ताज़ा खबर

रेखा का जीवन परिचय व आने वाली फिल्म | Rekha Biography and upcoming Movies in hindi

रेखा का जीवन परिचय व आने वाली फिल्म | Rekha Biography and upcoming Movies in hindi

रेखा फिल्म जगत को अनुठी पहचान देने वाली ऐसी अदाकारा जिसे हर कोई जानता है. इन्होंने अपने जीवन मे फिल्मों मे काम बहुत देरी से शुरू किया, पर कम समय मे बहुत नाम तथा शोहरत कमाई. यह बॉलीवुड की सदाबहार अदाकारा है जो कि करियर की शुरुवात से आज तक उतनी ही खुबसूरत है. जितनी खूबसूरत ये है उतनी ही खूबसूरती से यह फिल्मों मे काम भी करती है. आज की जनरेशन इनको अपना आइडल मानती है तथा बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियां इनको अनुसरण करती है. उनमे से एक नाम है विध्या बालन जो कि इनको अपना आदर्श मानती है. दूसरा नाम है प्रियंका चोपड़ा जो कि इनके जैसी बनना चाहती है.

इनकी अदाओ के लाखो लोग दीवाने है इसकी एक मुस्कराहट पर लोग मरते है पर उस मुस्कराहट के पीछे बहुत दर्द छिपा है.  इनका जीवन बहुत रहस्यमयी तथा इनका बचपन बहुत दर्दनाक था. कहा जाता है कि, इन्होंने बचपन में बहुत संघर्ष किया है. इनका बचपन दूसरों जैसा बिलकुल नही था, इन सबके चलते इनको समय से पहले ही बड़ा व मजबूत होना पड़ा. और इन्हें जितनी भी कामयाबी मिली वह खुद की मेहनत के बलबुते पर मिली. इन्होंने अपने करियर की नीव सन उन्नीस सौ छियानवे मे एक तेलगु फिल्म रंगुला रत्नम मे काम करके रखी. उसके बाद हिन्दी फिल्मों मे इनका सफर बहुत मुश्किल भरा था. इन्होंने अब तक लगभग एक सौ अस्सी फिल्मों मे काम किया.

 

Rekha Biography

 

रेखा की निजी जानकारी संक्षिप्त मे (Rekha’s Personal Information In Short) :

नाम (Name) रेखा
असली नाम (Real Name) भानुरेखा गणेशन
नाम का मतलब (Meaning of Name) सीमा
अन्य नाम ( Nick Name) दी बालीवुड क्वीन, मैडम एस, रेखा जी
जन्म तारीख(Date of birth) 10 अक्टूबर 1949
जन्म स्थान(Place) मद्रास
राशि (Zodiac Sign) लीब्रा
उम्र( Age) 69 साल
पता (Address) मुंबई
स्कूल (School) चर्च पार्क कॉन्वेंट स्कूल
कॉलेज(College)
ओक्यूपेशन(Occupation) एक्ट्रेस
कुल सम्पति(Total Assets) 100 मिलियन
भाषा(Languages) तमिल,तेलगु , हिंदी , इंग्लिश
नागरिकता(Nationality) इंडियन
खास दोस्त (Best

Friend’s)

शत्रुघन सिन्हा
दिलचस्पी (Activities) गार्डनिंग,कविता लिखना
बुरी आदत (Bed Habits) स्मोकिंग, ड्रिंकिंग

जन्म और पारिवारिक जानकारी  (Birth and Family Information ):

 रेखा का जन्म दस अक्टूबर उन्नीस सौ उनपचास को मद्रास मे हुआ. इनके पिता जैमनी गणेशन जो कि, एक तमिल फिल्मों के बहुत बड़े अभिनेता थे. इनकी माता पुष्पावली भी, तेलगु फिल्मों कि एक बड़ी अभिनेत्री थी. सन् उन्नीस सौ सेतालिस की बात है जब , इनके पिता जैमनी गणेशन मिस मालिनी नाम के, फिल्म के सेट पर इनकी माता पुष्पावली से मिले, तथा दोनों के प्रेम प्रसंग के चलते उन्होंने गुप्त विवाह करने की सोची, तथा तिरुपति मे, उन दोनों ने विवाह कर लिया, जिसकी खबर किसी को नही थी. शादी के दो साल बाद इनको एक बेटी हुई, जिसका नाम इन्होंने भानुरेखा रखा. पर जब सबको पता चला कि इन दोनों को बेटी हुई है तब, अफवाहें उड़ने लगी, कि इनकी यह संतान अवैध है क्योकि, इनकी गुप्त शादी का किसी को नही पता था तथा लोग इनकी शादी को मानते ही नही थे .

इनके पिता पहले से शादीशुदा थे, इनकी पहली पत्नी का नाम अलामेलु था. अफवाहों के चलते इनके पिता ने, इनको अपनी बेटी मानने से इंकार कर दिया तथा, वह पिता के प्यार से वंचित रही. बाद मे इनके तीन बच्चे हुए लेकिन इनके पिता ने, इनकी माता को तब तक खुल कर स्वीकार नही किया था.

यह जब दस साल की थी, तब इनके पिता की तेलगु अभिनेत्री सावित्री के साथ सम्बन्धों की अफवाह हुई, जिससे इनकी माता को बहुत ठेस पहुची, जिसके चलते इनकी माता ने, अपना अलग घर बना कर अपने बच्चों के साथ रहने लगी. लेकिन इनकी आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो गई थी. जब इनके पिता जैमनी गणेशन तथा तेलगु अभिनेत्री सावित्री ने, साठ के दशक मे अपनी हिट तेलगु फिल्म दी तब, इनकी माता पुष्पावली बहुत बीमार थी पर, इनके पिता ने अलग रहने की वजह से, इनकी माँ तथा बच्चों पर बिलकुल भी ध्यान नही दिया.

चूकी यह अपनी माँ से, बहुत ज्यादा जुडी हुई थी, उनकी बीमारी के चलते इनको, अपनी स्कूली शिक्षा वही छोडनी पड़ी. अपने माँ की इलाज के लिये , आर्थिक मदद के लिये आगे बड़ी तथा मात्र चौदह वर्ष की उम्र मे, अभिनय करने लगी. उन्होंने अपने माता-पिता जैसे अभिनय को चुना तो नही था, पर मज़बूरी मे इनको यह काम करना पड़ा जिसमे, इनको शुरू मे कोई रुचि नही थी पर, आर्थिक तंगी के चलते उनको यह सब करना पड़ा. इनको शुरुवात मे, बदसूरत तथा कई नामों से बोल कर परेशान किया जाता. तब भी यह लगातार काम करती गई तथा बॉलीवुड मे जाने का फैसला लिया. बालीवुड मे जाने के लिये, इनको हिन्दी भी नही आती थी पर, यह सब उन्होंने अपने साथ मे काम करने वालो से सीखी तथा आगे बढ़ी. इस तरह हम देखे तो बचपन से इन्होंने बहुत कष्ट देखा और तकलीफों का सामना करना पड़ा.

पारिवारिक जानकारी (Family Information)

पिता का नाम (Father’s Name) जैमनी गणेशन (तमिल एक्टर)
माता का नाम(Mother’s Name) पुष्पावली (तमिल एक्ट्रेस)
बहन (Sister) एक
मेरिटल स्टेट्स(Relationship Status) मेरिड
पति का नाम (Husband’s Name) मुकेश अग्रवाल
बॉयफ्रेंड्स(Boyfriend’s) 1)    नवीन निश्चल
2)    विनोद मेहरा
3)    किरण कुमार
4)    संजय दत्त
5)    अमिताभ बच्चन

शिक्षा  (Education) :

इनका चर्च पार्क कॉन्वेंट स्कूल मे दाखिला जरुर हुआ, परन्तु घर मे चल रहे तनाव के चलते इनकी शिक्षा शुरू होने के पहले ही खत्म हो गई तथा आर्थिक तंगी के कारण इनको अपनी शिक्षा छोडनी पड़ी.

निजी जानकारी (Personal Information) :  

रेखा बहुत ही कम उम्र मे मुंबई आ गयी थी तथा बालीवुड का वह रंग जिसमे हर कोई रंगा हुआ था, उनके लिये बहुत ही अलग था. उन्होंने एक इंटरव्यू मे कहा था “ मुंबई एक बहुत घने जंगल की तरह है जहाँ हर कोई रहता है यह बहुत ही डरावना है. मै इस बालीवुड की दुनिया से बिलकुल अनजान हूँ, मुझे यहाँ के तौर तरीके कुछ भी नही मालूम है, मेरे अपने रिश्तेदारों तथा दोस्तों ने मेरा फायदा उठाया है मै खुद से सवाल करू तो मै यहाँ क्यों हूँ, यहाँ मेरा क्या वजूद है, यहाँ पर जिस उम्र मे बच्चे स्कूल जाते है, खेलते कूदते है मजे करते है, अपना बचपन जीते है, मै उस उम्र से बहुत दूर आ गयी हूँ ” मेरा बचपन खो गया था.  उन्होंने बताया इतनी कम उम्र मे वो मेकअप हेयर स्टाइल करना भारी-भारी गहने पहना अजीब सी पोशाकें/ कपड़ें पहनना बहुत मुश्किल था, वे हर दिन रोती थी, कोसती थी, खुद को कहा कि फस गई हूँ, जहा से निकलना तो नामुमकिन है पर सफर करना भी उतना ही मुशकिल है.

रेखा का लुक –

रंग (Color) गोरा
लम्बाई (Height) 5.6 Fit
वजन (Weight) 60 Kg
बॉडी साइज (Body size) 34-28-34
बालों का रंग (Hair Colour) काला
आखों का रंग (Eye Colour) भूरा

रेखा के बॉयफ्रेंडस और उनसे सबंधित विवाद (Rekha’s Affairs and Controversies) :

यह एक ऐसी कलाकारा थी, जिसमे लाख कमियां थी पर समय के साथ सब दूर करते हुये, इन्होंने जो खुद को निखारा था, उसका कोई जवाब नही था. जिसके चलते कई अभिनेता इन पर फिदा हुए. किसी पंडित ने इन्हें कहा था कि पति के प्यार से यह हमेशा वंचित रहेगी.

इनके बॉयफ्रेंड कि लिस्ट इस प्रकार है :

  • सबसे पहले थे नवीन निश्चल यहाँ यह प्यार एक तरफा था, इस अभिनेता को तो इनसे प्यार था, पर इनको नवीन निश्चल से प्यार नही हुआ, क्योंकि यह उस समय अपने करियर के लिये ज्यादा चितिंत थी.
  • दूसरे थे विनोद मेहरा इन दोनों कि काफी सारी रोमांटिक फिल्मे बनी, जिसके चलते इनके प्यार की अफवाए उड़ने लगी, जिसे इन्होंने कहा हम बहुत अच्छे दोस्त है तथा विनोद मेहरा मेरे शुभचिंतक है इससे ज्यादा कुछ नही.
  • इसके बाद इनका नाम किरण कुमार से जोड़ा गया, जोकि गलत था.
  • अभिनेता संजय दत्त तथा इनके बीच भी प्यार तथा किसी अखबार मे शादी तक की चर्चा थी, जो कि की मात्र अफवाह थी और पूरी तरह से झूठी थी.
  • अमिताभ बच्चन और रेखा की जोड़ी सुपरहिट थीइनकी रोमांटिक फिल्में लोग बहुत पसंद करते थे, इन दोनों की केमेस्ट्री बहुत अच्छी थी. इसका असर इनकी असल जिंदगी पर भी हुआ तथा यह दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे तथा बिना किसी को बताये मिलने-मिलाने का यह दौर चलते रहा. जब लोग उगंली उठाने लगे, तब इस बात से अमिताभ की पत्नी जया बच्चन बहुत नाराज हुई तथा साथ फिल्मों मे काम करने को साफ मना किया, तब से अब तक इनकी कोई भी फिल्म नही आई है.

रेखा की शादी  (Rekha’s Marriage ):

सन् उन्नीस सौ तिहोतर मे, विनोद मेहरा जो कि इनके को-स्टार थे, उनके साथ इनके विवाह की अफवाहें फैली. लेकिन एक साक्षात्कार मे इन्होंने, इस बात को साफ रूप से इंकार करते हुए कहा कि, विनोद मेहरा सिर्फ इनके शुभचिन्तक तथा एक दोस्त है, इससे ज्यादा और कुछ नही.

सन् उन्नीस सौ उन्नभे मे इन्होंने दिल्ली के बहुत बड़े उद्योगपति मुकेश अग्रवाल से शादी करी थी. इनका यह सम्बन्ध बहुत समय नही रहा क्योकि इनके पति ने लंदन मे आत्महत्या की थी तथा आखरी पत्र मे लिखा था कि “मेरी आत्महत्या के लिये कोई भी दोषी नही है”. इसके बाद एक बार इन पर फिर शक की निगाहों से देखा गया तथा कुछ लोग इनको दोषी मानकर बुरी निगाहों से देखने लगे तथा बुरा-भला कहने लगे. यह इनके जीवन का कठिन समय था.

रेखा का करियर (Rekha’s Career) :

अभिनय इनकी पसंद ना होकर मज़बूरी थी क्योकि, उस समय इनके घर मे आर्थिक तंगी बहुत थी. यह उस समय काम की तलाश मे थी तथा, तेलगु सिनेमा से इनके माता पिता दोनो जुड़े थे, उसी के कारण इनको एक तेलगु फिल्म मिली थी. यह इनकी पहली फिल्म थी. सन् उन्नीस सौ छियानवे मे, इन्होंने रंगुला रत्नम मे काम किया. इनकी पहली हिन्दी फिल्म सन् उन्नीस सौ उनसतर मे अनजाना सफर से इन्होंने बालीवुड मे कदम रखा. यह सदाबहार हीरोइन है जोकि सहाठ – सत्तर के दशक से अब तक चली आरही है.

उन्नीस सौ सत्तर का दशक

इनको सत्तर के दशक मे इन्हें बालीवुड मे कदम रखे बहुत अधिक समय नही हुआ था, इनको हिन्दी बोलने मे बहुत तकलीफ होती थी पर इन्होंने उसके लिये बहुत मेहनत करी तथा खुद को साबित कर दिखाया. सत्तर के दशक मे इन की हिन्दी फिल्म सावन-भादों आई थी, जोकि सुपरहिट रही. इनकी इस फिल्म ने इनको रातों रात सुपरस्टार बना दिया. पर बहुत से लोगों ने इनको अब भी नापसंद किया, क्योकि यह उतनी सुन्दर नही थी तथा उस समय उनका रंग भी थोडा डार्क था, पर उन्होंने अपने अंदर की सभी कमियों को दूर किया. और इस दशक की हिट हीरोइन बन कर दिखाया.

सत्तर के दशक में इनकी कुछ हिट फिल्मों के नाम –

  • मुकदर का सिकंदर
  • सावन-भादों
  • घर
  • मिस्टर नटवरलाल
  • नमक हराम

उन्नीस सौ अस्सी का दशक

एक दशक बीत जाने के बाद इनकी गिनती मंजे हुये कलाकारों मे होने लगी. धीरे- धीरे लोगों का नजरिया बदला तथा लोग इनको पसंद करने लगे, जिसे कभी बदसूरत कहा जाता था, अब वह बहुत ही खूबसूरत लगने लगी. अस्सी की शुरुआत मे इन्होंने कॉमेडी फिल्में करी, जिसमे इन्होंने बहुत ही बखूबी से अपने किरदार को किया, इसके बाद लोगों को इनकी फिल्मों मे और मजा आने लगा . अस्सी मे इन्होंने खूबसूरत नाम की एक फिल्म कि थी, जिसमे एक शरारती लड़की का किरदार बहुत ही बखूबी से निभाया था. इन्होंने इस दशक मे कुछ ऐसी हिट फिल्मे दी जिसके लिये इनको कई अवार्ड मिले.

इस दशक मे इनकी और अमिताभ की कई फिल्में आई लोग इस युवा जोड़ी को पसंद करने लगे, जिसके चलते इन दोनों के प्रेमप्रसंग की अफवाह मिडिया के जरिये चारों ओर फैल गई. सन् उन्नीस सौ इक्यासी मे सिलसिला फिल्म की शूटिंग मे अमिताभ , उनकी पत्नी जया, तथा रेखा तीनों थे, इसके फिल्म की स्टोरी ने इन दोनों को और करीब कर दिया, जिसका अमिताभ की पत्नी ने विरोध किया तथा यह इनकी अमिताभ के साथ आखरी फिल्म रही.

अस्सी के दशक की कुछ हिट फिल्मों के नाम-

  • खूबसूरत
  • बहुरानी
  • झूठी
  • एक ही भूल
  • उमराव जान
  • खून भरी मांग
  • मांग भरो साजन
  • सिलसिला

उन्नीस सौ नब्बे का दशक-

दो दशकों तक तो यह हिट रही पर नब्बे के दशक मे इनके करियर पर फिर काले बादल छा गये, यहाँ बहुत सी नई हीरोइनों जैसे- काजोल, माधुरी दीक्षित, रवीना टंडन, जूही चावला आदि की एंट्री हुई, जो इनसे हर तरीके से काफी आगे थी. नई हीरोइनों की एंट्री होने से इसका असर इनके करियर पर हुआ. इस दशक मे फिल्में तो बहुत सी की, पर कुछ ही हिट हुई.

नब्बे के दशक की कुछ फिल्मों के नाम-

  • खिलाडियों का खिलाडी
  • मेरा पति सिर्फ मेरा है
  • मेडम एक्स
  • इंसाफ की देवी
  • अमीरी गरीबी

सन् दो हजार से अब तक का सफर –

नब्बे के दशक के बाद इनका बॉलीवुड का सफर बहुत मुश्किल था, पर इन्होंने काम करना बंद नही किया, फिल्म हिट हो या ना हो यह अपना काम करती गई और फिल्में बनाती गई. कुछ नया करने के लिये आज-कल की हीरोइनों के साथ काम कर उनके लिये मिसाल बनी,

  • इन्होंने सन् दो हजार मे बुलंदी फिल्म मे काम किया. इसमें इनकी एक्टिंग अच्छी थी. परन्तु अब ये फिल्मों में लीड रोल में नजर नहीं आई.
  • सन् दो हजार एक मे इनकी फिल्म लज्जा, जुबेदा, मुझे मेरी बीवी से बचाओ जैसी फिल्में आई. सन् दो हजार तीन मे भूत, कोई मिल गया फिल्म मे काम किया.
  • सन् दो हजार पांच मे बचके रहना रे बाबा, तथा परिणीता में एक गाने मे काम किया. इस प्रकार इन्होंने छोटी-छोटी भूमिकाओ को भी स्वीकार किया.
  • सन् दो हजार छ: मे क्रिश, कुडियों का है जमाना मे इन्होंने अदभूत भूमिका निभाई. इस प्रकार इस दशक में इन्होंने माँ और दादी के किरदार को भी स्वीकार किया.

इनका बालीवुड का सफर बहुत कठिन था, पर इन्होंने हर मुश्किल का सामना करते हुए हर किरदार को जिया है तथा किसी भी तरह की बातों तथा चर्चाओं पर ध्यान ना देकर अपने काम को किया है. इन्होंने अपने करियर मे लगभग एक सौ अस्सी फिल्में की है.

रेखा की कुल संपत्ति (Rekha’s Net Worth) (Till May 2018):

रेखा की आज तक की कुल संपत्ति 40 मिलियन डॉलर मतलब 25 अरब रुपये है. इसके आलावा इनकी भारत में कई जगह करोड़ो की संपत्ति है, जिसे इन्होंने रेंट पर दे रखा है. इनका मुंबई में भी करोड़ो का बंगला है, और सुपरस्टार शाहरुख़ खान एवं फरहान इनके पड़ोसी है.

वार्षिक इनकम (Annual Income) 40 करोड़
फिल्म के रोल के लिये (Movie Remuneration) 2-3 करोड़
राज्य सभा सांसद कि सैलरी Rajy Sabha Salary 65 लाख पर इयर
इनकम टैक्स (Income Tax) 1980-81 के टाइम इन्होंने 4.25 लाख टैक्स भरा
लग्जरियस कार (Luxury Car ) 10 करोड़
निवेश (Investments)

रेखा का राजनीतिक करियर (Rekha’s Political Career) :

अप्रैल दो हजार बारह मे, सचिन तेंदुलकर के साथ इनका नाम भी राज्य सभा मे मनोनीत किया गया तथा इनको फ़ूड, कंज्यूमर अफ्फैरस एंड पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन कमिटी का मेम्बर बनाया गया था. राज्य सभा मे सदस्य होने के बाद बैठक मे अनुपस्थिति होने के कारण कई नेताओं ने इनका विरोध किया. यह राज्य सभा मे कुल तीन सौ अड़तालीस दिनों मे मात्र अठारह दिन उपस्थित रही. सरकार इन पर अब तक पैसठ लाख रूपये जिसमे वेतन तथा अन्य खर्च भी शामिल है, वहन कर चूकी है. दैनिक उपस्थिति के अनुसार इन पर लगभग तीन लाख साठ हजार रूपये व्यय हुये है. यह सत्ताविस अप्रैल दो हजार बारह से छब्बीस अप्रैल दो हजार अठारह तक के लिये राज्य सभा मे मनोनीत थी.

रेखा के अवार्ड्स (Rekha’s Awards) :

इन्होंने अपने करियर मे कई हिट फिल्मे दी, जिसके लिये इनको कई अवार्ड्स मिले तथा कला के क्षेत्र मे इस योगदान के लिये सन् दो हजार दस मे इनको “ राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के द्वारा पदमश्री अवार्ड ” से नवाजा गया.

अवार्ड्स सन् केटेगिरी
फिल्मफेयर अवार्ड्स 1989 बेस्ट एक्ट्रेस
नेशनल फिल्म अवार्ड्स 1982 बेस्ट एक्ट्रेस
फिल्मफेयर अवार्ड्स 1997 बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस
स्क्रीन अवार्ड्स 1997 बेस्ट विलेन
फिल्मफेयर अवार्ड्स 2003 लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
आइफा अवार्ड्स 2003 स्टाइल दिवा ऑफ दी इयर
बालीवुड मूवी अवार्डस 2004 बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस
जी सिने अवार्डस 2006 लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
पद्मश्री 2010 कला के लिये
आइफा अवार्ड्स 2012 लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
आइफा अवार्ड्स 2012 आउटस्टेंडिंग कंट्रीब्यूशन ऑफ इंडियन सिनेमा
दुबई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2016 लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
स्टारडस्ट अवार्ड्स 2016 लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

रेखा संबंधित विवाद (Rekha’s Controversies) :

इनके जीवन मे कई उतार-चढ़ाव आये, जिसके चलते यह कई विवादों मे घिरी रही. जब एक बार यह एक फिल्म अनजाना सफर की शूटिंग कर रही थी, तब बिना बताये कुछ ऐसा शूट हुआ जोकि आपतिजनक था, जब इनकी उम्र मात्र पंदह वर्ष थी. इसके बाद यह बहुत ज्यादा विवादों मे घिर गई बहुत समय तक यह मामला चला.

इसके बाद इनके सिंदूर को लेकर भी कई विवाद हुए, जब इनके पति नही रहे तो यह सिंदूर किसके नाम का लगाती है. यह विवाद इतना बड़ा कि फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर तथा नीता कपूर की शादी में मिडिया वालो ने सबके सामने यह पूछा कि यह सिंदूर किसके नाम का है कही अपने पति की मौत के बाद गुप्त शादी तो नही कर ली.

इन विवादों के चलते इन्होंने बहुत कठिनाई मे अपना समय गुजारा तथा किसी चीज से पीछे नही हटी सबका सामना हसते हुये किया.

रेखा के जीवन से जुडी रोमांचक बातें  (Interesting Information about Rekha) :  

  • इनको घूमने-फिरने का बहुत शौक था, अपनी इसी आदत के कारण उनका सपना था, कि वह एयरहोस्टेस बने तथा विश्व की सैर करे.
  • इसके बाद उन्होंने कई बार नन बनने की भी सोची,जोकि नही बन पाई.
  • आर्थिक तंगी के कारण इनको शुरुवआती दौर मे बी तथा सी ग्रेड की पिक्चरों मे काम करना पड़ा, जोकि उस समय बहुत बड़ी बात हुआ करती थी.
  • इनको डबिंग करने में बहुत मजा आता था, कई फिल्मों मे इन्होंने दूसरी हीरोइनों की डबिंग की.
  • इनके पिता ने इनको कभी नही अपनाया, जिसके चलते वह इनका मुह भी देखना पसंद नही करते थे. धीरे-धीरे यह भी उनसे उतनी ही नफरत करने लगी तथा उनकी म्रत्यु होने पर भी वह क्रियाकर्म मे शामिल होने नही गई.
  • इनको कविता लिखने का भी शौक था, कभी-कभी यह कविता भी लिखती थी.
  • इनको गोल्डन और रेड कलर, तथा तैयार होना बहुत पसंद है यह अक्सर उन्ही रंग के कपडे या साड़ी मे खासकर कांजीवरम साड़ी की बहुत शौक़ीन है तथा आज भी बहुत सुन्दर तैयार देखी जाती है.
  • शत्रुघन सिन्हा इनके अच्छे दोस्तों मे से एक थे, इनके बुरे समय मे उन्होंने इनको बहुत साथ दिया.
  • जितेन्द्र और मुमताज इनके फेवरेट हीरो तथा हीरोइन है, इनकी शूटिंग देखने के लिये यह कुछ भी कर लेती थी, एक-दो बार इन्होंने पुलिस के डंडे खा कर भी शूटिग देखी है.
  • यह अपने खानपान का बहुत ध्यान रखती है, यह शाकाहारी खाना ही खाती है इसके साथ अपने रंग-रूप का विशेष ख्याल रखती है उसको आज तक मेंटेन किया हुआ है.

रेखा की पसंद और नापसंद

पसंदीदा कलर(Favourite colour) गोल्डन,रेड
पसंदीदा खाना (Favourite Food) राजमा चावल
पसंदीदा मिठाई (Favourite Dessert) सीताफल आइसक्रीम
पसंदीदा स्थल (Favourite Place) लन्दन
पसंदीदा परफ्यूम

(Favourite Perfume)

ऑब्सेशन
पसंदीदा कार (Favourite Car) बी.एम.डब्ल्यू
पसंदीदा  आउटफिट (Favourite Outfit) कांजीवरम साड़ी
पसंदीदा एसेसरिस (Favourite assessor) गले का, चूड़ी, बड़े कान के झुमके 
पसंदीदा अभिनेता (Favourite Actor) बालीवुड(Bollywood)- दिलीप कुमार,जितेन्द्र
पसंदीदा अभिनेत्री(Favourite Actress) मुमताज,कंगना रनावत

इस प्रकार यह था इनका जीवन जिसमे हर रंग थे खुशी-गम सभी तरह की कठिनाइयां जिसका इन्होंने बिना किसी की मदद के अकेले सामने किया. हर किसी का एक दौर होता है पर यह सदाबहार हीरोइनों मे से एक है. सत्तर से आज तक बिलकुल उतनी ही खूबसूरत और चहेरे पर वही मुस्कान जिसके लोग दीवाने है.

अन्य पढ़े:

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

One comment

  1. Rekha she is good actores bahut achhi hia wo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *