सोनू सूद का जीवन परिचय, परिवार, धर्म, हेल्पलाइन नंबर | Sonu Sood Biography in Hindi Foundation

सोनू सूद का जीवन परिचय (जन्म, उम्र, धर्म, परिवार, शिक्षा, लॉकडाउन, हेल्पलाइन नंबर, फोन नंबर, अधिकारिक वेबसाइट, प्रवासी रोजगार) [Sonu Sood Biography in Hindi] (Birth, Religion, Caste, Education, Net worth, Official Website, Foundation, Lockdown Help, Toll free Helpline Number, Phone Number)  

दबंग मूवी का वह मशहूर डायलॉग तो आपको याद ही होगा जो सलमान खान ने मूवी के विलन सोनू सूद को कहा था। दबंग फिल्म में सोनू सूद विलेन के किरदार में नज़र आये जिसका नाम था छेदी सिंह। छेदी सिंह दबंग मूवी का विलेन असल लाइफ में एक बहुत जाना माना हीरो है। जिसने भले ही फिल्मों में अभिनेत्रियों को अभिनय के दौरान सताया हो डराया हो और धमकाया भी हो लेकिन असल जिंदगी में वे रील लाइफ से बिल्कुल उल्टे हैं। मसीहा की तरह लॉकडाउन के समय में सोनू सूद ने लोगों की मदद करने का जो बीड़ा उठाया था उससे उनका नाम आज बच्चे बच्चे की जुबान पर आ गया है। सोनू सूद के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके जीवन के कुछ बेहतरीन हिस्से चुनकर आज हम अपनी इस पोस्ट में लेकर आए हैं जिन्हें पढ़कर आपको बेहद अच्छा लगेगा। 

sonu sood biography in hindi

सोनू सूद का जीवन परिचय

सोनू सूद का जन्म, उम्र, धर्म, परिचय (Birth, Age, Religion, Introduction)

नाम सोनू सूद
निक नेम सोनू
पेशा अभिनेता, मॉडल, प्रोडूसर
जन्मतिथि 30 जुलाई 1973
जन्म स्थान मोगा, पंजाब
उम्र 47
शिक्षा इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग
स्कूल का नाम  सेक्रेड हार्ड स्कूल
कॉलेज का नाम व्हाई सीसी इंजीनियरिंग कॉलेज,
नागरिकता भारतीय
शैक्षणिक योग्यता इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन
जाति हिन्दू
धर्म हिन्दू
वैवाहिक स्थिति विवाहित
नेटवर्थ 17 मिलियन डॉलर
हेल्पलाइन नंबर 1800-121-664422 एवं 1800-121-3711
व्हाट्सअप नंबर 9321472118
अधिकारिक वेबसाइट रोजगार पोर्टल
हेल्प पोर्टल

सोनू सूद का प्रारंभिक जीवन (Early Life)

रील लाइफ का विलेन रियल लाइफ का हीरो है जो पंजाब प्रांत के मोगा में पैदा हुआ और वहीं पर बढ़ा हुआ। 30 जुलाई 1973 को जन्मा एक बच्चा किसी ने सोचा भी ना था कि वह आसमान की बुलंदियों को छूकर इंसानियत की एक नई मिसाल कायम करेगा।

सोनू सूद शिक्षा (Education)

सोनू सूद स्कूली शिक्षा मोगा में ही स्थित सेक्रेड हार्ड स्कूल से करने के बाद कॉलेज की शिक्षा प्राप्त करने के लिए व्हाई सीसी नागपुर चले आए। मॉडलिंग में दिलचस्पी तो बचपन से ही थी जिसे प्रोफेशनल रूप देने के लिए उन्होंने यशवंतराव चौहान कॉलेज में दाखिला ले लिया। हाल की मॉडलिंग के चलते उन्होंने अपनी पढ़ाई से कोई समझौता नहीं किया इलेक्ट्रॉनिक्स में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करके एक इंजीनियर भी बन चुके हैं। उनके पिता शक्ति सागर सूद भी बेहद दिलचस्प इंसान थे, और पेशे से एक इंटरप्रेनुयर थे तथा माता सरोज सूद एक अध्यापिका के रूप में कार्यरत थी।

सोनू सूद का परिवार (Family Table)

नाम सोनू सूद
पिता का नाम शक्ति सागर सूद
माता का नाम सरोज सूद
पत्नी का नाम सोनाली सूद
बहन मालविका और मोनिका सूद
बच्चे इशांत और अयान

सोनू सूद पत्नी एवं परिवारिक जीवन (Wife and Family Detail)

वैसे तो पूरा भारत देश की उनका एक परिवार है ऐसा उन्होंने ही अपने इंटरव्यू के दौरान कहा लेकिन उनके परिवार में उनकी पत्नी जिसका नाम सोनाली सूद है और उनके दो बच्चे हैं। उनकी दो बहनों के नाम मालविका और मोनिका सूद है। उनके दोनों बच्चों के नाम इशांत और अयान है। सोनू सूद ने अपने जीवन में अब तक जो भी कार्य किए हैं उनको लेकर उनके परिवार के हर सदस्य को उन पर गर्व है।

सोनू सूट का फिल्मी करियर (Bollywood Career)

मॉडलिंग के बाद एक चमकता हुआ सितारा जिसने तमिल फिल्मों से एक्टिंग करियर की शुरुआत की। एक हिंदू परिवार से संबंध रखने वाले सोनू सूद अपने काबिलियत के दम पर 1999 में अभिनय को अपना करियर बना कर अपनी राह पर चल पड़े। उनके करियर की सबसे पहली फिल्म तमिल भाषा में थी जिसका नाम कलजघर था। उन्होंने बॉलीवुड में भी अपना सिक्का आजमाने की कोशिश की जिसमें साल 2002 में शहीद ए आजम फिल्म में निभाया गया भगत सिंह का उनका किरदार बहुत ही मशहूर हुआ। दर्शकों को वह किरदार बेहद पसंद आया जिसके बाद उन्होंने 2005 में आशिक बनाया आपने फिल्म से अपना जलवा बिखेरना शुरू किया। सोनू सूद ने अपने फिल्मी करियर में बहुत सारी बॉलीवुड की और तमिल फिल्मों में अपना अभिनय दिखाया और आगे बढ़कर बॉलीवुड की सबसे बड़ी फिल्में जैसे जोधा के भाई राजकुमार सूजा मल के रूप में फिल्म जोधा अकबर में अहम भूमिका निभाई। इसके बाद दबंग के किरदार से तो वे लोगों के दिलों पर छा गए। 

सोनू सूद उपलब्धियां (Awards and Achievement)

गरीबों के मसीहा ने रियल लाइफ में तो लोगों की बहुत सी दुआएं बटोरी, लेकिन उनके अभिनय कैरियर के लिए भी उन्हें काफी सारी उपाधियों से नवाजा गया। उनकी कुछ महत्वपूर्ण उपलब्धियां इस प्रकार हैं:- 

  • दबंग मूवी में अपने विलेन के किरदार के लिए नेगेटिव रोल की श्रेणी में उन्हें साल 2009 के दौरान आइफा और अप्सरा अवार्ड से नवाजा गया।
  • इसके अलावा तेलुगू ब्लॉकबस्टर मूवी जिसे दर्शक बेहद पसंद करते हैं और उन्नति के लिए भी साल 2009 में उन्हें बेस्ट विलन के लिए नंदी अवार्ड दिया गया।।
  • साल 2012 में भी सोनू सूद को बेस्ट विलन SIIMA अवार्ड से नवाजा गया। 

सोनू सूद फाउंडेशन (Foundation)

सोनू सूद ने कोरोना काल में जरूरत मंद लोगों की मदद करने के लिए एक फाउंडेशन की शुरुआत की है जिसका नाम है ‘सूद चैरिटी फाउंडेशन’. यह फाउंडेशन के साथ कई सारे बॉलीवुड अभिनेता एवं अभिनेत्री ने अपना योगदान भी दिया.

सोनू सूद लॉकडाउन में सहायता (Lockdown Help)

गरीबों के मसीहा सोनू सूद ने पूरे विश्व में आई सबसे बड़ी मुसीबत का सामना किया और साथ ही भारत के लोगों को भाई-बहन के नाम से संबोधित करते हुए दिलों जान से उनकी मदद की। एक फरिश्ते की तरह सोनू सूद ने अपने खुद के मेंबर्स को मिलाकर एक टीम तैयार की और लाखों प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए। कोरोना महामारी के चलते जहां एक तरफ पूरे देश में लॉकडाउन लगा दिया गया रेल सेवा और हवाई सेवा तक ठप पड़ गई वहीं सोनू सूद अपने घर से बाहर निकले और उन्होंने हर संभव प्रयास करके उन लोगों की मदद की जो दूसरे राज्यों में फस गए थे। उन लोगों को खाने-पीने से लेकर रहने और यातायात से संबंधित हर सुविधा उपलब्ध करवाकर उन्हें उनके घर तक पहुंचाने का काम सोनू सूद ने किया जिसकी वजह से उन्हें देश का हर बच्चा आज दुआ देता है।  

सोनू सूद अधिकारिक वेबसाइट (Pravasi Rojgar Sonu Sood Website)

जब सरकार ने भी अपने हाथ पैर बांध लिए और लोगों की मदद करने से पीछे हट गए तब अपने 47 में जन्मदिन के अवसर पर उन्होंने एक वेबसाइट एवं एक एप्लीकेशन बनाया जिसे नाम दिया प्रवासी रोजगार । उस वेबसाइट और एप्लीकेशन के जरिए उन्होंने केवल एक ही मकसद को आगे रखा कि कोरोना महामारी के चलते जिन लोगों से उनका व्यवसाय छिन गया था उन्हें रोजगार मुहैया कराया जाए जो जहां रहता है उसे उस ही इलाके में रोजगार की उपलब्धि कराई जाए ऐसा लक्ष्य उस एप्लीकेशन और वेबसाइट के जरिए साधा। 

सोनू सूद मोबाइल नंबर, हेल्पलाइन नंबर (Phone, Helpline Number)

सोनू सूद ने लोगों की मदद करने के लिए हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर जारी किया है जोकि 1800-121-664422 एवं 1800-121-3711 है. इसके अलावा आपको बता दें कि सोनू सूद का व्हाट्सअप नंबर 9321472118 है.

जहां लोगों का इंसानियत से विश्वास उठ गया था वही गरीबों के मसीहा सोनू सूद ने वापस से इंसानियत कायम करते हुए लोगों के दिलों जान से सेवा की और उनकी सहायता की। हालांकि ऐसा उन्होंने पिछले साल ही नहीं वे अब भी लोगों की मदद के लिए लगातार आ गया रहे हैं और लगातार लोगों की परेशानियों का समाधान निकाल रहे हैं। हालांकि लोगों की मदद करते करते पिछले कुछ हफ्तों पहले वह खुद भी कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। लेकिन उन्होंने तब भी हार नहीं मानी आज भी लोग उन्हें फोन करके मदद के लिए पूछते हैं तो वह कभी मना नहीं करते हैं। 

FAQ

Q : सोनू सूद की प्रवासी मजदूरों के लिए बनाई गई वेबसाइट क्या है?

Ans : pravasirojgar.com

Q : सोनू सूद द्वारा जारी वेबसाइट के जरिए जो लोग नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं क्या उनसे कोई पैसा लिया जाएगा?

Ans : नहीं उस पोर्टल के जरिए नौकरी प्राप्त करने की प्रक्रिया पूरी तरह निशुल्क है.

Q : सोनू सूद द्वारा जारी पोर्टल के जरिए अब तक कितने लोगों को नौकरी प्राप्त हो चुकी है?

Ans : एक लाख से ज्यादा

Q : कितनी भाषाओं में जारी किया गया है वह एप्लीकेशन?

Ans :

अन्य पढ़ें –

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here