Home इनफार्मेशनल श्रद्धा मर्डर केस, कौन थी श्रद्धा क्या है पूरा मामला ?

श्रद्धा मर्डर केस, कौन थी श्रद्धा क्या है पूरा मामला ? [Shraddha Walker Murder Case in Hindi]

0

श्रद्धा मर्डर केस, (श्रद्धा वॉकर हत्याकांड, कौन थी श्रद्धा, श्रद्धा की उम्र, जाति, श्रद्धा आफताब स्टोरी, श्रद्धा मर्डर केस क्या है, श्रद्धा मर्डर केस लेटेस्ट अपडेट, श्रद्धा हत्याकांड, श्रद्धा आफताब) Shraddha murder case in Hindi (Delhi Shraddha murder case, shraddha walkar murder case, shradha aftab love story, Shraddha age)

दोस्तों कहते हैं अगर आपको आपका प्यार मिल जाए तो आपको दुनिया की हर खुशी मिल जाएगी लेकिन ऐ कैसा प्यार था श्रद्धा का जिसने उसी की जान ले ली! जी हां हम बात कर रहे हैं उसी श्रद्धा की जो इन दिनों हर टीवी, न्यूज़पेपर पर छाई हुई है।

श्रद्धा हत्याकांड दिल्ली का अब तक का सबसे बड़ा हत्याकांड माना जा रहा है क्योंकि इस हत्याकांड में श्रद्धा को उसी के बॉयफ्रेंड अफताब ने मार दिया। अपने प्यार पर भरोसा करके श्रद्धा अपना घर परिवार छोड़कर अफताब के साथ चली गई थी और उसी के साथ रहती थी लेकिन अफताब ही उसकी मौत का कारण बन गया।

क्या है यह पूरा मामला ? क्यों मारा अफताब ने श्रद्धा को ? कौन थी श्रद्धा ? इन सभी चीजों के बारे में हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे इसीलिए इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़िएगा!

श्रद्धा मर्डर केस [Shraddha Murder Case in Hindi]

Shraddha Walker Murder Case Hindi

कौन थी श्रद्धा क्या है पूरा मामला ? [Who is Shraddha Walker]

श्रद्धा भी उन आम लड़कियों जैसी थी जो अपनी जिंदगी में कुछ करना चाहती थी जिसके कुछ सपने थे! श्रद्धा 27 साल की मुंबई में रहने वाली लड़की थी जो मुंबई के मल्टीनेशनल कंपनी में काम करती थी वही उसकी मुलाकात अफताब पूनावाला से हुई थी। आपको बता दें की श्रद्धा का पूरा नाम श्रद्धा वॉकर है!

जब श्रद्धा अफताब से मिली तो उन दोनों की दोस्ती हो गई और फिर यह दोस्ती सीधे प्यार में बदल गई। श्रद्धा और अफताब का रिश्ता साल 2019 में शुरू हुआ था। जिसके बारे में श्रद्धा के कुछ करीब दोस्तों को ही पता था क्योंकि उन्होंने अपने रिश्ते के बारे में अपने घरवालों को नहीं बताया था।

पर फिर एक दिन श्रद्धा ने अपने परिवार को अफताब के बारे में बता दिया लेकिन दूसरे कास्ट के होने के वजह से श्रद्धा के परिवार वालों ने अफताब को अपनाने से मना कर दिया।

परिवारवालों ने श्रद्धा को समझाया कि वो अफताब को छोड़ दें लेकिन श्रद्धा ने उनकी बात नहीं मानी। और अफताब के साथ घर छोड़कर दिल्ली चली आई।

दिल्ली आने के बाद वह अफताब के साथ वो पहले पहाड़गंज के एक होटल में रह रही थी। फिर वो दोनो साउथ दिल्ली चले गए और वहां उन्होंने महरौली के पास फ्लैट ले लिया। जिसके 10 दिन बाद ही श्रद्धा के मौत की खबर आई थी।

कई सूत्रों के द्वारा ये सुनने को मिला है कि श्रद्धा और अफताब में हमेशा ही लड़ाइयां हुआ करती थी और इनमें से ज्यादातर लड़ाइयां शादी को लेकर होती थी। श्रद्धा अफताब से शादी करना चाहती थी लेकिन अफताब ऐसा नहीं चाहता था।

इसीलिए फिर गुस्से में आकर अफताब ने श्रद्धा को मार दिया और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए। अफताब ने सिर्फ श्रद्धा के टुकड़े ही नहीं किए बल्कि बड़ी बेरहमी से उसके शरीर के टुकड़ों को बाहर ले जाकर रात के समय फेंका जाता था।

जब 1 सप्ताह तक श्रद्धा से उसके परिवार की कोई बातचीत नहीं हुई तब उसके पिता विकास वाकर परेशान हो गए और श्रद्धा की तलाश में वह दिल्ली चले आए।

श्रद्धा के पिता उसके फ्लैट में भी गए थे लेकिन फ्लैट में ताला लगे होने के वजह से वो महरौली के लोकल पुलिस थाने में चले गए और वहां उन्होंने अपने बेटी के लापता होने की रिपोर्ट करा दी।

जिसके बाद जब पुलिस ने अपनी जांच पड़ताल शुरू की तो उन्हें श्रद्धा की हत्याकांड की खबर मिली।

क्यों मारा था अफताब ने श्रद्धा को ?

अफताब और श्रद्धा जिस फ्लैट में रह रहे थे वही के लोगों से पूछताछ करने पर ये बात सामने आई कि अफताब और श्रद्धा हमेशा लड़ते रहते थे और एक दिन यह लड़ाई इतनी ज्यादा बढ़ गई कि गुस्से में आकर अफताब ने श्रद्धा का गला दबाकर उसे मार दिया और फिर गांजे का नशा करके उसने श्रद्धा के शव को 35 टुकड़ों में काट कर फ्रिज में रख दिया।

श्रद्धा के दोस्तों ने बताया क्या हो रहा था उसके साथ ?

श्रद्धा मर्डर केस के बारे में काफी लोगों से बातचीत करते हुए पुलिस ने श्रद्धा के दोस्तों से भी उनका बयान लिया है। श्रद्धा के एक दोस्त ने बताया कि श्रद्धा कहीं ना कहीं यह बात पहले से ही जानती थी कि अफताब उसे मारना चाहता है! जिसके बाद उसके दोस्त ने श्रद्धा को पुलिस में जाकर कंप्लेन करने के लिए भी कहा था लेकिन प्यार में अंधे होकर श्रद्धा ने ऐसा नहीं किया और ना ही उसके दोस्त को ऐसा करने दिया।

श्रद्धा के दोस्त ने यह भी बताया कि श्रद्धा की हत्या करने से पहले से ही अफताब उस पर काफी अत्याचार करता था आपको यकीन नहीं होगा अफताब श्रद्धा के पीठ पर जला हुआ सिगरेट सटा देता था जिससे उसकी पीठ पर सिगरेट के कई सारे निशान बन चुके थे जिसमें से कुछ निशान उसने अपने दोस्तों को भी दिखाया था।

यहां तक कि श्रद्धा के चेहरे पर भी कई जगह घाव के निशान देखने को मिलले थे और उसके दोस्त हमेशा उसे हौसला बनाए रखने की सीख देते थे।

श्रद्धा के दोस्त ने यह भी बताया कि श्रद्धा कभी भी ऐसी लड़की नहीं थी जो किसी के ऊपर निर्भर रहे वह एक बोल्ड और साहसी लड़की थी, यहां तक कि अफताब ने अपने बयान में जो बात कही है कि श्रद्धा द्वारा शादी को लेकर जोर देने के कारण उसने उसे मारा है वो भी पूरी तरह से गलत है क्योंकि श्रद्धा इस तरह की बातें कभी नहीं करती थी।

डॉक्टर से भी श्रद्धा ने बात की थी!

श्रद्धा हत्याकांड के बारे में न्यूज़ देखने के बाद डॉक्टर प्रणव काबरा कहते हैं कि करीब 21 महीने पहले उन्हें एक लड़की का फोन आया था जो उनसे depression और anger management के लिए काउंसलिंग लेना चाहती थी। उस लड़की ने यानी कि श्रद्धा ने उनसे कहा था कि मैं अफताब के साथ आऊंगी।’

डॉक्टर ने फोन पर लड़की को बताया था कि वह कोई साइकैटरिस्ट नहीं है बल्कि फिजिशियन है लेकिन डॉक्टर ने श्रद्धा पर जोर दिया था कि वह साइकैटरिस्ट के पास जरूर जाए। अगर उस समय श्रद्धा उनकी बात मान लेती तो शायद आज वह जिंदा होती ऐसा ही कुछ डॉक्टर का कहना है।

पुलिस से फोन कॉल का समय पूछने पर डॉक्टर काबरा ने उन्हें कॉल का exact समय तो नहीं बताया लेकिन उन्होंने अंदाज़ बताया कि ये कॉल उन्हें 2021 फरवरी के समय में आया था।

नशे में मारा था अफताब ने श्रद्धा को!

पुलिस जांच में ये बात भी सामने आई है कि अफताब ने श्रद्धा को मारने से पहले गांजा का नशा किया हुआ था। वह गांजा पीता और फिर श्रद्धा को मारता और जैसे ही उसका नशा उतरता वह फिर से गांजा पी लेता था। श्रद्धा के दोस्तों ने इस बात की पुष्टि की है कि श्रद्धा को अफताब के गांजा पीने के बारे में पता था जो उसे बिल्कुल भी पसंद नहीं था।

 इतना ही नहीं अफताब शराब भी पीता था वो बीयर का सेवन सबसे ज्यादा करता था। ‌ आपको यह बात जानकर और ज्यादा हैरानी कि 18 मई के दिन श्रद्धा की हत्या करने के बाद अफताब ने कई सारी बीयर पी थी।

मर्डर के बाद अफताब ने क्या किया ?

18 मई को श्रद्धा का मर्डर करने के बाद अफताब ने मर्डर को छुपाने की हर तैयारी कर ली थी किसी को भी यह शक ना हो कि अब श्रद्धा इस दुनिया में नहीं है इसके लिए अफताब श्रद्धा के दोस्तों को खुद उसके मोबाइल से टेक्स्ट किया करता था।

इतना ही नहीं अफताब ने श्रद्धा का credit card का बिल भी भर दिया था ताकि क्रेडिट कार्ड वाली कंपनी उसकी जांच पड़ताल ना करें।

इसके अलावा अफताब ने श्रद्धा के बैंक अकाउंट से ₹54000 भी अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर लिए थे।

शुरुआत में जब पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही थी तब अफताब ने पुलिस को गुमराह करने के लिए कहा कि श्रद्धा उसे झगड़ा करके घर छोड़कर चली गई है।

लेकिन जब उन्हें महाराष्ट्र के किसी जंगल जैसे इलाके से श्रद्धा का फोन मिला और उन्होंने उसकी ट्रांजैक्शन हिस्ट्री वगैरा चक्की तब उन्हें एक पैसे ट्रांसफर की transaction देखने को मिली जो अफताब को की गई थी।

और जब इस transaction के बारे में पुलिस ने पुलिस ने आरोपी से पूछा तो वह इसका जवाब देने में चूक गया और यहीं पर वो पकड़ा गया।

बहुत ही बेरहम है आरोपी अफताब !

श्रद्धा को इतनी बुरी तरह से मारने और उसके लाश के इतने टुकड़े करने के बाद भी अफताब को अपने किए का जरा सा भी अफसोस नहीं है।

यहां तक कि जब भी वो police जांच में श्रद्धा के शव के टुकड़ों को देख रहा था तो अफसोस जताने की जगह हंस रहा था।

मैदानगढ़ी के तालाब में मिलेगी श्रद्धा की खोपड़ी

काफी जांच पड़ताल करने के बाद पुलिस को यह खबर मिली है कि मैदानी गढ़ में एक बड़ा सा तालाब है जो शाम के समय काफी सुनसान हो जाता है और ऐसा पुलिस को लग रहा है कि अफताब ने श्रद्धा की खोपड़ी यानी कि उसके सर को इसी तालाब में फेंका है इसके अलावा यहां पर श्रद्धा के शरीर के और भी कई हिस्से मिलने की संभावना है। पुलिस ने तलाब की जांच करने के लिए कई बड़ी-बड़ी मशीनें मंगाई है। ‌

श्रद्धा मर्डर केस में कहां तक पहुंच चुकी है जांच ?

जैसा कि हमने आपको बताया कि श्रद्धा मर्डर केस भारत के सबसे बड़े हत्याकांड में से एक है इसीलिए पुलिस इसकी जांच पड़ताल में पूरी तरह से जुटी हुई है और हर दिन इसके इसके बारे में नई खबरें उन्हें मिल रही है।

श्रद्धा को मारने के बाद अफताब ने उसके शव के टुकड़ों को जिस जिस जगह में फेंका था पुलिस उन सभी जगहों की जांच कर रही है। छतरपुर व महरौली के जंगलों में पुलिस को कुछ हड्डियां मिली है जो किसी जानवर की नहीं लग रही है! पुलिस ने हड्डियों को फॉरेंसिक लैब में भेजा है लेकिन अभी तक रिपोर्ट सामने नहीं आई है।

इसके अलावा दिल्ली कोर्ट द्वारा यह फैसला जारी किया गया है कि महरौली हत्याकांड के दोषी अफताब का 5 दिन के अंदर ही नार्को टेस्ट कराया जाए।

इसके अलावा पुलिस अफताब को गुड़गांव की कंपनी में अपने साथ लेकर गई है जहां अफताब काम किया करता था। साथ ही साथ उसके मोबाइल को भी फॉरेंसिक लैब में जांच के लिए भेज दिया गया है।

काफी पूछताछ करने के बाद आरोपी अफताब ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अपना जुर्म कबूल करते हुए अफताब ने इंग्लिश में कहां है – ” Yes, I killed her”.

इतना ही नहीं पुलिस अब भी श्रद्धा के शव के टुकड़ों को खोजने में ही लगी हुई है। अफताब को धमकाने के बाद उसने पुलिस को बताया है कि उसने किस किस जगह पर श्रद्धा के बॉडी के टुकड़े फेंके थे अब पुलिस उन्हीं जगहों पर जांच कर रही हैं।

खबरों में यह भी सुनने को मिला है कि अफताब श्रद्धा को 3 साल से धोखा दे रहा था वह उसके अलावा भी वह डेटिंग एप्स पर दूसरी लड़कियों से बात करता था और इस मर्डर के बाद उसने एक लड़की को अपने उसी फ्लैट पर बुलाया था जिसमें वह श्रद्धा के साथ रहता था और जिस समय वह लड़की के फ्लैट में आई थी उस समय श्रद्धा के बॉडी के टुकड़े वहीं पड़े हुए थे।

इस हत्याकांड के बारे में 14 लोगों से अब तक पूछताछ की जा चुकी है और हर कोई इस मामले में कोई नई बात ही बता रहा है।

दिल्ली पुलिस का यह मानना है कि अगर अफताब का नार्को टेस्ट कराया गया तो इससे उन्हें आरोपी के खिलाफ सबूत इकट्ठे करने में मदद मिलेगी।

जिस फ्लैट में अफताब ने श्रद्धा की हत्या की थी उसमें जो खून के सैंपल मिले हैं उन्हें भी टेस्ट के लिए भेज दिया गया है।

श्रद्धा के बॉडी के अब तक के 13 टुकड़े मिल चुके हैं जिन्हें DNA टेस्ट के लिए भेज दिया गया हैं और इस टेस्ट को करने के लिए श्रद्धा के जबड़ों का भी सहारा लिया गया है।

सूत्रों से यह भी पता चला है कि दिल्ली आने से पहले श्रद्धा अफताब के साथ मुंबई वाले मकान में करीब दस महीने से किराए के apartment में रह रही थी।

इस हत्याकांड के बाद श्रद्धा के पिता विकास वाकर की पुलिस से यही दरख्वास्त है कि वे आरोपी अफताब को फांसी की सजा दें।

FAQ

Q: श्रद्धा का पूरा नाम क्या है?

Ans: श्रद्धा वॉकर

Q:श्रद्धा वॉकर की जाती क्या थी? 

Ans:वह हिंदू धर्म में कोली जाति से संबंध रखती थी।

Q: श्रद्धा वॉकर कहां रहती थी?

Ans: श्रद्धा हत्याकांड की मृतिका श्रद्धा अपने ब्वॉयफ्रेंड अफताब के साथ दिल्ली में लिव इन रिलेशनशिप में रहती थी।

Q:श्रद्धा वॉकर कितने साल की थी?

Ans:श्रद्धा वॉकर की आयु 27 वर्ष थी।

Q:श्रद्धा कहां जॉब करती थी?

Ans:श्रद्धा एक कॉल सेंटर में नौकरी करती थी।

होम पेज यहाँ क्लिक करें

Other Links-

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here