वैलेंटाइन डे स्पेशल कविता मुसाफ़िर मेरी यादों का अनमोल तराना | Valentine Day Kavita or Poem In Hindi

वैलेंटाइन डे स्पेशल कविता मुसाफ़िर मेरी यादों का अनमोल तराना (Valentine Day Kavita or Poem In Hindi)

वैलेंटाइन्स डे प्यार का त्योहार हैं प्यार में मिलना बिछड़ना होता ही है, लेकिन यादें हमेशा खुशियों से भरी होती हैं. बस महसूस करने के तरीके उसे दर्द या तकलीफ का नाम दे देते हैं. यहाँ मेरी वो यादे हैं जिन्हें मैंने बहुत वक्त पहले जिया था, फिर वो लमहे मेरे हाथ से छूट गए, लेकिन उस मुसाफ़िर को कभी खुद से दूर नहीं किया मैंने. अपनी उन यादों को जिंदगी में जगह दी और हमेशा दिल से लगाया. वैलेंटाइन डे के मौके पर मेने अपनी भावनाओं में बस करुण रस को अल्फाज़ों में बयां किया.

वैलेंटाइन डे सभी यूवा युवतियों के लिए खास होता हैं, इसे अगर काव्य का रूप मिल जाता है, तो अहसासों में सुर आ जाते हैं.

वैलेंटाइन डे स्पेशल कविता मुसाफ़िर मेरी यादों का अनमोल तराना | Valentine Day Kavita or Poem In Hindi


Valentine' s Day Kavita Poem In Hindi

हर शाम उस मुसाफ़िर के नाम,
जो लाया था प्यार का पैगाम.
करती हूँ उसे दिल से सलाम,
पिलाया था जिसने मोहोब्बत का जाम|




हर तरफ से निराश था यह मन,
खुशियों के लिए भटकता जीवन|
उसने सिखाया जीने का सलीका,
हर पल हँसते रहने का तरीका|

अब हर लम्हा,अपना सा लगता है,
इतनी खुशियाँ,मानो सपना सा लगता है|
दिल अब उसी के लिए धड़कता है,
जैसे पहली किरण के साथ, चिड़ीयों का झुण्ड चहकता है|




आया था ऐसे,जैसे कोई हवा का झौका,
दे गया मुझे,खुशियों का रंगीन तौहफा|
क्यूँ दिया उसने मुझे मौका,
क्यूँ और किस खातिर इतना सोचा|

अब हर प्रश्न पहेली बन गया,
ना जाने वो मुसाफ़िर कहाँ खो गया.|





अन्य पढ़े :




Karnika
कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं | यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here