PM उज्ज्वला योजना : केंद्र ने तीन फ्री रसोई गैस योजना में किया बदलाव, तीसरे गैस सिलिंडर की किश्त चाहिए तो ऐसे करें आवेदन

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना मोदी सरकार द्वारा 2016 में शुरू की गई थी. इस योजना के अंतर्गत सरकार देश की महिलाओं को मुफ्त में गैस कनेक्शन दे रही थी. योजना ने अब तक करोड़ों को लोगों को लाभान्वित किया है. सरकार का इस योजना का शुरू करने का उद्देश्य यह था कि जो महिलाएं अभी भी चूल्हे में खाना बनाती है, उन्हें उससे राहत मिले. चूल्हे के धुएं से महिलाओं की स्वास्थ्य में बहुत बुरा असर पड़ता था, साथ ही परिवार के सभी सदस्य भी इससे प्रभावित होते थे. धुंए से आस पास का वातावरण बहुत ख़राब होता था, वो धुँआ वायु मिलकर विषेला हो जाता है. सरकार ने इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए योजना की शुरुवात की.

ujjwala-yojana-center-changes-three-free-lpg-gas-rule hindi

सरकार की तरफ से मुफ्त सिलेंडर प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें.

कोरोना काल में फ्री गैस सिलेंडर देने की हो घोषणा –

मार्च में कोरोना महामारी आने के बाद देश के गरीब लोगों को खाने की बहुत समस्या हो गई थी. लॉकडाउन के चलते सभी कामकाज को बंद कर दिया गया था. इन सभी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने पीएम गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत राहत पैकेज की घोषणा की थी. इसके के तहत सरकार ने उज्ज्वला योजना के अंतर्गत सभी रजिस्टर महिलाओं को अगले तीन महीने मुफ्त में तीन गैस सिलेंडर देने की घोषणा की. इन तीन गैस सिलेंडर की राशी सरकार सभी रजिस्टर लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे ट्रान्सफर होगी.

योजना में हुआ बड़ा बदलाव –

सरकार ने अप्रैल से जून तक तीन सिलेंडर मुफ्त में देने की बात कही थी, जिसमें हर महीने एडवांस में पैसा सीधे लाभार्थी के अकाउंट में डाला जा रहा था. अप्रैल एवं मई महीने का पैसा तो सरकार से एडवांस में लाभार्थी के अकाउंट में डाला था, ताकि वे सभी लाभार्थी जाकर गैस सिलेंडर खरीद सकें. सरकार ने अब इसमें बदलाव कर दिया है. उज्ज्वला योजना के अंतर्गत आखिरी किश्त सिलेंडर का पैसा सरकार एडवांस में लाभार्थी के अकाउंट में नहीं डालेगी, बल्कि उपभोक्ता को पहले खुद रसोई गैस का भुगतान कर सिलेंडर खरीदना होगा, फिर उसके बाद सरकार आपको इसका पैसा बाद में अकाउंट में दे देगी. सरकार ने यह क्लियर किया है कि जिसको भी उज्ज्वला योजना के अंतर्गत तीसरा सिलेंडर मुफ्त में चाहिए वो पहले इसके खुद खर्च करे, फिर सरकार इसकी राशी आपको देगी.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत जिन लोगों के पास खेत नहीं है उन्हें भी मिलेगा फायदा, लाभ पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

उज्ज्वला योजना के अंतर्गत गैस सिलेंडर का वजन –

योजना के अंतर्गत 2 तरह के रसोई गैस सिलेंडर चुनने का विकल्प मिलेगा. योजना में 2 किलो का छोटा या 5 किलो का बड़ा सिलेंडर उपभोक्ता को मिलेगा. इसका चयन आप कर सकते है.

उज्ज्वला योजना के तहत कितना पैसा आएगा खाते में –

योजना के अंतर्गत उपभोक्ता अगर छोटा सिलेंडर लेता है तो उसे 305 रूपए सरकार द्वारा खाते में दिए जायेगें. इसके अलावा बड़े सिलेंडर के लिए खाते में 830 रूपए सरकार डायरेक्ट उपभोक्ता के अकाउंट में ट्रान्सफर करेगी.

कैसे आएगा उज्ज्वला योजना का पैसा –

  • योजना के तहत अगर आप रसोई गैस सिलेंडर एजेंसी से अपने लगाकर खरीद लेते है तो कुछ समय बाद आपका पैसा अकाउंट में आ जायेगा.
  • आप जिस भी एलपीजी वितरक से गैस सिलेंडर लेंगे, उसको आपको बताना होगा कि आप उज्ज्वला के तहत यह सिलेंडर ले रहे है. फिर आपको उस वितरक को सारी जानकारी देनी होगी. ये वितरक आपकी जानकारी को तेल कम्पनी को देगा, जिसके बाद तेल कम्पनी की वेबसाइट पर आपका अपडेट हो जायेगा.
  • ऑनलाइन डाटा अपडेट हो जाने के बाद आपका पैसा कुछ ही समय में आपके बैंक खाते में आ जायेगा.

आवास योजना की नयी सूची जारी, आधार नंबर से अपना नाम खोजने के लिए यहाँ क्लिक करें.

उज्ज्वला योजना का पैसा बैंक खाते में आया कि नहीं ऑनलाइन चेक करें –

उज्ज्वला योजना का पैसा सरकार द्वारा उपभोक्ता के अकाउंट में आ रहा है. यह पैसा आपके खाते में आया है कि नहीं यह आप ऑनलाइन घर बैठे चेक कर सकते है, इसके लिए आपको बैंक के चक्कर काटने की जरुरत नहीं है. ऑनलाइन बैलेंस चेक करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया है –

  • उज्ज्वला योजना का पैसा ऑनलाइन चेक करने के लिए आप पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम पोर्टल पर जाएँ.
  • होमपेज पर आपको उपर तरह “know your payment” विकल्प पर क्लिक करें. जिसके बाद एक पेज पर फॉर्म खुलेगा.
  • यहाँ आपको अपने बैंक का नाम, अकाउंट नंबर और स्क्रीन पर दिखाई देने वाला वेरिफिकेशन कोड डालना होगा.
  • सर्च बटन पर क्लिक करते ही आपको आपके अकाउंट की सारी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई देगी. आको यहाँ दिखाई देगा कि आपके खाते में कब और कितने पैसे आये है.

सरकार ने यह फैसला इसलिए लिया क्यूंकि पहले जब सरकार ने 2 किश्त अकाउंट में डाली तो लोगों ने उसका गलत प्रयोग किया था, बहुत शिकायत आ रही थी, जिसके बाद सरकार ने यह फैसला लिया कि पहले उपभोक्ता को सिलेंडर खरीदना होगा, फिर पैसे अकाउंट में आयेगें.  

Follow me

Vibhuti

विभूति अग्रवाल मध्यप्रदेश के छोटे से शहर से है. ये पोस्ट ग्रेजुएट है, जिनको डांस, कुकिंग, घुमने एवम लिखने का शौक है. लिखने की कला को इन्होने अपना प्रोफेशन बनाया और घर बैठे काम करना शुरू किया. ये ज्यादातर कुकिंग, मोटिवेशनल कहानी, करंट अफेयर्स, फेमस लोगों के बारे में लिखती है.
Vibhuti
Follow me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *