Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

रिद्धिमा पंडित एक उभरती अदाकारा का जीवनी | Ridhima Pandit biography in hindi

Ridhima Pandit biography in hindi टेलीविज़न में धारावाहिक, जिसे सीरियल भी कहा जाता है, मनोरंजन के मुख्य साधनों में से एक है. कई प्राइवेट चैनल्स सिर्फ़ धारावाहिक के दम पर ही चलते हैं. इसे देखने वालों की संख्या में काफ़ी वृद्धि हुई है और अभी भी हो रही है. धारावाहिक की वजह से कई लोगों ने अभिनय में अपना नाम बनाना चाहा है. आये दिन टेलीविज़न में हमें नए चेहरे देखने मिलते हैं. कुछ दिन पहले लाइफ़ ओके नाम के एक चैनल पर एक सीरियल शुरू हुआ, जिसका नाम “बहू हमारी रजनीकांत” था. इस धारावाहिक में लोग एक नए चेहरे से रूबरू हुए. ये चेहरा रिद्धिमा पंडित का था, जो इस सीरियल में मुख्य भूमिका में थीं. इस सीरियल के साथ रिद्धिमा ने टेलीविज़न पर अपना डेब्यू किया. अपने शानदार अभिनय के दम पर इन्होने लोगों का खूब मनोरंजन किया.

Ridhima pandit

रिद्धिमा पंडित : एक उभरती अदाकारा

Ridhima Pandit biography in hindi

रिद्धिमा पंडित का जन्म (Ridhima Pandit profile)

रिद्धिमा पंडित का जन्म 25 जून 1990 को मुंबई में हुआ. अपनी पढाई के दौरान इन्होने समाजशास्त्र में डिग्री हासिल की. मायानगरी में रहते हुए ही रिद्धिमा का मन अभिनय की ओर झुका, और इन्होने मॉडलिंग करनी शुरू की. अपने मॉडलिंग के दौरान इन्होने कई कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के प्रचार के प्रोजेक्ट्स किये, और साथ ही ये नदिरा बब्बर के थिएटर में रहते हुए लगातार अपने अभिनय को संवारती रहीं.

रिद्धिमा पंडित का करियर (Ridhima Pandit Career)

मॉडलिंग के दौरान इन्हें इस बात का अंदाज़ा लग गया था, कि आदमी का जीवन मुख्यतः तीन स्तर से होकर गुज़रता है. पहला स्टार जहाँ वो कुछ नहीं होता, दूसरा जहाँ उसे कुछ बनने का आभास होता है, और तीसरा जहाँ वो अपनी मेहनत से कुछ बन जाता है. अपने लक्ष्य को देखते हुए उन्हें मॉडलिंग एक सही रास्ता लगा. मॉडलिंग के दौरान उन्हें अपने परिवार की तरफ से पूरा समर्थन था. उनके पिता अकसर उन्हें प्रोत्साहित करते रहते थे. शुरूआती दिनों में विज्ञापन पाने के लिए भी उन्हें काफ़ी मेहनत करनी पड़ी. कई बार वे ऑडिशन के लिए जातीं लेकिन खाली हाथ वापिस लौटना पड़ता. इस समय वो एक्सीड एंटरटेनमेंट में सेलेब्रिटी मेनेजर के पोस्ट पर काम कर रही थीं. बहुत जल्द उन्हें एक एड के लिए चुन लिया गया जहाँ से वो कई लोगों की नज़र में आयीं.

रिद्धिमा पंडित का टीवी सीरियल (Ridhima Pandit in bahu hamari rajnikant Serial )

मॉडलिंग के दौरान ही उन्हें लाइफ ओके की नये प्रोजेक्ट ‘बहु हमारी रजनीकांत’ के लिए ऑफर मिला. ये एक हास्यप्रधान सीरियल था, जिसकी निर्माता सोनाली जेफ्फरी और डेरियन अमोस थे. ऐसा माना जाता है कि इस रोल के लिए पहले एक दूसरी अभिनेत्री को चुना गया था, लेकिन बाद में इस प्रोजेक्ट पर काम कर रही टीम को रिद्धिमा रजनी के चरित्र के लिए अधिक “फिट” लगीं. इत्तेफाक़न इस दौरान रिद्धिमा को किसी दुसरे प्रोजेक्ट के लिए मुख्य चरित्र के रूप में चुन लिया गया था. हालांकि वो प्रोजेक्ट किसी कारणवश अस्तित्व में नहीं आ पाया.

इस सीरियल में रिद्धिमा की भूमिका एक रोबोर्ट मशीन की थी. सीरियल में रिद्धिमा का नाम “रजनी” था, जिसका फुल फॉर्म “रैंडमली एसेसेबल जॉब्स नेटवर्क इंटरफ़ेस” बताया गया. इस सीरियल में कॉमेडी के माध्यम से कई सामाजिक प्रश्नों को उठाया गया और उसका हल ढूँढने की कोशिश की गयी, और रिद्धिमा की अभिनय की तारीफ हर तरह से की गयी. इस सीरियल में सास-बहू का पुराना झगडा नए और मजेदार तरीक़े से दिखाया गया. इंसानों के बीच एक रोबोट का चरित्र निभाते हुए रिद्धिमा ने अपने अभिनय का अनोखापन दिखाया.

इस सीरियल को करते हुए रिद्धिमा ने कहा कि – ‘वो भविष्य में डायन और नागिन जैसी कहानियों वाले किरदार नहीं करेंगी, और अपनी प्रयोगात्मकता को बरक़रार रखते हुए सदैव नए और अनोखे किरदार चुनती रहेंगी’. उनके अनुसार ऐसी कहानियों का कोई सामाजिक महत्त्व नहीं बन पाता. रिद्धिमा के अनुसार किसी भी शो में सामाजिक सन्देश होना अति आवश्यक है. जैसे सीरियल ‘बहु हमारी रजनीकांत’ में उनके कुछ एपिसोड्स जल बचाओ जैसे संदेशों के साथ प्रदर्शित किये गये.

  • सीरियल “बहू हमारी रजनीकांत” 15 फ़रवरी 2016 से शुरू हुआ, और एक साल चलने के बाद इसी साल 13 फ़रवरी को ख़त्म हो गया. जिसकी आखिरी शूट 06 फ़रवरी को हुई.
  • आखिरी शूट के दौरान उन्होंने कहा कि सारी अच्छी शुरुआत एक अच्छे अंत तक पहुँचती है, और इसी तरह से ये सीरियल भी अपने आखिरी पड़ाव पर पहुँच गया.
  • अपने पहले सीरियल की आखिरी शूट के दौरान उन्होंने अपने टीम के तमाम लोगों को धन्यवाद कहा.

कहानियों की पसंद-नापसंद (Ridhima Pandit story preferences)

रिद्धिमा को अक्सर वैसी कहानियाँ पसंद आती हैं जिसमे तथ्य अधिक हो. वो कहती हैं कि उन्हें वैसी कहानियाँ नहीं पसंद है जो सन्दर्भ से परे और लम्बी हो, बल्कि सही मायने में सारगर्भित कहानियों का शो करना उन्हें अधिक पसंद है, चाहे कहानियाँ छोटी ही क्यों न हो.

रिद्धिमा के अनुसार 90 के दशक में आने वाले धारावाहिकों में कहानियाँ मर्मस्पर्शी होती थी. उसमे एक आत्मा होती थी, लेकिन आज-कल बन रही डेली सोप में रिश्तों का कोई ख़ास महत्व नहीं होता. एक ही चरित्र की चार-पांच शादियाँ दिखा दी जाती हैं, जबकि उसकी पत्नी अथवा पति जिंदा ही होता है.

रिद्धिमा पंडित और एहसान रोशन (Ridhima Pandit and Eshaan Roshan)

इस दौरान काम करते हुए रिद्धिमा के साथ एहसान रोशन का नाम सामने आया है. एहसान संगीतकार राजेश रोशन के बेटे और सुपरस्टार ऋतिक रौशन के कजिन हैं. ऐसा माना जा रहा है कि इन दोनों में काफ़ी नजदीकियां बढ़ी हैं. एहसान रिद्धिमा के बनते करियर से बहुत खुश भी हैं. इसी बीच ये खबर आई कि रिद्धिमा एहसान को डेट कर रही हैं. वो कहती हैं कि वो एहसान को अपनी 14 साल की उम्र से जानती हैं. इन सब बातों में अगर उनके दोस्त और उनके रिश्तेदार आते हैं तो उन्हें ठीक नहीं लगता. उनके अनुसार अगर कोई उनके लिए ख़ास होता है तो वो किसी से छुपाती नहीं हैं. एहसान का नाम सिर्फ इस वजह से लिया जा रहा है क्योंकि वो एक स्टार फॅमिली से ताल्लुक़ रखते हैं. रिद्धिमा कहती हैं कि एहसान की अपनी पहचान है, वो केवल इन सब बातों के ज़रिये ही नहीं जाना जाए तो अच्छा है. लोग ये सब बातें महज मज़े के लिए करते हैं.

रिद्धिमा की एहसान से पहली मुलाक़ात उनके एक कॉमन फ्रेंड के ज़रिये हुई थी. उस वक़्त वह ऋतिक की बहुत बड़ी प्रशंसक थीं, उनसे मिलना चाहती थीं. एहसान से मिलने के बाद उन्होंने ऋतिक से मिलने की इच्छा जताई. एहसान ने उन्हें अपने चचेरे भाई से जल्द मिलाने का वादा किया और बाद में फिर कई मुलाक़ातें हुई.

रिद्धिमा पंडित पुरस्कार (Ridhima Pandit Award)

2006 में इन्हें जी गोल्ड अवार्ड में “बेस्ट डेब्यू एक्ट्रेस” का अवार्ड मिला.

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *