोजगार की तलाश में जाते हैं और वहीँ रहने लगते हैं. वे इस समय देश में लॉकडाउन की स्थिति की वजह से फंस गये हैं. जिसके चलते प्रत्येक राज्य की सरकार द्वारा अपने राज्यों के प्रवासी मजदूरों की वापसी के लिए कई प्रयास किये जा रहे हैं. राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के प्रवासी मजदूरों को वापस अपने राज्य में लाने के लिए ‘प्रवासी मजदूर सहायता योजना’ शुरू की हैं जिसके तहत प्रवासी मजदूर ऑनलाइन पोर्टल या मोबाइल एप्प के माध्यम से खुद को रजिस्टर कर राज्य सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरों की वापसी के लिए किये जा रहे कार्य का लाभ उठा पाएंगे. इसमें मजदूर किस तरह से रजिस्ट्रेशन करेंगे इसकी जानकारी आपको यहाँ से मिल जाएगी.

क्या है 2019 नागरिकता संशोधन अधिनियम | What is (CAB) CAA Bill in Hindi 2019

नाम प्रवासी मजदूर सहायता योजना
राज्य राजस्थान
लांच की तारीख अप्रैल, 2020
लांच किया गया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा
लाभार्थी राज्य के प्रवासी मजदूर
टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 18001806127
ऑनलाइन अधिकारिक पोर्टल emitra.rajasthan.gov.in/content/emitra/en/home.html

जन आधार कार्ड योजना अब राजस्थान का महत्वपूर्ण दस्तावेज़ हैं इसे जरूर बनवाये इसकी प्रक्रिया हैं जानने के लिए यहाँ क्लिक करे 

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना का उद्देश्य 

इस प्रवासी मजदूर सहायता योजना के उद्देश्य की बात करें, तो इसके तहत राजस्थान के ऐसे प्रवासी मजदूर जिन्होंने कमाने – खाने के लिए रोजगार पाने के उद्देश्य से अन्य राज्यों में प्रवेश किया था. यदि वे वापस अपने घर जाना चाहते हैं तो लॉकडाउन के चलते उनकी घर वापसी में मदद की जा रही है.

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना लागू करने की प्रक्रिया (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana Implementation Process)

  • इस योजना को लागू करने के लिए राज्य सरकार की ओर से यह निर्देश दिए गए हैं कि संबंधित अधिकारी प्रवासी मजदूरों का एक डेटाबेस तैयार करे. और फिर उसके अनुसार उन्हें वापस राजस्थान लाने का कार्य शुरू करे.
  • इसके लिए राजस्थान राज्य सरकार द्वारा जिस राज्य में प्रवासी मजदूर फंसे हुए हैं उन राज्य की सरकार से आदेश जारी करवाये जाएंगे.
  • उसके बाद उनकी वापसी का इंतजाम सरकारी वाहन के माध्यम से किया जायेगा. किन्तु यदि वे अपने साधन से वापस आना चाहते हैं. तो इसके लिए उन्हें अपनी पूरी जानकारी देकर आज्ञा लेने के बाद ही जाने की अनुमति मिलेगी.
  • घर वापसी के लिए राजस्थान सरकार ने कुछ नियम भी निर्धारित किये है. इसका पालन करना प्रत्येक प्रवासी मजदूर के लिए जरुरी होगा.
  • जब अधिकारियों द्वारा मजदूरों की जानकारी इकट्ठी कर डेटाबेस तैयार कर लिया जायेगा, तो उसके बाद उन्हें जिस तारीख को घर वापसी की सुविधा दी जाएगी वह तारीख उनके मोबाइल फोन में एसएमएस के माध्यम से भेजी जाएगी. और वे उस तारीख को अपने घर वापस जा सकते हैं.

 मुख्यमंत्री युवा संबल बेरोजगारी भत्ता योजना के अंतर्गत पाये 3500 रुपये आप फायदा लेना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करे 

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में आवेदन कैसे करें (How to Apply in Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana)

  • राजस्थान सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर 18001806127 जारी किया है जिस पर कॉल करके प्रवासी मजदूर अपनी सारी जानकारी जो भी संबंधित विभाग द्वारा पूछी जाएगी उसे देकर खुद को रजिस्टर कर सकते हैं.
  • यदि वे ऑनलाइन अधिकारिक पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो उनके लिए अधिकारिक पोर्टल की लिंक भी दी गई है. इसके अलावा वे ई मित्र मोबाइल एप्प एवं ई मित्र कियोस्क के माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं.

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना के लिए पात्रता (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana Eligibility Criteria)

  • राजस्थान के मूल निवासी :- इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थियों के लिए यह आवश्यक है कि वह राजस्थान का मूल रूप से निवासी हो. जोकि किसी दूसरे राज्य में लॉकडाउन के चलते फंस गया हो.
  • प्रवासी मजदूर एवं अन्य लोग :- इस योजना की खास बात यह है कि राजस्थान सरकार प्रवासी मजदूरों के साथ – साथ राज्य के अन्य लोगों एवं छात्र – छात्राओं को भी इसका लाभ दे रही हैं.

राजस्थान का वोटर आईडी अबा तक नहीं बनवाया हो तो ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं इसके लिए यहाँ क्लिक करे 

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए दस्तावेज (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana Required Documents)

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए सबसे ज्यादा आवश्यक दस्तावेज हैं पहचान पत्र. इसके बिना लाभार्थी की पहचान नहीं की जा सकेगी. पहचान प्रमाण पत्र के रूप में लाभार्थी अपना श्रमिक कार्ड एवं आधार कार्ड का उपयोग कर सकते हैं.

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana Online Registration)

  • इसके लिए सर्वप्रथम लाभार्थीयों को ई – मित्र के अधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा. इसके होम पेज में ही उन्हें ‘रजिस्टर फॉर माइग्रेंट’ की लिंक दिखाई देगी जिसमें उन्हें क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद उनकी स्क्रीन पर प्रवासी मजदूरों के पंजीयन के लिए फॉर्म खुल जायेगा, जिसके ओपन होने के बाद इसे सभी पूछी जाने वाली जानकारी से भरना होगा.
  • सभी आवेदक इस फॉर्म को भरकर इसे सबमिट कर दें. इस तरह से उनका इस योजना का लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा.

केंद्र साकार दे रही हैं 1500 रुपये ताकि लोक डाउन में मदद मिल सके, अगर आप जानना चाहते हैं किसे और कैसे मिलेंगे यह पैसे तो यहाँ क्लिक करे 

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में ई मित्र मोबाइल एप्प के माध्यम से रजिस्ट्रेशन (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana E Mitra Mobile App Registration)

इस योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्रवासी मजदूर ई मित्र मोबाइल एप्प को डाउनलोड करके भी कर सकते हैं. इस मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करें.

  • यदि आप एंड्राइड यूजर तो आप इस लिंक पर क्लिक करिये.
  • यदि आप आईफोन यूजर हैं तो आपके लिए ये लिंक दी गई हैं.
  • इसके अलावा आप विंडोज एप्प की लिंक पर क्लिक कर इसे डाउनलोड करके भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में आवेदन स्थिति चेक करें (Check Application Status in Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana)

  • राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना में आवेदन करने के बाद उसकी स्थिति की जाँच करने के लिए आवेदकों को इस डायरेक्ट लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद उन्हें यहाँ पर अपने रजिस्ट्रेशन का रिसिप्ट नंबर या अपना रजिस्टर किया हुआ मोबाइल नंबर में से किसी एक को सेलेक्ट करके उसे इंटर करना होगा.
  • इसके बाद जैसे ही आप ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करेंगे आपके सामने आपके आवेदन की तुरंत में जो स्थिति है वह खुल जाएगी. जिसे आप देख सकते हैं.

पीएम ने स्वामित्व योजना का ऐलान किया , गाँव की प्रॉपर्टी की मैपिंग करके, मालिकाना प्रमाणपत्र बांटा जायेगा विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लिक करे 

राजस्थान प्रवासी मजदूर सहायता योजना का लाभ लेने वालों के लिए कुछ नियम (Rajasthan Pravasi Majdoor Sahayta Yojana Rules)

  • जिस भी राज्य से मजदूर इस योजना के तहत अपने राज्य में सरकारी वाहनों के माध्यम से घर वापसी करेंगे, उन्हें यहाँ पहुँचने के बाद खुद को क्वारेंटाइन करना होगा.
  • जो लोग अपने साधन से घर वापसी कर रहे हैं उन्हें टोल नाके पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. ताकि वे भी सारे नियमों को फॉलो करें. और खुद को क्वारेंटाइन करें.
  • इसके अलावा आपको बता दें कि राज्य सरकार लाभार्थियों की सरकारी वाहनों के माध्यम से तो घर वापसी करवा रही हैं, लेकिन उनकी बकायदा स्क्रीनिंग भी की जाएगी, कि कही उनमें कोरोना वायरस के लक्षण तो मौजूद नहीं है.
  • लाभार्थियों के रहने खाने का इंतजाम भी राजस्थान सरकार द्वारा किया जायेगा. लेकिन इसके लिए भी सरकार ने लोगों से यह अपील की है कि वे कोरोना वायरस के खिलाफ जारी की गई एडवाइजरी का पूरा पालन करें.

इस तरह से राजस्थान सरकार प्रवासी मजदूरों को उनके घर वापसी में मदद कर रही हैं लेकिन साथ में उनसे कोरोना वायरस के चलते कुछ नियमों जैसे लॉकडाउन, कर्फ्यू, सोशल डिस्टेंसिंग, अनुशासन एवं सबसे जरुरी खुद को कुछ समय के लिए क्वारेंटाइन करना आदि का पालन करने के लिए भी कहा गया है. ये नियमों को पालन करवा कर सरकार यह चाहती हैं कि राज्य में कोरोना का संक्रमण न बढ़ें.

अन्य पढ़े

  1. नरेगा जॉब कार्ड सूची में नाम देखे
  2. जानिए फास्टैग रिचार्ज करने का ऑनलाइन तरीका
  3.  श्रमिक भरण पोषण भत्ता योजना
  4. क्या है 2019 नागरिकता संशोधन अधिनियम 

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *