Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

सुकन्या समृद्धि योजना | Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

सुकन्या समृद्धि योजना [Sukanya Samriddhi Yojana in hindi] [नियम, इंटरेस्ट रेट, चार्ट, कैलकुलेटर, ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड] (Updated June 2019)

भारतमें प्रधानमंत्री के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने एक योजना की शुरुआत की जिसका नाम है सुकन्या समृद्धि योजना . यह एक छोटी सी निवेश योजना की श्रेणी मे आता है (Small Savings Scheme) .इसका मुख्य उद्देश्य बेटी के भविष्य के लिए माता पिता द्वारा की गई बचत या निवेश है.  जो अपनी बेटी के उज्वल भविष्य , अच्छी शिक्षा , और उसके सपनो को पूरा करने के लिए एक छोटी सी राशी लम्बे समय तक निवेश करना चाहते है .

Sukanya Samriddhi Yojana

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के लाभ (Sukanya Samriddhi Yojana SSA Benefits and Interest Rates In Hindi)

यदि आप अपनी बेटी के लिए यह निवेश करना चाहते है तो इसकीमुख्य विशेषताओ पर ध्यान दे जो इस स्कीम में दी गई है :

  • ब्याज दर :

यदि हम सुकन्या समृद्धि योजना की ब्याज दर को अन्य निवेश योजना से तुलना करे जैसे PF या अन्य कोई  तो यह कहा जा सकता है अन्य मे अधिक फायदा प्राप्त होगा क्योंकि इसकी ब्याज दरअधिक है . पर इसमें एक यह बात भी है कि इसकी ब्याज दर निश्चित नही होती है यह मार्केट पर निर्भर करती है, जैसे की 2012-2015 में9.1% , 2016- 2017 में यह बढ़ कर 9.2% हो गई .इसके बाद में लगत ब्याज दर कम होते गई और अभी 2019-20 मे 8.4% है.

  • कर लागत:

इस प्रक्रिया के दो मुख्य बिंदु है पहला यह जो हर साल राशी जमा की जाएगी उसका योग. इसमे जो निवेश किया जाएगा वो सेक्शन 80C के दायरे मे होगा . इसमे जो भी ब्याज दिया जाएगा वो कर रहित होगा . इसलिए यह EEE श्रेणी मे आता है .

नोट: 80C में डेढ़ लाख से ज्यादा का निवेश संभव नहीं है . उदाहरण के लिए यदि आपने 1.5 लाख रूपये पीपीएफ और 1.5 लाख रूपये अलग से निवेश किये है मतलब कुल 3 लाख रूपये निवेश किये है तब केवल 1.5 पर ही कर रहित ब्याज प्राप्त होगा .

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए पात्रता ( Eligibility Criteria ):

निचे सुकन्या समृद्धि योजना के कुछ मुख्य योग्यता मानदंड दिए गए है :

  • केवल भारतीय नागरिकों के लिए :

इस योजना का लाभ केवल उन बलिकाओ को ही प्राप्त होगा जिनका जन्म भारत मे हुआ है  और जो सदा भारत मे ही रहने वाले है . जो भारत के बहार रहने वाले या एनआरआई है वो इस योजना का लाभ नही ले सकते है.

  • केवल 10 वर्ष से कम आयु की कन्या के लिए :

इस योजनामें यह स्पष्ट किया गया है इसमे खाता खुला कर निवेश केवल वही माता पिता कर सकते है जिनकी पुत्री संतान की आयु 10 वर्ष से कम है .अर्थात 10 वर्ष से एक दिन भी उपर की आयु मान्य नहीं होगी.

सुकन्या समृद्धि  योजना में कितने खाते खोलने की अनुमति हैं ?

  • साथ ही सुकन्या समृद्धि खाते के तहत कन्या के नाम से केवल एक ही अकाउंट खोले जाने की अनुमति हैं .
  • कन्या के माता पिता या अन्य क़ानूनी अभिभावक (depositor) योजना के तहत अधिकतम दो अकाउंट खोल सकते हैं .
  • अगर माता के प्रथम प्रसव के दौरान एक कन्या हैं और द्वितीय प्रसव से दो अर्थात जुड़वाँ कन्या का जन्म होता हैं तब वे योजना के तहत तीसरा अकाउंट खोल सकते हैं . इस स्थिति में कन्या के अभिभावक को मेडिकल प्रमाणपत्र देना होगा .

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए कैसे आवेदन दिया जाए (How to Apply for Sukanya Samriddhi Yojana Hindi)

इसमें दो तरीको से इच्छुक आवेदक आवेदन दे सकता है और योजना का लाभ ले सकता है. पहली है ऑनलाइन तरीके से और दूसरा पारंपरिक ऑफलाइन तरिके से .यहाँ दोनो के बारे में जानकारी दी गई है .

ऑनलाइन सुकन्या समृद्धि खाते के लिए आवेदन (Online Application)

  • इसमे 28 बैंक की सूचि प्रदान की गई है जिससे भी ग्राहक चाहे इस योजना का लाभ ले सकते है.इसमे बैंक की जो भी अधिकृत साईट है उसके होम पेज पर क्लिक करे , जैसे ही होम पेज पर जाए इसमे एक लिंक दी गई है जिस पर क्लिक कर के सुकन्या समृद्धि योजना पेज पर जा सकते है .
  • फिर इसमें अपना रजिस्ट्रेशन कराना होता है. जैसे ही सुकन्या समृद्धि योजना के पेज पर पहुँच जाए उसके बाद गेट द रजिस्ट्रेशन या आवेदन प्राप्त करे , पर क्लिक करना होता है. इस फॉर्म को भर कर अपने रेसीडेंटल प्रूफ, माता पिता का पहचान पत्र ,और बच्चे का पहचान पत्र और जन्म प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है .
  • इसमें दी गई जानकारी की प्रमाणिकता होना आवश्यक है प्रमाणिकता की सही जानकारी प्राप्त करने का कार्य बैंक के अधिकृत द्वारा किया जाता है .इसके लिए पेन कार्ड आधार कार्ड और अधिकारिक दस्तावेज जमा करना पड़ता है .
  • इसके बाद आवेदन पत्र को जमा करने के लिए “सबमिट”पर क्लीक करे.आवेदन को जमा करने के बाद पहली राशी बैंक खाते मे जामा कर हम खाते को चालू कर सकते है,नेटबैंकिंग की मदद से यह आसानी से किया जा सकता है.
  • जब खाता खुल जाता है तब उसमे पैसे जमा करना होता है . जब भी खाते में रूपये जमा किए जाते है तब बैंक द्वारा एस ऍम एस से जानकारी दी जाती है | इस खाते से जुडी सारी जानकारी मेसेज से प्रदान की जाती है .

सुकन्या समृद्धि योजना मे ऑफ लाइन आवेदन [Offline Application Process]

हमारे देश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में कई लोग है जो कि ऑनलाइन विधि को समझने मे असमर्थ है. इसके लिए सरकार ने यह सुविधा प्रदान की है . बैंक और पोस्ट ऑफिस में जाकर हम सुविधा का लाभ ले सकते है.

  • माता पिता या लीगल पेरेंट्स जो कि अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित करना चाहते है, वे अपने पास के किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर इस के फॉर्म को प्राप्त कर सकते है .
  • आवेदन प्राप्त कर उसमे उचित जानकारी जैसे बेटी के जन्म की तिथि , पता , फ़ोन नंबर आदि को भर कर जमा करे.
  • दी गई जानकारी को दोबारा देख कर आवश्यक दस्तावेज की छायाप्रती को फॉर्म के साथ लगा कर जामा करे .दिए गए दस्तावेज बैंक के अधिकारियों को जानकारी की प्रमाणिकता की जाच करने मे सहायक होंगे .
  • जब दस्तावेज सही काउंटर पर जमा किये जाते है तो दस्तावेज को चेक किया जाता है यदि सभी दस्तावेज सही होते है तो बैंक मेनेजर या पोस्ट ऑफिस मेनेजेर इस योजना मे खाता खोल देते है .
  • खाता खुलने के बाद बैंक या पोस्ट ऑफिस से पास बुक दी जाती है इसमें खाते में किए लेन देन का ब्यौरा होता है . पासबुक मिलने के बाद खाते में रूपये जमा करने के पश्चात् खाता चालू हो जाता है |

सुकन्यासमृद्धि खाते मे दिए गए दिशा निर्देश के अनुसार जो एन आर आई है उन्हें सरकार से इस योजना मे निवेश करने की अनुमति नही है , केवल जो भारतीय नागरिक है वे ही अपनी पुत्री संतान के लिए इस योजना का लाभ ले सकते है .

सुकन्या समृद्धि खाता के तहत अकाउंट खोलने हेतु जरुरी दस्तावेज (Documents required)

  • बेटी का जन्म प्रमाणपत्र
  • डिपोजिटर परिचय पत्र
  • डिपोजिटर एड्रेस प्रूफ

सुकन्या समृद्धि योजना  के नियम एवम लाभ (Rules of Sukanya Samriddhi)

  • सुकन्या समृद्धि खाता के तहत अकाउंट खोलने के लिए डिपोजिटर को 1000/ की न्यूनतम राशि जमा करना अनिवार्य हैं .
  • एक साल में सुकन्या समृद्धि खाते में न्यूनतम 1000/ रुपये से अधिकतम 1, 50,000/ रूपये तक जमा किये जा सकते हैं .
  • अगर वर्ष के अंत तक कूल राशि 1000/ रुपये ही प्राप्त की गई तब उस खाते को निष्क्रिय माना जायेगा जिस पर दंड स्वरूप 50/ रूपये प्रति निष्क्रिय साल लगाया जायेगा .
  • सुकन्या समृद्धि खाता  के तहत खोले गए अकाउंट में पैसा नगद, चेक या डिमांड ड्राफ्ट किसी भी तरीके से जमा कराया जा सकता हैं . चेक अथवा डिमांड ड्राफ्ट पोस्टमास्टर या ब्रांच के नाम से बनाये जा सकते हैं .
  • सुकन्या समृद्धि खाता स्थानांतरण सुविधा: (Transfer Options)

कोई भी माता पिता जिनने सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाया है खाते को 28 बैंक की सूचि या पोस्ट ऑफिस की किसी भी ब्रांच मे बदली करा सकते है. सरकार ने यह सुविधा दी  है कि आप अपने खाते को देश में ही पर बैंक से पोस्ट ऑफिस या फिर पोस्ट ऑफिस से बैंक मे बदली करा सकते है .

  • सुकन्या समृद्धि योजना पर लोन सुविधा (Loan Options)

बहुत सी योजनाएं अलग अलग सुविधाए प्रदान करती है सुकन्यासमृद्धि योजना में लोन के लिए आवेदन नही दिया जा सकता. जमा किया हुआ पैसे जब तक सुरक्षित है और वापस नही जाएगे तब तक की दिए हुए समय तक परिपक्व ना हो जाए .

  • सुकन्या समृद्धि योजना की परिपक्वता : (Maturity and Withdraw Options)

इस योजना के तहत सुकन्या समृद्धि खाते से पैसे तब ही निकाले जा सकते है जब तक कन्या की आयु 18 वर्ष हो और उसका विवाह हो , या इस योजना का कार्यकाल 21 वर्ष के होने तक चल सकता है . जब से खाता खोला गया है तब से लेकर 21 वर्ष के होने तक इसमे जमा किए गए सारे रूपये खाता धारक को ब्याज सहित दे दिए जाते है. यदि कन्या की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक है और कन्या का विवाह किया जा रहा है तो यह खाता इसके समय से पूर्व ही समाप्त किया जा सकता है .

  • पैसे निकालने का नियम : (Withdraw Option)

इस योजना के तहत इसमें जमा किये गए सारे रूपये और लगाया गया ब्याज दोनो ही तभी ले सकते है जब इसका 21 वर्ष का परिपक्वता का कार्यकाल पूर्ण हो गया हो या कन्या की आयु 18 वर्ष से अधिक हो और उसका विवाह किया जा रहा हो .

  • समय से पूर्व पैसे निकालने का नियम : (Pre mature Withdrawal options)

यह योजना अन्य योजनाओ से अलग है इसमें जमा की गई धन राशी को समय से पूर्व निकाल नही सकते. केवल तभी निकाल सकते है जब खाता धारक की आयु 18 वर्ष से अधिक हो और आगे की पढाई के लिए पैसे कीआवश्यकता हो तब इसमें जमा कुल राशी का 50% ही प्राप्त किया जा सकता है .

  • कैलक्यूलेटर : (Sukanya Samriddhi Yojana Calculator) 

यदि हम SSA केलक्यूलेटर का उपयोग करे तो आसानी से जमा की गई राशी के कार्यकाल पूर्ण होने और परिपक्व होने पर प्राप्त राशि की गणना कर सकते है . एक्सेलशीट मे जा कर फार्मूला मे हम इसमे जमा की गई राशी डाल कर परिणाम या रिजल्ट पर क्लिक करे इसमे मासिक और वार्षिक दोनो तरह से गणना की जा सकती है ,इससे गणना करने पर त्रुटी होने की आशंका बहुत कम हो जाती है.

  • सुकन्या योजना चार्ट :

मासिक जमा की गई राशी की गणना

यदि यह माने ग्राहक मासिक रूपये जमा कर रहा हो और वो महीने की 5 तारीख के पहले 14 वर्ष तक पैसे जमा कर सकता है :

क्रमांक मासिक निवेश ब्याज दर परिपक्व राशी 21 वर्ष के बाद
1 1000 8.50% 557,690
2 1500 8.50% 833,761
3 2000 8.50% 1,109,832
4 3000 8.50% 1,661,975
5 4000 8.50% 2,214,118
6 5000 8.50% 2,766,261
7 6000 8.50% 3,318,404
8 12500 8.50% 6,907,334
  • एक साल की राशि एक साथ जमा की जाए :

यदि यह माने ग्राहक वार्षिक रूपये जमा कर रहा हो और वो हर साल अप्रैल की 5 तारीख के पहले पैसे जमा कर सकता हैं [14 वर्ष तक हर वर्ष]:

क्रमांक वार्षिक निवेश ब्याज दर परिपक्व राशी 21 वर्ष के बाद
1 1000 8.50% 48,205
2 5000 8.50% 241,025
3 10,000 8.50% 482,050
4 20,000 8.50% 964,100
5 30,000 8.50% 1,446,150
6 50,000 8.50% 2,410,250
7 1,00,000 8.50% 4,820,499
8 1,50,000 8.50% 7,230,749

सुकन्या समृद्धी खाता अकाउंट फॉर्म (Sukanya Samriddhi Khata Account Form)

सुकन्या समृद्धि खाता योजना के तहत अकाउंट खोलने की सुविधा अभी केवल चुनिन्दा पोस्ट ऑफिस में ही उपलब्ध हैं कुछ वक्त में यह योजना बैंक में भी उपलब्ध होगी .

सुकन्या समृद्धि खाता योजना का हिस्सा बनने के लिए पोस्ट ऑफिस से फॉर्म प्राप्त करे लेकिन अगर आप पोस्ट ऑफिस से फॉर्म प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं तब नीचे दिए लिंक से सुकन्या समृद्धि खाता योजना के लिए फॉर्म प्राप्त करें .

Sukanya Samriddhi Khata Form 1

Sukanya Samriddhi Khata Yojana Form 1

 

सुकन्या समृद्धि खाता योजना एक अच्छी योजना है जल्द से जल्द अपनी बेटी का खाता खोले पूरी जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें .

सुकन्या समृद्धि खाते की अधिकृत बैंक की सूचि ( List Of Authorized Banks for Sukanya Samriddhi Scheme )

सुकन्या समृद्धि खाते में दी जा रही सुविधा का लाभ पोस्ट ऑफिस से लेने के अतिरिक्त 28 बैंक जिन्हे सरकार के द्वारा अनुमति प्राप्त है उनसे भी खाता खोल कर और सामान सुविधाप्राप्त की जा सकती है .

क्रमांक बैंक का नाम
1 इलाहबाद बैंक
2 एक्सिस बैंक लिमिटेड
3 आन्ध्रा बैंक
4 बैंक ऑफ़ बड़ोदा
5 बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र
6 बैंक ऑफ़ इंडिया
7 केनेरा बैंक
8 कारपोरेशनबैंक
9 सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया
10 देना बैंक लिमिटेड
11 आई डी बी आई बैंक लिमिटेड
12 आई सी आई सी आई बैंक लिमिटेड
13 इंडियन बैंक
14 ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स
15 इंडियन ओवरसीज बैंक
16 पंजाब और सिंध बैंक
17 स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर और जयपुर
18 पंजाब नेशनल बैंक
19 स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया
20 स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर
21 स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद
22 स्टेट बैंक ऑफ़ पटियाला
23 सिंडिकेट बैंक
24 स्टेट बैंक ऑफ़ त्रवंकोरे
25 यूको बैंक
26 यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया
27 यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया
28 विजया बैंक

Beti Bachao, Beti Padhao Yojana In Hindi

सुकन्या समृद्धि खाता कन्या के भविष्य को सुरक्षित रखने हेतु लागू किया गया हैं .बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के तहत सुकन्या समृद्धि खाता एक महत्वपूर्ण निर्णय हैं .

सुकन्या समृद्धि खाते के अंतर्गत दी जाने वाली अन्य सुविधा 

  • अकाउंट को किसी भी शरह, किसी भी अन्य ब्रांच में ट्रान्सफर किया जा सकता हैं जहाँ भी कन्या को सुविधा हो .
  • विकट परिस्थिती जैसे कन्या की मृत्यु अथवा किसी प्राण घातक समस्या में अकाउंट बंद करने अथवा समय से पूर्व पैसा निकलने की अनुमति हैं . जिसके लिए प्रमाण देना आवश्यक हैं .
  • क्रेडिट के रूप मे अकाउंट से 50 % राशि निकाली जा सकती हैं लेकिन यह राशि कन्या की किसी जरूरत जैसे उच्च शिक्षा अथवा शादी आदि से संबंधी होना चाहिए
  • अगर कन्या का विवाह 18 से 21 वर्ष की अवधि में किया जायेगा तब यह अकाउंट बंद कर दिया जायेगा. अर्थात कन्या की शादी के बाद अकाउंट बंद कर दिया जायेगा.

FAQs

Q: क्या सुकन्या समृद्धि खाते में शेष राशि के खिलाफ लोन लिया जा सकता हैं?

Ans: नहीं, सुकन्या समृद्धि खाते की शेष राशि के खिलाफ लोन की सुविधा वर्तमान में उपलब्ध नहीं है. लेकिन आप पीपीएफ के बदले में लोन ले सकते हैं.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि योजना खाते को समय से पहले बंद करने की अनुमति हैं?

Ans: हां, कुछ मामलों में सुकन्या खाते को समय से पहले बंद करने की अनुमति हैं. जैसे यदि खाता धारक किसी गंभीर बीमारी से पीढित हो या फिर उनकी अचानक से मृत्यु हो जाती हैं तो ऐसे में यह खाता समय से पहले बंद किया जा सकता है. हालाँकि इस तरह के बंद की अनुमति देने का निर्णय मामले के आधार पर ही होता है.

Q: यदि मैं और मेरी बेटी किसी अन्य देश में चले जाएँ, तो क्या मैं सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश जारी रख सकता हूं?

Ans: यदि आपकी बेटी एनआरआई बन जाती हैं या वह अपनी भारतीय नागरिकता खो देती हैं तो फिर आपको सुकन्या समृद्धि योजना का खाता बंद करना होगा.

Q: अगर अपने सुकन्या समृद्धि खाते का न्यूनतम वार्षिक भुगतान करना भूल जाते हैं तो क्या जुर्माना देना होता है?

Ans: यदि आप भुगतान करना भूल गए और आपने वित्तीय वर्ष के दौरान खाते में न्यूनतम 250 रूपये जमा नहीं किये तो आपको 50 रूपये का जुर्माना देना होगा.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि योजना के खाते की ब्याज पर टैक्स हैं?

Ans: नहीं, सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश पर पूरी तरह से छूट है, इसलिए यहाँ निवेश की गई मूल राशि और ब्याज के साथ – साथ मैच्योरिटी राशि पर भी टैक्स की छूट मिलती है.

Q: क्या दादा – दादी सुकन्या समृद्धि खाता खोल सकते हैं?

Ans: माता – पिता के अलावा, केवल कानूनी अभिभावक ही उस बच्ची की ओर से सुकन्या समृद्धि खाता खेल सकते हैं. यदि दादा – दादी उस बच्ची के कानूनी अभिभावक हैं तो ही वे उसके लिए यह खाता खोल सकते हैं.

Q: क्या एक से ज्यादा सुकन्या समृद्धि खाता खोले जा सकते है?

Ans: हां, अधिकतम 2 बच्चियों के लिए उनके माता – पिता या कानूनी अभिभावक सुकन्या समृद्धि खाता खोल सकते हैं. और यदि उन्हें एक बच्ची के बाद जुड़वाँ बच्ची होती हैं या उनकी ट्रिप्लेट बच्चियां होती हैं तो उन्हें अधिकतम 3 सुकन्या समृद्धि खाते खोलने की अनुमति दे दी जाती है.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि खाता एक बैंक से दूसरे बैंक में स्थानांतरित किया जा सकता है?

Ans: हां, भारत में स्थित किसी भी एक अधिकार प्राप्त बैंक से आप किसी दूसरे अधिकार प्राप्त बैंक में अपना सुकन्या समृद्धि खाता स्थानांतरित कर सकते हैं.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि खाता पोस्ट ऑफिस से बैंक में स्थानांतरित किया जा सकता है?

Ans: हां, किसी भी पोस्ट ऑफिस से यदि आपका सुकन्या समृद्धि खाता खुला हैं तो आप उसे भारत में स्थित किसी भी अधिकार प्राप्त बैंक में स्थानांतरित कर सकते हैं.

Q: सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में निवेश की जाने वाली न्यूनतम और अधिकतम राशि कितनी है?

Ans: इस योजना में खाते में जमा की जाने वाली न्यूनतम राशि 1000 रूपये प्रति वित्तीय वर्ष हैं और अधिकतम राशि 1,50,000 रूपये प्रति वित्तीय वर्ष है.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में बालिका का नाम या जन्म तिथि में बदलाव करना संभव है?

Ans: हां, आपने जहाँ भी खाता खोला है पोर्ट ऑफिस या बैंक, वहां पर आपको नाम चेंज रिक्वेस्ट के साथ एक एफिडेविट फाइल करना होगा. जन्मतिथि के बारे में अभी अच्छे से जानकारी नहीं है. किन्तु यदि वास्तविक कारण जैसे पासबुक में जन्म तिथि को गलत तरीके से अपडेट किया गया हैं तो आप जन्म तिथि को बदलने में सक्षम हो सकते हैं.

Q: क्या हम सुकन्या समृद्धि खाता राशि की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं?

Ans: नहीं, केवल पासबुक अपडेट कर सकते हैं. वर्तमान में आप अपने माइनर के खाते को अपने एसबीआई प्रोफाइल से लिंक नहीं कर सकते हैं, क्योंकि यह खाता आपके नाम पर नहीं है.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि खाते में ऑनलाइन भुगतान करना होगा?

Ans: हां, यह फण्ड ट्रान्सफर के तरीके के समान ही संभव होना चाहिए.

Q: क्या मुझे एक सुकन्या समृद्धि योजना के खाते को खोलने के लिए एक बचत बैंक खाता खोलने की आवश्यकता हैं?

Ans: नहीं ऐसा कोई नियम नहीं है, इसमें बस लोगों को बैंकों द्वारा पहले बचत खाता खोलने और फिर सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खोलने से पहले न्यूनतम शेष राशि जमा करने के लिये कहा गया है.

Q: क्या सुकन्या समृद्धि खाता के लिए कोई हेल्पलाइन नंबर है?

Ans: इस सुकन्या समृद्धि योजना के लिए टोल फ्री नंबर 1800-223-060 अब उपलब्ध है. आशा है कि यह नंबर ठीक है,

Q: माता – पिता या कानूनी अभिभावक की मृत्यु के मामले में क्या होगा?

Ans: माता – पिता या कानूनी अभिभावक की मुत्यु हो जाने के बाद उनका मृत्यु प्रमाण पत्र जैसे वैध दस्तावेजों को प्रस्तुत करते हुए खाता बंद कर दिया जायेगा. और मैच्योरिटी लाभ बालिका को दे दिया जायेगा.

Q: बालिका या नाबालिग की मृत्यु हो जाने पर क्या होगा?

Ans: इसमें भी खाता बंद कर दिया जायेगा और जमा की गई राशि बच्ची के माता – पिता का उसके कानूनी अभिभावक को प्रदान कर दी जाएगी.

Q: क्या अभिभावक का नाम बदला जा सकता है?

Ans: नहीं अभिभावक का नाम कभी भी बदला नहीं जा सकता है.

Q? सुकन्या समृद्धि खाते में ब्याज दर कितनी है?

Ans: वित्तीय वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 में ब्याज दर 8.5% है. किन्तु एक वित्तीय वर्ष में प्रत्येक क्वाटर ब्याज की दर बदलती है.

Q: सुकन्या समृद्धि खाता कैसे खोला जा सकता है?

Ans: आपको सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खोलने के लिए भारत के किसी भी पोस्ट ऑफिस या किसी भी अधिकार प्राप्त बैंक में जाकर आवेदन देना होगा और आपका खाता खुल जायेगा.

Sukanya Samriddhi Yojana Details in tabular Form

योजना का नाम सुकन्या समृद्धि योजना
योजना की शुरूआत जनवरी, 2015
ब्याज दर 8.4 % (Jul- Sep 2019)
खाता खुलवाने की आयु 0 से 10 साल
खाते में जमा करने की न्यूनतम राशि 1000 रुपए (हर महीनें)
खाते में जमा करने की अधिकतम राशि 1.50 लाख रुपए (एक साल के अंदर)
कौन खुलवा सकता है ये खाता कन्या के माता-पिता या अभिभावक
किसके नाम पर खुलेगा खाता कन्या
खाते की परिपक्वता अवधि 21 साल
कब निकाल सकते हैं पैसे कन्या के 18 साल के होने पर, कुछ शर्तों के साथ
कितने खाते खोल सकते हैं अधिकतम दो कन्याओं का (तीन खाते जब दो लड़कियां जुड़वाँ हो)

Other Articles

pavan

Director at AK Online Services Pvt Ltd
मेरा नाम पवन अग्रवाल हैं और मैं मध्यप्रदेश के छोटे से शहर Gadarwara का रहने वाला हूँ । मैंने Maulana Azad National Institute of Technology [MNIT Bhopal] से इंजीन्यरिंग किया हैं । मैंने अपनी सबसे पहली जॉब Tata Consultancy Services से शुरू की मुझे आज भी अपनी पहली जॉब से बहुत प्यार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *