मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना 2021, रजिस्ट्रेशन

मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना 2021 (प्रवासी पंजीयन, पंजीकरण फॉर्म ऑनलाइन, पात्रता, जॉब कार्ड, सूची, अधिकारिक वेबसाइट, टोल फ्री नंबर) (Rojgar Setu Registration MP in hindi, Eligibility, Samagra Portal, Documents, Official Website, Toll free Number)

आज कोरोना वायरस के वजह से अनेकों लोगों का रोजगार छूट चुका है। ज्यादातर प्रवासी मजदूरों को रोजगार छूट जाने की वजह से उनकी आर्थिक स्थिति अब पूरी तरह बिगड़ चुकी है , ऐसे में बेरोजगारों की संख्या इस विषम परिस्थिति में दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। ऐसे लोगों के लिए भारत सरकार के अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग प्रकार की अनेकों योजनाएं शुरू की जा रही है। अभी हाल ही में 27 मई दिन बुधवार को बीजेपी के कार्यालय में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने रोजगार सेतु योजना का शुभारंभ किया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी का कहना है , की इस योजना के माध्यम से हम बेरोजगार मजदूरों और उद्यमियों को आवश्यक सहायता प्रदान करके उन लोगों को एक दूसरे का पूरक बनाने का प्रयास करेंगे। ऐसे में राज्य में रोजगार के नए – नए अवसरों का भी निर्माण होगा । आज हम इस लेख के माध्यम से आप सभी लोगों को इस योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने वाले हैं। इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में जानने के लिए हमारे इस लेख को कृपया आप अंत तक अवश्य पढ़ें।

Rojgar Setu Registration MP

मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना 2021

नाम

रोजगार सेतु योजना

किसने शुरू की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

कब शुरू हुई

मई 2020

पंजीयन स्टार्ट डेट

27 मई

पोर्टल


यहाँ क्लिक करें

टोल फ्री नंबर0755-6615100 या
1800-5727-751 या
7620603273 या
7620603317

लाड़ली लक्ष्मी योजना मध्यप्रदेश में रजिस्ट्रेशन कर करें अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित, आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करें

रोजगार सेतु योजना विशेषताएं

  • इस लाभकारी योजना का लाभ मध्य प्रदेश के प्रत्येक बेरोजगार मजदूरों एवं उद्यमियों को मिल सकेगा।
  • इस योजना के माध्यम से सभी जरूरतमंदों को आवश्यक रोजगार मिल सकेगा।
  • इस योजना के जरिए सभी पात्र लोगों को उनकी योग्यता और अनुभव के अनुसार रोजगार मिल सकेगा।
  • इस योजना के द्वारा मजदूरों की आर्थिक स्थिति में काफी हद तक सुधार हो सकेगा।
  • आज के कोरोना संकट के दौर में जो बेरोजगारी का स्तर दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है , उसमें काफी हद तक सुधार हो सकेगा।
  • इस योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को मनरेगा के तहत रोजगार प्रदान करने का प्रावधान बनाया गया है।
  • इसके अतिरिक्त इस लाभकारी योजना के माध्यम से सभी पात्र लाभार्थियों को भारत सरकार की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अंतर्गत निशुल्क खाद्यान्न वितरित किए जाएंगे।
  • इस योजना के तहत सभी पात्र लाभार्थियों को जो भी काम प्रदान किया जाएगा उसका वेतन उन्हें सीधे उनके बैंक खाते में स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
  • इस योजना के द्वारा प्रवासी मजदूरों को संबल कार्ड योजना का का भी लाभ दिया जायेगा, इसके लिए पंजीकरण करवाने के बाद ही योजनाओं का लाभ प्रदान करना शुरू किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत उन्ही लाभार्थियों का सर्वे सत्यापन और पंजीयन स्वीकार किया जाएगा जो ‘मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना’ या ‘भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल’ में अपने पंजीयन की पात्रता रखते हो।
  • सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि योजना के अंतर्गत सर्वे करके सभी आवेदकों की जानकारी को 3 जून 2020 के पहले पोर्टल पर अपलोड किया जाना अनिवार्य है.
  • इस योजना के सभी कार्यक्रमों को सुचारू रूप से चलाने के लिए जिला कलेक्टर जिम्मेदार होंगे। इस योजना को बेहतर रूप देने के लिए ग्रामीण क्षेत्र में मुख्य कार्यपालन अधिकारी , नगरीय क्षेत्र में नगर पालिका अधिकारी और नगर निगम में निगम आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी योजना को संचालित करने का कार्यभार संभालेंगे।

जीवन शक्ति योजना मध्यप्रदेश के द्वारा महिलायें घर पर मास्क निर्माण कर कमा रही है हजारों, आप भी आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करें

रोजगार सेतु योजना पात्रता

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी को मध्यप्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ केवल वही व्यक्ति उठा सकता हैं, जो बेरोजगार हो।
  • केवल श्रमिक व्यक्ति ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

रोजगार सेतु योजना दस्तावेज

  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • श्रमिक कार्ड
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर

रोजगार सेतु योजना अधिकारिक वेबसाइट

इस योजना के तहत यदि आप रोजगार प्राप्त करने के इच्छुक हैं तो आपको इस अधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन करना होगा. यहाँ से आपको रजिस्टर हो जायेंगे और आपको रोजगार की प्राप्ति हो जाएगी.

रोजगार सेतु योजना आवेदन (How to Apply)

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए सभी पात्र लाभार्थियों को इस अधिकारिक वेबसाइट में जाकर आवेदन करना होगा.
  • इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके, जिसके लिए ग्राम पंचायत के सचिव और नगरीय क्षेत्रों में वार्ड प्रभारी व्यक्ति अधिकारी जगह-जगह जाकर सर्वे करेंगे, और पात्र लोगों का फॉर्म भरवा कर, सभी जरूरतमंद व्यक्तियों को सहायता प्रदान करेंगे।
  • योजना के निर्देशानुसार सभी लाभार्थियों को योजना की पोर्टल पर समग्र आईडी और आधार कार्ड का नंबर अंकित करना अनिवार्य होगा।

रोजगार सेतु योजना टोल फ्री नंबर

यदि आपको रोजगार से संबंधित किसी मुश्किलें आती हैं तो आप टोल फ्री नंबर 0755-6615100 या 1800-5727-751 या 7620603273 या 7620603317 पर कॉल कर सकते हैं. यहाँ से आपको सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

मध्य प्रदेश की राज्य सरकार इस योजना के माध्यम से सभी श्रमिक मजदूरों को आवश्यक रोजगार प्रदान करके उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाने का प्रयास कर रही है।अब इस योजना का लाभ उठाकर प्रत्येक मध्य प्रदेश का जरूरतमंद श्रमिक नागरिक अपनी बिगड़ी हुई , अर्थव्यवस्था में कुछ हद तक सुधार ला सकेगा।

FAQ

Q : मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना के अंतर्गत क्या काम किया जा रहा है?

Ans : योजना के अंतर्गत प्रवासी मजदूर और पहले से रहने वाले बेरोजगार मजदूर की मैपिंग कर सूचि बने जा रही है. कुशल और अकुशल के हिसाब से यह लिस्ट तैयार हो रही है.

Q : मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना का उद्देश्य क्या है?

Ans : योजना का उद्देश्य प्रदेश में रहने वाले और बाहर से आये सभी प्रवासी मजदूर को रोजगार मुहैया कराना.

Q : योजना के तहत आवेदन कैसे कर सकते है?

Ans : योजना के लिए आवेदन समग्र पोर्टल के द्वारा हो रहा है. रोजगार सेतु का लाभ उसे ही मिलेगा जिसके पास समग्र आईडी कार्ड है, अतः ये बनवाना अनिवार्य है.

Q : रोजगार सेतु योजना कब और किसने शुरू की?

Ans : रोजना को मुख्यमंत्री शुवराज सिंह द्वारा 27 को शुरू किया गया है.

Pavan Agrawal
मेरा नाम पवन अग्रवाल हैं और मैं मध्यप्रदेश के छोटे से शहर Gadarwara का रहने वाला हूँ । मैंने Maulana Azad National Institute of Technology [MNIT Bhopal] से इंजीन्यरिंग किया हैं । मैंने अपनी सबसे पहली जॉब Tata Consultancy Services से शुरू की मुझे आज भी अपनी पहली जॉब से बहुत प्यार हैं।

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here