सृष्टि गोस्वामी कौन है जीवन परिचय Srishti Goswami Biography, Age In Hindi

सृष्टि गोस्वामी कौन है जीवन परिचय srishti goswami biography, uttarakhand cm, age, height, Father Name, Mother Name, Family, who is srishti goswami in hindi,

फिल्में तो आपने बहुत सी देखी होगी जहां हीरो और हीरोइन 1 दिन के सीएम या फिर महत्वपूर्ण पद पर अपनी भूमिका निभाते हुए दिखाई देते हैं। यदि ऐसी एक घटना जो फिल्मों में देखी हो और असल जीवन में हो जाए तो सब हक्के बक्के रह जाते हैं। जी हां उत्तराखंड राज्य में स्तिथ एक छोटे से गांव की कॉलेज की छात्रा 1 दिन की मुख्यमंत्री के रूप में दिखाई देगी। आपने बिल्कुल ठीक पढ़ा 24 जनवरी 2021 जिस दिन को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में भी मनाया जाता है उस दिन आयोजित होने वाले बाल सभा सत्र के दौरान उत्तराखंड राज्य का 1 दिन का मुख्यमंत्री उस बालिका को बनाया जाएगा। आइए जान लेते हैं विस्तार पूर्वक…

सृष्टि गोस्वामी कौन है

नाम Name सृष्टि गोस्वामी Shrishti Goswami
जन्म Date of Birth 2002
शिक्षा Education B.Sc Agriculture at BSM PG College Roorkee
आयु Age 19
पिता का नाम Father’s Name प्रवीण
माँ का नाम Mother’s’ Name सुधा
पिता का कार्य व्यापार
   

कौन होगी 1 दिन की मुख्यमंत्री?

हरिद्वार के एक छोटे से गांव दौलतपुर में रहने वाली सृष्टि गोस्वामी को एक दिन का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। रुड़की में स्थित बीएसएम पीजी कॉलेज बीएससी एग्रीकल्चर की पढ़ाई करने वाली सृष्टि पढ़ाई के साथ-साथ बालिका विकास कार्यों के साथ जुड़ चुकी है। 24 जनवरी राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष पर सृष्टि गोस्वामी को उत्तराखंड राज्य का 1 दिन का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। आमतौर पर उत्तराखंड में हर 3 साल पर एक बाल विज्ञान सभा का गठन सरकार द्वारा किया जाता है। इस साल 2021 में 3 साल में एक बार होने वाले बाल विधानसभा गठन का कार्यक्रम 24 जनवरी 2021 को राष्ट्रीय बालिका दिवस पर किया जाएगा।

विभागों की जांच पड़ताल करेगी सृष्टि

आपको जानकर हैरानी होगी कि राज्य के कई सारे विभाग के अधिकारी मुख्यमंत्री सृष्टि गोस्वामी के सामने राज्य के मौजूदा हालात को लेकर प्रेजेंटेशन देंगे। उन प्रेजेंटेशन की समीक्षा करते हुए सृष्टि उन विभागों में होने वाले सुधारों के बारे में सुझाव भी दे सकते हैं। सभी मुद्दों में से सबसे ज्यादा सृष्टि बालिकाओं से जुड़े मुद्दों पर अधिक ध्यान देंगी। इतिहास में पहली बार राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर बालिका सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए सरकार ने यह अहम फैसला लिया है। सरकार के इस फैसले से सृष्टि ने अपने राज्य को और अधिक गौरवान्वित कर दिया है और साथ ही अपने शुभचिंतकों के लिए धन्यवाद दिया है।

सृष्टि गोस्वामी का परिवार

साधारण से परिवार में जन्मी सृष्टि के पिता प्रवीण अपने जीवन यापन करने के लिए एक छोटी सी दुकान चलाते हैं और अपने पूरे परिवार का भरण-पोषण करते हैं। साथ ही सृष्टि की मां जिनका नाम सुधा है वह भी बहुत ज्यादा मेहनती हैं जो आंगनवाड़ी की कार्यकर्ता है। सृष्टि का पढ़ाई की और हमेशा से ही जुड़ाव रहा है और सदैव अपने अच्छे प्रदर्शन से अपना नाम रोशन करती आई है। आपको बता दें कि सृष्टि को पहले भी साल 2018 में बालसभा कानून निर्माता के रूप में चुना गया था। उसके बाद साल 2019 में सृष्टि को बालिकाओं के अंतरराष्ट्रीय नेतृत्व के लिए थाईलैंड भी भेजा गया था।

सृष्टि के पिता हमेशा से ही उस पर बेहद गर्व करते हैं उन्होंने बयान में कहा कि शशि को बचपन से ही समाज के लिए कुछ करने की लगन है उसने बालिका सशक्तिकरण के मामलों में सदैव ही अपने बेहतर सुझाव दिए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि वह एक ऐसे सामाजिक संस्था से जुड़ चुकी है जो लड़कियों को आगे पढ़ने और बढ़ने को प्रोत्साहन देती हैं।

गिरी देश में ऐसी लड़कियों और भी हो तो देश का नाम रोशन करने वालों की सूची बहुत लंबी हो जाएगी। सृष्टि गोस्वामी ने ऐतिहासिक कदमों के साथ भारत के राज्य उत्तराखंड का इतिहास बदल कर रख दिया है। जो लड़की इतनी कम उम्र में इतना कमाल कर सकती है सोचा जाए तो वह आने वाले समय में अपने माता पिता के साथ साथ इस पूरे देश का नाम और देशों में भी जाकर रोशन अवश्य करेगी। भारत की ऐसी बेटी पर हर किसी व्यक्ति को आज गर्व है और होना भी चाहिए।

16 comments

  1. सबसे पहले तो मै उत्तराखंड सरकार को धन्यवाद कहना चाहता हूं, जो उन्होंने महिला सशक्तिकरण के लिए इतना अच्छा कदम उठाया है।

    24 जनवरी बालिका दिवस के इस मौके पर बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन देने हेतु सरकार ने देश की बेटी सृष्टि गोस्वामी को, एक दिन कि सीएम बनाने के इस निर्णय से देश भर की बहन और बेटियों को निश्चित ही प्रेरणा मिली है।

    क्यूंकि एक और जहां देश की बेटियां दुनिया भर मै अपना नाम रोशन कर रही है, वहीं दूसरी ओर आज भी ग्रामीण इलाकों में महिलाओं को शिक्षा से दूर रखा जाता है। हमारे गावो मै तो कम उम्र मै लड़कियों की शादी कर दी जाती है। सरकार के इन प्रेरणादाई प्रयासों से देश भर मै महिला सशक्तिकरण के साथ महिला शिक्षा की भी लहर निर्माण होगी।

    बहन सृष्टि को हमारी और से ढेर सारी शुभकामनाएं। सृष्टि जी उन सभी मिडिल क्लास परिवार के छात्रों की लिए प्रेरणा का स्त्रोत है, जो जीवन मै कुछ बड़ा हासिल करना चाहते है। मुझे उम्मीद है कि मेरे सभी भाई बहन सृष्टि जी के इस कार्य से जरूर प्रेरणा लेंगे।
    जय हिन्द जय भारत

  2. Ye bohat achha kadam he. Mujhe lagta he logoko khas karke yuva piri ko motivate karne ke liye bich bich aise kadam lena chaiye. Isme kay hoga ki us generation aur jo new generation ka bachhe honge wo sabhi achhe se jan payenge pad likhne ka mahatva.

    Sabhi ko garv hona chaiye Sristhi Goswami ke upar, kyuki itna kam umra mai bhi apne kam ko bohat achhe tarike ke manage kiya he. Kyuki CM ka pad bohat bada hota he.

    Last me aihe kahunga excuse dena band karo aur apna kam ko achhe se karo aur life me age badho, apme ke sath sath desh ko bhi ahe badao.

  3. ये बहुत बड़ी बात है की सृष्टि गोस्वामी को ऐसा मौका मिल रहा है और मुझे उम्मीद है की वो अपने कार्य को समझेंगी और सही डिसिशन लेंगी |
    श्रृष्टि को देश का नाम रोशन करने का एक अवसर मिला है जो की उनके प्रयास के बिना मुमकिन नही था |

  4. उत्तराखंड सरकार का राष्ट्रीय बालिका दिवस के दिन सृष्टि गोस्वामी को प्रदेश का cm बनाया जाना एक सराहनीय कदम है। इस कदम से न सिर्फ महिला शशक्तिकरण को मज़बूती मिलेगी बल्कि पुरे देश के युवाओं के लिए एक संदेश होगा की यहाँ उनके द्वारा की गयी मेहनत कभी व्यर्थ नहीं जाएगी। और भी प्रदेश की सरकारों को समय-समय पर महिला शशक्तिकरण और युवाओं प्रोत्साहन देने के लिए ऐसे कदम उठाते रहना चाहिए। देश के युवाओं को सृष्टि गोस्वामी को देख प्रेणा लेनी चाहिये और किसी भी परिस्थियों में रहते हुए खुद के साथ-साथ देश के लिए कुछ कर गुजरने की सोचना चाहिए।

    ऐसे ही प्रेणादायक लोगों के बारे समय-समय लिखते रहने के लिए मैं पवन सर और पूरी दीपावली टीम का आभारी हूँ खास कर इस Artical की लेखिका कर्निका जी का आप सभी का काम भी किसी सोशल कार्य से काम नहीं है और राष्ट्रीय बालिका दिवस की पुरे दीपावली टीम को बहुत-बहुत बधाई क्योंकि पवन सर आप की टीम महिला शशक्तिकरण का एक बेहतरीन उदाहरण है।

  5. सर सृष्टि को एक दिन का मुख्यमंत्री क्यों चुना गया इसके बारे में और विस्तार से लिखना चाहिए था जैसे आपने लिखा है ” सृष्टी सामाजिक संस्था से जुड़ चुकी है जो लड़कियों को आगे पढ़ने और बढ़ने को प्रोत्साहन देती हैं।” आपको यहा पर संस्था का नाम ‘आरम्भ’ भी बताना चाहिए था इसके अलावा उसने कुछ और भी विशेष काम किये होंगे जिस कारण उसे एक दिन का मुख्यमंत्री बनाया गया जैसे “वर्ष 2019 में सृष्टि ने गर्ल्स इंटरनेशनल लीडरशिप के लिए थाईलैंड में भारत का प्रतिनिधित्व किया था ” इसका भी उल्लेख करना चाहिए था। मुझे उम्मीद है आप समझ गए होंगे मै क्या कहना चाहता हूँ।

  6. It is really a very proud moment for all girls child as well as for all Indian people. We have such a great talent girls chid. This is really a good initiative for the empowerment of girl child.

    This type of initiative would Definitely remove the Biasness between the male and female child from our society.

    Here I would like to share a quote “Being humane is more appreciable than just being a human being”.

    Jay Hind.

  7. यह उत्तराखंड के लिए बहुत गौरव का दिन है जहां इस देश में बेटियों को पैदा होते ही मार दिया जाता है यह महिला शशक्तिकरण को बढ़ावा देना है जहां बेटो को ज्यादा अहमियत दी जाती है लेकिन बेटियों को उनके पैदा होने से मरने तक सामाजिक प्रताड़ना और उनके शिक्षा के ऊपर सवाल किये जाते है देश के राज्यों मै हर जगह यही स्तिथि है मै भी उत्तराखंड का निवासी हू जहाँ पर मैने देखा है जहाँ पर अच्छी शिक्षा ना होने के कारण उनके शिक्षा मे अवरोध पैदा किया जाता है

  8. This is really good thing to get chance in Chief Minister role for 1 day or whatever.. but this kind of changes need in our country many people’s get motivated. Women empower established… waise to mera koie website nehi hay phir bhi may chata hun ki app muje thora guide kijie..

  9. राम निवास

    बहुत अच्छी जानकारी दी गई है। सृष्टि ने उत्तराखंड का नाम ही रोशन नहीं किया बल्कि, महिला शक्ति का जीता दृष्टांत बन चुकी है। आपने सृष्टि के जीवन परिचय के अलावा उसकी उपलब्धियों को बताकर अनेक बालिकाओं को प्रोत्साहित किया है। यह कहना गलत नहीं होगा कि आपने एक महिला सशक्तिकरण के उदाहरण को इस दृष्टि से प्रस्तुत कर राष्ट्रीय बालिका दिवस को असल में देश की प्रतिभावान बालिकाओं को एक अवसर बना दिया है। क्योंकि इस तरह से एक महत्वपूर्ण प्रेरणा का सुंदर प्रस्तुतिकरण सही मायनों में अन्य लोगों को प्रेरित कर वास्तविक उद्देश्य की पूर्ति कर सकता है। कर्निका जी का शब्द चयन कौशल सराहनीय है।

  10. मैन हैडिंग “सृष्टि गोस्वामी कौन है? जीवन परिचय है” लेकिन इंग्लिश के अनुवाद मैं “Age” भी लिखा है। जो मुजे लगता है कि एक्स्ट्रा ऐड किया गया है।

    सब-हेडिंग में सृष्टि की “हाईट” का भी वर्णन है। लेकिन पूरी पोस्ट में उसकी “हाइट” कितनी है वह नहीं लिखा गया है।

    एक बार विज्ञान सभा का उल्लेख है, तो अगली लाइन में विधान सभा का उल्लेख है।

    सबसे अंत से दूसरे पैराग्राफ में सृष्टि के पिता उसके बारे में कहते हैं। यहां पर “सृष्टि” की जगह “शशि” लिखा गया है।

    सबसे अंत के पैराग्राफ में पहला शब्द “गिरी” देश है। वह मुझे गलत लगता है। गिरी की जगह “अगर” होना चाहिए।

    बहुत ही अच्छा आर्टिकल है।

    धन्यवाद।🙏

  11. सबसे पहले तो मैं सृष्टि गोस्वामी को बहोत बहोत बधाई देता हूं । साथ में, मैं उत्तराखंड की सरकार का तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ , की वो हर 3 साल पर एक बाल विधान सभा का गठन करते हैं। सरकार के इस सराहनीय कदम से हमारे देश के नौजवानों को देश सृजन का मौका मिलेगा । वें भी सहभागिता दिखा पाएंगे ।
    इससे न तो सिर्फ उस राज्य का बल्कि पूरे देश की उन्नति होगी। देश में प्रगति का काम होगा। मुझे आशा है की, उत्तराखंड की सरकार को देखते हुए, उनसे सीख लेते हुए, देश की बाकि राज्यों की सरकार भी इस तरह की सराहनीय कदन की ओर अग्रसर होंगे ।
    फिर से एक बार मैं सृष्टि और उनके परिवार तथा भारत देश के तमाम नागरिकों को बधाई देना चाहूंगा ।
    धन्यबाद 🙏

  12. Aadesh Behare ( आदेश बेहरे )

    सबसे पहले बालिका दिवस की सबको हार्दिक शुभकामनाएं ! आपके ब्लॉग का टॉपिक मुझे ( लड़के/लड़कियों ) बहुत प्रेरित लगा । आपके इस पोस्ट में जो जानकारी मुझे मिली इसका में अपने जीवन में आचरण करने की कोशिश करूंगा । कैसे उत्तराखंड की bsc एग्रीकल्चर पढ़ी लिखि लड़की ने हमारे देश में एक नई सोच को बढ़ावा दिया है , में आश्चर्यजनक रहा कि , ऐसे विकट परिस्थितियों में हमारे govt. द्वारा यह कदम लेना बहुत सही था , जोकि एक positivity को दर्शाता है . आशा करता हु , हमारी सरकार और भी बच्चो को इस काम में अपना योगदान प्रदान करे जिससे हर भारतीय युवक बालको में देश प्रेम बढे . भारत का हमेशा से रीतिरिवाज रहा है कि , लड़कियों को ज्यादा priorty नही मिलती ऐसे कामों में , लेकिन यह खबर सुनकर मैं बहुत खुश हूं , मेरे इस बहन का कार्य जानने के लिए में बहुत बहुत उत्सुक हु । आपका धन्यवाद… यह प्यारी जानकारी हम तक पोहचाने के लिए…..जय हिन्द जय भारत 🇮🇳

  13. Ek din ke liye balika ko cm banane ka kaam bahut achchha hai jisse samaj me nari ke prati jagrukta ayegi aur bachcho me hamare rajkaran ne prati interest bhi badhega.

    Pawan sir me aapka hamesha fan raha hu aur rahunga kyuki aise bahot sare aapke jaise bade blogger hai lekin aapke jaise vo log apna kimti time nikal kar New bloggers ko inti help kabhi nahi karte. Sir aap hamare liye bhagwan ho. Aap ke example bhi bahot achche hote hai…

    Ye article me balika ka jivan patichay hai. Yani uski biography vala article hai…

    Ye koi pauranik katha, tyohar se related article nahi hai isme us balika aur uske parivar ja jivan parichay diya hua hai…

    Pawan sir aap 100 blog review karne vale ho ye sunkar bahut achchha laga kyuki agar ap 100 blogs mese 1-1 mistake bhi nikalte ho to hamare jaise naye bloggers ko hamari 100 mistakes pata chalegi

    Thanks you very much…

  14. Yahi hota hai jab ladkiyon ko educate kiya jaata hai. Aur ye karna zaroori hai taaki har ladki shrushti goswami ki tarah aage badhke apne parivaar, samaaj, aur desh ka naam roshan kar sake.

    Aur mere hisaab se to desh ki bhaagdor educated logo ke haathon me deni chahiye, tabhi jaa kar desh mein kayi aise parivartan aayege jisse desh ek alag he marg pe safalta ki aur badhega aur badhta rahega.

    Aur desh ko aage badhane ke liye sirf ladkiyan he nahi, balki desh ke sabhi log jaise ke ladka, ladki, bachhe, Buzurg, har kisi ko educate karwana bohot zaroori hai, taaki wo log khudke aur desh ke pragati me ek bohot bada yogdan de sake.

    Main iss nirnay se kaafi khush hoon ke usse 1 din ka mukhyamantri banaya jaayega. Aur ye bhi dekhne ke liye utsuk hoon ki wo kaise 1 din ke liye usske rajya ko chalayegi.

    • Yese kuch naya hona chaiye tabi desh mein kuch chije sudrengi aaj ke din mein jo girl PM bani thi voNa BJP KI THI na कॉँग्रेस ki aaj use kisi party ka pressure nhi hoga usne jo bhi kam kiya hoga ache se apne purn nishta se kiya hoga

  15. Garv hai un parents ka jo aisa srishti jaisi ladki ko janm diya aaj ek din ke liye banegi lekin hum sab dua karte hsi ki Betiya desh ka gaurav bane aur 1 din ke liye nahi hamesha ke best CM chahiye aaj itna hi umr me itna kuchh dikha di aage aur kuchh bada karegi srishti jisase hamare desh ka name roushan karegi God bless…Dhanyenaad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *