Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
ताज़ा खबर

स्माल वंडर टीवी सीरियल | Small wonder tv serial in hindi

Small wonder TV serial in hindi स्माल वंडर टीवी सीरियल नब्बे के दशक में संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में होने वाली टीवी शो के दरमियाँ बहुत मक़बूल शो था, जिसकी वजह इस सीरियल में हुए नए प्रयोग की सफलता थी. ये एक ‘साइंटिफिक फिक्शन सिटकॉम’ शो था. सिटकॉम दरअसल कॉमेडी का वह रूप है जहाँ दर्शकों को पात्रों के व्यवस्था और अव्यवस्था पर हँसी आती है. इस सीरियल का पहला एपिसोड अमेरिका के एक चैनल ‘फर्स्ट रन सिंडिकेशन’ पर 7 सितम्बर सन 1985 में प्रसारित हुआ. शो में एक रोबोटिक्स इंजिनियर के परिवार के विषय में दिखाया गया है, जो चुपके से एक ऐसे रोबोट का निर्माण करता है, जो देखने में एक छोटी सी लड़की की तरह लगता है. कालांतर में ये परिवार उसे गोद लिए हुए बच्चे की तरह रखने लगता है.

Small_Wonder

स्माल वंडर टीवी सीरियल की कहानी (Small wonder tv serial story in hindi)

इस सीरियल की कहानी V.I.C.I (वौइस् इनपुट चाइल्ड आइडेंटिकैंट), जिसे संक्षिप्त में विकी कह कर पुकारा जाता है, के इर्द गिर्द घूमती है. ये एक रोबोट है जो पूरी तरह से एक दस वर्षीय बच्ची के रूप मर नज़र आती है. इसका निर्माण सीरियल का एक किरदार टेड लॉसन के हाथों, अपाहिज बच्चो की सेवा के लिए होता है, लेकिन एक यन्त्र आखिर एक यन्त्र ही होता है. वो भावनाएँ नहीं समझ सकता. अतः लॉसन इस स्वनिर्मित रोबोट को अपने घर ले आते है. उनका मानना होता है कि मानव परिवार में रहकर ये रोबोट मानव जीवन के मूल्यों को समझ लेगा. VICI तकनीक से निर्मित इस रोबोट में एक महामानव तक कि शक्ति निहित होती है, जिसकी सहयता से ये रोबोट बहुत तेज़ गति में दौड़ सकता है. इस रोबोट में पीछे की तरफ सभी महत्वपूर्ण प्रोग्रामिंग बटन होती है. रोबोटिक्स का ये परिवार इसे एक अनाथ बच्ची की तरह क़ानूनी रूप से अपनाता है.

हालाकिं ये परिवार इस रोबोट को अपनी बच्ची की तरह मानता है, पर है तो फिर भी ये एक यन्त्र ही. लासन का समस्त परिवार इस बच्ची के रोबोट होने का सत्य सबसे छुपा के रखने की पूर्ण कोशिश करता है, किन्तु इस परिवार का एक ढीठ पडोसी ब्रिन्द्लेस इस बात को मानने से इनकार करता है कि ये एक साधारण बच्ची है. और हर उस मौक़े को परखने की कोशिश में रहता है, जहाँ विकी कुछ अनोखा करे. इसी के साथ एक और पडोसी जोकि टेड के पिता के कलीग थे, वे भी इन मौकों की ताक में रहते है. सीरियल के आगे बढ़ने के साथ साथ विकी को टेड मानव सभ्यता सीखने की कोशिश करता है, जिसके दौरान कई व्यंगात्मक पल आते हैं जो लोगों का मनोरंजन करने में अतिसक्षम होते है. कई कोशिशो के बाद भी इस रोबोट के बोलने का तरीक़ा उनकी सभी मेहनतों पर बार बार पानी फेर देता है.

स्माल वंडर सीरियल के कलाकार और पात्र (Small wonder tv series cast)

ये एक अनोखे तरह का सीरियल होने की वजह से इसमें कई बहुत अच्छे अभिनेताओं को लिया गया था. नीचे कुछ प्रमुख किरदारों और अभिनेत/ अभिनेत्रियों के नाम दिए जा रहे हैं.

किरदार के नाम अभिनेता के नाम
टेड लासन डिक क्रिस्टी
जोआन लासन मरला पेंनिंगटन
जैमी लासन जेरी सुप्रियन
हेरिएट ब्रिन्डल एमिली स्कुलमन
विक्टोरिया विकी टिफ़नी ब्रिस्सेटे

स्माल वंडर सीरियल में ख़ास (Small wonder tv series)

इस सीरियल के पीछे की सोच ही इस सीरियल की सबसे ख़ास बात थी. एक ऐसे पात्र की कल्पना जो है तो एक यन्त्र परन्तु उसे कोई परिवार अपने अंतर्गत रख कर उसकी परवरिश एक दत्तक पुत्री की तरह करता है, अपने आप में अद्भुत था. इस सीरियल में कॉमेडी के लिए अलग से प्रयास नहीं करना पडा. इस रोबोट की वजह से इस परिवार में होने वाले हंगामे ही लोगों को हँसाने के लिए बहुत अधिक थे. इस सच को अपने पड़ोसियों से छुपाये रखने की चुनौती भी हंसने- हँसाने में सफ़ल होती थी. ये रोब्टिक पात्र ‘विकी’ की सच्चाई बस उसके परिवार और कुछ ख़ास पहचान के लोगों तक सीमित थी. विकी को स्कूल भी भेजा जाता था ताकि वो अन्य बच्चों के क्रियाकलापों को देखते हुए उसे ख़ुद में समाहित कर सके. लेकिन यन्त्र में सोचने की क्षमता नहीं होती है, अतः स्कूल में भी ऐसी परिस्थितियां बन जाती थी, कि दर्शक ख़ुद ब ख़ुद हंस देते थे.

विकी में कुछ ऐसी क्षमतायें भी थीं, जो लोगों को आश्चर्य में डाल देती थी और लासन परिवार को सच छुपाने की मुसीबत में. विकी किसी भी कमरे से अपनी गर्दन लम्बी करके दरवाज़े के ‘पीप होल’ तक पहुँच जाती थी. विकी अपनी साइज़ कम करके एक गुडिया भर की हो सकती थी या अपना क़द बढ़ा कर दस फीट की भी हो सकती थी. विकी के इन सभी गुणों को लासन परिवार छुपाने की पूर्ण कोशिश करता था, ताकि बाहरी लोगों को उसके सच का पता न लग जाए.

स्माल वंडर का अंतर्राष्ट्रीय स्तर का प्रसारण (Small wonder tv series international)

इस सीरियल को इसके अनोखेपन की वजह से खूब ख्याति मिली. सीजन ख़त्म हो जाने के बाद भी इसकी लोकप्रियता को देख कर, इसका पुनः प्रसारण सिंडिकेशन के कई स्टेशनों पर हुआ. इसके बाद इसे अमरीका के किसी भी चैनल पर नहीं चलाया गया. काफ़ी लम्बे समय बाद 10 जनवरी 2015 में ऐन्टेना टीवी पर इसका पुनः प्रसारण शुरू हुआ है.

यूनाइटेड किंगडम में इसका प्रसारण क्षेत्रीय तौर पर itv नेटवर्क पर कई जगह जनवरी 1986 से 1988 के अन्त तक किया गया. इस दौरान इस पर सिर्फ प्रथम दो सीजन का प्रसारण हुआ. इसके बाद नॉर्वे की एक टीवी चैनल स्काई वन ने भी इसका प्रसारण 1988 से 1990 के मध्य किया. इटली में 1980 के मध्य में इटालिया 1 नामक चैनल पर इसका प्रसारण हुआ, जोकि ‘सुपर विकी’ के नाम से हुआ. फ्रांस में ‘पेटीट मेर्वेइल्ले’ के नाम से कैनाल प्लस पर इसका प्रसारण हुआ. इस दौरान दिसम्बर 1985 में स्पेन के ऐन्टेना 3 टेलीविज़न नाम के चैनल पर इसका प्रसारण ‘अन रोबोट एन कैजा’ के नाम से हुआ. इसके अतिरिक्त एशिया के कई देशों ने जैसे भारत, पाकिस्तान, चाइना आदि  अपने अपने तरीक़े से इसका प्रसारण नब्बे के दशक में करते रहे. 

भारत में ये टीवी सीरीज ‘करिश्मा का करिश्मा’ के नाम से प्रसारित हुई.

स्माल वंडर सीरियल अवार्ड (Small wonder tv series awards)

इस सीरियल में हेरिएट ब्रिद्द्ल के किरदार में नज़र आने वाली एमिली स्कुलमन को सन 1986 और 1987 में ‘यंग आर्टिस्ट अवार्ड’ से नवाज़ा गया.

स्माल वंडर सीरियल से जुड़ी कुछ मुख्य बातें (Small wonder tv series)

सीरियल का नाम स्माल वंडर
जेनर कॉमेडी साइंटिफिक फिक्शन (सिटकॉम)
निर्देशक पीटर बाल्डविन ,जॉन बोवाब, बॉब क्लावेर, डिक क्रिस्टी, लिंडा डे, सेलिग फ्रैंक, लेसली एच मार्टिनसन  
थीम म्यूजिक कंपोजर रोड एलेग्जेंडर, होवार्ड लीड्स, दिअने लेस्ली
ओपनिंग थीम ‘शी इज ए स्माल वंडर’
भाषा इंग्लिश
एपिसोड की संख्या 96
एपिसोड का समय 22 मिनट
सीजन 4
बैनर स्माल वंडर वेंचर, मेट्रोमेडिया विडियो प्रोदुक्शन, 20 सेंचुरी फॉक्स टेलीविज़न 
मुख्य नेटवर्क सिंडिकेशन
वर्ष 7 सितम्बर 1985 से 20 मई 1989

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *