क्या है छत्तीसगढ़ में शुरू हुई संचार क्रांति योजना | Sanchar Kranti Yojana (SKY) – Free Smartphone Scheme in Hindi

छत्तीसगढ़ सरकार ने शुरू की संचार क्रांति योजना 2020-21 Sanchar Kranti Yojana (SKY) – Free Smartphone Scheme In Hindi (Application Form) Features (Specification) Smart Phone

छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने राज्य में संचार क्रांति स्कीम को स्टार्ट किया है. जिसके जरिए इस राज्य के गरीब परिवारों को सरकार द्वारा मुफ्त में फोन दिए जाएंगे. इस योजना को छत्तीसगढ़ सरकार ने अभी हाल ही में शुरू किया है. इस योजना की मदद से ये राज्य सरकार, अपने राज्य के नागरिकों को डिजिटल दुनिया से रू-ब-रू करवाना चाहती है.

संचार क्रांति योजना

क्या है  संचार क्रांति योजना (Chhattisgarh Free Smartphone Scheme in hindi)

रमन सिंह सरकार इस योजना के अंतर्गत अपने राज्य के गरीब परिवारों को फोन देगी. सरकार के मुताबिक वो इस योजना को दो चरणों के तहत शुरू करेगी और कुल  55 लाख स्मार्ट फोन डिस्ट्रीब्यूट करेगी.

कब बांटे जाएंगे फोन

मई के महीने में इस राज्य में शुरू होने वाली ‘विकास यात्रा अभियान’ के दौरान इन फोनों को बांटा जाएगा. ये यात्रा इस राज्य के मुख्य मंत्री रमन सिंह द्वारा की जाएगी. वहीं साल 2019 के मार्च महीने तक फोनों को बांटने के कार्य को खत्म कर दिया जाएगा.

योजना का नाम संचार क्रांति योजना
किस राज्य द्वारा शुरू की गई है योजना छत्तीसगढ़
किसके द्वारा की गई योजना की घोषणा रमन सिंह
कब शुरू होगी योजना मई, 2018
कब तक चलेगी योजना मार्च, 2019
योजना का उद्देश्य राज्य के लोगों को डिजिटल दुनिया से जोड़ना
कौन होंगे लाभकर्ता गरीबी रेखा से नीचे वाले परिवार
कितने फोन बांटे जाएंगे 55 लाख
कौन होगा योजना का सुपेर्विसेर छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव

संचार क्रांति के उद्देश्य (Objectives)

  • मुफ्त स्मार्टफोन बांटने वाली इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य गरीब लोगों को फोन देना है, ताकि राज्य में मोबाइल कनेक्टिविटी को बढ़ाया जा सके. गौरतलब है कि इस राज्य के गांवों का विकास नक्सलवादियों के कारण नहीं हो सका है और यहां के लोग अभी तक मोबाइल फोन जैसी सुविधाओं से वंचित हैं.
  • संचार क्रांति योजना 2018, के तहत इस राज्य के करीब 13,900 गांवों में फोन कनेक्टिविटी को सुनिश्चित किया जाएगा.
  • छत्तीसगढ़ राज्य सरकार इस योजना के जरिए अपने राज्य के गरीब लोगों को डिजिटल दुनिया से जोड़ना चाहती है. ताकि छत्तीसगढ़ के गरीब लोग इंटरनेट सहित अन्य सेवाओं का इस्तेमाल कर सकें.
  • इस राज्य की अधिकतर जनसंख्या बीपीएल परिवारों की है, इसलिए इस स्कीम की मदद से सरकार अपने राज्य के लोगों के रहने के स्तर को थोड़ा बेहतर कर सकेंगी.
  • इस योजना के अंतर्गत गांवों की करीब 45 लाख औरतों को फोन दिए जाएंगे. वहीं इस योजना का लाभ शहर में रहने वाले गरीब परिवारों को और कॉलेजों के छात्रों को भी दिया जाएगा.
  • इस योजना की तरह ही इस राज्य सरकार ने आईटी इनेबल्ड स्कीम भी चलाई है. जिसकी मदद से इस राज्य के बच्चों को अंग्रेजी भाषा के बारे में जानकारी दी जाती है. आईटी इनेबल्ड स्कीम के तहत प्रमुख प्राथमिक विद्यालयों में अंग्रेजी बोलने वाले किट छात्रों को दिए जाते हैं.

दो चरणों के जरिए बांटे जाएंगे लोगों को स्मार्ट फोन (How this scheme works And Implement Process)

छत्तीसगढ सरकार के मुताबिक इस योजना को दो चरणों के तहत पूरा किया जाएगा और कुल 55 लाख स्मार्ट फोन बांटे जाएंगे.

प्रथम चरण  (First Stage)

  • पहले चरण के अतर्गत उन्हीं गांवों में फोन बांटे जाएंगे, जहां पर लोगों की आबादी यानी जनसंख्या 1,000 से ज्यादा होगी. वहीं गांवों के किन गरीब परिवारों के सदस्य को ये फोन दिए जाएंगे, इसका चयन करने की जिम्मेदारी पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग को राज्य सरकार द्वारा सौंपी गई है.
  • प्रथम चरण के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के करीब 40 लाख महिलाओं को ये फोन दिए जाएंगा. ये फोन केवल गरीबी रेखा से नीचे वाले परिवार की महिला प्रमुख को ही दिए जाएंगे.
  • पहले चरण में शहरी क्षेत्र में कुल पांच लाख फोन गरीब लोगों को बांटे जाएंगे और ये फोन भी केवल गरीब घर की मुख्य महिला को दिए जाएंगे. वहीं शहर के किन गरीब परिवारों की महिलाओं को ये फोन दिए जाएंगे, इसका फैसला शहरी विकास विभाग द्वारा किया जाएगा.
  • इस योजना के जरिए कॉलेजों के छात्रों को भी स्मार्ट फोन बांटे जाएंगे. सरकार कॉलेज के करीब 5 लाख छात्राओं को ये मोबाइल फोन देगी. वहीं छात्रों का चयन करने की जिम्मेदारी उच्च शिक्षा विभाग को दी गई है.

दूसरा चरण – (Second Stage)

दूसरे चरण के अंदर उन गांवों के गरीब लोगों को फोन दिए जाएंगे, जिन गांवों में रहने वाले लोगों की आबादी एक हजार से कम है. दूसर चरण के अंतर्गत कुल पांच लाख फोनों को बांटा जाएगा.

कौन लोग उठा सकते हैं लाभ (Eligibility under the scheme)

  • छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गई इस स्कीम का लाभ केवल गरीब परिवारों यानी बीपीएल परिवारों और उन्हीं लोगों को मिलेगा, जो कि आर्थिक रूप से कमजोर होंगे.
  • ये योजना छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अपने राज्य में फोन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई है और ऐसा में इस स्कीम का फायदा केवल इस राज्य के लोग ही उठा पाएंगे. जिनका जन्म इस राज्य में हुआ होगा.
  • वहीं इस राज्य का जो भी व्यक्ति इस स्कीम का लाभ उठाने का इच्छुक है, उसके पास आधार कार्ड होना जरूरी होगा. इस कार्ड की मदद से ही सरकार को ये पता चल पाएगा कि वो व्यक्ति उनके राज्य का है कि नहीं.

योजना से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी (Important Information)

आधार कार्ड जोड़ना होगा-

स्मार्ट फोन्स को बांटने के बाद लोगों को अपने स्मार्ट फोन को अपने आधार कार्ड नंबर और बैंक खाते के नंबर के साथ जोड़ना अनिवार्य होगा. क्योंकि ऐसा करने से कोई भी व्यक्ति इस योजना का गलत फायदा नहीं उठा पाएगा और एक व्यक्ति को केवल एक ही फोन मिल पाएगा.

सीआईपीएस को सौंपी गई है जिम्मेदारी

छत्तीसगढ़ सरकार ने इस स्कीम को सही से लागू करने की जिम्मेदारी छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रोमोशन सोसाइटी (सीआईपीएस) को सौंपी है और सीआईपीएस को सही तरह से फोनों को वितरण करना होगा.

1500 मोबाइल फोन टावर किए जाएंगे स्थापित

इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ सरकार मोबाइल सेवा प्रदान करने वाली कंपनी को मुफ्त में सरकारी भवनों और कार्यालयों पर मोबाइल फोन टावर स्थापित करने देंगी और इस तरह से इस राज्य के विभिन्न स्थानों पर कुल 1500 मोबाइल फोन टावर स्थापित किए जाएंगे.

इस स्कीम के फायदे (Benefits Of The Scheme)

  • इस योजना के जरिए गरीब लोगों को स्मार्ट फोन कैसे इस्तेमाल किया जाता है ये पता चल सकेगा और साथ ही इस राज्य के लोग कई तरह की ई- सेवा का अच्छे से इस्तेमाल करना सीख सकेंगे.
  • इस स्कीम के जरिए मोबाइल फोन के साथ साथ इंटरनेट कनेक्टिविटी भी दी जाएगी. ऐसा करने से लोगों को इंटरनेट का इस्तेमाल करने आएगा और इस राज्य में कैशलेस लेन-देन को बढ़ावा भी मिल सकेगा.
  • स्मार्ट फोन का उपयोग करने से गरीब लोगों को सरकारी नीतियों से जुड़ी जानकारी आसानी से हासिल हो सकेगी और लोगों को सरकार की हर नई योजना के बारे में भी जानकारी मिलती रहेगी.

छत्तीसगढ़ भारत के उन राज्यों में से है, जहां पर लोगों का रहने का स्तर अभी भी हमारे देशों के अन्य राज्यों के मुकाबले काफी पिछाड़ा हुआ है. इस राज्य की सरकार ने इस योजना के जरिए अपने राज्य के लोगों के जीवन स्तर को बढ़ाने की कोशिश की है. ताकि उनके राज्य के लोगों भी अन्य राज्यों के लोगो की तरह बेहतर जिदंगी जी सकें और डिजिटल दुनिया से जुड़ सकें.

मोबाइल फोन फीचर

छत्तीसगढ़ सरकार ने यह घोषणा की कि स्काई मोबाइल योजना के तहत जल्द ही लगभग 50 लाख स्मार्टफोन वितरित किये जायेंगे. इसका लाभ उठाने वाले लाभार्थियों को दो समूह छात्रों एवं अन्य में बांटा जायेगा.  पहली श्रेणी में आने वाले लाभार्थियों को 2 जीबी रैम, 5 इंच की टच स्क्रीन, 16 जीबी स्टोरेज, 1.4 गीगाहर्ट्ज़ प्रोसेसर, 5 मेगा पिक्सेल फ्रंट एवं 8 मेगा पिक्सेल बेक कैमरा जैसी विशेषताओं वाला स्मार्ट फोन प्रदान किया जायेगा. जबकि अन्य लोगों को 1 जीबी रैम, 8 जीबी स्टोरेज, 1.2 गीगाहर्ट्ज़ प्रोसेसर, 4 इंच की टच स्क्रीन, 2 & एएमपी फ्रंट एवं 5 मेगा पिक्सेल बेक कैमरा वाला फोन दिया जायेगा. इन स्मार्ट फोन में इन्टरनेट कनेक्टिविटी, सोशल मीडिया एप और ऑनलाइन भुगतान करने वाले एप मौजूद होंगे.

संचार क्रांति योजना के फॉर्म के लिए इस लिंक पर क्लिक करेApplication Form

इस योजना के तहत स्मार्ट मोबाइल फोन का वितरण 26 जुलाई से 30 जुलाई के बीच किया गया॰ यह कार्य माननीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के द्वारा किया गया

 अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *