सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म भरकर करें आवेदन, जानें क्या है इसकी सालाना ब्याज दर

बेटियों को भविष्य में आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना का प्रारंभ किया गया था. बहुत ही कम समय में यह योजना बेहद लोकप्रिय हो चुकी है. इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अपने निकटतम पोस्ट ऑफिस या बैंक शाखा में जाकर अपनी बेटी के नाम का खाता खोला जा सकता है जिसमें अभिभावकों को प्रत्येक वर्ष 250 रुपये की राशि जमा करानी होती है. आज हम आपको इस योजना के बारे में कुछ जानकारी देना चाह रहे हैं ताकि आप भी अपनी बेटी के लिए आवेदन फॉर्म भरकर उसका भविष्य उज्जवल बना सकें.

sukanya samruddhi yojana

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना

सुकन्या समृद्धि योजना एक ऐसी योजना है जिसमें छोटी बचत करके अपनी बेटी का भविष्य उज्जवल बनाया जा सकता है. जिसे आप आसानी से पोस्ट ऑफिस अथवा बैंक की किसी शाखा के जरिए भी संचालित कर सकते हैं. यह योजना मुख्य रूप से निर्धन एवं मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए बेहद लाभदायक है. इस योजना के अंतर्गत सरकार का योगदान भी बहुत बड़ा है क्योंकि वह योजना के दौरान जमा की गई राशि पर अच्छा खासा ब्याज प्रदान कर रहे हैं.

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना के अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति अपनी बेटी के लिए प्रत्येक वर्ष एक अधिकतम राशि जमा कराते हैं तो 21 साल बाद उस बेटी के नाम पर उस खाते में 64 लाख रुपए एकत्रित हो जाते हैं. इस योजना में निर्धारित नियमों के अनुसार केवल 10 या इससे कम आयु की कन्याओं का ही खाता खोलने की आज्ञा दी जाती है. अभिभावक चाहे तो इस खाते के अंतर्गत कम से कम 250 रुपए से लेकर डेढ़ लाख रुपए तक की मनी प्रतिवर्ष जमा करा सकते हैं. लगातार 14 साल तक अभिभावकों को बेटी के नाम पर खुले गए इस खाते में राशि जमा करानी अनिवार्य है.

सुकन्या समृद्धि योजना के नए नियम लागू कर दिए गये हैं, जानें क्या – क्या बदलाव हुए हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म ऐसे भरें

  • यदि आप सुकन्या समृद्धि खाता योजना के तहत अपनी बेटी का खाता खोलना चाहते हैं, तो आप अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस अथवा बैंक से इस योजना का फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं.
  • उस फॉर्म में आपको अपने और अपनी बच्ची के बारे में पूछी गई सभी बुनियादी जानकारी सही तरीके से भरनी होगी.
  • इस फॉर्म में अभिभावक का नाम, पहचान पत्र, पता प्रमाण पत्र, आधार कार्ड और बेटी का नाम, उसका जन्म प्रमाण पत्र, उसके सभी प्रवेश संबंधी कागजात भी इस फॉर्म के साथ जमा कराने होते हैं.
  • फिर उस फॉर्म को जाकर आप अपने निकटतम डाकघर अथवा बैंक शाखा में जमा करा सकते हैं.
  • इसके बाद आपका खाता खुल जाएगा जिसके बाद आप प्रत्येक महीने अपनी सुविधा के अनुसार सुकन्या समृद्धि खाते में पैसे जमा करा सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना में पैसा कब निकालें

नियमों के अनुसार सुकन्या समृद्धि खाते में से राशि निकालने का एक निर्धारित समय तय किया गया है जो लड़की की आयु सीमा पर निर्भर करता है. सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खोले गए खाते में से पैसे निकालने की अवधि 18 साल है. जिस लड़की के नाम से यह खाता खोला गया है यदि वह 18 साल की हो जाती है और अपनी शिक्षा अथवा विवाह के लिए आर्थिक सहायता चाहती है तो वह सुकन्या समृद्धि योजना खाते से 50% धनराशि प्राप्त कर सकते हैं. खाते में मौजूद बची हुई राशि उसके 21 साल होने के बाद उस लड़की को दे दी जाएगी. उस राशि का उपयोग वह लड़की अपनी शिक्षा अथवा विवाह सहित किसी भी अन्य कार्यों में कर सकते हैं.

अन्नपूर्णा योजना के तहत महिलाएं आसानी से प्राप्त कर सकती हैं लोन.

सुकन्या समृद्धि योजना के मुख्य लाभ

  • केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना के अंतर्गत खाते में जमा की गई राशि पर उच्च ब्याज की प्राप्ति होती है.
  • योजना के नियमों के अनुसार सुकन्या समृद्धि खाते में ब्याज की दर प्रत्येक वर्ष बदलती रहती है.
  • वर्तमान स्थिति में इस योजना की ब्याज दर 7.6 फ़ीसदी है. आने वाले समय में इस दर में बढ़ोतरी होने की आशंका है.
  • इस योजना का मुख्य लाभ निर्धन एवं मध्यम वर्गीय परिवारों की बच्चियों को प्राप्त हो पाएगा और वह अपने भविष्य को उज्जवल बना सकेंगे.
  • सुकन्या समृद्धि खाते के अंतर्गत जमा कराई जाने वाली राशि आयकर कानून की धारा 80 सी के अंतर्गत आती है, जोकि इनकम टैक्स से पूरी छूट प्रदान करती है.

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस योजना के चलते देश की बेटियों के बीच शिक्षा का प्रचार और प्रसार काफी हद तक बढ़ेगा और देश उन्नति की ओर जाता हुआ दिखाई देगा. इस योजना की वजह से बेटियों के मृत्यु दर में भी कमी आएगी. जिस प्रकार लोग बेटियों को बोझ समझ कर मार दिया करते थे अब ऐसा नहीं होगा. बेटी के भविष्य को सरकार के हाथों में देख अभिभावक काफी हद तक निश्चिंत हो पाएंगे और उन्हें पढ़ने और उनके इच्छा अनुसार कार्य करने की आजादी दे सकेंगे. केंद्र सरकार की इस योजना से देश की बेटियों को अपना भविष्य स्वयं लिखने की आजादी भी प्राप्त हो सकेगी.

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत मासिक एवं वार्षिक आधार पर जमा की गई राशि की गणना जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

अन्य पढ़ें –

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *