Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

श्रद्धा कपूर का जीवन परिचय | Shraddha Kapoor biography in hindi

Shraddha Kapoor biography in hindi श्रद्धा कपूर एक भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री और गायिका है. वह बॉलीवुड में सबसे अधिक मेहनताने लेने वाली अभिनेत्रियों की सूची में शुमार है. वह बहुत ही सरल स्वभाव की अभिनेत्री है, उनके सोशल मीडिया जैसे की फेसबुक, ट्विटर और इन्स्टाग्राम पर फोल्लोवर्स की संख्या बहुत अधिक है. इसका कारण है कि वे सुंदर होने के साथ साथ अभिनय करने में भी माहिर है. इसलिए लोग इन्हें बहुत पसंद करते हैं. इनके जीवन के बारे में यहाँ दर्शाया गया है.

Shraddha Kapoor
 श्रद्धा कपूर का जीवन परिचय

Shraddha Kapoor biography in hindi

श्रद्धा कपूर का जन्म और बचपन (Shraddha Kapoor birth and childhood)

श्रद्धा कपूर का जन्म 3 मार्च 1987 को महाराष्ट्र के मुम्बई में हुआ था. वह बचपन में टॉम बॉय की तरह रहती थी. श्रध्दा बचपन से ही फ़िल्मों में अभिनय करना चाहती थी, वो अपने माता पिता के पोशाक को पहन कर आईने के सामने अभिनय का प्रयास किया करती थी और संवाद को बोलने के साथ ही डांस भी किया करती थी.

श्रद्धा कपूर की शिक्षा (Shraddha Kapoor education)

श्रद्धा कपूर की स्कूली शिक्षा दीक्षा 15 वर्ष तक मुम्बई के जमनाबाई नरसी स्कूल में हुई थी. उसके बाद वो मुम्बई से अमेरिकन स्कूल में चली गयी. जहाँ पर उनके स्कूल के मित्र अभिनेत्री अथिया शेट्टी और अभिनेता टाइगर श्रॉफ थे. अथिया शेट्टी ने टाइम्स ऑफ़ इण्डिया में दिए अपने इंटरव्यू में बताया की वे सभी नृत्य प्रतियोगिता में वहाँ भाग लेते थे. श्रद्धा कपूर अपने पढाई करने के दौरान फुटबॉल और हैण्डबॉल भी खेलती थी. इसके बाद वे आगे की अपनी पढाई के लिए कपूर बोस्टन चली गयी, जहाँ पर उन्होंने साइकोलॉजी में अपना नामांकन कराया. लेकिन फ़िल्मों के प्रस्ताव मिलने की वजह से उन्हें अपनी पढाई को बीच में ही छोड़ना पड़ा था. श्रद्धा कपूर को गायकी का भी शौक है, इसलिए उन्होंने लता मंगेशकर के चचरे भाई से शस्त्रीय संगीत की शिक्षा ली थी. टाइगर श्रोफ़ का जीवन परिचय यहाँ पढ़ें.               

श्रद्धा कपूर का पारिवारिक जानकारी (Shraddha Kapoor family)  

श्रद्धा कपूर के परिवार में उनके माता पिता के अलावा उनके भाई भी है. उनका परिवार एक मिश्रित जाति का परिवार है क्योकि उनकी माता जी मराठी है वह एक प्रशिक्षित शास्त्रीय गायिका है और उनके पिता जी पंजाबी है. उनकी माता जी का नाम शिवांगी कपूर है और उनके पिता जी का नाम शक्ति कपूर है वो एक फ़िल्म अभिनेता है और उनके बड़े भाई का नाम सिद्धान्त कपूर है. इसके अलावा उनकी दो आंटी भी है जोकि फिल्मो में अभिनय करती है जिनमे से एक का नाम पद्मिनी कोल्हापुरे और दूसरी का तेजस्विनी कोल्हापुरे है. श्रद्धा अपने पिता के साथ बहुत से शूटिंग लोकेशन पर गयी हुई है. वे अभिनय करते हुए उन्हें देखकर सीखने की कोशिश करती थी. बचपन में जब वो डेविड धवन की फ़िल्म की शूटिंग लोकेशन पर अपने पिता के साथ गयी थी, उसी समय उनकी दोस्ती वरुण धवन से हुई थी. वे दोनों वहाँ एक साथ में खेलते थे, फ़िल्मों के संवाद को बोलते थे, साथ ही गोविंदा के गाने पर डांस भी करते थे.        

श्रद्धा कपूर का करियर (Shraddha Kapoor career)

श्रद्धा कपूर के करियर के बारे में निम्न साल के आधार पर बताया गया है-    

2010 : उनके करियर की शुरुआत ‘तीन पत्ती’ नामक फ़िल्म से एक किरदार जोकि कॉलेज जाने वाली एक लडकी का था, से हुई थी. इस फ़िल्म का ऑफर उनको निर्माता अम्बिका हिंदुजा ने फेसबुक पर देखकर किया था. इस फ़िल्म में उनके साथ अमिताभ बच्चन, बेन किंग्सले और आर माधवन जैसे अभिनेता ने भी काम किया था. इस फ़िल्म को उतनी सफलता नहीं मिली, लेकिन इस फ़िल्म में श्रद्धा कपूर के द्वारा किये गए अभिनय की तारीफ हुई. इस फ़िल्म के लिए रीडिफ़.कॉम को बहुत से आलोचकों ने स्वयं द्वारा लिखे लेख प्रस्तुत किये, जिसमे से एक ने लिखा कि श्रद्धा कपूर में फ़िल्मों में काम करने के लिए अद्भुत क्षमता है. इस बात का परिचय उन्होंने अपने इस फ़िल्म में किये अभिनय से दे दिया है. तो किसी  आलोचक ने लिखा कि श्रद्धा कपूर ने फ़िल्म में अच्छा प्रदर्शन करते हुए दिलचस्प शुरुआत की है. हालाँकि बॉक्स ऑफिस पर यह फ़िल्म सफ़ल नहीं रही, लेकिन इस फ़िल्म में श्रद्धा कपूर की अच्छी शुरुआत के लिए सर्वश्रेष्ठ महिला पदार्पण का फ़िल्म फ़ेयर अवार्ड के लिए वे नामांकित हुई थी. अमिताभ बच्चन का परिवार और जीवनी यहाँ पढ़ें.

2011 : इस फ़िल्म के द्वारा अपने करियर की शुरुआत के बाद उन्होंने यश राज फ़िल्म्स प्रोडक्सन कंपनी के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर करके उनकी तीन फ़िल्मों में काम करने को लेकर अपनी सहमती जताई. फिर इस प्रोडक्सन कम्पनी के साथ उनकी एक फ़िल्म आई जिसका नाम था ‘लव का द एंड’, जिसमे उन्होंने ताहा शाह के साथ अभिनय किया था. इस फ़िल्म में श्रद्धा ने एक कॉलेज की नवयुवती के किरदार को निभाया था जिसमे उसका बॉय फ्रेंड उसे धोखा दे देता है. इस फ़िल्म के लिए समीक्षकों की मिश्रित समीक्षाएं प्राप्त हुई. इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन किया था. इस फ़िल्म के लिए एक आलोचक ने लिखा कि इस फ़िल्म में जब श्रद्धा को अपने प्रेमी के इरादे का पता चलता है तो वह उसके दिए हुए धोखे से पूरी तरह से टूट जाती है, लेकिन जब बाद में वह एक रहस्य के साथ ऊपर मजबूती से आता है, तब उस वक्त आप उनकी सराहना किये बिना नहीं रह सकते. इस फ़िल्म के बारे में बताते हुए एक और आलोचक ने लिखा कि श्रद्धा कपूर इस फ़िल्म में पुरे आत्मविश्वास से भरी हुई दिखती है साथ ही इस दूसरी फ़िल्म में किये अपने अभिनय से दर्शकों को प्रभावित करने में कामयाब रही है. इस फ़िल्म में उनके अच्छे प्रदर्शन के लिए उन्हें पुरस्कार भी प्राप्त हुआ है. फिर उनको इस फ़िल्म में किये प्रदर्शन के आधार पर फ़िल्म ‘औरंगजेब’ में मुख्य भूमिका को निभाने के लिए प्रस्ताव मिला, जोकि यश राज प्रोडक्सन की थी, लेकिन उन्होंने अपने अनुबंध को इस कम्पनी के साथ रद्द कर दिया और उसके बाद उन्होंने दूसरी फ़िल्म के लिए हस्ताक्षर कर दिया जिसका नाम था ‘आशिकी 2’.

2013 : 1990 में एक फ़िल्म आई थी आशिकी, उसी फ़िल्म की अगली कड़ी के रूप, में मोहित सूरी ने 2011 में एक फ़िल्म बनाई जिसका नाम आशिकी 2 था. यह एक रोमांटिक ड्रामा पर आधारित फ़िल्म थी. इस फ़िल्म में उनके किरदार का नाम आरोही केशव शिर्के था जोकि एक छोटे से बार में गाना गाती है जोकि बाद में एक मशहुर पुरुष गायक की मदद से सफ़ल गायिका बन जाती है. इस फ़िल्म में उनके हीरो आदित्य रॉय कपूर थे. यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर काफी सफ़ल रही, इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 1.09 बिलियन का राजस्व व्यापार किया.

इस फ़िल्म के लिए एक आलोचक ने कहा कि इस फ़िल्म से श्रद्धा की जीत हुई है. इसके अलावा इण्डिया टुडे के विनायक चक्रोवोर्टी ने कहा कि वह इस फ़िल्म में बहुत ही सुन्दर दिखी है. इस फ़िल्म के लिए श्रद्धा ने कई सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के ख़िताब के लिए नामांकन को प्राप्त किया था और जीता भी था. इसी वर्ष यानि सन 2013 में ही उनकी एक और रोमांटिक फ़िल्म आई जिसका नाम था ‘गोरी तेरे प्यार में’, इस फ़िल्म में हीरो इमरान खान थे, जिसके मंगेतर की भूमिका को श्रद्धा कपूर ने किया था.

2014 : इस वर्ष उनकी जो फ़िल्म आई उसका नाम ‘एक विल्लेन’ था, जिसमे उन्होंने फ़िल्म के हीरो सिद्धार्थ मल्होत्रा की बीमार पत्नी के किरदार को निभाया था, जिसको एक सीरियल किलर मार देता है. इस फ़िल्म में सीरियल किल्लर की भूमिका रितेश देशमुख ने निभाई है. यह फ़िल्म बहुत सफ़ल रही इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 1 अरब डॉलर से अधिक का व्यापार किया और एक प्रमुख व्यावसायिक सफ़ल फ़िल्म के रूप में उभरी. इस फ़िल्म के लिए समीक्षकों ने सकारात्मक समीक्षा की. इस फ़िल्म के लिए श्रद्धा कपूर ने गाना भी गया था, जिसके बोल थे ‘गलिया तेरी गलिया’ जोकि लोगों के द्वारा बहुत पसंद किया गया था.

इसी वर्ष उनकी दूसरी फ़िल्म आई जिसका नाम ‘हैदर’ था, यह फ़िल्म विशाल भरद्वाज ने बनाई थी. जोकि विलियम शेक्सपियर के उपन्यास हैमलेट से प्रेरित थी. यह 1995 कश्मीर संघर्ष पर आधारित था. इस फ़िल्म में उन्होंने एक जर्नलिस्ट की भूमिका निभाई थी जिसमे उनका नाम अर्शिया था. इस फ़िल्म मे हीरो के रूप में शाहिद कपूर ने अभिनय किया था और अभिनेत्री तब्बू ने भी इस फ़िल्म में अभिनय किया था. इस फ़िल्म की समीक्षा करते हुए एक आलोचक ने लिखा है कि इस फ़िल्म में श्रद्धा अपने अभिनय से लोगों का धयान अपनी तरफ आकर्षित करने में कमयाब रही है. इसी वर्ष श्रद्धा ने करण जौहर की फ़िल्म ‘ऊँगली’ के लिए एक आइटम नम्बर किया था. उस आईटम नंबर के गाने के बोल थे ‘डांस बसंती’.

2015 : श्रद्धा कपूर ने फ़िल्म ‘एबीसीडी: एनी बॉडी कैन डांस’ के दुसरे भाग फिल्म ‘एबीसीडी 2’ में एक हिप हॉप डांसर की भूमिका को जीवंत किया था. इस फ़िल्म में उनके हीरो वरुण धवन थे, इस फ़िल्म को वाल्ट डिज्नी पिक्चर के अंतर्गत डांस कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा और प्रभु देवा ने निर्मित किया था. इस फ़िल्म में किये गए अपने डांस को लेकर श्रद्धा कपूर ने बहुत मेहनत की थी, उन्होंने इसके लिए बहुत तरह के डांस भी सीखे. फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर बहुत कमाई की, यह फ़िल्म 1.57 बिलियन के राजस्व व्यापर के साथ सफ़ल फ़िल्म रही. इस फ़िल्म में भी श्रद्धा कपूर ने एक गाना गया था जिसके बोल थे ‘बेजुबां फिर से’.

2016 : श्रद्धा की इस वर्ष आई फ़िल्म का नाम था ‘बाघी’. इस फ़िल्म में भी उन्होंने पार्श्व गायन किया था उनके गए गाने के बोल थे ‘सब तेरा’. इस फ़िल्म में उनके हीरो टाइगर श्रॉफ थे. इस फ़िल्म में उनकी जोड़ी को दर्शकों ने खूब पसंद किया. इस फ़िल्म में उन्होंने मार्शल आर्ट की ट्रेनिग लेते हुई एक किरदार को किया है. यह फ़िल्म बहुत सफ़ल रही इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 1.26 बिलियन की कमाई की. इस फ़िल्म की समीक्षा करते हुए द इन्डियन एक्सप्रेस की समीक्षक ने कहा है कि इस फ़िल्म में रोमांटिक दृश्यों को बड़े ही अच्छे तरीके से प्रस्तुत किया गया है. इसके बाद उन्होंने एकता कपूर की फ़िल्म ‘फ्लाइंग जट’ में कैमियो किया था, फिर उसके बाद उन्होंने ‘रॉक ऑन 2’ में जिया शर्मा के किरदार को किया था, जोकि अपने पिता से नफ़रत करती है.

2017 : इस वर्ष श्रद्धा कपूर की फ़िल्म आई जिसका नाम ‘ओके जानू’ था, यह रोमांटिक ड्रामा फ़िल्म थी. इस फ़िल्म में उनके हीरो आदित्य रॉय कपूर थे. उन्होंने मणि रत्नम की फ़िल्म ‘ओ कधी कन्मानी’, जोकि करण जौहर की धर्मा प्रोडक्सन के तहत बनी है, भी की. इसके अलावा श्रद्धा कपूर की इस साल यानि 2017 में आने वाली फिल्म ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ है, जिसमें उनके हीरो है अर्जुन कपूर. यह फ़िल्म निर्देशक मोहित सूरी ने निर्देशित की है. यह फ़िल्म चेतन भगत की लिखी किताब हाफ गर्ल फ्रेंड से प्रेरित है.

फिल्मो के अलावा वे कई चैरिटी संगठन को भी चलाती है. अपनी फिल्मो के गाने पर वह कई स्टेज शो कर चुकी है. साथ ही वह लक्मे फैशन वीक में कई फैशन डिजायनरों के कपडें को पहन कर रैम्प वाक कर चुकी है. वो कई मशहुर मैगजीन जैसे की वोगुए, कोम्पोलितन और वेरवे जैसे पत्रिकाओं के कवर पेज पर दिखाई दी है. श्रद्धा कपूर कई मशहुर ब्रांड की ब्रांड एम्बेसडर भी रह चुकी है जिनमे शामिल है लक्मे, वीट, लिप्टन, मरिकोस हेयर एंड केयर और भी इसी तरह के कई ब्रांड्स के लिए उन्होंने प्रचार किया है.

2015 में उन्होंने अपना एक औरत के लिए कपड़े की एक लाइन को चलाया, जिसका नाम उन्होंने ‘इमरा’ रखा, ये अमेज़न.कॉम के माध्यम से चलाया जाता है.                                                  

श्रद्धा कपूर को मिले अवार्ड और उपलब्धियां (Shraddha Kapoor Awards and Honours )

2013 में श्रद्धा कपूर भारत की सबसे मशहुर सेलिब्रिटीज में से एक बन गई. एक सर्वेक्षण में उन्हें दुनिया की सबसे सेक्सी अभिनेत्री के रूप में 5 वें स्थान पर रखा गया है. यह सूची भारत के एक संस्करण एफएचएम के द्वारा जारी की गयी थी. 2014 में वो इसकी अर्थात सबसे सेक्सी अभिनेत्री के रूप में दुसरे पायदान पर पहुँच गयी थी. गूगल ट्रेंड में भी ये कहा गया कि 2014 से 2015 में सबसे ज्यादा सर्च की जाने वाली अभिनेत्री है. रीडिफ़.कॉम ने उन्हें 2014 की अपनी सूची में 10 बॉलीवुड की मशहुर अभिनेत्रियों में उनके नाम को शामिल किया है.

द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया की 2014 से 2015 की सूची में वो सबसे आकर्षक महिला अभिनेत्री के रूप में थी. 2016 की फोर्ब्स की सूची में वे 30 साल से कम उम्र की सफल एसियन है. भातीय संस्करण की मैगजीन में उनको 100 मशहुर व्यक्तियों की सूची में प्रदर्शित किया गया है. ये सारी उपलब्धियां उन्होंने बहुत ही कम समय में हासिल कर अपनी मेहनत क्षमता का परिचय दिया है.

श्रद्धा कपूर अपने फिल्मों में किये गए अभिनय से कई सारे अवार्ड के लिए नामित हुई है और बहुत सारे अवार्ड को प्राप्त भी किया है, जिनको हम नीचे दिए टेबल में वर्णित कर रहे है जो निम्नवत है :-

फ़िल्म साल आवार्ड कैटेगरी
तीन पत्ती 2011  लायंस गोल्ड अवार्ड पसंदीदा आशाजनक या होनहार अभिनेत्री
लव का द एंड 2012  स्टारडस्ट अवार्ड सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री
आशिकी 2 2013 हेलो हॉल फेम अवार्ड साल के नए चेहरे के लिए
    लायन गोल्ड अवार्ड नयी युवा धड़कन के रूप में  मुख्य भूमिका के लिए   
    बिग स्टार इंटरटेनमेंट अवार्ड   इस फ़िल्म में बेस्ट रोमांटिक कपल का किरदार निभाने के लिए
    स्टार गिल्ड अवार्ड साल की बेहतरीन जोड़ी के लिए
एक था विल्लेन 2015 ग्लोबल इन्डियन म्यूजिक अकादमी अवार्ड साल की सर्वश्रेष्ठ सेलिब्रिटी गायिका
    स्टार गिल्ड अवार्ड स्टार प्लस शाइनिंग अवार्ड
    आईएए लीडरशिप अवार्ड  साल की विसिओनरी अर्थात कल्पित महिला ब्रांड के लिए  
एबीसीडी 2 2016  इंटर नेशनल इंडियन फ़िल्म अकादमी सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री

श्रद्धा कपूर की व्यक्तिगत जानकारी (Shraddha Kapoor personal detail)

2016 में द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया को दिए अपने एक इंटरव्यू में श्रद्धा कपूर ने बताया की वो और श्रॉफ एक दुसरे पर क्रश करते थे, लेकिन उन्होंने कभी भी एक दुसरे को नहीं बताया. श्रद्धा कपूर के बारे में उनके पिता ने बताया था कि वे डॉ. बनना चाहती थी. श्रद्धा कभी भी ध्रूमपान नहीं करती है लेकिन पार्टियों के द्वारान शराब का सेवन करती है. वो एक प्रमाणित स्कूबा डाइवर है. उन्हें ऑनलाइन शॉपिंग करना बहुत ही पसंद है. वो चाय पीने की भी आदि है. इनके बारे में व्यक्तिगत जानकारी यहाँ दी गई है.                                     

नाम श्रद्धा कपूर
व्यवसाय अभिनेत्री
उपनाम चिरकूट
ऊंचाई 5 फीट 5 इंच
वजन 52 किलो ग्राम
शारीरिक बनावट सीना-34, कमर-25, हिप्स-34     
आँखों का रंग हल्का भूरा
बालों का रंग काला
राशि मीन
नागरिकता भारतीय
धर्म हिन्दू
पसंद खाना बनाना, पढना और जूतों का संग्रह करना  
पसंदीदा खाना मछली करी, तली हुई मछली रवा, जलेबी, खो सुएय    
पसंदीदा अभिनेता शक्ति कपूर, हृतिक रोशन, अमिताभ बच्चन, आमिर खान, जॉनी डिप्प और एडवर्ड नॉर्टन      
पसंदीदा अभिनेत्री वहीदा रहमान, नूतन, पद्मिनी कोल्हापुरे, माधुरी दीक्षित, प्रियंका चोपड़ा और नेटली पोर्त्मन     
पसंदीदा बॉलीवुड़ फ़िल्म प्यासा जो 1957 में आई थी 
पसंदीदा हॉलीवुड फ़िल्म 1994 की द शाव्शंक रिडेम्पशन, 1998 की सेंट्रल स्टेशन, द गॉड फादर   
पसंदीदा म्यूजिशियन लेडी गागा
पसंदीदा गाना ओसियन ड्राइव के द्वारा गाया विथ द सनशाइन 
पसंदीदा निर्देशक मोहित सूरी
पसंदीदा लेखक जैक कैनफ़ील्ड
पसंदीदा किताब ग्रेगोरी डेविड रोबर्ट्स के द्वारा रचित शांताराम और हैरी पॉटर जे.के रोव्लिंग के द्वारा रचित 
पसंदीदा रंग बैगनी और पीला
पसंदीदा परफ्यूम माइकल कोर्स
पसंदीदा जगह पेरिस
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
कार का संग्रह मेर्सदेस एमएल एसयूवी   
सैलरी 4 करोड़
कुल कमाई 3 मिलियन डॉलर
पता 7वा तल्ला, पाम बाच, गांधीग्राम रोड, जुहू, मुंबई      

श्रद्धा कपूर का विवाद (Shraddha Kapoor controversy)

श्रद्धा कपूर उस वक्त विवादों में आ गयी, जब वो अपनी फ़िल्म ‘एक विल्लेन’ की सफलता के लिए एक पार्टी जोकि 2014 में रखी गयी थी, उसमे उन्होने फोटोग्राफरों का बहिष्कार किया था. साथ ही फ़िल्म प्रचार के दौरान मीडिया से बुरा व्यवहार करने के लिए भी विवादित रही थी. उनके और फ़िल्म अभिनेता आदित्य रॉय कपूर के साथ अफ़ेयर के चर्चे की वजह से भी विवादों में रही है.     

श्रद्धा कपूर के चर्चित वचन (Shraddha Kapoor Quotes)

  • अगर आप किसी को जानते है और आप उनके साथ काम भी करते है, तो साथ रहते रहते आप आराम से उनके साथ सहज हो जाते है और उनके बीच अपने आपको सुरक्षित महसूस करने लगते है.
  • मै किसी के ऊपर बहुत जल्दी और आसानी से विश्वास कर लेती हूँ, लेकिन ऐसा मै पहले करती थी/ अब मै विश्वास करने से पहले काफी सावधान रहती हूँ क्योकि मेरे कुछ अनुभव सही नहीं रहे है इस मामले में.
  • मै इस बात से पूरी तरह से सहमत हूँ कि सबसे ज्यादा सुंदरता अच्छी नींद लेने से ही आती है, इससे बेहतर कोई भी सुन्दरता का उत्पाद नहीं है मुझे ये आज तक समझ नहीं आया कि कोई भी व्यक्ति इतनी मेहनत क्यों करते है कि वो सोना तक भूल जाते है.
  • मेरे ख्याल से ब्रोकली ऐसा भोज्य पदार्थ है जिसमे बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है. इसमें विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है. मीठे आलू में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा पाई जाती है मछली भी अच्छा स्वास्थ्य वर्धक भोजन है ये सब मुझे पसंद है.
  • अभिनय करके मुझे हमेशा से ही मजा आता रहा है, मै इसको करके बहुत खुश होती हूँ और मै इससे बहुत प्यार करती हूँ.    

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *