सुशांत सिंह राजपूत केस में एनसीबी ने जब्त की 5 किलो मलाणा क्रीम, जानिए क्या हैं यह मलाणा क्रीम एवं क्या है इसका राज़

मलाणा क्रीम क्या है, मलाणा गांव का इतिहास, हिमाचल प्रदेश, समाचार, ताजा खबर, हिस्ट्री, प्राइस, कीमत (Malana Cream Meaning in Hindi, Hash, Himachal Pradesh, Price, Use, Online, History)

हमारे देश में हिमाचल प्रदेश में एक छोटा सा गांव मलाणा है और यह देश के साथ-साथ विदेशों में भी काफी ज्यादा फेमस हो चुका है. इसकी कोई भी ऐसी विशेषता नहीं है, जिसकी वजह से इसे फेमस किया जा सके, परंतु हमारे देश में सबसे गैर कानूनी चीज मलाणा क्रीम के लिए ही इसे लोकप्रियता मिली है. यह गांव केवल मलाणा क्रीम के लिए ही लोकप्रिय हो चुका है. अभी हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत के केस में एनसीबी ने 5 किलो मलाणा क्रीम को जप्त किया है और इसी से यह और प्रसिद्ध हो चुका है. आज हम अपने इस महत्वपूर्ण लेख में मलाणा क्रीम क्या है और मलाणा क्रीम से जुड़े हुए गांव के बारे में विशेष रूप से जानकारी हासिल करने वाले हैं.

malana cream kya hai in hindi

हैदराबाद – भाग्यनगर : हैदराबाद का नाम क्या वाकई पहले भाग्यनगर था जानिए इसके पीछे का इतिहास.

मलाणा क्रीम क्या है

मलाणा क्रीम को चरस हैश या फिर हशीश कहा जाता हैं. इन सभी नशीली चीजों को वीड या फिर गांजे के पौधे के जरिए बनाया जाता है. यह काले रंग के क्रीमी के समान लगता है. और इसे इसीलिए मलाणा क्रीम एवं ब्लैक गोल्ड भी कहा जाता हैं, क्योकि वास्तव में इस गांव में वीड प्राकृतिक तौर पर उगता है, परंतु इसे गैरकानूनी ढंग से भी उगाये जाने का काम किया जाता है. वैसे तो पहाड़ों पर कई स्थानों में गांजा, हैश आदि आसानी से आपको मिल जाएंगे मगर मलाणा क्रीम की तो बात बहुत ही विशेष हो जाती है. मलाणा गांव को दुनिया का सबसे अच्छा वीड उगाया जाने वाला गांव माना जाता है. यहां के लोग चरस को बहुत ही पवित्र जड़ी-बूटी मानते हैं और इसे किसी भी प्रकार से गलत नहीं कहते हैं.

मलाणा क्रीम कैसे बनता है

हमारे देशवासियों के लिए गाजा का सेवन कोई नया नशा नहीं है. मगर हमारे देश में गांजे का सेवन करना बहुत ही गैरकानूनी माना जाता है. हिमाचल प्रदेश के मलाणा गांव में अच्छे क्वालिटी के मलाणा क्रीम बहुत ही फेमस है और यह सबसे शुद्ध और क्वालिटी वाला माना जाता है. वैसे तो देशभर में मलाणा क्रीम पाए जाते हैं, परंतु उनमें अत्यधिक मात्रा में केमिकल मौजूद होते हैं. मलाणा गांव के मलाणा क्रीम की बात एकदम औरों से अलग हो जाती है. मलाणा क्रीम को कैनाबिस पौधे के जरिए बनाया जाता है और इसके लिए इसे मलाणा के लोग हाथ से रगड़ के मलाणा क्रीम को तैयार करते हैं, जोकि हैश क्रीम के जैसी दिखाई देती है.

दुनिया में अब तक तबाही मचा चुकी महामारी की सूची देखें.

मलाणा गांव का इतिहास

मलाणा क्रीम क्या है, इससे पहले हमें मलाणा गांव के बारे में जानना आवश्यक है और इसी जानकारी के आधार पर हमें मलाणा क्रीम से संबंधित बातों को समझने में आसानी होगी. हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से हिस्से में मलाणा गांव स्थित है और यहां पर हमारे देश का कोई भी कानून नहीं चलता है, यहां की संसद ही यहां के मुख्य फैसले लेती हैं. इस गांव के प्राचीन इतिहास से पता चलता है, कि यहां पर रहने वाले लोग आर्यों के पूर्वज हैं. यहां पर लोगों की स्वतंत्रता मुगल शासन काल के दौरान की है. जब सम्राट अकबर ने लोगों की परेशानी के बारे में जानने और उन्हें दूर करने के लिए इस जगह का दौरा किया था. सम्राट अकबर ने कहा कि इस गांव से किसी भी प्रकार का लगान नहीं वसूला जाएगा. यह गांव एक ऐसा इकलौता गांव है, जहां पर स्वयं सम्राट अकबर की पूजा की जाती है. इसके अलावा कुछ लोगों का कहना है, कि मलाणा गांव के लोग अलेक्जेंडर द ग्रेट की सेना के वंशज थे. इस गांव में मलाणा क्रीम पाई जाती है और इसी की वजह से इस गांव की लोकप्रियता देश विदेश में फेमस हो चुकी है. इस गांव की आबादी 2500 लोगों से भी कम है.

मलाणा क्रीम को क्यों खास माना जाता है

कैनाबिस के पौधे में कई केमिकल कंपाउंड मौजूद होते हैं और जिन्हें कैनाबिनॉयड्स कहते हैं. इस पौधे में टीएचसी (टेट्रा हाइड्रो कैनाबिनोल) पाया जाता है, और जिसकी वजह से हाई सेंसेशन महसूस होता है. इसके जिस भी पौधे में टीएचसी की मात्रा कम होती है, उसे रस्सी, कागज, टेक्सटाइल आदि के निर्माण में इस्तेमाल किया जाता है. इसके अतिरिक्त इसके जिस भी पौधे में सीबीडी की मात्रा अधिक होगी, उसका इस्तेमाल दवाइयों के निर्माण में किया जाता है. हैश के ऑयल के निर्माण में सबसे ज्यादा इसे कंसंट्रेटेड बनाया जाता है और इतना ही नहीं मलाणा के चरस में अलग खुशबू और फ्लेवर मौजूद होता है. किसी की वजह से यहां की आबोहवा बहुत ही शुद्ध और प्रदूषण मुक्त पाई जाती है.

जानिए किम्बरली प्रक्रिया, ब्लड डायमंड एवं रफ डायमंड क्या है.

मलाणा क्रीम की कीमत क्या है

जैसा कि हमने आपको बताया मलाणा गांव की मलाणा क्रीम बहुत ही शुद्ध और क्वालिटी वाली होती है. लिहाजा इसकी क्वालिटी के ऊपर भी इसका दाम निर्भर करता है. इंडियन एक्सप्रेस के एक रिपोर्ट अनुसार करीब 10 ग्राम मलाणा क्रीम की कीमत 1500 रुपए से लेकर 8000 रुपए के बीच में हो सकती है. इसका यह दाम शुद्धता और जहां पर इसे बेचा जा रहा है, इस पर भी निर्भर करता है. जिस स्थान पर इसकी मांग ज्यादा होती है, उस स्थान पर इसकी कीमत भी बहुत ज्यादा होती है.

गैरकानूनी होने के बावजूद भी कैसे होता है मलाणा क्रीम का प्रोडक्शन

मलाणा गांव बहुत ही दूर और एकांत जगह पर बसा है, जहां पर लोग आसानी से नहीं जा सकते हैं. इस स्थान पर जाने के लिए सिक्योरिटी एजेंसियों को और पुलिस कर्मियों को काफी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है और उम्मीद से ज्यादा समय यहां पर पहुंचने में ही लग जाता है. यहां के लोगों ने अपनी अलग दुनिया से संस्कृति को बनाया है और यहां पर लोगों को गांव से दूर जाने के लिए करीब 26 किलोमीटर का चढ़ाई चलना पड़ता था परंतु वर्ष 2007 में हाइड्रो प्रोजेक्ट की वजह से इस गांव के करीब 4 किलोमीटर दूर पक्की सड़क का निर्माण सरकार द्वारा कर दिया गया है. अब बात आती है, कि आखिर इतनी कठिनाइयों का सामना करते हुए किस प्रकार से मलाणा क्रीम का प्रोडक्शन संभव है. जैसा कि हमने आपको बताया मलाणा क्रीम पाए जाने की वजह से यह स्थान टूरिस्ट का सबसे पसंदीदा स्थान और अट्रैक्शन बड़ा स्थान बनता जा रहा है. वर्ष 1986 में एनडीपीएस एक्ट के तहत चरस के निर्माण और सेवन को हमारे देश में गैरकानूनी करार दिया गया है. मगर यह पौधा आज भी कुल्लू का अहम फसल उत्पादन माना जाता है और कभी-कभी तो यहां पर सिक्योरिटी एजेंसी आ पहुंचकर इसके पौधे को जला देती हैं, परंतु यहां पर यह नेचुरल तरीके से उठता है, तो पूरी तरीके से इसे खत्म करना असंभव के बराबर है. यहां की कनेक्टिविटी अच्छी होने के बाद मलाला और पास की पर्वती घाटी मलाणा क्रीम को तस्करी करने का एक अड्डा बनती जा रही है. यह घाटी बहुत ही एकांत में है और यहां पर जाने के लिए लगभग 12 से 15 घंटे का बहुत ही कठिन सफर पूरा करना होता है, परंतु ड्रग तस्करों को इसके लिए इन सभी कठिनाइयों का सामना करना कोई भी बड़ी बात नहीं है.

जानिए कौन थे कश्मीरी पंडित और क्या था इनका इतिहास.

सुशांत सिंह राजपूत केस में एनसीबी ने जब्त की मलाणा क्रीम

सुशांत सिंह राजपूत ने जून 2020 में आत्महत्या कर पूरे देश को आश्चर्यचकित कर दिया था. लोग उनकी मौत को आत्महत्या कम हत्या ज्यादा मान रहे थे. इसी बीच ड्रग्स को लेकर इस केस ने नया मोड़ ले लिया था, जिसमें सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती का नाम सामने आया. इस केस को एनसीबी ने अपने हाथ में लिया और फिर इसमें एक के बाद एक कई चेहरे सामने आने लगे. इसी बीच एनसीबी ने इस केस की तहकीकात में 5 किलो मलाणा क्रीम भी जब्त की है. इस रिपोर्ट से यह कह सकते हैं कि बॉलीवुड में ड्रग्स का मामला काफी गंभीर होता जा रहा है.

मलाणा क्रीम का उत्पादन मलाणा गांव में सांस्कृतिक रूप में स्वीकार किया गया है और इसके उत्पादन में उन्हें किसी भी प्रकार का गलत चीज नहीं लगता है. आज हमने इस लेख में मलाणा क्रीम क्या है ? और यह कैसे पाया जाता है ?, इस विषय पर संपूर्ण रूप से जानकारी आप तक पहुंचाने का प्रयास किया है.

अन्य पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *