कीवी फल के फ़ायदे | kiwi fruit benefits in hindi

कीवी फल के फ़ायदे Kiwi fruit benefits (fayde) in hindi

हलके भूरे रंग का चीकू सा दिखने वाला रोएँदार कीवी, एक पहाड़ी फल है| सबसे पहले चीन में इसे उगाया जाता था, जहाँ से ये न्यूज़ीलैंड पहुँचा और आज विश्व भर में इसकी कई किस्में हैं। बाहर से भूरा रोएँदार और भीतर से चिकना हरा गूदा लिए कीवी सही मायने में पोषक तत्वों का एक भरपूर खज़ाना है। मुख्यतः कीवी में फाइबर, विटामिन सी और विटामिन ई,  केरोटिनोइड्स, एंटीऑक्सीडेंट्स और कई प्रकार के मिनरल्स पाए जाते हैं, जो कि हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए काफी गुणकारी हैं। 

  • रोग प्रतिरोधी क्षमता – विटामिन ई और एंटी ऑक्सीडेंट्स की मात्रा कीवी में ज्यादा होने के कारण इस से रोग प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाती है। शारीरिक कमजोरी को दूर कर के दिन भर की थकान को मिटाने का भी एक अद्भुत इलाज है कीवी और साथ ही ये स्फूर्ति बनाए रखता है, इसलिए इसे नाश्ते में ओट्स इत्यादि के साथ खाना लाभदायी होता है। विटामिन सी से भरपूर कीवी हमारे शरीर की आयरन सोखने में मदद करता है और यही कारण है कि अनीमिया के मरीजों के लिए कीवी एक उत्तम फल है। अनिद्रा के लिए कीवी बड़ी ही काम की चीज़ है क्यूंकि इस में मौजूद सेरोटिनिन आपको तनाव दूर कर के अच्छी नींद लाने में सहायक है।
  • गर्भावस्था में फायदेमंद (Kiwi fruit in pregnancy) -कीवी जैसा अद्भुत फल गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान से कम नहीं है, क्यूंकि गर्भावस्था में ज़रूरी तत्व फोलिक एसिड भी कीवी में पाया जाता है, ऐसा कहा जाता है कि  माता द्वारा गर्भावस्था में कीवी के सेवन से बच्चे के दिमाग़ के विकास में बहुत फायदा मिल सकता है।
  • ह्रदय रोग में लाभ – कीवी में मौजूद फाइबर और पोटैशियम दिल की बीमारियों को हमसे दूर रखते हैं, ह्रदय रोग में जब मरीज़ कम सोडियम लेने के साथ अपनी पोटैशियम लेने की आदत को बढ़ा लेता है, तो इस से बीमारी बढ़ने का खतरा काफी कम हो जाता है। इसके अलावा कीवी बुरे कोलेस्ट्रोल को कम करने में भी सहायक है तथा ये अच्छे कोलेस्ट्रोल को बनाता है और कोलेस्ट्रोल से होने वाली दिल की बीमारी का ख़तरा भी कम करता है। कहा जाता है कि कीवी के नियमित सेवन से खून में ट्राय ग्लिसरोइड की मात्रा घटती है और इस से शरीर में चर्बी जमने पर रोक लगती है तथा खून में थक्का जमने का ख़तरा भी कम होता जाता है.

kiwi

  • डायबिटीज पर नियंत्रण – कीवी से खून में गलूकोज का स्तर नहीं बढ़ता और इसी कारण से कीवी का सेवन  डायबिटीज, दिल के रोग और वज़न कम करने में बहुत फायदेमंद है।
  • पेट की बीमारियों में फ़ायदा आमतौर पर होने वाली पेट की छोटी मोटी बीमारियों के लिए तो कीवी मानो राम बाण इलाज है, जैसे की इस से पेटदर्द, दस्त, बवासीर वगेरह से भी आराम मिलता है। साथ ही इसका रेशा यानि फाइबर हमारे पाचन तंत्र को सही तरीके से काम करते रहने में मदद करता है, और कब्ज़ के मरीज़ों के लिए तो कीवी अमृत समान है।
  • अस्थि रोगों एवं जोड़ों के दर्द में आराम– पोटैशियम नामक तत्व जो हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है, वो भी कीवी में मौजूद है और इसीलिए इसे महिलाओं में ढलती उम्र में होने वाले अस्थिरोग ओस्टियोपोरोसिस के लिए फायदेमंद माना गया है।  साथ ही जोड़ों के दर्द और आर्थराइटिस जैसी समस्याओं के होने पर भी कीवी का उपयोग करने से बड़ा आराम मिलता है।
  • अन्य फ़ायदे हमारी त्वचा में मौजूद कोलाजन को हमारी त्वचा स्वस्थ और सुन्दर बनाये रखने में विटामिन सी की बहुत ज़रुरत होती है और विटामिन सी की अधिकता की वजह से कीवी के सेवन से हमारी त्वचा काफी मुलायम और चमकदार हो जाती है। इस से शरीर की फैट  तो कम होती ही है, पर साथ में इस से हमारी त्वचा में मुलायम, चमकदार और झुर्रियों से रहित बनी रहती है और हम जवान बने रहते हैं. इस से बीमारियों के अलावा तनाव भी दूर होता है मुहांसे, सर्दी ज़ुकाम जैसी छोटी मोती तकलीफों से भी निजात मिलती है

कीवी में पोषक तत्व

कीवी पोषक तत्वों का ख़ज़ाना है. एक औसत साइज़ के कीवी में

तत्व मात्रा
कैलोरी 42
प्रोटीन .8 ग्राम
फैट .4 ग्राम
रेशा 2.1 ग्राम
विटामिन सी 64 मिलीग्राम
विटामिन ए 3 माइक्रोग्राम
लोहा .2 मिलीग्राम
पोटैशियम 252 मिलीग्राम
फ़ोलेट १७ माइक्रोग्राम

इसके अलावा किसी में पोषक तत्व जैसे विटामिन ई, तांबा, विटामिन के, कोलाइन, मैग्नीशियम और फॉस्फोरस भी होते हैं.

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *