Rakshabandhan 2020 : जाने कब है रक्षाबंधन, शुभ पर्व और शुभ मुहूर्त

रक्षा बंधन/ राखी का त्यौहार हिन्दुओं का महत्वपूर्ण त्यौहार है. यह फेस्टिवल भाई बहन का होता है, जिसमें बहन अपने सभी भाइयों को रक्षा सूत्र के रूप में राखी बांधती है. बहन भाई से रक्षा की प्रतिज्ञा लेती है, साथ ही उनकी लम्बी आयु की प्राथना करती है.

rakshabandhan-kab-hai-date-muhurat-hindi

रक्षाबंधन 2020 का मुहुर्त

रक्षा बंधन का त्यौहार कब है

3 अगस्त 2020

दिन

सावन का आखिरी सोमवार

राखी बांधने का शुभ मुहुर्त

सुबह 9:27 बजे से रात 9:11 बजे तक

कुल अवधि

11 घंटे 43 मिनट

रक्षा बंधन अपरान्ह मुहुर्त

दोपहर 1:45 से 5:23

रक्षा बंधन प्रदोष मुहुर्त

शाम 7:01 से 21:11

राखी कब आती है –

राखी का त्यौहार सावन माह के आखिर में आता है, जो ज्यादातर अगस्त में होता है. सावन की जो भी पूर्णिमा होती है, उस दिन यह त्यौहार मनाया जाता है. जैसा कि नाम से समझ आता है रक्षा बंधन में भाई बहन एक दुसरे के बंधन में बंध कर रक्षा करने की प्रतिज्ञा लेते है. देश के हर धर्म के लोग इस त्यौहार को मनाते है, बहन भाई को राखी बांधकर उनकी लम्बी आयु की कामना करते है.

रक्षा बंधन क्यों मनाया जाता है – रक्षा बंधन 6 हजार साल से भारत देश में मनाया जा रहा है. यह क्यूँ मनाया जाता है, इसके बहुत से कारन है.

रक्षा बंधन देश में कैसे मनाया जाता है –

भारत देश के अलग-अलग प्रान्त में इसे अलग-अलग नाम से जाना जाता है, और सभी का मनाने का तरीका भी अलग होता है.

  • महाराष्ट्र – महाराष्ट्र में इसे नारियल पूर्णिमा या श्रावणी कहते है. इस दिन इस प्रान्त में रहने वाले लोग समुद्र या नदी में जाकर पूजा अर्चना करते है. सभी ब्राह्मण नदी या समुद्र के तट में जाकर अपना जनेऊ बदलते है. इसके साथ ही वे सभी देव वरुण की उपासना करते है और समुद्र किनारे खड़े होकर उन्हें नारियल चढाते करते है. इस दौरान मुंबई और आस पास के समुद्रीय इलाकों में तट पर नारियलों का ढेर लग जाता है.
  • उत्तराखंड – यहाँ इसे श्रावणी कहते है. यहाँ के ब्राह्मणों में प्रचलन है कि वो अपने यजमानों को राखी देते है, यह उनकी एक तरह की दक्षिणा होती है.
  • राजस्थान – राजस्थान में तो कई तरह की राखियाँ होती है, जिन्हें अलग अलग नाम से पुकारते है. इनकी बनावट इन्हें एक दुसरे से भिन्न करती है. जैसे रामराखी जो सिर्फ भगवन को चढाई जाती है, इसमें लाल रंग के धागे में पीले रंग के फूलो का फून्द्रा होता है. इसके अलावा चूड़ा राखी, जिसे लूम्बा के नाम से भी जानते है, जो मुख्य रूप से भाभियों के लिए बनाई जाती है.

रक्षा बंधन पर निबंध भारतीय हिन्दू त्यौहार में मुख्य राखी के त्यौहार के बारे में बचपन से ही बच्चों को पढाया सिखाया जाता है. स्कूल में बच्चों के बीच इस विषय पर निबंध प्रतियोगिता होती है, ताकि बच्चे इसके बारे में अच्छे से सही जानकारी प्राप्त कर सकें.

Other links –