बिहार में छात्र क्रेडिट कार्ड योजना 2021

छात्र क्रेडिट कार्ड योजना बिहार (Student Credit Card (SCC) Yojana (Scheme) Bihar In Hindi) (लिस्ट,इंटरेस्ट रेट, हेल्पलाइन नंबर, आवेदन फॉर्म, पात्रता)

गाँधी जयंती के दिन 2 अक्टूबर को बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम की शुरुवात की. ये मुख्य रूप से उन विद्याथियों के लिए है जो स्कूल के बाद उच्च शिक्षा करना चाहते है. 2 अक्टूबर से इस योजना को जनता के सामने रखा गया, साथ ही पंजीकृत करने के शुरुवात की गई. यह एक तरह की लोन स्कीम है, जिसमें क्रेडिट कार्ड के जरिए 4 लाख रूपए पढाई के लिए दिए जायेंगें.

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम

योजना का नामस्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम
राज्यबिहार
लांच की हैनितीश कुमार
लांच की तारीख2 अक्टूबर 2016
योग्यता12 वीं पास
लोन अमाउंट4 लाख
डॉक्यूमेंटेशन फीस200 रूपए

इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि इसके द्वारा बिहार के बच्चों को पढाई के लिए वित्तीय सहायता ज्यादा से ज्यादा दी जा सके. बिहार में ऐसे बहुत से बच्चे है जो पैसों की कमी की वजह से स्कूल के बाद अपनी पढाई छोड़ देते है. इस योजना के द्वारा वहां के बच्चों को पढने के लिए आगे मौका मिलेगा. भारत के सभी राज्यों के मुकाबले बिहार में शिक्षा स्तर सबसे कम है, यहाँ 63.82% ही शिक्षा स्तर है.  वैसे इसके पहले भी बहुत से एजुकेशन लोन भारत के साथ साथ बिहार में भी आ चुके है, लेकिन इनमें ब्याज दर अधिक होने की वजह से इनका उपयोग बच्चे नहीं कर पाते है. ये क्रेडिट कार्ड लोन फ्री ब्याज दर के साथ लोगों को लाभ देगा. बिहार सरकार का उद्देश्य है कि योजना की शुरुवात में बिहार के कम से कम 5 लाख बच्चों को इस योजना का लाभ दे सकें.

student-credit-card-yojana-bihar

क्रेडिट कार्ड स्कीम की विशेषताएं (Student Credit Card Scheme Bihar features) –

  • इस योजना के अंतर्गत बिहार सरकार, 12 वीं पास विद्यार्थियों को 4 लाख का बिना ब्याज दर के लोन देगी.
  • इस योजना का लाभ उठाने वाले विद्यार्थी किसी भी उच्च शिक्षा के लिए इस लोन का उपयोग कर सकते है, जैसे वे इंजीनियरिंग, सीए, सीऍफ़ए, मैनेजमेंट, मेडिकल आदि कोर्स का चुनाव कर सकते है. लेकिन ये सभी कोर्स किसी अधिक्रत, प्रख्यात कॉलेज या इंस्टिट्यूट से होना चाहिए.
  • फ़िलहाल अभी बिहार सरकार द्वारा इस योजना के लिए कोई योग्यता नहीं रखी है. अभी कहा गया है कि बिहार के कोई भी विद्यार्थी जो आगे किसी अच्छे कॉलेज से पढाई करना चाहते है, ये क्रेडिट कार्ड का लाभ उठा सकते है.
  • योजना का फॉर्म ऑनलाइन उपलब्ध है.
  • योजना के द्वारा कार्ड दिया जायेगा जिससे जरूरत के समय लोन मनी निकाली जा सकेगी.
  • एप्लीकेशन फॉर्म के लिए बिहार में कई पोर्टल बनाये गए है. विद्यार्थी के फॉर्म जमा करने के बाद उसे चेक किया जायेगा और सत्यापन करने के बाद विद्यार्थी को कार्ड दिया जायेगा.
  • योजना में आवेदन देने के लिए आवेदक को अपना आधार कार्ड नंबर देना अनिवार्य है. इस योजना को ज्यादा पारदर्शी करने के लिए, आवेदक का डेटा डिजिटल कर दिया जायेगा.
  • विद्यार्थी इस लोन से बुक, कंप्यूटर और पढाई के लिए जरुरी चीजें खरीद सकते है. वे सेमेस्टर या हर महीने फीस जमा कर सकते है.
  • इस योजना में ये भी उल्लेख है कि जो इस योजना के अंतर्गत लोन लेगा, वो 4 साल बाद उसी तारीख से लोन लौटाना शुरू कर देगा.

बिहार के मुख्यमंत्री ने 7 निश्चयों का वादा किया था, जिसमें से ये पहली शुरुवात थी. 7 निश्चय एक रणनीति है, जो बिहार सरकार द्वारा राज्य के विकास के लिए शुरू की गई है, इसमें वो सब काम होंगें जो राज्य के विकास में पहले कभी नहीं हुए है. मुख्यमंत्री नितीश कुमार द्वारा कैबिनेट मीटिंग बुलाई गई, जिसमें स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना को मंजूर किया गया. इसके साथ ही बिहार के विकास में 17 और प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई.

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, बिहार के लिए आवेदन (Student credit card online application) –

इस योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन माध्यम से इसकी अधिकारिक वेबसाइट और मोबाइल एप के द्वारा किये जायेंगे. राज्य सरकार ने इस योजना के ऑनलाइन आवेदनों के लिए एक ऑनलाइन वेबपोर्टल लांच किया है जोकि ये हैं – https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in/. और जल्द ही मोबाइल एप भी शुरू किया जायेगा. 12 वीं कक्षा को पास करने वाले योग्य छात्र इसके लिए आवेदन निम्न प्रक्रिया के माध्यम से कर सकते हैं –

  • सबसे पहले छात्रों को मोबाइल एप या इसके ऑनलाइन वेब पोर्टल https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in/ पर विजित करना होगा. जहाँ उन्हें सभी मूल एवं उपयुक्त जानकारी भरनी होगी. इससे उनके मोबाइल नंबर पर या ईमेल आईडी पर वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा.
  • यह वन टाइम पासवर्ड डालने के बाद एक फॉर्म आपके सामने खुलेगा. इस फॉर्म में आवेदकों को अपनी व्यक्तिगत जानकारी देनी होगी. इसके बाद इसे सबमिट कर दें. जैसे ही आप इसे सबमिट करेंगे आपके सामने 3 विकल्प खुल जायेंगे.
  • उन 3 विकल्पों में से आपको ‘छात्र क्रेडिट कार्ड’ का चयन करना होगा. जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे, एक और नया फॉर्म आपके सामने आ जायेगा. यहाँ भी आपको आपसे पूछी जाने वाली सभी जानकारी को भरना होगा. और इसे भरकर सबमिट बटन पर क्लिक कर दें.
  • यह सबमिट करने के बाद आवेकों के मोबाइल फोन या ईमेल में क्रमशः एसएमएस या मेल के माध्यम से एक यूनिक पहचान संख्या (OTP) दी जाएगी.
  • इसके बाद छात्रों को सबमिट किये गये आवेदन फॉर्म की पीडीएफ कॉपी प्राप्त होगी. और उनके ईमेल आईडी में आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी भी दी जाएगी. काउंटर पर यह आवेदन फॉर्म और दस्तावेज की आवश्यकता होगी.
  • इसके बाद दी गई तारीख के अंदर योग्य आवेदकों को अपने आवेदन फॉर्म जिला प्रबंधन एवं जिला परिषद् परामर्श केंद्र में आवश्यक दस्तावेजों की प्रति के साथ जमा करना होगा. किन्तु उन्हें ओरिजिनल दस्तावेजों को भी साथ में रखना होगा.
  • यहाँ आवेदकों को एक टोकन नंबर दिया जायेगा. जिसके आधार पर आवेदक की अंदर एंट्री होगी. इसके बाद उनका नंबर आने तक उन्हें वहां प्रतीक्षा करनी होगी. उनके टोटल नंबर को इलेक्ट्रिनिक डिस्प्ले बोर्ड में डिस्प्ले किया जायेगा.
  • जैसे ही उनका नंबर आता है, उनको अपने ओरिजिनल दस्तावेज, दस्तावेजों की प्रति और आवेदन फॉर्म की पीडीएफ कॉपी को निर्धारित काउंटर पर ले कर जाना होगा. यहाँ उनके आधार नंबर को प्रमाणित किया जायेगा.
  • यहाँ ओरिजिनल दस्तावेजों को स्कैन किया जायेगा, और फिर आवेदक को वापस कर दिया जायेगा. एवं बाकि दस्तावेजों की कॉपी और आवेदन फॉर्म को वहीं जमा कर लिया जायेगा.
  • इस पूरी प्रक्रिया के पूरे हो जाने के बाद आवेदकों को एक रसीद दे दी जाएगी. यदि आवेदन फॉर्म में किसी प्रकार की गलती हो और उसे संशोधित किया जाना है, तो उसे उसी वक्त मल्टी पर्पस असिस्टेंट के माध्यम से किया जा सकता है.

इस तरह से छात्रों के क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाती है.

फॉर्म के लिए जरुरी दस्तावेज (How to get student credit card in Bihar) –

  • किसी कॉलेज में दाखिला ले रहे है, तो उसका डॉक्यूमेंट, फीस डिटेल्स
  • 10 एवं 12 की मार्कशीट
  • एड्रेस प्रूफ.
  • पैन कार्ड की कॉपी
  • परिवार की आय का प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड नंबर
  • अभिभावक का बैंक अकाउंट स्टेटमेंट.

पात्रता (Student credit card in Bihar eligibility criteria) –

  • आवेदक को 12वीं पास होना चाहिए.
  • सिर्फ बिहार के विद्यार्थी इस योजना के लिए आवेदन दे सकते है.
  • जिस विद्यार्थी ने इस योजना के लिए आवेदन दिया है, उसकी उम्र 25 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.
  • अगर किसी विद्यार्थी के पास पहले से की एजुकेशन लोन है, तो वो इस योजना के लिए योग्य नहीं है.

योजना की लोन अप्रूवल प्रक्रिया (Loan Approval Process of the Scheme)

  • सबसे पहले सरकारी अधिकारी, सम्बंधित शैक्षणिक संस्थानों से एडमिशन से जुड़ी जानकारी के साथ छात्रों द्वारा दी गई जानकारी और दस्तावेजों की जाँच और उसका सत्यापन करेंगे. यह छात्रों के दस्तावेज जमा हो जाने के 15 दिनों के अंदर किया जायेगा.
  • इसका सत्यापन पूरा हो जाने के बाद, सभी जानकारी और आवश्यक दस्तावेज बैंक के साथ शेयर किये जायेंगे. इसके बाद 15 दिन के अंदर ही बैंक लोन को स्वीकार या अस्वीकार कर देंगे.
  • इसकी जानकारी बैंक द्वारा आवेदकों को एसएमएस या ईमेल के माध्यम से भेज दी जाएगी. इसके साथ ही उसमें बैंक में उपस्थित होने की निर्धारित तारीख भी दी हुई होगी.
  • यदि यह स्वीकार कर लिया जाता है तो आवेदकों को दस्तावेजों से जुड़ी सभी औपचारिकता को पूरा करने के लिए बैंक की ब्रांच में जाना होगा.
  • इस पूरी प्रक्रिया के पूरे हो जाने के बाद बैंक आवेदकों को क्रेडिट कार्ड जारी कर देंगे, और दी जाने वाली राशि उनके खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी. जिसका उपयोग वे उच्च शिक्षा की फीस और खर्चे का भुगतान करने के लिए कर सकेंगे.
  • यदि यह अस्वीकार किया जाता हैं तो इसकी सूचना भी आवेदकों को दे दी जाएगी.

नोट – आवेदकों को आवेदन से सम्बंधित सभी प्रकार की सूचना एसएमएस या ईमेल या वेब पोर्टल के माध्यम से दी जाएगी.

अन्य योजनायें पढ़े:

Anubhuti
यह मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here