SMAM Kisan Yojana : खेती किसानी में उपयोग आने वाली मशीन को खरीदें सरकार की मदद से, जाने कैसे उठा सकते है लाभ

आप अगर खेती किसानी के काम से जुड़े है, तो आपको अंदाजा होगा कि खेती के यंत्र कितने महंगे आते है. हजारों, लाखों के आने वाले ये यंत्र हर कोई किसान नहीं खरीद सकता है. इन यंत्रों का निर्माण इसलिए हुआ है कि किसानों को खेती में कम से कम शारीरिक मेहनत करनी पड़ी, जितना हो सके मशीनों द्वारा काम हो, मनुष्य काम कम होता जाये. लेकिन महंगी कीमत की वजह से हमारे भारत देश के अधिकतर किसान इसे खरीद पाने में असमर्थ होते है. सरकार अब किसानों की मदद के लिए एक बड़ा कदम उठा रही है. सरकार ने कृषि यंत्रों को खरीदी पर किसानों को अनुदान देने की घोषणा की है. केंद्र सरकार ने स्माम किसान योजना की घोषणा करते हुए बताया है कि खेती की बड़ी से बड़ी मशीन उपकरण की खरीद पर अब सरकार किसानों को सब्सिडी देगी, जिससे किसानों को आर्थिक मदद मिल सके. चलिए विस्तार से जानते है कि योजना क्या है, कैसे किसानों को सब्सिडी मिल रही है, आवेदन होगा.

smam-kisan-yojana-hindi

किसान क्रेडिट कार्ड योजना – लॉक डाउन में बनेंगे 2.5 करोड़ केसीसी कार्ड, जानिए प्रक्रिया

कृषि यंत्र अनुदान योजना (स्माम किसान योजना) की विशेषताएं है –

  • योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आर्थिक मदद करना है. इसके साथ ही सरकार देश में आधुनिक खेती को बढ़ावा देना चाहती है. जिससे देश में खेती कर हम दुसरे देश में निर्यात भी कर सकें.
  • योजना के तहत सरकार किसानों को जो यंत्र खरीदी पर अनुदान दे रही है, उससे उन्हें बहुत हद तक आर्थिक मदद मिलने वाली है. किसानों की शरीक मेहनत कम होगी, खेती में इजाफा होगा, जिससे उन्हें सही कीमत भी मिलेगी और किसानों की आय दोगुनी होगी.
  • सरकार योजना के तहत जितने भी खेती में उपयोग आने वाले यंत्र, मशीन है, उसकी खरीदी पर 50 से 80 % तक का अनुदान देने जा रही है. मतलब बहुत ही सस्ती कीमत पर किसान को मशीन मिल जाएगी, जिसके लिए उन्हें बहुत कम खर्चा उठाना पड़ेगा.

किसानों के उपर से आर्थिक बोझ हटाने के लिए सरकार की प्रमुख कल्याणकारी योजना में से एक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना है, जिसमें सीधे किसान सरकार से पैसे प्राप्त कर रहे है.

स्माम किसान योजना के लाभ –

  • योजना का मुख्य लाभ यह है कि इससे किसानों के उपर आर्थिक बोझ कम हो जायेगा.
  • आधुनिक मशीन के प्रयोग से खेती की उपज अच्छी और उच्च कोटि की होगी. जिससे किसानों को उसकी कीमत भी बहुत अच्छी मिलेगी.
  • कृषि यंत्र मशीन की आधी से ज्यादा कीमत तो सरकार दे रही है, तो किसानों को बहुत कम खर्चा उठाना होगा.
  • सरकार से सब्सिडी के साथ योजना में लोन देने की भी घोषणा की है. मतलब किसान कृषि यंत्र को लोन लेकर खरीद सकते है, फिर अनुदान राशी मिल जाने पर उसे समय-समय पर लौटा भी सकते है. किसानों को इसके लिए सरकार से अलग से लोन के लिए आवेदन करना होगा.
  • अब किसान आधुनिक मशीन के द्वारा अपनी बड़ी-बड़ी से जमीन पर भी आसानी से मशीन द्वारा खेती कर सकते है.

प्रधानमंत्री शिकायत नंबर – अब ऑनलाइन घर बैठे करें प्रधानमंत्री से सीधे शिकायत, मिलेगा जल्द से जल्द हल

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना पात्रता मापदंड –

  • कृषि यंत्र सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए जरुरी है कि किसान के पास भारत देश का मूल निवासी पत्र हो मतलब उसके पास भारत की नागरिकता हो.
  • कृषि यंत्र सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए जरुरी है जी भी किसान आवेदक योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करेगा उसके पास खुद के नाम पर खेती योग्य जमीन हो. अगर जमीन दुसरे के नाम पर होगी तो योजना का लाभ नहीं मिलेगा.
  • इसके साथ ही किसान को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि जो जमीन उसके पास है, उसमें वो खेती ही करता है, अन्य किसी काम में उपयोग नहीं आती है.
  • योजना का लाभ छोटे, लघु सीमान्त किसानों हो ही मिलेगा. अगर कोई सामान्य अच्छी आय वाला व्यक्ति झूठे कागज दिखाकर आवेदन करता है, तो जांच पड़ताल के बाद उस पर बड़ी कार्यवाही की जाएगी.
  • इसके साथ ही अनुसूचित जाति एवं जनजाति, पिछड़ा वर्ग के किसानों को योजना के तहत विशेष लाभ दिया जायेगा.
  • योजना में महिलाओं को भी शामिल किया गया है, अगर आवेदक महिला है तो उसकी जानकारी की जांच करके उसे पहले प्राथमिकता दी जाएगी.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना जरुरी दस्तावेज

  • योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक अपना आधार कार्ड आईडी के रूप में जमा करें.
  • किसान को अपनी खेती योग्य जमीन का पूरा ब्यौरा देना भी अनिवार्य होगा. जमीन के असली कागज के साथ-साथ उसकी फोटोकॉपी भी फॉर्म में लगनी होगी.
  • बैंक की जानकारी
  • पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ
  • मूल निवासी पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र – अगर आप किसी विशेष जाति के है, तो लाभ प्राप्त करने के लिए जाति प्रमाण पत्र की कॉपी फॉर्म के साथ जरुर संलग्न करें.

प्रधानमंत्री ट्रेक्टर योजना के तहत सरकार देती हैं किसानों को ट्रेक्टर खरीदने के लिए 5 लाख रूपये, जाने क्या करना होगा इसके लिए.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना आवेदन फॉर्म प्रक्रिया –

स्माम किसान योजना का कार्यभार केन्द्रीय सरकार ने सभी राज्यों की सरकार को दे रखा है. आप अगर इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो आपको अपने राज्य के कृषि विभाग पोर्टल में जानकारी देखनी होगी. कुछ राज्यों में ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन हो रहे है. कुछ राज्यों में सोर्फ़ ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया ही संचालित हो रही है. अतः आप जिस राज्य के भी है वहां के कृषि विभाग पोर्टल में जाकर जानकारी देखें. जहाँ आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है. ऑफलाइन आवेदन के लिए आपको करीबी सीएससी सेण्टर या कृषि विभाग ऑफिस में जाना होगा.

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना (स्माम किसान योजना) हेल्पलाइन नंबर –

  • उत्तराखंड : 0135 – 2771881
  • उत्तरप्रदेश : 9235629348, 0522 – 2204223
  • राजस्थान : 9694000786
  • पंजाब : 9814066839, 01722970605
  • मध्यप्रदेश : 7552418987, 0755 – 2583313
  • झारखंड : 9503390555
  • हरियाणा : 9569012086
  • बिहार : 9431818911, 9431400000

सरकार की इस कृषि अनुदान योजना से जुडी कुछ भी शिकायत है तो आप उपर बताये नंबर पर कॉल कर शिकायत कर सकते है, साथ ही अधिकारीयों से जानकारी भी ले सकते है.

अन्य पढ़ें –

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *