ताज़ा खबर

ज़ेबपे बिटकॉइन वॉलेट एप्प क्या है | Zebpay enabled bitcoin wallet app in hindi

ज़ेबपे बिटकॉइन वॉलेट एप्प क्या है और खाता कैसे खोले | What is Zebpay bitcoin enabled wallet app kya hai, How to create account in hindi 

आज के समय में बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी बहुत ही प्रसिद्ध डिजिटल करेंसी बनती जा रही है. इस आभासी मुद्रा को लोगों द्वारा खूब खरीदा जा रहा है. आभासी मुद्रा उस मुद्रा को कहा जाता है जिन्हें हम देख और छु नहीं सकते. आज के समय में जिस किसी के भी पास पैसा है वो उसे सही जगह निवेश करके लाभ कमाना चाहता है. अगर आप भी सही जगह पर अपने पैसों का निवेश करने का सोच रहे हैं, तो आपके लिए ज़ेबपे एक जगह है. जिसके द्वारा आप बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर सकते है. हांलाकि इसमें जोखिम बहुत ज्यादा है, फिर भी कई ऐसे लोग हैं जो इसमें निवेश करना चाहते हैं और उन्हीं लोगों के लिए आज हम अपने आर्टिकल में ज़ेबपे की विस्तृत जानकारी दे रहे है.

zebpay wallet app

ज़ेबपे आईटी सर्विस कंपनी और इसके उपभोक्ता (zebpay company and user)

ज़ेबपे सेवा क्या है: (What is Zebpay service)

जेबपे आईटी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड, एक स्वतंत्र लिमिटेड कंपनी है, जो कि भारत के कानून के अंतर्गत शामिल है. इस कंपनी का अपना खुद का रजिस्टर ऑफिस है, जो कि अहमदाबाद में स्थित है. प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जेबपे की सेवाओं का लाभ लेनेवाले व्यक्तियों को जेबपे उपभोक्ता कहा जाता है.

जेबपे के उपभोक्ता बनने से जुड़ी शर्तें 

भारत का निवासी और कानून के अंतर्गत आनेवाला व्यक्ति ही जेबपे का यूजर या उपभोक्ता बन सकता है, इसके अलावा कोई भी अमान्य व्यक्ति जो की भारत के कानून के अंतर्गत नहीं आता हो, वो जेबपे की सेवाओं का लाभ नहीं ले सकता है. ज़ेबपे एक तरह से कंपनी और उसके उपभोक्ता के बीच एक तरह का अनुबंध (लिखित समझोता) है. जिसके अंतर्गत यूजर इसकी सभी शर्तों का पालन करने के लिए बाध्य होते हैं. जब भी आप ज़ेबपे पर अपना खाता बनाते हैं, तो आपको कंपनी के द्वारा कुछ शर्ते दी जाती है. जब आप उन शर्तों को अच्छे से पढ़ लेते हैं और उनसे सहमत होते हैं तब आपको आई अग्री बटन पर क्लीक करके अपनी सहमती देनी होती है. ऐसा करने के बाद आप ज़ेबपे के उपभोक्ता बन जाते हैं. ज़ेबपे के उपभोक्ता बनने से पहले इस बात का ध्यान रखना आवश्यक है, कि ज़ेबपे जब चाहे अपनी पॉलिसीस में सुधार या उसे बदल सकता है.

ज़ेबपे की सेवाओ का लाभ कैसे उठाये :

अगर आप ज़ेबपे की सेवाओ का लाभ लेना चाहते हैं, तो आप ज़ेबपे एंड्राइड एप, ज़ेबपे आईफ़ोन एप या ज़ेबपे की वेबसाइट www.zebpay.com आदि में से किसी का भी उपयोग कर सकते हैं. आप ज़ेबपे की किसी भी सेवा का उपयोग करके अपना खाता खोलते है तो उसे यूजर एकाउंट के नाम से ही संबोधित किया जाता है. अगर आप ज़ेबपे के यूजर बनना चाहते हैं, तो आपको ये जानलेना आवश्यक है कि, ज़ेबपे के द्वारा दिये जाने वाले ऑफर, दी जाने वाली राशि, इसकी समय सीमा पहले से ही निर्धारित है.

ज़ेबपे सेवा की कमियां

अगर आप ज़ेबपे सेवा के जरिए अपना पैसा निवेश करने का सोच रहे हैं, तो आपको ज़ेबपे की सेवाओं से जुड़ी जानकारी के बारे में पता होना चाहिए. नीचे हम आपको जेबपे से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी दे रहे हैं-

  • ज़ेबपे के द्वारा क्रिप्टोकरेंसी को खरीदा और बेचा जाता है, फिलहाल हम इसके इस्तेमाल से अभी केवल बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी को ही खरीद और बेच सकते हैं. ज़ेबपे की कई सारी खामियां भी हैं जैसे, ज़ेबपे ना तो बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी का निर्माता है, ना ही इनका प्रबंधन ज़ेबपे के हाथ में है, और ना ही ज़ेबपे ग्लोबल मार्केट में इसकी कीमत के लिए जिम्मेदार है. ज़ेबपे क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग के लिये केवल एक साधन मात्र है.
  • ज़ेबपे अपनी सेवाओं में किसी भी प्रकार की वारंटी नहीं देता. उपभोक्ता जो कि ज़ेबपे की सेवाओ का लाभ ले रहे हैं, वे पूरी तरह से अपने जोखिम पर काम करता है. अगर उपभोक्ता को किसी भी तरह का नुकसान होता है तो इसके लिए ज़ेबपे जिम्मेदार नहीं होगा. ज़ेबपे अपने अनुबंध में भी यह बात स्पष्ट करता है कि किसी भी तरह की वारंटी ज़ेबपे के द्वारा नहीं दी जाती है.
  • ज़ेबपे सेवा का उपयोग केवल भारत में ही किया जा सकता है, इसी के साथ इसमें उपभोक्ता को अपना व्यापार भारत के कुछ हिस्सों में फैलाने की सख्त मनाई है. भारत में कई ऐसे स्थान भी है जहां क्रिप्टोकरेंसी को मान्यता नहीं अगर कोई भी यूजर निषिध्द अधिकार क्षेत्र से ज़ेबपे का उपयोग करता है तो ज़ेबपे कभी भी उसकी मान्यता रद्द कर सकता है.
  • ज़ेबपे के उपभोक्ता को यह बात जानलेनी चाहिये की अब तक क्रिप्टोकरेंसी को भारत में किसी भी तरह के व्यापार याभुगतान के लिये मान्यता नहीं मिली है, रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने भी अब तक तीन प्रेस कांफ्रेंस कर क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग को लेकर सतर्क रहने की हिदायत दी है.
  • हो सकता है की ज़ेबपे अपनी सेवाओं को आसान बनाने के लिए किसी अन्य संस्था से प्रतिबद्ध हो. इस स्थिति में उपभोक्ता का व्यक्तिगत जानकारी उस अन्य संस्था को भी दी जाती है और इस समय ज़ेबपे उपभोक्ता के डाटा की गोपनीयता के लिए स्वयं जिम्मेदारी नहीं लेता.
  • ज़ेबपे के सभी नियम सभी नये व पुराने उपभोक्ता के लिए एक जैसे होंगे. ज़ेबपे जब चाहे अपनी शर्तों में बदलाव करने के लिए स्वतंत्र है, जिसकी लिखित जानकारी इसके उपभोक्ता को भेजी जाती है. अगर उपभोक्ता इन परिवर्तन से सहमत नहीं है, तो वह तुरंत ज़ेबपे की सेवाओ को छोड़ने का फैसला ले सकता है. और अगर उपभोक्ताऐसानहीं करता है तो इसका यह अर्थ निकला जाता है की वह सभी परिवर्तन से सहमत है .

ज़ेबपे सेवा के क्षेत्र (scope of Zebpay services ) :

  • वर्तमान में ज़ेबपे अपने उपभोक्ता को क्रिप्टोकरेंसी को इस्तेमाल करने के लिए रजिस्ट्रेशन प्रदान करता है, जिससे वे इसका उपयोग कर सके. अब ज़ेबपे की आगामी सेवाओं में उपभोक्ता आपस में भी क्रिप्टोकरेंसी का लेनदेन या व्यापार कर पायेंगे .
  • उपभोक्ता ज़ेबपे के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी को खरीद कर अपना पैसा इसमें निवेश कर सकता है और जरुरत पड़ने पर उसे बेचा भी जा सकता है. ज़ेबपे किसी भी प्रकार का निवेश कानून के अंतर्गत नहीं आता है.

ज़ेबपे पर अपना खाता बनाने की प्रक्रिया (How to create zebpay wallet app account in hindi): 

  • आपको ज़ेबपे खाता बनाने के लिए सबसे पहले इसकी एप अपने फोन में डाउनलोड करनी होगी. उसके बाद आपको इसमें अपना मोबाइल नंबर डालकर उसे प्रमाणित करना होता है, जो कि आपको वन टाइम पासवर्ड भेजकर किया जाता है. 
  • अब आपको इसमें सभी आवश्यक जानकारी जैसे नाम, पता, पेनकार्ड नंबर और ईमेल आईड डालनी होगी. ज़ेबपे खाता बनाते समय यह ध्यान रखना आवश्यक है की आपके द्वारा दी गयी जानकारी सही होनी चाहिये.
  • ज़ेबपे सर्विस का उपयोग करने के लिए आपको अपना एकाउंट नंबर भी देना होता है.
  • जब 24 घंटे बाद आपके खाता नंबर की जांच हो जाती है और सही होने पर आपका ज़ेबपे एकाउंट चालू हो जाता है, जिसके द्वारा आप बिटकॉइन खरीद और बेच सकते है.

जब हम ज़ेबपे सर्विस की बात करते हैं, तो क्रिप्टोकरेंसी और बिटकॉइन को समझना बहुत आवश्यक हो जाता है. नीचे बहुत ही कम शब्दो में आपको इन दोनों के बारे में जानकारी दी गई है जो कि इस प्रकार है-

क्रिप्टोकरेंसी क्या है (What is cryptocurrency) :

क्रिप्टोकरेंसी एक तरह का डिजिटल मनी है, जिसका उपयोग इंटरनेट की सहायता से किया जा सकता है. दुनिया में लगभग 1300 तरह की क्रिप्टोकरेंसी हैं लेकिन क्रिप्टोकरेंसी को कई देशों में मान्यता नहीं मिली है. वहीं क्रिप्टोकरेंसी की सहायता से लोग अपना पैसा आसानी से छुपा सकते है. क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ा सारा लेन-देन इंटरनेट पर ही किया जाता है.

बिटकॉइन क्या है (What is Bitcoin):

बिटकॉइन एक तरह की क्रिप्टोकरेंसी है और बिटकॉइन के अविष्कार सतोशी नाकामोतो ने 2009 में किया था. इसपर किसी भी कंपनी, व्यक्ति, या देश का एकाधिकार नहीं है. ठीक उसी तरह जिस प्रकार से इंटरनेट पर किसी का अधिकार नहीं है. इसकी कार्य प्रणाली पीयर-टू-पीयर है, जिसका मतलब इसमें मुद्रा का विनिमयन प्रत्यक्ष रूप से होता है. इसमे कोई मध्यस्थ जैसे बैंक, कोंई क्रेडिट कार्ड कंपनी अदि नहीं होते हैं. इसमें ट्रांजेशन को ब्लॉक चेन के द्वारा चेक किया जाता है. आज के दिन 1 बिटकॉइन की कीमत 1143227.92 रूपए है.

अन्य पढ़े:

Sneha

Sneha

स्नेहा दीपावली वेबसाइट की लेखिका है| जिनकी रूचि हिंदी भाषा मे है| यह दीपावली के लिए कई विषयों मे लिखती है|
Sneha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *