हर्षद मेहता (Harshad Mehta)का जीवन परिचय (घोटाला, केस, नेट वर्थ, फॅमिली, डेथ)

हर्षद मेहता का जीवन परिचय, कौन है, क्या हुआ, भाई, घर, बेटा, परिवार, वेब सीरीज, स्टोरी, घोटाला, वाइफ, नेट वर्थ, मूवी, वकील, मृत्यु कैसे हुई, कंपनी, कुंडली, केस, हर्षद मेहता बायोग्राफी इन हिंदी (Harshad Mehta Biography in Hindi), (Series, Movie, Son, Family, Death, Cause, Net Worth, Wife, Brother, House, Book) 

हर्षद मेहता हमारे देश भारत के एक जाने-माने शेयर बाजार के दलाल थे जिन्हें द बिग बुल भी कहा जाता है. बता दें कि शेयर बाजार में इनकी बहुत ज्यादा पकड़ रही है और इसी वजह से उन्होंने शेयर मार्केट को हिलाया हुआ था. जानकारी दे दें कि इनका दिमाग बहुत ही ज्यादा तेज था, जिसकी वजह से इन्होंने बहुत तेजी के साथ शेयर मार्केट में धूम मचाई और खूब पैसा भी कमाया एवं शेयर मार्केट के बेताज बादशाह बनें. आइये इस लेख में हम उनके जीवन के बारे बात करते हैं.

harshad mehta biography in hindi

हर्षद मेहता का जन्म एवं परिचय (Birth and Introduction)

पूरा नाम (Full name) हर्षद शांतिलाल मेहता
निक नेम (Nick Name) द बिग बुल, अमिताभ बच्चन ऑफ स्टॉक मार्केट  
किसलिए प्रसिद्ध है (Famous for) 1992 में 4000 करोड़ रुपए से भी अधिक स्टॉक  मार्केट घोटाला
जन्म तिथि (Date of birth) 29 जुलाई 1954
जन्म स्थान (Birth place) पनेली मोटी, राजकोट डिस्ट्रिक्ट, गुजरात
मृत्यु की तिथि (Date of death) 31 दिसंबर 2001
मृत्यु के समय उम्र (Age) 47 वर्ष
मृत्यु का कारण (Death cause) (Heart Ailment)
मृत्यु की जगह (Place of death) थाणे सिविल हॉस्पिटल
राशि (Zodiac sign) कन्या
पेशा (Occupation) स्टॉक ब्रोकर
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय
होमटाउन (Hometown) गुजरात
स्कूल (School) होली क्रॉस सीनियर सेकेंडरी स्कूल, राजपुर छत्तीसगढ़
कॉलेज/यूनिवर्सिटी  (College/University) लाला लाजपत राय कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स, मुंबई 
शिक्षा (Educational qualification) बीकॉम
धर्म (Religion) हिंदू
नेटवर्थ ज्ञात नहीं

हर्षद मेहता की पारिवारिक जानकारी (Family Detail)

जाने-माने स्टॉक ब्रोकर हर्षद मेहता ने गुजरात के राजकोट जिला में एक छोटे से गुजराती परिवार में जन्म लिया था. जब हर्षद मेहता का बचपन गुजरा तो उसके बाद इनका सारा परिवार मध्य प्रदेश राज्य में शिफ्ट हो गया था. हर्षद मेहता के पिता मुंबई के कांदिवली में अपना बिजनेस करते थे. उनके पिता ने मुंबई में अपना खुद का कारोबार किया था, जिसमें उन्हें असफलता मिली थी. उसके बाद उन्होंने फिर मध्यप्रदेश में बिजनेस शुरू किया. इनकी माता एक ग्रहणी थी और इनके तीन भाई थे. इसके अलावा उनके परिवार में उनकी पत्नी है और उनका एक बेटा है.

पिता (Father) शांतिलाल मेहता
माता (Mother) रसीलाबेन मेहता  
बहन भाई (Siblings) तीन भाई *अश्विन मेहता *हितेश मेहता *सुधीर मेहता
पत्नी (Wife) ज्योति मेहता
बच्चे (Children) अतुर मेहता

हर्षद मेहता की शिक्षा (Education)

हर्षद मेहता ने आरंभिक पढ़ाई छत्तीसगढ़ के रायपुर में होली क्रॉस बैरन बाजार हायर सेकेंडरी स्कूल से करने के बाद उन्होंने बीकॉम की पढ़ाई मुंबई के लाजपत राय कॉलेज से की थी. यहां बता दें कि हर्षद मेहता एक बहुत ही इंटेलिजेंट और होशियार छात्र रहे थे.

हर्षद मेहता का शारीरिक रूप और माप (Look)

लंबाई (Height) 6 फुट
वजन (Weight) 78किलो
आंखोंकारंग (Eye Colour) काला
बालों का रंग (Hair Colour) काला

हर्षद मेहता का करियर (Career)

बता दें कि हर्षद मेहता ने अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद एक बीमा कंपनी ज्वाइन कर ली थी, जहां पर वह सेल्स की जॉब किया करते थे. वहां पर नौकरी करने के कुछ दिन बाद उन्होंने एक ब्रोकरेज फर्म में काम करना शुरू कर दिया और वहां पर उन्होंने स्टॉक मार्केट के बारे में सभी जानकारियों को बहुत बारीकी से सीखा. जब वह स्टॉक मार्केट के सारे पैंतरों को अच्छी तरह समझ गए तो उसके बाद 1984 में उन्होंने अपनी खुद की एक कंपनी बनाकर मुंबई एक्सचेंज की मेंबरशिप हासिल की. बता दें कि कुछ ही समय में हर्षद मेहता अखबारों और समाचारों की सुर्खियों पर छाए रहने लगे थे और सभी बड़े बड़े उद्योगपति उनके साथ मीटिंग करने और काम करने के लिए बेताब रहते थे. स्टॉक मार्केट में हर्षद के नाम को बहुत ही ज्यादा सम्मान दिया जाने लगा था, और हर इंसान अचंभित था कि आखिर इतने कम समय में उन्होंने इतनी तरक्की कैसे कर ली.

हर्षद मेहता के बारे में कुछ रोचक बातें (Facts)

  • इन्हें शेयर बाजार का बेताज बादशाह और द बिग बुल भी कहा जाता था.
  • शेयर मार्केट में उन्होंने बहुत ही थोड़े समय में बहुत ज्यादा पैसा कमाया था.
  • यह एक मध्यवर्गीय परिवार से संबंध रखते थे और इनके पिता एक छोटे से व्यापारी थे.
  • हर्षद मेहता नकली रसीदें बनाकर बैंकों से पैसा लेकर उसको शेयर मार्केट में लगा दिया करते थे.
  • इनके खिलाफ 72 आपराधिक मामलों और 600 से भी ज्यादा दीवानी मामले दायर किए गए. लेकिन हर्षद मेहता केवल एक ही मामले में दोषी पाए गए क्योंकि दूसरे अन्य सभी मामलों में उनके खिलाफ किसी भी प्रकार का सबूत नहीं मिला था.
  • हर्षद मेहता ने 1993 में उस समय के प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव पर भी एक करोड़ रूपए की रिश्वत का आरोप लगाया था जो कि सही साबित नहीं हुआ.
  • उनकी मौत जेल में बहुत ही रहस्यमयी तरीके से हुई थी.

हर्षद मेहता का विवाद, घोटाला (Controversy)

1992 हर्षद मेहता का हुआ भंडाफोड़ जानकारी के लिए बता दें कि जिस तरह से हर्षद मेहता इतनी तेजी से तरक्की कर रहे थे, कि उससे हर इंसान हैरान था और सभी उनकी कामयाबी के राज को जानना चाहते थे. जिसका पर्दाफाश 1992 में हुआ. बता दें कि उस समय की एक पत्रकार सुचेता दलाल ने हर्षद मेहता के स्टॉक मार्केट के खेल का भाड़ा फोड़ा था. यहां बता दें कि हर्षद मेहता पर 72 आपराधिक मामले दर्ज होने के साथ-साथ 6000 से भी अधिक दीवानी मामले दर्ज किए गए थे. लेकिन वह सभी केसों में जमानत हासिल कर चुके थे और सबूत न मिल पाने के कारण केवल एक ही केस में वह दोषी पाए गए. इसीलिए 2001 में उन्हें 5 साल की सजा के साथ साथ 25,000 रुपए का उन पर जुर्माना हुआ. यहां आपको बता दें कि 1992 में जब आरबीआई की जनाकिरामन समिति ने अपनी रिपोर्ट दी, तो उनके मुताबिक हर्षद मेहता ने 4025 करोड़ का घोटाला किया था.

हर्षद मेहता अफेयर्स (Personal Life and Affairs)

बता दें कि हर्षद मेहता की शादी ज्योति मेहता के साथ हुई थी और दोनों ही अपने वैवाहिक जीवन में बहुत ज्यादा खुश थे. इसके अलावा हर्षद मेहता का किसी और महिला के साथ प्रेम संबंध नहीं रहा था.

हर्षद मेहता मूवीस और वेब सीरीज (Movies and Web Series)

हर्षद मेहता घोटाला जब सामने आया तो उनके जीवन के ऊपर कई फिल्में रिलीज होने के साथ-साथ कई वेब सीरीज भी आईं. यहां बता दें कि साल 2020 में हर्षद मेहता की जिंदगी पर आधारित एक वेब सीरीज सोनी लिव पर भी दिखाई गई थी जिसका नाम 1992 स्कैम – द हर्षद मेहता था.

हर्षद मेहता मृत्यु (Death)

शातिर और तेज दिमाग स्टॉकब्रोकर हर्षद मेहता की मृत्यु बहुत ही रहस्यमई तरीके से उस समय हुई थी, जब वह एक केस में दोषी पाए गए और उन्हें 5 साल के लिए जेल हो गई थी. ‌जानकारी के लिए बता दें कि हर्षद मेहता थाणे जेल में बंद थे जब 31 दिसंबर 2001 को अचानक देर रात उनकी छाती में दर्द हुआ, तो उन्हें थाणे सिविल अस्पताल में ले जाया गया लेकिन वहां पर उनकी मौत हो गई थी. इस प्रकार केवल 47 वर्ष की आयु में उनकी मृत्यु हो गई.  

स्टॉक मार्केट के बेताज बादशाह रह चुके हर्षद मेहता निश्चित ही एक बहुत ही ज्यादा तेज दिमाग वाले इंसान थे, लेकिन उन्होंने अपने तेज दिमाग का प्रयोग गलत तरीके से पैसा कमाने में इस्तेमाल किया. अगर वह अपने इन सलाहियतो का प्रयोग ठीक तरह से करते तो आज उनका नाम किसी भी तरह के घोटाले से जुड़ा नहीं होता और लोगों के बीच आज उन्हें एक सम्मानजनक तरीके से याद किया जाता.‌

अन्य पढ़ें –

Karnika
कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं | यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं

More on Deepawali

Similar articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here